मार्किट रिसर्च एनालिस्ट (Market Research Analyst) कैसे बनें?

नमस्कार! आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि मार्किट रिसर्च एनालिस्ट (Market Research Analyst) कैसे बनें? यहां बता दें कि जब भी कोई नया बिजनेस या प्रोडक्ट कराया जाता है तो उसके लिए मार्केट रिसर्च करना बहुत जरूरी होती है जिसको केवल वही कैंडिडेट कर सकता है जिसको इस क्षेत्र के बारे में सारी जानकारी होती है। वैसे यहां बता दें कि इस फील्ड में किसी भी व्यक्ति को सफलता केवल तभी मिलती है जब उसे मार्केट रिसर्च एनालिस्ट से जुड़ी हुई सभी बातों की अनिवार्य जानकारी होती है। परंतु इस इंडस्ट्री में काम करने के लिए कैंडिडेट को मार्केट से संबंधित सारी बातों का पता होना चाहिए और अगर आप भी एक ऐसे छात्र हैं जो 12वीं के बाद मार्केट रिसर्च एनालिस्ट बनने में रुचि रखते हैं तो हमारे आज के इस आर्टिकल को सारा पढ़े और जानें कि आप किस प्रकार से मार्केट रिसर्च एनालिस्ट बन सकते हैं। 

मार्किट रिसर्च एनालिस्ट क्या होता है (what is Market Research Analyst in Hindi) 

यहां आपको बता दें कि मार्केट रिसर्च एनालिस्ट एक ऐसा प्रोफेशनल होता है जिसका काम किसी भी नए प्रोडक्ट को बाज़ार में लाने से पहले उसके बारे में सभी जानकारी हासिल करनी होती है जैसे कि जिस क्षेत्र में वह प्रोडक्ट लाया जा रहा है वहां पर उसकी खपत कितनी है एवं उस मार्केट में उस उत्पाद की बिक्री कितनी हो सकती है। इसीलिए जब भी कोई कंपनी अपने नए प्रोडक्ट को मार्केट में लाती है तो सबसे पहले उसका मार्केट रिसर्च कराती है ताकि बाजार में होने वाले सभी प्रकार के बदलाव के बारे में भी सारी जानकारी सही तरीका से प्राप्त हो सके। 

Also read: फंड मैनेजर (Fund Manager) कैसे बनें?

मार्किट रिसर्च एनालिस्ट बनने के लिए प्रक्रिया क्या है

जो कैंडिडेट मार्केट रिसर्च एनालिस्ट बनना चाहते हैं उनको सबसे पहले बारहवीं कक्षा गणित जैसे विषय के साथ पास करनी होगी और उसके बाद छात्र को चाहिए कि वह मैथमेटिक्स, कंप्यूटर साइंस, मार्केट रिसर्च जैसे विषयों में अपना ग्रेजुएशन करें। यहां बता दें कि हमारे देश में मार्केट रिसर्च एनालिस्ट बनने के लिए बहुत सारे संस्थानों में कोर्स करवाए जाते हैं जहां से छात्र अपना कोर्स मार्केट रिसर्च एनालिस्ट की फील्ड में कर सकते हैं। 

मार्किट रिसर्च एनालिस्ट बनने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए 

  • इच्छुक उम्मीदवार ने किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से मार्केटिंग एंड फाइनेंस में बीबीए की डिग्री हासिल की हो।
  • या फिर कैंडिडेट ने बीकॉम किया होना चाहिए।
  • या उम्मीदवार ने बीएससी की डिग्री ले रखी हो। 
  • कैंडिडेट को अंग्रेजी भाषा का ज्ञान होना आवश्यक है।
  • उम्मीदवार वार्तालाप में निपुण होने के साथ-साथ रचनात्मक प्रवृत्ति का होना चाहिए। 

आयु सीमा 

जो छात्र मार्किट रिसर्च एनालिस्ट बनना चाहते हैं उन्हें यहां जानकारी के लिए बता दें कि कैंडिडेट की आयु कम से कम 20 साल होनी चाहिए और इसके लिए किसी भी तरह की अधिकतम आयु सीमा नहीं रखी गई है जिसकी वजह से कोई भी व्यक्ति इस क्षेत्र में किसी भी उम्र तक अपना कैरियर बना सकता है। 

मार्किट रिसर्च एनालिस्ट बनने के कैरियर संभावनाएं क्या है 

मार्केट रिसर्च एनालिस्ट के तौर पर काम करने वाले लोगों को नौकरी करने के निजी और सरकारी अवसर प्राप्त होते हैं। यहां बता दें कि प्राइवेट सेक्टर के अलावा सरकार को भी सरकारी नीतियों, योजनाओं एवं मुद्दों के बारे में भी पब्लिक की राय जानने के लिए मार्केट रिसर्च करवाना पड़ता है जिसके लिए उन्हें मार्केट रिसर्चर की आवश्यकता होती है। इसके अलावा शिक्षा संस्थानों, मार्केटिंग संगठनों, और मल्टीनेशनल कंपनियों में भी मार्केट रिसर्च एनालिस्ट की जरूरत पड़ जाती है। 

वेतन 

आप यहां आपको जानकारी दे दें कि जो व्यक्ति मार्केट रिसर्च एनालिस्ट के रूप में काम करते हैं उन्हें हर महीने शुरुआत में 25,000 से लेकर 35,000 तक का सैलरी पैकेज मिल जाता है। इस तरह से कुछ वर्षों का अनुभव हासिल करने के बाद कैंडिडेट को 1 लाख से भी ज्यादा का वेतनमान मिल सकता है जो कि पूरी तरह से उसकी मेहनत, लगन और योग्यता के ऊपर निर्भर करता है। 

मार्किट रिसर्च एनालिस्ट के कार्य

मार्किट रिसर्च एनालिस्ट के तौर पर काम करने वाले व्यक्ति के सामने बहुत सारी चुनौतियां होती हैं जिन्हें उसको सफलतापूर्वक तरीके से पूरा करना होता है जो कि इस प्रकार से है – 

  • किसी भी नए प्रोडक्ट के बारे में रिसर्च करना।
  • ग्राहक की जरूरत को समझते हुए उसके उत्पाद के बारे में जानकारी देना।
  • किसी प्रोडक्ट या फिर सर्विस के बारे में फीडबैक जुटाते हैं।
  • बाजार में लाए जाने वाले नए उत्पाद की बिक्री, कीमत, डिस्ट्रीब्यूशन इत्यादि के बारे में भी जानकारी जमा करते हैं। 
  • फील्ड सर्वे कराने का काम करते हैं। 
  • जिस क्षेत्र में कोई नया प्रोडक्ट लॉन्च होता है उस प्रोडक्ट से संबंधित सारी जानकारी जमा करते हैं। 

निष्कर्ष

दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिकल मार्किट रिसर्च एनालिस्ट (Market Research Analyst) कैसे बनें? इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपको बताया कि मार्केट रिसर्च एनालिस्ट क्या होता है और उसके लिए किसी भी छात्र में कितनी योग्यता होनी आवश्यक है। इसके साथ-साथ हमने आपको यह जानकारी भी दी कि मार्केट रिसर्च एनालिस्ट बनने के लिए पूरी प्रक्रिया क्या होती है और जब कोई कैंडिडेट इस पद पर काम करने लगता है तो तब उसे हर महीने कितने रुपए तक का सैलरी पैकेज मिल जाता है। साथ ही साथ हमने इस लेख के द्वारा आपको यह जानकारी भी दी कि जब कोई कैंडिडेट मार्केट रिसर्च एनालिस्ट बन जाता है तो उसे कौन-कौन से कार्य करने होते हैं। वैसे यहां अगर देखा जाए कि अगर किसी व्यक्ति को सर्वे, फील्ड वर्क और एनालिटिकल कार्य करने पसंद होते हैं तो वह इस क्षेत्र में अपना कैरियर बना सकता है। अंत में हम आपसे यही कहेंगे कि अगर आपको हमारे द्वारा प्रदान की गई सारी जानकारी उपयुक्त लगी हो तो इसे अपने उन दोस्तों के साथ ही जरूर शेयर करें जो 12वीं के बाद मार्केट रिसर्च एनालिस्ट बनना चाहते हैं।

Deepak Kumar

दीपक कुमार After12th.net के लेखक और संस्थापक हैं। वह छात्रों को उनकी धारा तय करने और उद्योग में पाठ्यक्रमों के बारे में जानकारी प्रदान करने में मदद करता है। वह उन्हें नई ऊंचाइयों तक पहुंचाने में मदद करता है। उनका उद्देश्य देश में अधिकतम छात्रों के लिए वैध और उपयोगी जानकारी साझा करना है।

Leave a Reply