टैक्सटाइल डिजाइन कोर्स (Textile Design Course) कैसे करें?

टैक्सटाइल डिजाइन कोर्स: हमारे देश की टेक्सटाइल इंडस्ट्री भारत में ही नहीं बल्कि विश्व भर में बहुत ही अधिक लोकप्रिय और फेमस है क्योंकि भारतीय टेक्सटाइल इंडस्ट्री दुनिया की सबसे बेहतरीन टेक्सटाइल इंडस्ट्री है। इसी वजह से भारतीय टेक्सटाइल की डिमांड दूसरे देशों में बहुत ज्यादा है।‌

इसीलिए आज हमारे देश के बहुत सारे छात्र 12वीं के बाद टैक्सटाइल डिजाइन में डिप्लोमा या डिग्री कोर्स करते हैं और एक बहुत ही सफल कैरियर की शुरुआत करके अपना भविष्य सुरक्षित करते हैं। अगर आप उन छात्रों में से एक हैं जो 12वीं के बाद टैक्सटाइल डिजाइन कोर्स करना चाहते हैं तो आज के हमारे इस आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़ें क्योंकि आज इस पोस्ट में आपको हम बताने वाले हैं टैक्सटाइल डिजाइन कोर्स (Textile Design Course) कैसे करें के बारे में सारी जानकारी। 

 

टैक्सटाइल डिजाइन क्या है? (What is Textile Design  in Hindi)

टैक्सटाइल डिजाइन एक ऐसी प्रक्रिया है जिसके द्वारा विभिन्न प्रकार के डिजाइन कपड़ों, दुपट्टा, चादरों इत्यादि पर बनाए जाते हैं। यहां बता दें कि टैक्सटाइल डिजाइनिंग में कपड़े को डिजाइन करने से लेकर मैन्युफैक्चर करने तक के बहुत सारे चरण होते हैं जिन्हें सीखने के बाद कैंडिडेट विभिन्न प्रकार की नौकरियों के लिए आवेदन दे सकता है। 

यहां आपको बता दें कि टैक्सटाइल डिजाइन कोर्स करने के बाद आप होम फर्निशिंग डिजाइनर, रिसर्च असिस्टेंट, फैशन डिजाइनर, कारपेट डिजाइनर, टैक्सटाइल डिजाइनर जैसे पदों पर कार्य कर सकते हैं। इसके साथ साथ यह जानकारी भी दे दें कि 12वीं के बाद textile design course में डिप्लोमा और डिग्री कोर्स उपलब्ध है और आप अपनी रूचि के अनुसार डिप्लोमा या डिग्री कोर्स में प्रवेश ले सकते हैं।  

Also readकंप्यूटर हार्डवेयर कोर्स (Computer Hardware Course) कैसे करें?

टैक्सटाइल डिजाइन कोर्स के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए? (Textile Design  Course Eligibility)

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि टैक्सटाइल डिजाइन कोर्स करने के लिए किसी भी कैंडिडेट में निम्नलिखित योग्यताएं होना अनिवार्य है जिनकी जानकारी इस प्रकार से है- 

  • छात्र ने किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से किसी भी विषय में 12वीं कक्षा पास की हो। 
  • छात्र को डिजाइन और रंगों की जानकारी होना चाहिए। 
  • कैंडिडेट रचनात्मक शैली का होना चाहिए। 
  • उम्मीदवार को अंग्रेजी भाषा का भी ज्ञान होना चाहिए। 

भारत में टैक्सटाइल डिजाइन कोर्स संस्थान सूची (Textile Design  Course Institute in India) 

यहां आपकी जानकारी के लिए बता दें कि हमारे देश भारत में टेक्सटाइल डिजाइन कोर्स के लिए विभिन्न संस्थान हैं जहां पर दाखिला लेकर आप अपने टैक्सटाइल डिजाइन कोर्स की पढ़ाई कर सकते हैं। लेकिन यहां आपको बता दें कि अधिकतर संस्थान ऐसे हैं जहां पर आपको प्रवेश परीक्षा के माध्यम से ही दाखिला मिलेगा। ‌परंतु आपको निराश होने की भी आवश्यकता नहीं है क्योंकि दूसरे ऐसे कई संस्थान भी हैं जहां पर आप बिना प्रवेश परीक्षा के दाखिला ले सकते हैं। निम्नलिखित हम कुछ टैक्सटाइल डिजाइन कोर्स के संस्थानों के नाम बता रहे हैं जो कि इस प्रकार से हैं- 

  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी बेंगलोर  (Indian Institute of Fashion Technology, Bangalore)
  • आईआईएफटी चंडीगढ़ (IIFT, Chandigarh)
  • बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी, वाराणसी (Banaras Hindu University, Varanasi)
  • आईएमएस डिजाइन एंड इन्नोवेशन अकैडमी (IMS design and innovation Academy) 
  • पर्ल अकैडमी दिल्ली, एनसीआर (Pearl Academy, Delhi NCR)
  • डॉ राम मनोहर लोहिया अवध यूनिवर्सिटी, उत्तर प्रदेश (Dr Ram Manohar Lohia Avadh University, Uttar Pradesh)
  • पर्ल एकेडमी, मुंबई (Pearl Academy, Mumbai)
  • साईं नाथ यूनिवर्सिटी रांची (Sai Nath University, Ranchi)
  • आर्क एकेडमी ऑफ डिजाइन जयपुर (Arch Academy of design, Jaipur)
  • बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी, वाराणसी (Banaras Hindu University, Varanasi)

Also readइंटीरियर डेकोरेशन कोर्स (Interior Decoration Course) कैसे करें?

टैक्सटाइल डिजाइन कोर्स पाठ्यक्रम (Textile Design Course Syllabus) 

टैक्सटाइल डिजाइन कोर्स करने से पहले आपके लिए यह जान लेना आवश्यक है कि आपको इस कोर्स के तहत क्या पढ़ाया जाएगा। कई बार ऐसा होता है कि छात्र किसी ऐसे पाठ्यक्रम में प्रवेश ले लेते हैं जिसमें उनकी रूचि नहीं होती है और उस कोर्स को सफलतापूर्वक पूरा नहीं कर पाते। इसीलिए निम्नलिखित हम आपको टैक्सटाइल डिजाइन कोर्स के बारे में सारी जानकारी दे रहे हैं जो कि इस प्रकार से है-

  • इंट्रोडक्शन टू टैक्सटाइल (Introduction to textiles)
  • स्ट्रक्चरल फैब्रिक डिजाइनिंग (Structural fabric designing)
  • कलर एंड क्रिएशन (Color and creation)
  • इंट्रोडक्शन टू टैक्सटाइल आर्ट एंड क्राफ्ट (Introduction to textile art and craft)
  • स्केचिंग एंड ड्रॉइंग (Sketching and drawing)
  • बेसिक्स ऑफ डिजाइनिंग (Basics of designing)
  • कंप्यूटर एप्लीकेशंस (Computer applications)
  • एनवायरमेंटल स्टडीज (Environmental studies) 
  • डाइंग एंड प्रिंटिंग (Dyeing and printing)
  • फैशन डिजाइन एंड इलस्ट्रेशन (Fashion design and illustration) 
  • बेसिक टेक्सटाइल निटिंग (Basic textile knitting)
  • फ्री हैंड ड्राइंग एंड पेंटिंग (Freehand drawing and painting)
  • कंप्यूटर ऐडेड टैक्सटाइल डिजाइन (Computer aided textile design)
  • पर्सनल मैनेजमेंट एंड एंटरप्रेन्योरशिप (Professional management and entrepreneurship)
  • इंडियन ट्रेडिशनल टैक्सटाइल्स (Indian traditional textiles) 

फीस (Fees) 

अब आपको यहां बता दें कि टैक्सटाइल डिजाइन कोर्स के लिए आपको कितनी फीस देनी पड़ सकती है। सबसे पहले जान लीजिए कि अगर आप टैक्सटाइल डिजाइन कोर्स में डिप्लोमा करना चाहते हैं तो आपको कम फीस देनी होगी जो कि लगभग 70 हजार रुपए से लेकर एक लाख रुपए तक हो सकती है। 

इस प्रकार यदि आप टैक्सटाइल डिजाइन कोर्स में डिग्री कोर्स करना चाहते हैं तो उसके लिए आपको और ज्यादा फीस देनी पड़ सकती है। इसके साथ-साथ कोर्स की फीस इस बात के ऊपर भी निर्भर करती है कि आपने जिस इंस्टिट्यूट को टैक्सटाइल डिजाइनिंग कोर्स करने के लिए चुना है वह किस लोकेशन पर है और उसकी रेपुटेशन कैसी है। ‌

Also readहार्डवेयर एंड नेटवर्किंग कोर्स (Hardware and Networking Course) कैसे करें?

वेतन (salary) 

कोई भी कैंडिडेट टैक्सटाइल डिजाइनिंग कोर्स करने के बाद टैक्सटाइल डिजाइनर, फैब्रिक डिजाइनर, एंब्रायडरी डिजाइनर, ड्राइंग और प्रिंटेड कंसलटेंट, टेक्सटाइल लैब असिस्टेंट जैसे बहुत सारे पदों पर कार्य कर सकता है। इस प्रकार कैंडिडेट शुरुआत में ही 25,000 रुपए से लेकर 40,000 रुपए तक का सैलरी पैकेज पा सकता है। यह इंडस्ट्री ऐसी है जहां पर अगर कैंडिडेट में स्किल है तो वह हर महीने लाखों रुपए कमा सकता है। 

निष्कर्ष 

दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिकल टैक्सटाइल डिजाइन कोर्स (Textile Design Course) कैसे करें। इस लेख के माध्यम से हमने आप को जानकारी दी कि आप किस प्रकार से एक टैक्सटाइल डिजाइनर बन सकते हैं। इस लेख में हमने आपको बताया कि भारत के वह कौन से प्रतिष्ठित संस्थान हैं जहां से आप टैक्सटाइल डिजाइन कोर्स में डिग्री या डिप्लोमा कर सकते हैं और हमने आपको यह जानकारी भी दी कि इस कोर्स को करने के लिए आपको कितनी फीस का भुगतान करना पड़ सकता है। 

इसके अलावा हमने आपको यह भी बताया कि textile design course  करने के बाद आपको हर महीने कितनी वेतनमान मिल सकती है और अन्य दूसरी महत्वपूर्ण बातों की जानकारी दी हमने आपको दी है जो कि आपके लिए बेहद उपयोगी रहेगी। अगर आपको हमारी यह जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे अपने उन दोस्तों के साथ भी अवश्य शेयर करें जो 12वीं के बाद टैक्सटाइल डिजाइन कोर्स करना चाहते हैं।

Leave a Reply