पीजीडीसीए कोर्स (pgdca course) कैसे करें?

पीजीडीसीए कोर्स: आज का समय काफी अधिक प्रतिस्पर्धा वाला हो गया है क्योंकि हर इंसान यही चाहता है कि वह अपनी पढ़ाई करने के बाद कोई  अच्छी सी नौकरी कर ले चाहे वह सरकारी हो या फिर प्राइवेट। इसके लिए कैंडिडेट अपनी पढ़ाई के साथ-साथ कंप्यूटर कोर्स भी करते हैं ताकि अगर वह किसी विभाग में नौकरी के लिए आवेदन दें तो उनका वहां पर चयन हो जाए। यहां बता दें कि आज के युग में अधिकतर क्षेत्रों में कंप्यूटर की जानकारी रखने वाले उम्मीदवारों को ही जॉब में वरीयता दी जाती है।

इसलिए अगर आप आज एक अच्छी नौकरी करना चाहते हैं तो उसके लिए आपको चाहिए कि आप कंप्यूटर का कोर्स भी जरूर करें ताकि जब आप किसी पद पर काम करें तो आपको कार्य करते समय किसी भी प्रकार की समस्या का सामना नहीं करना पड़े। आप कंप्यूटर का डिप्लोमा 12वीं के बाद भी कर सकते हैं और यदि आप अपनी ग्रेजुएशन पूरी करने के बाद नौकरी करना चाहते हैं तो ऐसे में आपके लिए कंप्यूटर कोर्स करना बहुत ही ज्यादा अनिवार्य हो जाता है। आज के इस आर्टिकल में आपको हम बताएंगे कि किस प्रकार आप कंप्यूटर कोर्स करके अच्छी नौकरी पा सकते हैं तो इसलिए इस लेख को पूरा जरूर पढ़ें।

पीजीडीसीए क्या है? (What is  pgdca  in Hindi)

यहां आपकी जानकारी के लिए आपको बता दें कि पीजीडीसीए क्या है? तो बता दें कि पीजीडीसीए का पूरा नाम पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन (post graduate diploma in computer application) होता है। इस कोर्स के अंदर कैंडिडेट को बेसिक कंप्यूटर जानकारी से लेकर एडवांस कंप्यूटर की जानकारी दी जाती है। 

अगर कोई कैंडिडेट स्नातक करने के बाद इस कोर्स को करता है तो वह किसी भी प्राइवेट या सरकारी संस्थान में आसानी से जॉब हासिल कर सकता है। आपको बता दें कि बहुत से ऐसे कंप्यूटर सेंटर हैं जहां पर पीजीडीसीए कोर्स केवल 3 महीने के लिए करवाए जाते हैं तो इसके लिए हम आपसे यही कहेंगे कि आप वहां से कोर्स ना करें बल्कि आप वह कोर्स करें जो कि एक साल का हो। 

Also readडीएसपी (DSP) कैसे बनें पूरी जानकारी

पीजीडीसीए कोर्स के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए? (pgdca course eligibility)

जिस प्रकार दूसरे अन्य कोर्स करने के लिए कैंडिडेट के अंदर एक योग्यता मांगी जाती है ठीक इसी प्रकार यदि कोई उम्मीदवार पीजीडीसीए कोर्स करना चाहता है तो उसके लिए उसमें निम्नलिखित योग्यताएं होना बेहद जरूरी है जिनकी जानकारी इस प्रकार से है-

  • कैंडिडेट ने किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से किसी भी विषय में ग्रेजुएशन किया हो।
  • कैंडिडेट को अंग्रेजी भाषा का ज्ञान भी होना चाहिए। 

भारत में पीजीडीसीए कोर्स संस्थान सूची (pgdca course Institute in India) 

अगर कोई कैंडिडेट पीजीडीसीए कोर्स करना चाहता है तो जानकारी दे दें कि यह कोर्स आप दूसरे अन्य कंप्यूटर कोर्सो की तरह किसी भी कंप्यूटर संस्थान से जाकर नहीं कर सकते। साथ ही बता दें कि इस कोर्स को करने के लिए आपको किसी प्रतिष्ठित और मान्यता प्राप्त संस्थान में दाखिला लेना होगा। निम्नलिखित हम संस्थानों के नाम बता रहे हैं जहां से आप pgdca course कर सकते हैं – 

  • इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी (Indira Gandhi National Open University) 
  • आईटीएम यूनिवर्सिटी, ग्वालियर (ITM University, Gwalior)
  • सिक्किम मणिपाल यूनिवर्सिटी (Sikkim Manipal University)
  • पंजाब नेशनल यूनिवर्सिटी (Punjab National University) 
  • माखनलाल चतुर्वेदी यूनिवर्सिटी (Makhanlal chaturvedi University)
  • दिल्ली यूनिवर्सिटी (Delhi University)
  • एनआईएमएस यूनिवर्सिटी, जयपुर राजस्थान (NIMS University, Jaipur Rajasthan) 
  • जामिया मिलिया इस्लामिया, न्यू दिल्ली (Jamia Millia Islamia, New Delhi)
  • डीएवी कॉलेज, चंडीगढ़ (DAV College, Chandigarh)
  • लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी पंजाब (Lovely Professional University, Punjab)
  • राजीव गांधी कॉलेज, मध्य प्रदेश (Rajeev Gandhi College, Madhya Pradesh)

Also readयूआई यूएक्स कोर्स (ui ux course) कैसे करें?

पीजीडीसीए कोर्स पाठ्यक्रम (visual communication course syllabus) 

जो उम्मीदवार पीजीडीसीए कोर्स में दाखिला पढ़ाया जाता है जिसकी जानकारी इस प्रकार से है- 

  • आईसीटी टूल्स (ICT tools)
  • कंप्यूटर एंड आर्किटेक्चर (Computer and architecture) 
  • सी प्रोग्रामिंग (C programming) 
  • ऑपरेटिंग सिस्टम (Operating system)
  • सॉफ्ट स्किल्स डेवलपमेंट (Soft skills development)
  • ओओपीएस यूजिंग सी++ (OOPS using C++)
  • मैनेजमेंट प्रोसेस एंड ओबी (Management process and OB) 
  • डाटा स्ट्रक्चर यूजिंग जावा (Data structure using Java) 
  • डाटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम्स (Database management systems)
  • प्रोजेक्ट (Project) 

Also readपाइपिंग इंजीनियर कोर्स (Piping Engineer Course) कैसे करें?

फीस (fees) 

यदि आप यह जानना चाहते हैं कि पीजीडीसीए कोर्स की फीस कितनी होती है तो यहां बता दें कि इस कोर्स की फीस निर्भर करती है कि आप भारत के कौन से संस्थान से इस कोर्स को कर रहे हैं क्योंकि हर यूनिवर्सिटी या संस्थान की फीस अलग-अलग होती है। 

परंतु अगर हम एक अनुमान लगाए तो pgdca course fees 12,000 रुपए से लेकर 20,000 रुपए तक हो सकती है लेकिन सही फीस की जानकारी आपको उस समय ही पता चलेगी जब आप संस्थान में प्रवेश लेंगे। 

वेतन (salary) 

पीजीडीसीए कोर्स करने के बाद कैंडिडेट सॉफ्टवेयर इंजीनियर, कंप्यूटर ऑपरेटर, मोबाइल एप्लीकेशन डेवलपर, कंप्यूटर टीचर, कंप्यूटर सिस्टम सॉफ्टवेयर इंजीनियर जैसे विभिन्न प्रकार के पद पर कार्य कर सकते हैं और हर महीने 15 हजार रुपए से लेकर 30 हजार रुपए तक का वेतन पा सकते हैं। ‌इसके अलावा अगर आपकी नौकरी किसी अच्छे विभाग में लग जाती है तो तब आपको और भी अधिक वेतन मिल सकती है। 

Also readमोशन ग्रैफिक्स कोर्स (Motion Graphics Course) कैसे करें?

निष्कर्ष 

दोस्तों यह था हमारा आज का पोस्ट जिसमें हमने आपको बताया कि पीजीडीसीए कोर्स (pgdca course) कैसे करें? इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपको जानकारी दी कि आप ग्रेजुएशन करने के बाद किस प्रकार से पीजीडीसीए कोर्स करके एक अच्छी नौकरी पा सकते हैं। इसके साथ-साथ हमने आपको यह जानकारी भी दी कि भारत में आप कौन से संस्थानों से pgdca course कर सकते हैं और हमने आपको यह भी बताया कि इस कोर्स को करने के लिए आपको कितने रुपए तक की फीस का भुगतान करना होगा। 

इसके साथ-साथ हमने आपको यह जानकारी भी दी कि आप pgdca course करने के बाद हर महीने कितने रुपए का वेतनमान पा सकते हैं और इसके अलावा हमने आपको दूसरी अन्य बातों की जानकारी भी दे दी है जो कि आपके लिए बेहद उपयोगी रही होगी। इसलिए अगर आपको हमारा यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो इसे अपने दूसरे जाने वालों के साथ भी जरूर शेयर करें ताकि यदि वह भी पीजीडीसीए कोर्स करना चाहते हैं तो उन्हें भी सारी जानकारी प्राप्त हो जाए।

Leave a Reply