एमपीपीएससी की तैयारी कैसे करें (how to prepare for mppsc exam)

नमस्कार! After 12th में आपका स्वागत है। दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि एमपीपीएससी की तैयारी कैसे करें। आज के टाइम में एक अच्छी नौकरी पाना बहुत ही ज्यादा मुश्किल हो गया है। इसकी वजह यह है कि आज के दौर में जॉब के अवसर पहले के मुकाबले कम हो गए हैं। 

जिसके कारण लोगों को काफी परेशानी होती है एक अच्छी नौकरी हासिल करने में। हर चीज में कंपटीशन बहुत ज्यादा बढ़ गया है। चाहे किसी भी सेक्टर की बात कर लो वहां पर कड़ी प्रतिस्पर्धा होती है। ऐसे में अगर बात की जाए मध्यप्रदेश राज्य की तो वहां पर युवाओं के लिए वैकेंसीज निकलती रहती हैं। पर जरूरी नहीं है कि हर इंसान को एमपीपीएससी के बारे में सारी जानकारी हो। 

तो अगर आपको इसके बारे में ज्यादा पता नहीं है तो आपको टेंशन लेने की जरूरत नहीं है। एमपीपीएससी के बारे में सारी जानकारी जानने के लिए हमारे आज के इस पोस्ट को सारा पढ़ें और जानें कि किस प्रकार आप इस एग्जाम को क्लियर करके नौकरी प्राप्त कर सकते हैं। 

Contents

एमपीपीएससी क्या है 

तो यहां पर सबसे पहले हम आपको बता दें कि एमपीपीएससी (MPPSC) का पूरा नाम मध्य प्रदेश पब्लिक सर्विस कमिशन (Madhya Pradesh Public Service Commission)  है। हिंदी में इसको मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग के नाम से जाना जाता है। बताते चलें कि जैसे यूपीएससी का एग्जाम क्लियर करके कैंडिडेट केंद्र सरकार के अधीन सिविल सर्वेंट बनते हैं। 

ठीक उसी तरह से एमपीपीएससी यह परीक्षा पास करके कैंडिडेट को मध्यप्रदेश राज्य सरकार के अधीन सिविल सर्वेंट बनने का अवसर मिलता है। यह आपको जानकारी के लिए बता दें कि साल भर बहुत सारे एग्जाम एमपीपीएससी संस्था के द्वारा कंडक्ट करवाए जाते हैं। जैसे कि स्टेट सर्विस एग्जामिनेशन, स्टेट फॉरेस्ट सर्विस एग्जामिनेशन, स्टेट इंजीनियरिंग सर्विसेज एग्जामिनेशन इत्यादि। 

इसके अलावा आपको हम बता दें कि जो स्टेट सर्विस एग्जाम होता है वह विद्यार्थियों के बीच सबसे ज्यादा पॉपुलर है। बता दें कि इस एग्जाम को क्लियर करने के बाद डेप्युटी कलेक्टर बनने का सपना बहुत से छात्र देखते हैं। इसके अलावा और भी कई प्रकार की सिविल सर्विसेज में योग्य कैंडिडेट्स को नौकरी मिल जाती है। 

एमपीपीएससी में पोस्ट

अब आपको हम बता दें कि एमपीपीएससी में भाग लेने वाले कैंडिडेट्स को कौन-कौन से पदों पर काम करने का अवसर मिल सकता है। उनमें से कुछ पॉपुलर पोस्ट के बारे में हम निम्नलिखित जानकारी दे रहे हैं – 

  • डेप्युटी कलेक्टर (Deputy collector)
  • डेप्युटी डिपार्टमेंट ऑफ़ पुलिस-डीएसपी (Deputy superintendent of Police-DSP) 
  • सेल्स टैक्स इंस्पेक्टर (Sales tax inspector)
  • कमर्शियल टैक्स ऑफिसर  (Commercial tax officer) 
  • ट्रांसपोर्ट सब इंस्पेक्टर (Transport Sub Inspector) 
  • स्कूल डिपार्टमेंट (School department)
  • पापुलेशन डिपार्टमेंट (Population department)
  • लेबर ऑफिसर (Labour officer)
  • जेल डिपार्टमेंट (Jail Department)
  • असिस्टेंट जेलर (Assistant Jailor) 
  • रेवेन्यू डिपार्टमेंट (Revenue Department)
  • फाइनेंस डिपार्टमेंट (Finance department)
  • असिस्टेंट लेबर ऑफिसर (Assistant labour officer) 
  • डिस्ट्रिक्ट एक्साइज ऑफिसर (District excise officer) 
  • एक्साइज, सब इंस्पेक्टर (Excise, Sub Inspector)
  • डिस्टिक कमांडेंट, होम गार्ड्स (Districts commandant, home guards) 
  • एरिया ऑर्गेनाइजर (Area organiser)

एमपीपीएससी में भर्ती कैसे होती है

इच्छुक उम्मीदवार एमपीपीएससी में भर्ती होने के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। बता दें कि इसके लिए उन्हें अपने जरूरी डाक्यूमेंट्स के साथ एमपीपीएससी (MPPSC) की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर आवेदन फॉर्म भरना होगा।

बताते चलें कि फार्म में कैंडिडेट से कुछ इंपॉर्टेंट बातें पूछी जाएंगी जैसे कि उसका नाम, पिता का नाम, घर का पता वगैरह। तो सारी जानकारी ठीक प्रकार से भरें और एक बार जरूर चेक कर लें कि आपने कहीं कोई गलती तो नहीं की है। 

इस प्रकार जब आप अपना आवेदन ठीक से कर देंगे तो फिर आपको कुछ टाइम बाद एग्जाम के लिए बुलाया जाएगा। फिर परीक्षा में शामिल होने के बाद अगर आप सफल हो जाते हैं तो आपको एमपीपीएससी के तहत नौकरी मिल जाती है। 

एमपीपीएससी के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए

एमपीपीएससी की तैयारी कैसे करें से पहले आप यह जान लीजिए कि इसके लिए किसी भी कैंडिडेट में कितनी योग्यता का होना अनिवार्य है। इसके बारे में हम निम्नलिखित जानकारी दे रहे हैं जो कि इस तरह से है – 

  • उम्मीदवार भारत का नागरिक होना चाहिए। 
  • कैंडिडेट ने किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से कम से कम ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की हो। 
  • जो विद्यार्थी अपनी ग्रेजुएशन के आखिरी साल में हैं वह भी इस परीक्षा में भाग ले सकते हैं। 
  • इच्छुक उम्मीदवार की न्यूनतम आयु 21 साल होनी चाहिए। अधिकतम आयु 35 साल तक होनी चाहिए। 
  • जो कैंडिडेट किसी आरक्षित श्रेणी से संबंध रखते हैं उन्हें आयु सीमा में छूट राजस्थान राज्य सरकार के निर्देशानुसार दी गई है। 

Also readयूपीएससी की तैयारी कैसे करें

एमपीपीएससी का परीक्षा पैटर्न 

तो अगर स्टूडेंट्स यह जानना चाहते हैं कि एमपीपीएससी की तैयारी कैसे करें। तो उससे पहले उनके लिए जरूरी है कि वे परीक्षा पैटर्न को अच्छी तरह से समझ लें। इस प्रकार से उनके एग्जाम में पास होने के चांस ज्यादा होते हैं। यहां बता दें कि इस परीक्षा के तीन चरण होते हैं जैसे कि – 

एमपीपीएससी प्रिलिम एग्जाम 

एमपीपीएससी प्रिलिमनरी एग्जाम में विद्यार्थियों को दो पेपर करने होते हैं। जानकारी दे दें कि जो पहला पेपर होता है वह जनरल स्टडीज पर आधारित होता है। यह पेपर काफी अधिक महत्वपूर्ण होता है। इस पेपर में छात्रों को 200 अंकों के 100 ऑब्जेक्टिव टाइप प्रश्न हल करने होते हैं। बताते चलें कि इसके लिए 2 घंटे का टाइम कैंडिडेट्स को मिलता है। 

उसके बाद फिर उसी दिन परीक्षार्थियों को जनरल एप्टीट्यूड टेस्ट में भाग लेना होता है। यह एग्जाम 2 घंटे का होता है जिसमें छात्रों को ऑब्जेक्टिव टाइप क्वेश्चंस करने के लिए दिए जाते हैं। बता दें कि इस पेपर के भी 200 अंकों रखे गए हैं और यह पेपर 100 प्रश्नों का होता है। बताते चलें कि इन दोनों पेपरों में ही किसी प्रकार की कोई नेगेटिव मार्किंग नहीं होती है। 

एमपीपीएससी मेंस एग्जाम

जितने भी योग्य उम्मीदवार एमपीपीएससी की प्रीमियम परीक्षा में पास हो जाते हैं उसके बाद उन्हें फिर दूसरे चरण में भाग लेना होता है। यह बता दें कि इसमें उनकी मुख्य परीक्षा होती है जिसमें 6 प्रश्न पत्र उन्हें हल करने होते हैं। यहां बताते चलें कि जीएस-1 (GS-1), जीएस-,2 (GS-2), जीएस-3 (GS-3) के पेपर के लिए 300 अंक रखे गए हैं। 

इस प्रकार से जनरल स्टडीज का जो 4 पेपर है उसके लिए 200 मार्क्स और हिंदी के पेपर के लिए भी 200 अंक निर्धारित किए गए हैं। इसके अलावा बता दें कि जो हिंदी ऐस्से पेपर है वह 100 अंकों का होता है। 

एमपीपीएससी इंटरव्यू 

जो अभ्यार्थी ऊपर के दोनों चरणों को पास कर लेते हैं उसके बाद उन्हें इंटरव्यू में शामिल होना होता है। यहां बताते चलें कि यह इंटरव्यू काफी महत्वपूर्ण होता है क्योंकि अगर इसमें कैंडिडेट असफल हो जाता है तो उसका सिलेक्शन नहीं होता। इस इंटरव्यू में उम्मीदवारों से कई प्रकार के प्रश्न पूछे जाते हैं। 

तो इसलिए परीक्षार्थियों को एग्जाम के साथ-साथ इंटरव्यू की तैयारी भी बेहतरीन तरीके से करनी होगी। इस प्रकार जो सबसे योग्य कैंडिडेट होते हैं उन्हें राजस्थान राज्य सरकार के अधीन सिविल सर्वेंट बनने का चांस मिलता है।  

एमपीपीएससी एग्जाम्स सिलेबस

बहुत सारे विद्यार्थी यह सोच सोच कर परेशान रहते हैं कि एमपीपीएससी की तैयारी कैसे करें। क्योंकि उन्हें समझ में नहीं आता कि वे किस तरह से इस परीक्षा की तैयारी कर सकते हैं। यहां हम आपको बता दें कि इसके लिए कैंडिडेट को सिलेबस की जानकारी होनी बहुत जरूरी है। 

अगर आपको सिलेबस पता नहीं है तो यहां निम्नलिखित हम सारा पाठ्यक्रम विस्तार से बता रहे हैं जो कि इस प्रकार से है – 

एमपीपीएससी प्रीलिम्स एग्जाम सिलेबस (MPPSC prelims exam syllabus)

तो यहां हम आपको पहले सिलेबस एमपीपीएससी प्रीलिम्स एग्जाम का बता रहे हैं। इसके अंदर 2 पेपर होते हैं और उन दोनों का पेपर का सिलेबस इस प्रकार से है –

जनरल स्टडीज (General Studies)

  • जनरल साइंस एंड एनवायरमेंट (General science and environment) 
  • करंट इवेंट्स आफ नेशनल एंड इंटरनेशनल इंर्पोटेंस (Current events of national and international importance) 
  • हिस्ट्री ऑफ इंडिया एंड इंडिपेंडेंट इंडिया (History of India and independent India) 
  • इंडियन पालिटी एंड इकोनामी (Indian Polity and economy) 
  • स्पोर्ट्स (Sports)
  • ज्योग्राफी, हिस्ट्री एंड कल्चर ऑफ एमपी  (Geography, history and culture of M.P) 
  • पॉलिटी एंड इकोनामी ऑफ एमपी (Polity and economy of MP)
  • इनफार्मेशन एंड कम्युनिकेशन टेक्नोलॉजी (Information and Communication Technology) 

जनरल एप्टीट्यूड टेस्ट (General Aptitude Test)

  • कंप्रीहेंशन (Comprehension)
  • इंटरपर्सनल स्किल्स इंक्लूडिंग कम्युनिकेशन स्किल्स (Interpersonal skills including communication skills)
  • लॉजिकल रीजनिंग एंड एनालिटिकल एबिलिटी (Logical reasoning and analytical ability)
  • डिसीजन मेकिंग एंड प्रोबलम सॉल्विंग (Decision making and problem solving)
  • जनरल मेंटल एबिलिटी (General mental ability)
  • बेसिक न्यूमेरेसी (Basic numeracy)
  • हिंदी लैंग्वेज कंप्रीहेंशन स्किल्स (Hindi language comprehension skills) 

एमपीपीएससी मेंस एग्जाम सिलेबस (MPPSC mains exam syllabus) 

निम्नलिखित हम एमपीपीएससी मेंस एग्जाम सिलेबस के बारे में सारी जानकारी दे रहे हैं जो कि इस तरह से है – 

जनरल स्टडीज-1 (General studies -1)

  • हिस्ट्री एंड कल्चर (History and culture)
  • इंडियन हिस्ट्री (Indian history)
  • वर्ल्ड हिस्ट्री (World history)
  • मोबाइल्स एंड दियर एडमिनिस्ट्रेशन (Mughals and their administration)
  • इंपैक्ट ऑफ ब्रिटिश रूल ऑन द इंडियन इकोनामी (Impact of British rule on the Indian economy) 
  • इंडिया एज रिपब्लिक (India as republic)
  • इंडियन कल्चर एंड ज्योग्राफी (Indian culture and geography)
  • वाटर मैनेजमेंट एंड डिजास्टर मैनेजमेंट (Water management and disaster management) 

जनरल स्टडीज-2 (General studies -2)

  • कॉन्स्टिट्यूशन इंक्लूडिंग फंडामेंटल राइट्स, डायरेक्टिव प्रिंसिपल्स आफ स्टेट पॉलिसीज, सेंटर एंड स्टेट लेजिसलेटर्स (constitution including fundamental rights, directive Principles of State policies, centre and state legislatures)
  • सोशल इश्यूज (Social issues) 
  • सोशल सेक्टर्स इंक्लूडिंग हेल्थ,एजुकेशन एंड एंपावरमेंट (Social sectors including health, education and empowerment) 
  • एजुकेशन सिस्टम  (Education system) 
  • ह्यूमन रिसोर्स डेवलपमेंट (Human resource development) 
  • इंटरनेशनल ऑर्गेनाइजेशन (International Organisation) 
  • पब्लिक अफेयर्स (Public affairs) 
  • एक्सपेंडिचर्स एंड इंटरनेशनल ऑर्गेनाइजेशन (Expenditure and international organisations) 

जनरल स्टडीज-3 (General studies -3)

  • साइंस एंड टेक्नोलॉजी (Science and Technology) 
  • लॉजिकल रीजनिंग (Logical reasoning)
  • डाटा इंटरप्रिटेशन (Data interpretation)
  • एनर्जी एंड सस्टेनेबल डेवलपमेंट (Energy and sustainable development)
  • इंडियन इकोनॉमी (Indian economy) 

जनरल स्टडीज-4 (General studies -4)

  • सोशल वर्कर्स/ रिफॉर्मर्स (Social workers/reformers) 
  • एप्टिट्यूड (Aptitude)
  • इमोशनल इंटेलिजेंस (Emotional intelligence)
  • केस स्टडीज ऑन वेरियस टॉपिक सच एज़ एथिक्स एंड इंटीग्रिटी (Case studies on various topics such as ethics and integrity) 

हिंदी एस्से (Hindi Essay)

  • एस्से ऑन एनी गिवन टॉपिक (Essay on any given topic) 

हिंदी (Hindi) 

  • हिंदी लैंग्वेज टेस्ट (Hindi language test) 

एमपीपीएससी एग्जाम प्रिपरेशन कोचिंग सेंटर्स

यदि आप सेल्फ स्टडी करके अपनी परीक्षा की तैयारी करने में नाकाम है। तो आपको घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि आप किसी अच्छे कोचिंग सेंटर को भी ज्वाइन कर सकते हैं। यहां हम बेस्ट कोचिंग सेंटर्स के नाम बता रहे हैं जो कि इस तरह से हैं –

  • समीक्षा इंस्टीट्यूट मध्य प्रदेश (Samiksha Institute Madhya Pradesh) 
  • वेदांग इंस्टिट्यूट दिल्ली (Vedanga Institute Delhi) 
  • चहल एकेडमी इंदौर (Chahal Academy Indore) 
  • द प्रयास इंडिया मुंबई (The prayas India Mumbai)
  • जूपिटर क्लासेस ग्रेटर नोएडा (Jupiter classes greater Noida) 
  • यूथ डेस्टिनेशन फरीदाबाद (Youth destination Faridabad) 
  • कैरियर लांचर इंडिया प्राइवेट लिमिटेड बैंगलोर (Career launcher India Private Limited Bangalore)
  • वी शाइन अकैडमी चेन्नई (We shine Academy Chennai) 
  • विज़डम अशोक नगर हैदराबाद (Wisdom Ashok Nagar Hyderabad)
  • राइस फाउंडेशन कोलकाता (Rise foundation Kolkata)

एमपीपीएससी परीक्षा के लिए किताबें और अध्ययन सामग्री

एमपीपीएससी एग्जाम को पास करने के लिए जरूरी है कि आपके पास अच्छी किताबें हो। कई बार स्टूडेंट्स बाजार से गलत किताब ले आते हैं जिसकी वजह से वो एग्जाम में फेल हो जाते हैं। ऐसे में हर कोई यही सोचता है कि एमपीपीएससी की तैयारी कैसे करें जिससे कि वह परीक्षा में सफल हो सके। 

यहां आपकी जानकारी के लिए हम कुछ बुक्स और स्टडी मैटेरियल के बारे में जानकारी दे रहे हैं। यह आपकी एग्जाम को पास करने में सहायता करेंगे – 

एमपीपीएससी स्टडी मैटेरियल फॉर प्रिलिम एग्जाम (MPPSC study material for prelim exam) 

  • हिस्ट्री ऑफ़ पोलिटिकल थॉट बाय जेपी सुदा(History of political thought by JP Suda)
  • एमपीपीएससी सामान्य अभिरुचि पेपर-2 स्टडी पैकेज बाय अरिहंत एक्सपर्ट्स (MPPSC samanya abhiruchi parikshan paper-2 study package by Arihant experts)
  • मॉडर्न पोलिटिकल थ्योरी बाय मदन गांधी (Modern Political theory by Madan Gandhi) 
  • पोलिटिकल थ्योरी बाय मदन गांधी (Political theory by Madan Gandhi) 
  • इंडियन पॉलिटिक्स बाय लक्ष्मीकांत (Indian politics by Laxmikanth)
  • इंट्रोडक्शन टू इंडियन कॉन्स्टिट्यूशन बाय डीडी बसु (Introduction to Indian Constitution by DD Basu)
  • जीके एंड जीएस बाय आरपी शर्मा (GK and GS by RP Sharma)
  • एमपीपीएससी जनरल एप्टीट्यूड टेस्ट पेपर-2 बाय अरिहंत एक्सपर्ट्स (MPPSC general aptitude test paper-2 by Arihant experts)
  • एमपीपीएससी सामान्य अध्ययन पेपर-1 स्टडी पैकेज बाय एक्सपर्ट्स कंपाइलेशन (MPPSC samanya adhyayan paper-1 study package by experts compilation)
  • कंपैरेटिव पॉलिटिक्स बाय आर चिलकोटे (Comparative politics by R chilkote)
  • 15 प्रैक्टिस सेट एमपीपीएससी बाय सामान्य अभिरुचि प्रकाशन (15 practice sets MPPSC by Samanya abhiruchi parikshan) 
  • कॉन्पिटिटिव गवर्नमेंट एंड पॉलिटिक्स बाय केआर बॉमवॉल (Competitive Government and politics by KR Bomwal
  • आवर कॉन्स्टिट्यूशन बाय एससी कश्यप (Our constitution by SC Kashyap) 
  • इंग्लिश ग्रामर बाय रेन एंड मार्टिन (English grammar by Wren and Martin) 

एमपीपीएससी स्टडी मैटेरियल फॉर में मेंस एग्जाम (MPPSC study material for mains exam) 

  • इंडियन पॉलिटिक्स बाय एम लक्ष्मीकांत (Indian politics by M Laxmikanth)
  • एंसियंट इंडिया बाय डीडी कौसाम्बिस हिस्टोरिकल आउटलाइन (Ancient India by DD Kausambi’s historical outline)
  • मिडिवियल इंडिया बाय जेएल मेहता (Mediaeval India by JL Mehta) 
  • इंग्लिश ग्रामर बाय रेन एंड मार्टिन (English grammar by Wren and Martin) 
  • जीके एंड जीएस बाय आरपी शर्मा (GK and GS by RP Sharma)
  • एनसीईआरटी बुक्स क्लास 11th एंड 12th (NCERT books  class 11th and 12th)
  • हिस्ट्री ऑफ़ पोलिटिकल थॉट बाय सुब्रता मुखर्जी, सुशीला रामस्वामी (A history of political thought by Subrata Mukherjee, Susheela Ramaswamy)
  • हिस्ट्री ऑफ़ पोलिटिकल थॉट बाय जेपी सुदा (A history of political thought by JP Suda) 
  • फाउंडेशन ऑफ इंडियन पॉलीटिकल थॉट बाय वीआर मेहता  (Foundation of Indian political thought by VR Mehta)
  • मॉडर्न पोलिटिकल थ्योरी बाय एसपी वर्मा (Modern Political theory by SP Verma) 

वेतन

जो कैंडिडेट राजस्थान राज्य में सिविल सर्वेंट के अनेकों पदों पर काम करने के अवसर हासिल करते हैं। उन्हें वेतन उनकी पोस्ट के अनुसार और विभाग के अनुसार मिलता है। 

बता दें कि इस प्रकार से कैंडिडेट को 56,000 से लेकर 1,77,500 रुपए तक का वेतन पोस्ट के हिसाब से मिलता है। इसके अलावा सरकार के द्वारा उन्हें कुछ दूसरे अन्य भत्ते और सुविधाएं भी प्रदान की जाती हैं। 

टिप्स एमपीपीएससी परीक्षा की तैयारी के लिए (Mppsc Exam Preparation)

एमपी सिविल सेवा परीक्षा काफी कठिन होती है। इसीलिए जो कैंडिडेट इसकी तैयारी ठीक से नहीं करते तो वह इसमें असफल हो जाते हैं। इसलिए इस मुश्किल और चुनौतीपूर्ण एग्जाम को लेकर उम्मीदवार परेशान रहते हैं। 

क्योंकि उन्हें मालूम नहीं होता कि एमपीपीएससी की तैयारी कैसे करें। लेकिन यहां हम कुछ आपको टिप्स दे रहे हैं जो आपके लिए एग्जाम की तैयारी में काफी सहायक होंगी –

  • परीक्षा की तैयारी करने से पहले कैंडिडेट को चाहिए कि अपना पूरा एमपीपीएससी का सिलेबस जानें। साथ ही परीक्षा पैटर्न भी अच्छी तरह से समझ लें 
  • अब सही स्टडी मैटेरियल इकट्ठा करें।
  • अपनी पढ़ाई करने के लिए एक योजना बनाएं और उसका सख्ती के साथ पालन करें।
  • उसके बाद यह देखें कि आपको कौन सा विषय सबसे अधिक मुश्किल लगता है। उसकी स्टडी के लिए दूसरे विषयों से ज्यादा समय निकालें। 
  • हर दिन न्यूज़पेपर पढ़ें और न्यूज़ चैनल भी देखें। 
  • जब सारा सिलेबस कवर हो जाए तो उसके बाद पिछले वर्ष के प्रश्न पत्रों को हल करने की कोशिश करें। 
  • इसके साथ-साथ हर सब्जेक्ट के शॉर्ट्स नोट्स जरूर बनाएं क्योंकि लास्ट में रिवीजन में काम आएंगे। 
  • यह जानने के लिए कि आपने परीक्षा की तैयारी कितनी अच्छी तरह से की है इसके लिए मॉक टेस्ट दें। इस प्रकार से आप यह जांच सकेंगे की आपकी कमजोरियां और शक्तियां क्या-क्या है। 
  • परीक्षा से पहले अपना सारा सिलेबस एक बार जरूर रिवाइज कर लें।

निष्कर्ष

दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिकल एमपीपीएससी की तैयारी कैसे करें। इस लेख के माध्यम से हमने आपको बताया कि एमपीपीएससी क्या है और इसमें भर्ती प्रक्रिया क्या होती है। इसके अलावा हमने आपको यह जानकारी भी दी की इसके अंतर्गत कौन-कौन से पदों पर नौकरी मिलती है। साथ ही हमने आपको यह भी बताया कि इस एग्जाम में भाग लेने के लिए किसी भी कैंडिडेट में कितनी योग्यता होनी चाहिए। 

इस आर्टिकल में हमने आपको बताया कि एमपीपीएससी परीक्षा का पैटर्न क्या होता है और इसके एग्जाम सिलेबस की भी हमने आपको जानकारी दी। साथ ही अपने आप को कुछ अच्छे कोचिंग सेंटर्स के नाम भी बताए। 

इस पोस्ट में हमने आपको यह भी बताया कि कौन सी किताबों और स्टडी मेटेरियल की मदद से आप एमपीपीएससी परीक्षा की तैयारी कर सकते हैं। 

साथ ही साथ हमने आपको यह जानकारी भी दी कि जब आप इस परीक्षा को पास कर लेंगे तो आपको हर महीने कितना वेतन मिल सकता है। इसके साथ ही हमने आपको कुछ एग्जाम प्रिपरेशन टिप्स भी दिए जो आपको परीक्षा क्रैक करने में मदद करेंगी। 

अंत में हमारी आपसे बस यही रिक्वेस्ट है कि अगर आपको हमारा यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो इसे अपने उन सभी दोस्तों के साथ भी शेयर करें जो एमपीपीएससी परीक्षा की तैयारी कैसे करें के बारे में जानकारी जानना चाहते हैं। 

Leave a Reply