रेलवे गुड्स गार्ड (Railway Goods Guard) कैसे बनें?

  • Post author:
  • Post category:Career

नमस्कार! आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि Railway Goods Guard कैसे बनें?‌ अगर आप एक ऐसे युवा हैं जो रेलवे में नौकरी करने की ख्वाहिश रखते हैं तो इसके लिए आप रेलवे गुड्स गार्ड की नौकरी कर सकते हैं। इस पद पर आमतौर पर वही उम्मीदवार काम करते हैं जो अपना ग्रेजुएशन पूरा कर लेते हैं और जिन्हें रेलवे में काम करने में रुचि होती है। परंतु इस पद पर काम करना हर किसी के लिए संभव नहीं हो पाता है क्योंकि इसके लिए कुछ प्रक्रियाएं रखी गई हैं जिनके बारे में जानकारी हर कैंडिडेट को नहीं होती है। इसलिए अगर आप रेलवे गुड्स गार्ड की पोस्ट हासिल करना चाहते हैं तो हमारे आज के इस लेख को अंत तक सारा पड़े क्योंकि इसमें हम आपको सारी अनिवार्य बातों की जानकारी देने वाले हैं। 

रेलवे गुड्स गार्ड कैसे बने

रेलवे गुड्स गार्ड क्या होता है ( what is Railway Goods Guard in Hindi) 

यहां आपको बता दें कि इंडियन गुड्स गार्ड की नौकरी रेलवे में बहुत ही ज्यादा मुश्किल होती है और बहुत ही कठिन भी होती है जिसके अंतर्गत इस पद पर काम करने वाले कैंडिडेट को बहुत सी चुनौतियों का सामना करते हुए अपनी ड्यूटी को ठीक प्रकार से निभाना होता है। एक प्रकार से यह रेलवे के संरक्षक के रूप में काम करता है और इसीलिए उसे अकेले ही हर मौसम में ट्रेन में डिब्बे में सफर करना होता है।‌ इस पद पर कार्यरत व्यक्ति को बहुत सारी कठिनाइयों का सामना करते हुए अपनी ड्यूटी को बहुत ही जिम्मेदारी के साथ निभाना होता है। 

Related post: 12 वीं कक्षा के बाद रेलवे क्लर्क (Railway Clerk)की नौकरी कैसे ज्वाइन करे

Related post: टिकट कलेक्टर (ticket collector) कैसे बने

Related post: आरआरबी एनटीपीसी (RRB NTPC) की नौकरी कैसे ज्वाइन करे

रेलवे गुड्स गार्ड बनने के लिए प्रक्रिया क्या है

जो कैंडिडेट रेलवे गुड्स गार्ड की नौकरी करना चाहते हैं उसके लिए उन्हें लिखित परीक्षा में भाग लेना होता है जिसमें उम्मीदवार को मैथमेटिक्स, एप्टिट्यूड,  जनरल इंग्लिश, जनरल नॉलेज पर आधारित प्रश्नों को हल करना होता है। जब कैंडिडेट परीक्षा में कामयाब हो जाते हैं तो तब उसके बाद उन्हें ट्रेनिंग के लिए भेजा जाता है। इस प्रकार जब कैंडिडेट ट्रेनिंग पूरी कर लेते हैं तो उन्हें फिर रेलवे गुड्स गार्ड की नौकरी पर नियुक्ति दे दी जाती है। 

रेलवे गुड्स गार्ड बनने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए 

  • कैंडिडेट ने किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से ग्रेजुएशन किया हो या फिर इसके समकक्ष। 
  • कैंडिडेट मुश्किल से मुश्किल परिस्थिति में सही निर्णय लेने में सक्षम होना चाहिए। 
  • कैंडिडेट पूरी तरह से शारीरिक और मानसिक तौर पर फिट होना चाहिए। 

आयु सीमा 

  • उम्मीदवार की आयु मिनिमम 18 साल तक होनी अनिवार्य है। 
  • कैंडिडेट की अधिकतम आयु 33 साल तक हो। 
  • सभी आरक्षित वर्ग से संबंध रखने वाले उम्मीदवारों को आयु सीमा में सरकार के निर्देशानुसार छूट दी गई है। 

रेलवे गुड्स गार्ड बनने के लिए शारीरिक योग्यता 

रेलवे गुड्स गार्ड बनने के लिए किसी भी कैंडिडेट में निम्नलिखित शारीरिक योग्यताएं होनी चाहिए जैसे कि-

  • इच्छुक आवेदक की दूर दृष्टि 6/9 बिना चश्मे के होनी जरूरी है।
  • उम्मीदवार की निकट दृष्टि 0.6 चश्मे के बगैर हो। 

रेलवे गुड्स गार्ड बनने के कैरियर संभावनाएं क्या है 

जब कोई कैंडिडेट रेलवे गुड्स गार्ड बन जाता है तो तब उसके सामने एक बहुत ही अच्छा भविष्य होता है क्योंकि वह विभिन्न प्रकार की ट्रेनों में नौकरी करने के अवसर पा सकता है क्योंकि हर साल भारतीय रेलवे भर्ती बोर्ड द्वारा भारी मात्रा में इस पद पर नौकरी के लिए वैकेंसी निकाली जाती है। इस प्रकार कैंडिडेट को रेलवे में काम करने का मौका मिलता है। 

वेतन 

अब यहां आपको बता दें कि एक रेलवे गुड्स गार्ड को हर महीने कितने रुपए का वेतन मिलता है तो जान लीजिए कि रेलवे गुड्स गार्ड को बेसिक पे 5,200 रुपए से लेकर 20,200 तक मिलती है जिसके साथ 2800 की ग्रेड पे भी मिलती है। इसके अलावा कैंडिडेट को हाउस रेंट एलाउंस, डियरनेस एलाउंस, नाइट ड्यूटी एलाउंस, रनिंग एलाउंस इत्यादि भत्ते और सुविधाएं भी दी जाती हैं।‌

रेलवे गुड्स गार्ड के कार्य 

एक रेलवे गुड्स गार्ड को बहुत ही ज्यादा मुश्किल परिस्थितियों में ड्यूटी करनी होती है और उसे विभिन्न प्रकार के काम करने पड़ते हैं जिनकी जानकारी निम्नलिखित है- 

  • किसी भी मालगाड़ी के आने के साथ-साथ उसके जाने के समय का पता करना। ‌
  • सुनिश्चित करना कि मालगाड़ी सुचारू रूप से चल रही है या नहीं। ‌
  • रेलवे गुड्स गार्ड का रेलवे ट्रेन चालक को सिग्नल देने का काम भी होता है। 
  • इसके अलावा मालगाड़ी के सभी दरवाजों को चेक करना कि वह बंद हो गए हैं या नहीं।
  • किसी ट्रेन के इंचार्ज के रूप में काम करते हैं। 
  • ट्रेन के ड्राइवर की निगरानी और सुरक्षा के लिए ट्रेन को रोकना और कभी-कभी चलाना।
  • रेलवे के आखिरी डिब्बे में ड्यूटी करनी होती है और यदि कोई इमरजेंसी हो तो उस समय इमरजेंसी ब्रेक सिस्टम को दबाना। 

निष्कर्ष  

दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिकल जिसमें हमने आपको बताया कि Railway Goods Guard कैसे बनें? इस लेख में हमने जानकारी दी कि रेलवे गुड्स गार्ड बनने के लिए किसी भी कैंडिडेट में कितनी योग्यता होनी चाहिए और इसके लिए कौन सी प्रक्रिया रखी गई है। इसके साथ-साथ हमने आपको बताया कि रेलवे गुड्स गार्ड के पद पर जो कैंडिडेट कार्य करता है उसे हर महीने कितने रुपए तक का वेतनमान मिलता है। इसके अलावा हमने बताया कि इस पद पर जिस कैंडिडेट को नियुक्त किया जाता है उसको कौन-कौन से कार्य करने होते हैं एवं अन्य दूसरी बातों की जानकारी भी हमने आपको दे दी है। इसलिए अगर आपको हमारा यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें। 

Leave a Reply