एसएससी जेई की तैयारी कैसे करें (How to prepare for SSC JE Exam)

  • Post author:
  • Post category:Exams

नमस्कार! After 12th में आपका स्वागत है। दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे एसएससी जेई की तैयारी कैसे करें (How to prepare for SSC JE Exam) के बारे में सारी जानकारी। यहां बता दें कि हर साल कर्मचारी चयन आयोग के द्वारा एसएससी जेई परीक्षा का आयोजन करवाया जाता है। 

इस एग्जाम में जो कैंडिडेट पास हो जाते हैं उन्हें फिर विभिन्न सरकारी डिपार्टमेंट में काम करने का अवसर मिलता है। यहां आपको बताते चलें कि अगर आप एक ऐसे स्टूडेंट हैं जो इंजीनियरिंग में डिग्री या डिप्लोमा कोर्स कर रहे हैं तो आप इस परीक्षा में भाग ले सकते हैं। 

पर अगर आपको यह जानकारी नहीं है कि आप किस तरह से एसएससी जेई परीक्षा में सफल हो सकते हैं तो हमारा आज का ये आर्टिकल आपके लिए काफी उपयोगी साबित हो सकता है। इसलिए सभी महत्वपूर्ण बातें को जानने के लिए हमारे इस पोस्ट को अंत तक पूरा पढ़ें। 

Contents

एसएससी जेई क्या है 

सबसे पहले यहां आपको हम जानकारी दे दें कि एसएससी जेई क्या है? तो दोस्तों एसएससी (SSC) का पूरा नाम स्टाफ सिलेक्शन कमीशन (Staff Selection Commission) है और हिंदी में इसका नाम कर्मचारी चयन आयोग है। इसी प्रकार जेई (JE) का पूरा नाम जूनियर इंजीनियर (Junior Engineer) है। 

जानकारी के लिए बता दें कि हर साल पूरे देश में एसएससी जेई के पदों पर भर्ती के लिए एग्जाम करवाता है। बताते चलें कि जेई सेंट्रल गवर्नमेंट की बेहद प्रतिष्ठित नौकरियों में से एक होती है और इस पद पर किसी इंजीनियर को ही नियुक्ति मिलती है। 

इसके अलावा बताते चलें कि जो एसएससी जेई का एग्जाम होता है वह काफी कठिन होता है और हर कैंडिडेट उसे क्रैक नहीं कर पाता। इसीलिए अभ्यर्थियों को इस परीक्षा में पास होने के लिए काफी मेहनत करने की आवश्यकता होती है। 

Also readएसएससी जीडी की तैयारी कैसे करें 

एसएससी जेई डिपार्टमेंट्स  

जैसा कि हमने आपको बताया कि एसएससी जेई एग्जाम में पास होने वाले उम्मीदवारों को सेंट्रल गवर्नमेंट के अंतर्गत डिपार्टमेंट्स में काम करने का मौका मिलता है। यहां निम्नलिखित हम उन प्रमुख विभागों के नाम बता रहे हैं जहां पर एसएससी जेई की भर्ती होती है – 

  • मिलिट्री इंजीनियरिंग सर्विस – एमईएस (Military Engineering Service- MES) 
  • नेशनल टेक्निकल रिसर्च ऑर्गेनाइजेशन – एनटीआरओ (National Technical Research Organisation – NTRO)
  • डायरेक्टरेट ऑफ क्वालिटी एश्योरेंस – नवल (Directorate of quality assurance – Naval)
  • डायरेक्टरेट जनरल क्वालिटी एश्योरेंस – डीजीक्यूए (Directorate General quality assurance -DGQA) 
  • डायरेक्टरेट जनरल बॉर्डर रोड्स ऑर्गेनाइजेशन – डीजीबीआरओ (Directorate General Border Roads Organisation -DGBRO)
  • सेंट्रल पब्लिक वर्क्स डिपार्टमेंट -सीपीडब्ल्यूडी  (Central Public Works Department – CPWD) 
  • सेंट्रल वॉटर कमिशन -सीडब्ल्यूसी (Central Water Commission – CWC) 
  • सेंट्रल वाटर रिसर्च स्टेशन -सीडब्ल्यूपीआरएस (Central Water Power Research Station – CWPRS) 
  • डिपार्टमेंट ऑफ पोस्ट (Department of Post)
  • फरक्का बैराज प्रोजेक्ट (Farakka Barrage Project) 

एसएससी जेई में पद 

यहां आपको हम बता दें कि जो कैंडिडेट एसएससी जेई के एग्जाम को पास कर लेते हैं उनको फिर निम्नलिखित पदों पर भर्ती किया जाता है –

  • जूनियर इंजीनियर सिविल (Junior Engineer – Civil) 
  • जूनियर इंजीनियर सिविल एंड मैकेनिकल (Junior Engineer – Civil and Mechanical) 
  • जूनियर इंजीनियर इलेक्ट्रिकल (Junior Engineer – Electrical) 
  • जूनियर इंजीनियर इलेक्ट्रिकल एंड मैकेनिकल (Junior Engineer – Electrical and Mechanical) 
  • जूनियर इंजीनियर क्वालिटी सर्वेइंग एंड कॉन्ट्रैक्ट (Junior Engineer – quality surveying and contracts) 
  • जूनियर इंजीनियर नवल क्वांटिटी एश्योरेंस मैकेनिकल (Junior Engineer – Naval quantity assurance (mechanical) 
  • जूनियर इंजीनियर क्वांटिटी एश्योरेंस इलेक्ट्रिकल (Junior Engineer – quantity assurance (electrical)  

एसएससी जेई में भर्ती कैसे होती है

हर कैंडिडेट जेई बनना चाहता है लेकिन उससे पहले उम्मीदवार के लिए जानना जरूरी है कि SSC JE की भर्ती किस तरह से होती है। तो जानकारी के लिए बता दें कि इसके लिए आपको आवेदन पत्र भरने के लिए एसएससी जेई (SSC JE) की ऑफिशियल वेबसाइट पर अपना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। आवेदन में कैंडिडेट से कुछ जानकारी पूछी जाएंगी जो उसको ठीक तरह से भरनी होंगी। 

जब सफलतापूर्वक आपका आवेदन हो जाए तो उसके बाद आप उसका प्रिंट आउट निकाल कर रख लें। इस तरह से फिर आपको एसएससी के द्वारा परीक्षा में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया जाएगा। अगर आप एग्जाम में पास हो जाते हैं तो तब आपको जूनियर इंजीनियर के तौर पर सरकारी विभागों में काम करने का चांस मिल जाता है। 

एसएससी जेई के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए

आपको जानकारी के लिए बता दें कि एसएससी जेई के लिए किसी भी कैंडिडेट में कितनी योग्यता का होना जरूरी है –

  • कैंडिडेट भारत का स्थाई नागरिक होना चाहिए।
  • इच्छुक उम्मीदवार की आयु 18 से लेकर 27 साल तक के बीच में होनी चाहिए।
  • जो कैंडिडेट किसी आरक्षित श्रेणी के अंतर्गत आते हैं उन्हें आयु सीमा में छूट सरकार के निर्देश अनुसार दी गई है। 
  • उम्मीदवार ने किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से सिविल, इलेक्ट्रिकल और मैकेनिकल में से किसी एक विषय में डिग्री या डिप्लोमा किया हो। 

एसएससी जेई का परीक्षा पैटर्न 

जो कैंडिडेट एसएससी जेई एग्जाम को पास करना चाहते हैं और एसएससी जेई की तैयारी कैसे करें के बारे में जानकारी ढूंढ रहे हैं तो उन्हें हम बता दें कि इसके लिए आवश्यक है कि आपको परीक्षा का पैटर्न पता होना चाहिए। यहां आपको बताते चलें कि यह एग्जाम दो भागों में होता है जिसके बारे में हम निम्नलिखित जानकारी दे रहे हैं –

एसएससी जेई पेपर-1 

यह आपको बता दें कि जो पेपर-1 होता है यह एक ऑनलाइन कंप्यूटर बेस्ड एग्जामिनेशन होता है। इस में भाग लेने वाले उम्मीदवारों को जनरल इंटेलिजेंस एंड रीजनिंग, जनरल अवेयरनेस, जनरल इंजीनियरिंग (सिविल एंड स्ट्रक्चरल, मैकेनिकल) इत्यादि पर आधारित मल्टीपल चॉइस क्वेश्चंस पूछे जाते हैं। 

बताते चलें कि पेपर को हल करने के लिए स्टूडेंट्स को 120 मिनट का टाइम दिया जाता है जिसमें उसे 200 प्रश्न हल करने होते हैं। साथ ही जानकारी दे दें यह परीक्षा 100 अंकों की होती है और कैंडिडेट इसे इंग्लिश या हिंदी भाषा में दे सकते हैं। यह भी बता दें कि इसमें नेगेटिव मार्किंग भी होती है तो आप अपनी परीक्षा में प्रश्नों को ठीक से हल करें। 

एसएससी जेई पेपर-2

जो कैंडिडेट पेपर-1 में पास हो जाते हैं उन्हें फिर पेपर-2 में भाग लेने के लिए बुलाया जाता है। यहां बता दें कि यह एक डिस्क्रिप्टिव टाइप परीक्षा होती है जो ऑफलाइन कंडक्ट की जाती है। यहां बताते चलें कि इसमें अभ्यर्थियों से जनरल इंजीनियरिंग पर आधारित प्रश्न पूछे जाते हैं। सभी क्वेश्चन वर्णनात्मक होते हैं और इस परीक्षा की अवधि 120 मिनट की होती है। बताते चलें कि इस पेपर में उम्मीदवारों को 300 प्रश्न हल करने होते हैं और कैंडिडेट इस परीक्षा को हिंदी या इंग्लिश किसी भी भाषा में दे सकते हैं। साथ ही बता दें कि इस पेपर में किसी भी प्रकार की नेगेटिव मार्किंग नहीं होती है। 

Also readएसएससी एमटीएस की तैयारी कैसे करें 

एसएससी जेई एग्जाम्स सिलेबस

यदि आप जूनियर इंजीनियर बनना चाहते हैं और सरकारी नौकरी हासिल करना चाहते हैं तो आपके लिए यह जान लेना बेहद इंपॉर्टेंट है कि एसएससी जेई की तैयारी कैसे करें। इसके लिए आपको परीक्षा का सिलेबस विस्तार से पता होना जरूरी है ताकि आप ठीक तरह से तैयारी कर सकें। निम्नलिखित हम आपको सारा पाठ्यक्रम बता रहे हैं जो कि इस प्रकार से है – 

जनरल इंटेलिजेंस एंड रीजनिंग सिलेबस (General Intelligence and Reasoning Syllabus)

  • अर्थमैटिक रीजनिंग (Arithmetic reasoning) 
  • अर्थमैटिकल नंबर सीरीज (Arithmetical number series) 
  • प्रॉब्लम सॉल्विंग (Problem solving)
  • रिलेशनशिप कॉन्सेप्ट- ब्लड रिलेशंस (Relationship concept-blood relations) 
  • स्पेस विजुलाइजेशन (Space visualisation)
  • सिमिलरिटीज एंड डिफरेंसेस (Similarities and differences) 
  • वर्बल एंड फिगर्स क्लासिफिकेशन (Verbal and figures classification)
  • एनालिसिस एंड जजमेंट (Analysis and judgement) 
  • डिसीजन मेकिंग (Decision making) 
  • रीजनिंग एनालॉजीज (Reasoning analogies) 
  • डिस्क्रिमिनेशन एंड ऑब्जर्वेशन (Discrimination and observation) 
  • कोडिंग एंड डिकोडिंग (Coding and decoding)
  • स्टेटमेंट एंड कंक्लुजन (Statement and conclusion)
  • रीजनिंग पजल्स (Reasoning puzzles) 
  • कैलेंडर्स (Calendars) 
  • क्लॉक्स (Clocks) 

जनरल अवेयरनेस सिलेबस (General awareness syllabus)

  • ज्योग्राफी (Geography)
  • इकोनॉमिक सीन (Economic scene) 
  • कल्चर (Culture)
  • हिस्ट्री (History)
  • जनरल पॉलिटी (General polity) 
  • साइंटिफिक रिसर्च (Scientific research) 
  • करंट अफेयर्स (Current affairs)
  • स्टैटिक जीके (Static GK) 

जनरल इंजीनियरिंग सिलेबस (General engineering syllabus)

कैंडिडेट को पेपर 2 के लिए तीन टॉपिक्स में से किसी एक को चुनना होता है उन तीनों के बारे में हम जानकारी निम्नलिखित दे रहे हैं – 

पार्ट-ए एसएससी जेई सिविल्स सिलेबस (Part-A SSC JE civils syllabus)

  • आरसीसी डिजाइन (RCC design)
  • स्टील डिजाइन (Steel design)
  • थ्योरी ऑफ स्ट्रक्चर्स (Theory of structures)
  • हाइड्रॉलिक्स (Hydraulics) 
  • बिल्डिंग मैटेरियल्स (Building materials)
  • सर्वेइंग (Surveying)
  • ऐस्टीमेटिंग (Estimating) 
  • सॉइल मैकेनिक (Soil mechanics)
  • कॉस्टिंग एंड वैल्यूएशन (Costing and valuation) 
  • कंक्रीट टेक्नोलॉजी (Concrete technology)
  • इरिगेशन इंजीनियरिंग (Irrigation engineering)
  • ट्रांसपोर्टेशन इंजीनियरिंग (Transportation engineering) 
  • एनवायरमेंटल इंजीनियरिंग (Environmental engineering) 

पार्ट-बी एसएससी जेई इलेक्ट्रिकल सिलेबस (Part-B SSC JE Electrical syllabus)

  • इलेक्ट्रिकल मशीन (Electrical machines) 
  • बेसिक इलेक्ट्रॉनिक्स (Basic electronics)
  • बेसिक कॉन्सेप्ट्स (Basic concepts)
  • सर्किट लॉ (Circuit law)
  • मैग्नेटिक सर्किट (Magnetic circuit) 
  • एसी फंडामेंटल्स (AC fundamentals) 
  • मेजरमेंट एंड मेजरिंग इंस्ट्रूमेंट्स (Measurement and measuring instruments) 
  • ऐस्टीमेशन एंड कॉस्टिंग (Estimation and costing) 
  • ट्रांसमिशन एंड डिसटीब्यूशन (Transmission and distribution) 
  • यूटिलाइजेशन एंड इलेक्ट्रिकल एनर्जी (Utilization and electrical energy) 
  • सिंक्रोनस मशीन (Synchronous machines)
  • फ्रेक्शनल किलोवाट मोटर्स एंड सिंगल फेज इंडक्शन मोटर (Fractional kilowatt motors and single phase induction motors) 

पार्ट-सी एसएससी जेई मैकेनिकल सिलेबस (Part-C SSC JE mechanical syllabus)

  • बेसिक प्रिंसिपल्स एंड क्लासिफिकेशन ऑफ स्टील (Basic principles and classification of Steels) 
  • सेंट्रीफुगल पंप (Centrifugal pumps) 
  • मेजरमेंट ऑफ फ्लूड प्रेशर (Measurement of fluid pressure)
  • फ्लूड काइनमेटिक्स (Fluid kinematics)
  • मेजरमेंट ऑफ फ्लो रेट  (Measurement of flow rate) 
  • नोजल एंड स्टीम टरबाइन्स (Nozzles and steam turbines)
  • प्रिंसिपल ऑफ रेफ्रिजरेशन प्लांट (Principle of refrigeration plant) 
  • फिटिंग एंड एसेसरीज (Fitting and accessories)
  • एयर कंप्रेशर्स एंड दियर साइकिल्स (Air compressors and their cycles) 
  • प्रॉपर्टीज ऑफ प्योर सब्सटेंसिस (Properties of pure substances) 
  • स्पेसिफिकेशन (Specification)
  • रैंकिंग साइकिल ऑफ सिस्टम (Ranking cycle of system) 
  • आईसी इंजन कूलिंग एंड लुब्रिकेशन (IC engine cooling and lubrication) 
  • बॉयलर्स (Boilers) 
  • आईसी इंजन कंबस्शन  (IC engine combustion) 
  • एयर स्टैंडर्ड साइकिल ऑफ आईसी इंजन (Air standard cycle of IC engine)
  • आईसी इंजन परफॉर्मेंस (IC engine performance)
  • फर्स्ट लॉ ऑफ थर्मोडायनेमिक्स (First law of thermodynamics) 
  • सेकंड लॉ ऑफ थर्मोडायनेमिक्स (Second law of thermodynamics
  • थ्योरी ऑफ मशीन्स एंड मशीन डिजाइन (Theory of machines and machine design) 

एसएससी जेई एग्जाम प्रिपरेशन कोचिंग सेंटर्स

एसएससी जेई एग्जाम को जो उम्मीदवार पास करना चाहते हैं तो उन्हें चाहिए कि वह अपनी परीक्षा की तैयारी उत्कृष्ट तरीके से करें। पर एसएससी जेई की तैयारी कैसे करें के बारे में बहुत से विद्यार्थियों को ठीक से मालूम ही नहीं होता है। इसलिए उन्हें चाहिए कि कि वो किसी अच्छे कोचिंग सेंटर में एडमिशन ले कर अपनी पढ़ाई करें। यहां निम्नलिखित हम कुछ अच्छे कोचिंग संस्थानों के नाम बता रहे हैं जो कि इस प्रकार से हैं – 

  • स्काईलाइट कोचिंग सेंटर दिल्ली (Skylight coaching centre Delhi) 
  • टारगेट कोर ग्रेटर नोएडा (Target core greater Noida)
  • ज़ोन टेक इंस्टीट्यूट जयपुर (Zone Tech Institute Jaipur) 
  • नेशनल अकैडमी इंस्टीट्यूट हैदराबाद (National Academy Institute Hyderabad) 
  • विद्या सागर इंस्टीट्यूट बेंगलोर (Vidyasagar Institute Bangalore) 
  • जेएसआर आईएएस अकैडमी चेन्नई (JSR IAS academy Chennai) 
  • वनिक अकैडमी कोलकाता (Vanik Academy Kolkata)
  • मुद्रा कैरियर गाइडेंस सेंटर मुंबई (Mudra career guidance Centre Mumbai) 
  • कैरियर पावर फरीदाबाद (Career power Faridabad) 
  • कैरियर लांचर गुड़गांव (Career launcher Gurgaon) 

Also readएसएससी सीएचएसएल की तैयारी कैसे करें 

एसएससी जेई परीक्षा के लिए किताबें और अध्ययन सामग्री

अगर आप जूनियर इंजीनियर की सरकारी नौकरी हासिल करना चाहते हैं और परीक्षा में कामयाबी हासिल करना चाहते हैं तो इसके लिए जरूरी है कि आप मार्केट से कुछ अच्छी किताबों को खरीदें और पढ़ाई करें। इसलिए एसएससी जेई की तैयारी के लिए आपको हम कुछ किताबों के नाम बता रहे हैं जो कि इस प्रकार से है – 

बुक्स फॉर जनरल इंटेलिजेंस एंड रीजनिंग प्रिपरेशन (Books for general Intelligence and reasoning preparation)

  • एसएससी- (सीपीडब्ल्यूडी/सीडब्ल्यूसी/ एमईएस) जनरल इंटेलिजेंस एंड रीजनिंग जनरल अवेयरनेस फॉर जूनियर इंजीनियर्स गाइड बाय जीके पब्लिकेशन (SSC- (CPWD/CWC/MES) General Intelligence and reasoning general awareness for junior engineers guide by GK publications)
  • ए मॉडर्न अप्रोच टू वर्बल एंड नॉनवर्बल रीजनिंग बाय आरएस अग्रवाल (A modern approach to verbal and nonverbal reasoning by RS Aggarwal)

बुक्स फॉर जनरल अवेयरनेस प्रिपरेशन (Books for general awareness preparation) 

  • जनरल नॉलेज 2020 बाय मनोहर पांडे (General knowledge 2020 by Manohar Pandey) 
  • जनरल नॉलेज बाय लुसेंट्स (General knowledge by Lucent’s) 

बुक्स फॉर पार्ट-ए सिविल एंड स्ट्रक्चरल इंजीनियरिंग (Books for Part-A Civil and structural engineering)

  • एसएससी जूनियर इंजीनियर्स सिविल एंड स्ट्रक्चरल रिक्रूटमेंट एग्जाम गाइड थर्ड एडिशन बाय दिशा एक्सपर्ट्स (SSC junior engineer Civil and structural recruitment exam guide 3rd edition by Disha experts) 
  • एसएससी जूनियर इंजीनियर सिविल एंड स्ट्रक्चर इंजीनियरिंग एग्जाम प्रैक्टिस वर्क बुक बाय किरण प्रकाशन (SSC Junior Engineer Civil and structural engineering exam practice workbook by Kiran prakashan) 
  • एसएससी जूनियर इंजीनियर सिविल एंड स्ट्रक्चरल इंजीनियरिंग रिक्रूटमेंट एग्जाम गाइड बाय दिशा एक्सपर्ट्स (SSC Junior Engineer Civil and structural engineering recruitment exam guide by Disha experts) 
  • एसएससी (सीपीडब्ल्यूडी- एमईएस) जूनियर इंजीनियर एग्जामिनेशन सिविल इंजीनियरिंग बाय जीके पब्लिकेशन (SSC (CPWD-MES) junior engineer examination civil engineering by GK Publication) 

बुक्स फॉर पार्ट-बी- इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग प्रिपरेशन (Books for Part-B -electrical engineering preparation)

  • एसएससी जेई इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग फॉर जूनियर इंजीनियर प्रीवियस ईयर सोल्ड पेपर (2008-18), 2018-19) फॉर पेपर वन बाय जीके पब्लिकेशन (SSC je electrical engineering for junior engineer previous year solved paper (2008-18), (20018-19) for paper 1 by GK Publication) 
  • एसएससी जे इलेक्ट्रिकल एग्जाम प्रैक्टिस वर्क बुक बाय किरण प्रकाशन (SSC JE electrical exam guide-cum-practice workbook by Kiran prakashan) 
  • जूनियर इंजीनियर इलेक्ट्रिकल एग्जामिनेशन गाइड: इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग (पॉपुलर मास्टर गाइड) बाय आरपीएच एडिटोरियल बोर्ड (Juniors engineers electrical examination guide: electrical engineering (popular master guide) by RPH editorial board) 
  • एसएससी जूनियर इंजीनियर्स (सीपीडब्ल्यूडी/ सीडब्ल्यूसी/एमईएस) इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग 15 प्रैक्टिस पेपर बाय जीके पब्लिकेशन (SSC junior engineers (CPWD/CWC/MES) electrical engineering 15 practice papers by GK Publication) 

बुक्स फॉर पार्ट-सी मैकेनिकल इंजीनियरिंग प्रिपरेशन (Books for Part-C mechanical engineering preparation)

  • एसएससी जूनियर इंजीनियर (मैकेनिकल) एग्जाम गाइड- पॉपुलर मास्टर गाइड बाय आरपीएच एडिटोरियल बोर्ड (SSC junior engineer (mechanical) exam guide-popular master guide by RPH editorial board) 
  • एसएससी सीडब्ल्यूसी /एमईएस 2015 मैकेनिकल इंजीनियरिंग (जूनियर इंजीनियरिंग रिक्रूटमेंट एक्जाम बाय जीके पब्लिकेशन) (SSC CWC/MES 2015 mechanical engineering (junior engineering recruitment exam by GK Publication) 
  • एसएससी जूनियर इंजीनियरिंग सेल्फ स्टडी गाइड-कम-प्रैक्टिस बुक बाय किरण पब्लिकेशन (SSC junior engineering self study guide-cum-practice book by Kiran prakashan)  

वेतन

आपको हम बता दें कि जो उम्मीदवार एसएससी द्वारा जेई के पद पर नियुक्त किए जाते हैं उन्हें लेवल 6 के अनुसार सैलरी दी जाती है। साथ ही बता दें कि इनकी जो नियुक्ति होती है वह ग्रुप बी में की जाती है। साथ ही जानकारी दे दें कि किसी भी अभ्यर्थी को जो सैलरी मिलती है वह इस बात के ऊपर डिपेंड करती है कि उसे नौकरी किस शहर में दी गई है। 

बड़े शहरों में अधिक वेतन मिलता है जबकि छोटे शहरों में कम। इस प्रकार से एक सरकारी जेई को 42,00 रुपए की ग्रेड पे मिलती है और जो पे बैंड होता है वो 35400-1,12,400 रुपए तक होता है। इसके अलावा उसे केंद्र सरकार के द्वारा कुछ दूसरी सुविधाएं और भत्ते भी दिए जाते हैं। 

टिप्स एसएससी जेई परीक्षा की तैयारी के लिए (SSC JE Exam Preparation)

तो अगर कोई कैंडिडेट इस बात को सोच सोच कर परेशान हो रहा है कि आखिर वो एसएससी जेई की तैयारी कैसे करें जिससे कि परीक्षा में सफल हो सके। तो उसे परेशान होने की जरूरत नहीं है क्योंकि यहां हम निम्नलिखित कुछ टिप्स बता रहे हैं जो परीक्षा की तैयारी में कैंडिडेट की काफी मदद करेंगी – 

  • सबसे पहले अपने पूरे सिलेबस की जानकारी हासिल करें। 
  • अब एक टाइम टेबल बनाएं और हर टॉपिक को कवर करने की कोशिश करें।
  • यहां बता दें कि जो जनरल अवेयरनेस का सेक्शन होता है उसमें आपसे भारत के अलावा पड़ोसी देशों के बारे में भी सवाल पूछा जा सकता है इसलिए खुद को अप टू डेट रखें।
  • जितना हो सके हिस्ट्री , ज्योग्राफी, इकोनॉमिक्स जैसे विषयों को अच्छी तरह से पढ़ें। 
  • इसी तरह से जो जनरल इंजीनियरिंग का सेक्शन होता है उसमें सबसे ज्यादा ट्रिकी प्रश्न आपसे पूछे जा सकते हैं तो इसके लिए जरूरी है कि आपको सिलेबस के सारे टॉपिक्स और कांसेप्ट के साथ-साथ प्रिंसिपल एप्लीकेशन भी पूरी तरह से क्लियर हों।
  • अपनी जनरल नॉलेज को बढ़ाने के लिए आप करंट अफेयर्स की मैगजीन पढ़ सकते हैं, अखबार पढ़ सकते हैं और न्यूज़ चैनल देख सकते हैं। 
  • जब सारा सिलेबस पूरा हो जाए तो उसे एक बार बहुत अच्छी तरह से दोहरा लें। 
  • हर दिन जितना हो सके मॉक टेस्ट करें इससे आपकी प्रश्न हल करने की स्पीड में तेजी आएगी। 

निष्कर्ष

दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिकल एसएससी जेई की तैयारी कैसे करें। इस लेख में हमने आपको बताया कि एसएससी जेई क्या है और इसमें भर्ती होने की क्या प्रक्रिया है। साथ ही हमने आपको यह भी बताया कि एसएससी जेई की भर्ती कौन से विभागों में होती है और जो पद होता है वह कितने प्रकार का होता है। इसके अलावा हमने आपको यह भी जानकारी दी कि इस एग्जाम में भाग लेने के लिए किसी भी कैंडिडेट में कितनी योग्यता होनी चाहिए। 

इस लेख में हमने आपको यह भी जानकारी दी कि एसएससी जेई एग्जाम का पैटर्न कैसा होता है और उसकी तैयारी करने के लिए कौन-कौन सी किताबें और अध्ययन सामग्री आपको खरीदनी चाहिए। 

साथ ही हमने इस पोस्ट के द्वारा आपको यह भी जानकारी दी कि जो कैंडिडेट इस एग्जाम में पास हो जाते हैं तो उन्हें फिर हर महीने कितनी सैलरी मिलती है। आप एग्जाम में 100% सफल हो सकें इसके लिए हमने आपको कुछ जरूरी टिप्स भी बताई। 

अंत में हमारी आपसे बस यही रिक्वेस्ट है कि अगर आपको हमारे द्वारा दी गई है सारी जानकारी उपयोगी लगी हो तो इसे अपने उन दोस्तों के साथ भी अवश्य शेयर करें जो सरकारी विभागों में जूनियर इंजीनियर बनना चाहते हैं और जो एसएससी जेई की तैयारी कैसे करें के बारे में जानकारी ढूंढ रहे हैं। 

Leave a Reply