एनआईडी परीक्षा (NID Exam) की तैयारी कैसे करे

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि एनआईडी परीक्षा क्या है | NID Exam की तैयारी कैसे करें। अगर आप 12वीं के बाद डिजाइनिंग के क्षेत्र में अपना कैरियर बनाना चाह रहे हैं और एनआईडी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं तो हमारा आज का यह आर्टिकल आपके लिए बहुत अधिक उपयोगी साबित होने वाला है क्योंकि हम इस आर्टिकल के माध्यम से आपको बताने वाले हैं कि आप किस प्रकार से NID Exam में सफल हो सकते हैं। 

अगर आपका दिमाग थोड़ा क्रिएटिव है तो एनआईडी एग्जाम पास करने के बाद आप एक सफल डिजाइनर बन सकते हैं। इस आर्टिकल में हम आपको हर वह जानकारी देने वाले हैं जो एनआईडी परीक्षा को पास करने में आपके लिए काफी उपयोगी सिद्ध होंगी। इसलिए इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें ताकि कोई भी जानकारी आप से छूटने नहीं पाए। 

एनआईडी परीक्षा

एनआईडी परीक्षा क्या है (What is NID Exam in Hindi)

एनआईडी परीक्षा का पूरा नाम नेशनल इंस्टिट्यूट डिजाइन (National Institute Design-NID)  है। एनआईडी परीक्षा हर साल नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ डिजाइन द्वारा आयोजित करवाई जाती है जिसमें वह उम्मीदवार भाग लेते हैं जो डिजाइनिंग के ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रैजुएट कोर्स में दाखिला लेना चाहते हैं जैसे बी डेस (B.Des), जीडीपीडी (GDPD) और एम डेस (M.Des) इत्यादि। 

यहां आपको यह भी बता दें कि यह परीक्षा एक कठिनतम परीक्षा है जिसको दो चरणों में आयोजित किया जाता है। इसके साथ आप यह भी जान लीजिए कि यह परीक्षा एक मुश्किल परीक्षा है जिसको क्रैक करने में आपको काफी मेहनत करनी होगी। 

एनआईडी परीक्षा के लिए योगयता क्या होनी चाहिए (NID Exam Eligibility)

एनआईडी परीक्षा के लिए कैंडिडेट में निम्नलिखित योग्यताएं होनी चाहिए जिनकी जानकारी इस प्रकार से है-

शैक्षणिक योग्यता

  • उम्मीदवार ने किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं कक्षा पास की हो। 
  • जो छात्र बारहवीं कक्षा की परीक्षा दे चुके हैं वह भी इस परीक्षा में शामिल हो सकते हैं। 

आयु सीमा

  • कैंडिडेट की आयु 20 साल से अधिक नहीं होनी चाहिए। 
  • एससी, एसटी, ओबीसी, एनसीएल कैटेगरी के उम्मीदवार की आयु 23 साल से अधिक नहीं होनी चाहिए। 
  • जो कैंडिडेट पीडब्ल्यूडी कैटेगरी के हैं उनकी आयु 25 साल तक होनी चाहिए। 

एनआईडी कॉलेजों सूची (NID Colleges List)

यदि आप एनआईडी परीक्षा को क्रैक कर लेते हैं तो आपको देश के विभिन्न एनआईडी कॉलेजों में से किसी एक में प्रवेश दे दिया जाएगा जहां से आप अपनी डिजाइनिंग की पढ़ाई कर सकेंगे। यहां आपको बता दें कि NID Colleges में उम्मीदवार को उत्कृष्ट डिजाइनिंग की पढ़ाई का अवसर मिलता है। 

निम्नलिखित हम आपको एनआईडी कॉलेजों के नाम बता रहे हैं जो कि इस प्रकार से हैं

  • नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन -एनआईडी, अहमदाबाद  (National Institute of  Design -NID, Ahmedabad)
  • नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन -एनआईडी, गांधीनगर (National Institute of Design – NID, Gandhinagar)
  • नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन -एनआईडी, बैंगलोर (National Institute of Design – NID, Bangalore)
  • नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन -एनआईडी, आंध्र प्रदेश (National Institute of Design – NID, Andhra Pradesh)
  • नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन -एनआईडी, मध्य प्रदेश National Institute of Design – NID, Madhya Pradesh
  • नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन -एनआईडी, हरियाणा National Institute of Design – NID,Haryana
  • नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन -एनआईडी, असम  (National Institute of Design – NID, Assam)

एनआईडी परीक्षा पाट्यक्रम

दोस्तों किसी भी परीक्षा की तैयारी करने के लिए सबसे अधिक महत्वपूर्ण होता है उस परीक्षा का सिलेबस। यदि ‌आपको परीक्षा का सिलेबस ही पता नहीं होगा तो आप कभी भी अपनी परीक्षा की तैयारी नहीं कर सकते और ना ही उसमें सफलता प्राप्त कर सकते हैं। 

अगर आप एनआईडी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं तो इसके अंतर्गत जो पाठ्यक्रम आएगा आपको उसके बारे में पूरी जानकारी होना बहुत अधिक आवश्यक है। यहां हम आपको एनआईडी परीक्षा का संपूर्ण पाठ्यक्रम बता रहे हैं जो कि निम्नलिखित है-

डीएटी प्रीलिम्स पाट्यक्रम

  • इनोवेशन इन डिजाइन (Innovation in Design)
  • प्रिंसिपल ऑफ कंपोजीशन (Principle of Composition)
  • इंस्पिरेशन एंड डिजाइन डेवलपमेंट (Inspiration and Design Development)
  • लेटरेल थिंकिंग (Lateral Thinking)
  • थीम डेवलपमेंट (Theme Development)
  • डिजाइन थ्योरी (Design Theory)
  • नेचुरल एंड ज्योमैट्रिकल फॉर्म (Natural and Geometrical Form)
  • डिजाइन अवेयरनेस (Design Awareness)
  • इमैजिनेशन एंड डूडलिंग (Imagination and doodling)
  •  3D विजुलाइजेशन (DD Visualisation)
  • ऑप्टिकल इल्यूजन (Optical Illusion) 
  • पिक्चर एनालिसिस (Picture analysis)
  • मूड, एंड कलर इंटर रिलेशनशिप (Mood, theme and colour interrelationship)
  • यूज़ ऑफ मेजरमेंट्स, स्केल एंड प्रोपोर्शन (Use of measurements, scale and proportion)
  • विजुअल लॉजिक (Visual logic)
  • अंडरस्टैंडिंग लाइट एंड शेड (Understanding light and shade) 
  • कलर पैटर्न एंड टेक्सचर  Colour pattern and texture 
  • क्रिएटिव थिंकिंग एंड राइटिंग (Creative thinking and writing)
  • ड्राइंग फंडामेंटल्स (Drawing fundamentals) 
  • आर्नामेंट्स एंड मोटिफ्स (Ornaments and motifs)
  • गुड डिजाइन वर्सेस बेड डिजाइन (Good design vs bad design)
  • मेमोरी ड्राइंग (Memory drawing)
  • कलर टर्मिनोलॉजी (Colour terminology)
  • प्रेजेंटेशन टेक्निक (Presentation technique)
  • नेचुरल एंड ज्योमैट्रिकल फॉर्म्स (Natural and geometrical forms)
  • डेवलपिंग थीम्स एंड कलर एसोसिएशन (Developing themes and colour association)

डीएटी मेंस पाट्यक्रम

  • मॉडल मेकिंग (Model making)
  • ऑडियो विजुअल एक्सरसाइजेज (Audio visual exercises)
  • मेटेरियल मैनिपुलेशन (Material manipulation)
  • इवॉल्विंग आइडियाज (Evolving ideas)
  • इंपॉर्टेंस ऑफ बॉडी लैंग्वेज (Importance of body language)
  • क्वेश्चंस जनरली आस्क्ड इन एन इंटरव्यू (Questions generally asked in an interview) 
  • मॉक इंटरव्यू (Mock interview)
  • डूडलिंग (Doodling)
  • पास्ट स्टूडियो टेस्ट एंड इंटरव्यू क्वेश्चंस (Past studio test and interview questions)
  • क्रिएटिव थिंकिंग (Creative Thinking)
  • गाइडेंस ऑफ पोर्टफोलियो मेकिंग (Guidance of portfolio making)

एनआईडी परीक्षा पैटर्न (NID Exam Pattern)

जैसा कि हमने ऊपर जानकारी दी कि एनआईडी परीक्षा दो चरणों में आयोजित की जाती है। इसलिए अभ्यर्थियों के लिए इस परीक्षा में शामिल होने के लिए यह बहुत अनिवार्य है कि उन्हें परीक्षा का पूरा पैटर्न पता हो क्योंकि परीक्षा पैटर्न पूरी जानकारी कैंडिडेट को परीक्षा की तैयारी करने में काफी अधिक मदद करती है। निम्नलिखित एनआईडी परीक्षा के पूरे पैटर्न की जानकारी हम आपको बता रहे हैं जो कि इस प्रकार है –

डीएटी प्रीलिम्स (DAT Prelims) 

डीएटी प्रीलिम्स एनआईडी परीक्षा का पहला चरण है और इस परीक्षा में अभ्यर्थी से विजुअलाइजेशन, एनालिसिस, कंप्रीहेंशन एंड क्रिएटिविटी, नॉलेज जैसे विषयों पर आधारित प्रश्न किए जाते हैं। इस परीक्षा के माध्यम से परीक्षा में भाग लेने वाले उम्मीदवारों की जानकारी का मूल्यांकन किया जाता है। इस परीक्षा के लिए उम्मीदवार को 3 घंटे का समय दिया जाता है और यह परीक्षा 100 अंको की होती है जिसको ऑफलाइन यानी पेन और पेपर माध्यम के द्वारा लिया जाता है। साथ ही आपको यह भी जानकारी दे दें कि डीएटी प्रीलिम्स परीक्षा दो भागों में बांटी गई है। पार्ट 1 में सारे प्रश्न बहुविकल्पीय होते हैं और यह भाग 70 अंक का होता है। 

इसके अलावा पार्ट 2 के अंतर्गत उम्मीदवार को सब्जेक्टिव प्रश्न करने होते हैं और यह भाग 30 अंक का रखा गया है। यह भी जान लीजिए कि DAT Prelims में किसी भी प्रकार की नेगेटिव मार्किंग नहीं होती है। 

डीएटी मेंस  (DAT Mains)

वह कैंडिडेट जो डीएटी प्रीलिम्स परीक्षा में सफल हो जाते हैं उन्हें फिर दूसरी परीक्षा डीएटी मेंस के लिए आमंत्रित किया जाता है। यहां आपको बता दें कि डीएटी मेंस परीक्षा दो भागों में विभाजित की गई है जिसमें पहले भाग में उम्मीदवार का स्टूडियो टेस्ट होता है जिसके अंतर्गत ड्राइंग, स्केचिंग, प्रेजेंटेशन और ग्रुप डिस्कशन जैसे विषय शामिल होते हैं। 

डीएटी मेंस परीक्षा के दूसरे भाग में उम्मीदवार का इंटरव्यू होता है। इन सभी चरणों में पास होने के बाद उम्मीदवार को उसके पसंदीदा कॉलेज में प्रवेश दे दिया जाता है। 

एनआईडी परीक्षा की तैयारी के लिए कोचिंग सेंटर्स (NID Exam Preparation Coaching Centers)

मौजूदा समय में कोचिंग सेंटर्स की डिमांड काफी तेजी से बढ़ गई है और इसीलिए हमारे देश में बहुत ज्यादा कोचिंग सेंटर्स खुल गए हैं जो उम्मीदवारों की विभिन्न एंट्रेंस एग्जाम में मदद करते हैं। लेकिन हर कोचिंग सेंटर पर आप आंख बंद करके विश्वास नहीं कर सकते इसलिए उन्हीं कोचिंग सेंटर में अपनी परीक्षा की तैयारी करें जो काफी पॉपुलर हो और जहां से आप पढ़ाई करके परीक्षा में सफलता हासिल कर सकें। 

निम्नलिखित हम आपको कुछ एनआईडी कोचिंग सेंटर्स के नाम बता रहे हैं जहां से आप अपनी परीक्षा की तैयारी कर सकते हैं-

  • इन्सेपटो डिजाइन अकैडमी, पुणे  (Incepto Design Academy, Pune)
  • प्राइमो इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन, हैदराबाद (Primo Institute of Design, Hyderabad)
  • टीचवेल प्रोफेशनल स्टडीज इंस्टीट्यूट प्राइवेट लिमिटेड पीतमपुरा, दिल्ली (Teachwell Professional Studies Institute Private limited Pitampura, Delhi)
  • आर्ट ऑफ क्रिएटिविटी दिल्ली (Art of creativity, Delhi)
  • प्रिसेप्ट यूनिवर्सिटी एरिया अहमदाबाद (Precept University Area, Ahmedabad)
  • एंबीशन कोचिंग सेंटर कोलकाता (Ambition Coaching Centre, Kolkata)
  • डिजाइन शाला मुंबई (Design Shala, Mumbai)
  • स्मार्ट ट्रेनिंग चेन्नई (Smart Training, Chennai)
  • द डिजाइन वेंचर, बेंगलोर (The design venture, Bangalore)
  • इंस्पिरेशन आर्ट एंड एजुकेशन, जयपुर (Inspiration Art and Education, Jaipur)

एनआईडी परीक्षा के लिए किताबें और अध्ययन सामग्री  (Books & Study Materials for NID Exam Preparation)

एनआईडी परीक्षा की तैयारी के लिए  किताबें लेते समय उन्हीं किताबों को चुनें जिनको पढ़ने की राय आपके अध्यापक देते हैं। अगर आपके पास परीक्षा की तैयारी के लिए बेहतरीन किताब होंगी तो आप बिना किसी समस्या के एनआईडी परीक्षा में सफल हो सकते हैं।  

निम्नलिखित हम आपको आपकी एनआईडी परीक्षा की तैयारी के लिए कुछ किताबों के नाम बता रहे हैं जो कि इस प्रकार हैं-

  • गाइड फॉर निफ्ट/एनआईडी/ आईआईएफटी 2019 पेपरबैक-2018 बाय अरिहंत एक्सपर्ट   Guide for NIFT/NID/IIFT 2019 paperback- 2018 by Arihant expert
  • एनआईडी डीएटी बुक बाय आर एस अग्रवाल (NID DAT book by RS Aggarwal)
  • डिजाइन ड्रॉइंग बाय फ्रांसिस डीके चिंग (Design drawing by Francis DK Ching)
  • बेसिक रेंडरिंग फ्रॉम रॉबर्ट डब्ल्यू गिल (Basic Rendering from Robert W. Gill)
  • निफ्ट/एनआईडी/ आईआईएफटी एंट्रेंस एग्जाम गाइड बाय आरपीएच एडिटोरियल बोर्ड (NIFT/NID/IIFT Entrance Exam guide by RPH Editorial Board)
  • निफ्ट,एनआईडी, आईआईएफटी  एंट्रेंस एग्जामिनेशन बाय धर्मेंद्र मित्तल (NIFT, NID, IIFT Entrance Examination by Dharmendra Mittal )
  • एनआईडी मॉक टेस्ट सीरीज (NID Mock Test Series )

Tips for  एनआईडी परीक्षा की तैयारी के लिए (NID Exam Preparation)

एनआईडी परीक्षा क्योंकि एक मुश्किल परीक्षा है इसलिए आपको इस परीक्षा के लिए उचित रणनीति बनाकर तैयारी करनी होगी। पढ़ाई करते समय समय प्रबंधन का बहुत अधिक ध्यान रखें कि आपका टाइम बिल्कुल भी खराब नहीं हो और आप अपनी परीक्षा की तैयारी ठीक प्रकार से कर सकें। निम्नलिखित हम आपको कुछ टिप्स बता रहे हैं जो आपको NID Exam  में सफलता दिलाने में काम आएंगी –

  • सबसे पहले आप एनआईडी परीक्षा के पाठ्यक्रम को बहुत ध्यान पूर्वक समझें और साथ ही यह भी जानें कि इस परीक्षा का एग्जाम पैटर्न कैसा है। 
  • एनआईडी परीक्षा में जो विषय शामिल हैं उन सभी विषयों को पढ़ाई करने के लिए समय अनुसार अलग-अलग भागों में बांट लें। 
  • परीक्षा में जो विषय हैं उन सबको बहुत ध्यान पूर्वक पढ़ें और समझें। 
  • जब सारा सिलेबस पूरा हो जाए तो उसके बाद मॉक टेस्ट हल करें।
  • उन प्रश्नों को भी हल करें जो पिछले साल की परीक्षाओं में आए हैं और इसके अलावा सैंपल पेपर्स भी सॉल्व करें। 
  • हर दिन अपनी क्रिएटिविटी को भी इंप्रूव करें। 
  • इसके अलावा आप अपनी ड्राइंग की कला पर भी मेहनत करें इसके लिए आप हर रोज प्रैक्टिस कर सकते हैं। 
  • यदि आपने अपना सारा सिलेबस पूरा कर लिया है तो फिर अपना समय दूसरे कामों में ना गवाएं और परीक्षा से पहले अपने सारे सिलेबस को एक बार अवश्य दोहराएं। 

निष्कर्ष

दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिकल जिसमें हमने आपको जानकारी दी कि एनआईडी परीक्षा क्या है | NID Exam की तैयारी कैसे करें। इस आर्टिकल में हमने आपको बताया कि किस प्रकार आप 12वीं के बाद एनआईडी परीक्षा को पास करके डिजाइनिंग के कोर्स में दाखिला लेकर पढ़ाई कर सकते हैं। 

यहां इस पोस्ट में हमने आपको यह भी जानकारी दी कि कौन सी किताबों की मदद से आप एनआईडी परीक्षा की तैयारी कर सकते हैं और इसके अलावा हमने आपको उन कोचिंग संस्थानों का नाम भी बताया जहां से आप उत्तम कोचिंग प्राप्त कर सकते हैं। 

इसके अलावा हमने आपको यह जानकारी भी दी कि एनआईडी एक्जाम पास करने के बाद आपको कौन-कौन से संस्थानों में दाखिला मिल सकता है। आप परीक्षा में पूरी तरह से कामयाब हो जाएं इसलिए हमने आपको आपकी परीक्षा की तैयारी के लिए कुछ आवश्यक सुझाव भी दिए हैं जो आपके लिए बहुत अधिक लाभदायक सिद्ध होंगे। 

दोस्तों हमें पूरी आशा है कि यह आर्टिकल आपको बहुत अधिक पसंद आया होगा अगर यह आर्टिकल आपको पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें ताकि अगर वह भी 12वीं के बाद डिजाइनिंग में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं तो उन्हें भी सही जानकारी मिल जाए।

Deepak Kumar

दीपक कुमार After12th.net के लेखक और संस्थापक हैं। वह छात्रों को उनकी धारा तय करने और उद्योग में पाठ्यक्रमों के बारे में जानकारी प्रदान करने में मदद करता है। वह उन्हें नई ऊंचाइयों तक पहुंचाने में मदद करता है। उनका उद्देश्य देश में अधिकतम छात्रों के लिए वैध और उपयोगी जानकारी साझा करना है।

Leave a Reply