एलएलबी कोर्स क्या है LLB Course कैसे करे पूरी जानकारी

मौजूदा समय में प्रतिस्पर्धा बहुत अधिक बढ़ गई है और लोग काफी पढ़े लिखे होने के बाद भी उचित नौकरी नहीं ढूंढ पाते या फिर उन्हें नौकरी मिल ही नहीं पाती ऐसे में एलएलबी कोर्स की तरफ लोगों का रुझान हो रहा है क्योंकि इस क्षेत्र में कोर्स करने के बाद जॉब के लिए किसी भी प्रकार की समस्या का सामना नहीं करना पड़ता है। इसीलिए आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे एलएलबी कोर्स क्या है और इस कोर्स को करने की योग्यता कितनी होती है। साथ ही हम यह भी बताएंगे कि एलएलबी कोर्स पूरा करने के बाद आप कहां कहां पर नौकरी कर सकते हैं। तो यदि आपको एलएलबी कोर्स करना है लेकिन आपको इसके बारे में कुछ भी जानकारी नहीं है तो यह आर्टिकल आप पूरा अवश्य पढ़िएगा क्योंकि हम इसमें सभी जानकारी आपको देने वाले हैं। 

एलएलबी कोर्स

Contents

एलएलबी कोर्स क्या है (What is LLB course in Hindi)

एलएलबी कोर्स एक अंडर ग्रेजुएट लॉ की डिग्री है जिसको छात्र पढ़ने के बाद जुडिशरी के क्षेत्र में अपना कैरियर बनाते हैं। अगर आपको एलएलबी का फुल फॉर्म नहीं पता है तो आपकी जानकारी के लिए हम बता देते हैं कि एलएलबी (LLB) का फुल फॉर्म होता है बैचलर ऑफ लेजिसलेटिव लॉ (Bachelor of Legislative Law) इसके अलावा इसको बैचलर ऑफ लॉ (Bachelor of law) भी कहते हैं। यह कोर्स आप कक्षा बारहवीं पास करने के बाद कर सकते हैं। इसमें आपको पांच साल का समय लगेगा। वहीं अगर आप अपनी बीए की डिग्री लेने के बाद एलएलबी कोर्स करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको 3 सालों का समय लगेगा। 

प्रचलित एलएलबी कोर्स

एलएलबी कोर्स के अंदर एक नहीं बहुत प्रकार के कोर्स करवाए जाते हैं जिनको कोई भी छात्र अपनी रूचि के अनुसार चुनकर पढ़ाई कर सकता है। उन सभी कोर्स इसकी जानकारी हम नीचे दे रहे हैं। 

बीए एलएलबी कोर्स (BA LLB Course) 

यह कोर्स उन छात्रों के लिए बहुत अच्छा है जो लॉयर बनने के साथ-साथ ह्यूमनीटीज के विषयों में भी रुचि रखते हैं और उन्हें पढ़ना चाहते हैं। तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बीए एलएलबी कोर्स में आप सोशलॉजी और पॉलिटिकल साइंस जैसे विषयों को भी पढ़ सकते हैं। 

बीएससी एलएलबी कोर्स (BSc LLB course)

बीएससी एलएलबी कोर्स उन छात्रों के लिए बहुत बेहतर विकल्प है जिन्होंने कक्षा 12वीं साइंस स्ट्रीम से पास की हो। वैसे अगर छात्र चाहे तो बीए एलएलबी में भी प्रवेश ले सकता है लेकिन अगर आपकी रूचि बीएससी एलएलबी में है तो आप इसको भी कर सकते हैं यहां आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इसमें इकोनॉमिक्स विषय भी पढ़ाया जाता है।

बीबीए एलएलबी कोर्स (BBA LLB Course) 

अगर किसी छात्र को कानून के साथ-साथ बिजनेस पढ़ने में भी रुचि है तो फिर वह इस कोर्स में एडमिशन ले कर पढ़ाई कर सकता है। 

बीकॉम एलएलबी कोर्स (B.Com LLB Course)

अगर किसी कैंडिडेट की रूचि कॉमर्स में है तो वह कॉमर्स के साथ अपनी एलएलबी की पढ़ाई भी कर सकता है। 

एलएलबी कोर्स ग्रेजुएशन के बाद 

यहां आपको इस बात की जानकारी भी दे दें कि यदि आप अपनी ग्रेजुएशन पूरा करने के बाद एलएलबी करना चाहते हैं तो आप कर सकते हैं। यदि आपका ग्रेजुएशन कंप्लीट हो गया है तो आप 3 साल के एलएलबी कोर्स में प्रवेश ले सकते हैं। 

एलएलबी कोर्स का वर्तमान परिदृश्य क्या है 

वर्तमान समय में एलएलबी कोर्स की काफी डिमांड बढ़ रही है क्योंकि इस क्षेत्र में कोर्स करने के बाद नौकरी के बहुत सारे अवसर कैंडिडेट को मिल जाते हैं। इसके अलावा यह एक बहुत ही सम्मानजनक नौकरी होती है जिसमें रोजगार के अवसर बेशुमार होते हैं। आज के युवा 12वीं कक्षा पढ़ने के बाद एलएलबी कोर्स करना चाहते हैं क्योंकि उन्हें भी यह पता है कि यदि वह इस कोर्स को कर लेंगे तो उसके बाद उन्हें नौकरी ढूंढने के लिए किसी भी प्रकार की परेशानी नहीं उठानी पड़ेगी। तो यदि आप एक सुरक्षित और कामयाब भविष्य की कामना करते हैं तो आपको एलएलबी कोर्स ही करना चाहिए। 

एलएलबी कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा

वह कैंडिडेट जो एलएलबी कोर्स करना चाहते हैं उनको प्रवेश परीक्षा को क्लियर करना होगा। इस कोर्स के लिए एंट्रेंस परीक्षाएं इस प्रकार से हैं- 

सीएलएटी- कॉमन लॉ ऐडमिशन टेस्ट (CLAT- Common Law Admission Test) 

कॉमन लॉ ऐडमिशन टेस्ट  की परीक्षा साल में एक बार होती है जिसको 12वीं कक्षा पास करने के बाद कोई भी छात्र दे सकता है।  

ऑल इंडिया लॉ एंट्रेंस टेस्ट (All India Law Entrance Test-LSAT)  

यह टेस्ट दिल्ली की लॉ यूनिवर्सिटी के द्वारा आयोजित कराया जाता है। इस प्रवेश परीक्षा में जो छात्र पास हो जाते हैं वे दिल्ली के लॉ कॉलेज में दाखिला पा सकते हैं। 

एग्जाम की तैयारी करने के लिए आपको काफी मेहनत करनी होगी जैसे आप पुराने प्रश्न पत्रों को हल कर सकते हैं और उन विषयों का ठीक प्रकार से अध्ययन करें जिन से रिलेटेड आपकी परीक्षा होगी। जानकारी दे दें कि अगर आप चाहते हैं कि आपका दाखिला किसी सरकारी लॉ कॉलेज के अंदर हो तो उसके लिए आपको प्रवेश परीक्षा को पास करना अनिवार्य है। बता दें कि प्रवेश परीक्षा में आपसे इंग्लिश, मैथ्स, लीगल एप्टिट्यूड, रिजनिंग आदि से जुड़े हुए प्रश्न पूछे जाते हैं।  

एलएलबी कोर्स के लिए प्रवेश प्रक्रिया क्या है

अधिकतर कॉलेज और संस्थान मेरिट बेस पर एलएलबी कोर्स में एडमिशन देते हैं लेकिन कुछ ऐसे कॉलेज और संस्थान भी है जहां पर एलएलबी कोर्स करने के लिए एंट्रेंस एग्जाम देना होता है। यदि आप एंट्रेंस एग्जाम पास नहीं कर पाते हैं तो फिर आपको किसी प्राइवेट कॉलेज या संस्थान से ही अपना एलएलबी कोर्स करना होगा। 

एलएलबी कोर्स के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए

  • आवेदक को किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं क्लास 45% अंक के साथ पास होना चाहिए। 
  • अगर आप ग्रेजुएशन के बाद एलएलबी कोर्स करना चाहते हैं तो इसके लिए भी आपके स्नातक में 45% अंक होने चाहिए। 

एलएलबी कोर्स की फीस कितनी है 

एलएलबी कोर्स करने के लिए आपको 150,000 से लेकर 3,00,000 रुपए तक की फीस का भुगतान करना पड़ सकता है। साथ ही इस बात को भी जान लें कि हर संस्थान के लिए आपको अलग-अलग फीस का भुगतान करना पड़ सकता है क्योंकि बहुत सारे प्राइवेट संस्थान ऐसे भी हैं जो कि एक दूसरे से अलग प्रवेश प्रक्रिया रखते हैं और इसी तरह उनकी फीस भी अलग-अलग होती है। 

एलएलबी कोर्स का पाठ्यक्रम/ सब्जेक्ट्स क्या-क्या है 

जो छात्र एलएलबी करना चाहते हैं उनकी जानकारी के लिए बता दें कि एलएलबी कोर्स में सारा सिलेबस लॉ के ऊपर ही निर्भर होता है जो कि इस तरह है-

  • लेबर लॉ
  • क्रिमिनोलॉजी
  • इंटरनेशनल इकोनामिक लॉ
  • वुमन एंड लॉ 
  • लॉ ऑफ एविडेंस
  • ह्यूमन राइट्स एंड इंटरनेशनल लॉ
  • प्रॉपर्टी लॉ
  • लीगल एड्स
  • लीगल राइटिंग
  • सिविल प्रोसीजर कोड
  • कोड ऑफ क्रिमिनल प्रोसीजर 
  • फैमिली लॉ
  • प्रोफेशनल एथिक्स
  • कांस्टीट्यूशनल लॉ
  • एनवायरमेंटल लॉ
  • लॉ ऑफ कॉन्ट्रैक्ट
  • एडमिनिस्ट्रेटिव
  • इन्वेस्टमेंट एंड सिक्योरिटीज लॉ
  • लॉ ऑफ़ टैक्सेशन
  • कॉपरेटिव लॉक
  • बैंकिंग लो इंक्लूडिंग द नेगोशिएबल इंस्ट्रूमेंट एक्ट 

भारत में एलएलबी कोर्स करने के लिए कॉलेजों

  • नेशनल लॉ स्कूल आफ इंडिया यूनिवर्सिटी बेंगलुरू (National Law School of India University Bangalore)
  • नेशनल एकेडमी ऑफ लीगल स्टडीज एंड रिसर्च यूनिवर्सिटी हैदराबाद (National Academy of legal Studies and Research University, Hyderabad) 
  •  नेशनल लॉ इंस्टीट्यूट यूनिवर्सिटी भोपाल (National Law Institute University Bhopal)
  • सिंबायोसिस सोसायटी लॉ कॉलेज पुणे (symbiosis Law College of Pune)
  • नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी जोधपुर (National Law University Jodhpur)
  • नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी नई दिल्ली (National Law University Delhi)
  • गुजरात नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी गांधीनगर (Gujarat National Law University Gandhinagar)
  • फैकल्टी ऑफ लॉ दिल्ली यूनिवर्सिटी दिल्ली (faculty of law Delhi University Delhi)
  • एमिटी लॉ स्कूल दिल्ली (Amity Law School Delhi)

एलएलबी कोर्स की संदर्भ पुस्तकें और अध्ययन सामग्री

  • लीगल एप्टीट्यूड एंड लीगल रिजनिंग फॉर द सी एल ए टी एंड एलएलबी एग्जामिनेशंस बाय ए पी भारद्वाज (legal aptitude and legal reasoning for the Clyde and LLB examinations by AP bhardwaj)
  • फैमिली लॉ फॉर बीएसएल एलएलबी बाय वीरा रेड्डी  (family law for BSL and LLB by Veera Reddy) 
  • अल्टीमेट गाइड टू द एलएलबी एंटरेंस एग्जामिनेशन बाय राशिद एम ए (ultimate guide to the LLB entrance examination by Rashid M A) 
  • आरती एंड कंपनीज गाइडलाइंस फॉर एमएच-सीईटी बाय सायरस जे पूनीवाला (Aarti and co.’s  guidelines for MH-CET by Cyrus J. Pooniwala) 
  • चंद्रेश अग्रवाल महाराष्ट्र एलएलबी- सीईटी कॉमन एंट्रेंस टेस्ट बाय प्रियंका प्रकाशन (Chandresh Agrawal’s Maharashtra LLB CET common entrance test) 

एलएलबी कोर्स के बाद कैरियर संभावनाएँ क्या है 

अपना एलएलबी कोर्स कंप्लीट करने के बाद आप बहुत सारी नौकरियों के लिए आवेदन कर सकते हैं। जानकारी के लिए बता दें कि कुछ नौकरियां तो ऐसी है जो आप एलएलबी की डिग्री लेने के तुरंत बाद ही पा सकते हैं जैसे – नोटरी, ट्रस्टी, पब्लिक प्रॉसिक्यूटर, सॉलीसीटर, लीगल एक्सपर्ट इत्यादि।

एलएलबी कोर्स के बाद वेतन कितनी मिलती है

एलएलबी कोर्स करने के बाद आपका वेतन आपकी नौकरी के ऊपर ही डिपेंड करता है। लेकिन जब आप इस कोर्स को कर लेंगे तो उसके बाद आप शुरू में वार्षिक डेढ़ लाख से लेकर तीन लाख तक के बीच का वेतन पा सकते हैं।  वही जो गवर्नमेंट लॉयर होते हैं उनकी अगर हम वार्षिक सैलरी की बात करें तो वह 450,000 तक की हो सकती है। 

एलएलबी कोर्स के बाद प्राइवेट सेक्टर में जॉब्स

एलएलबी कोर्स करने के बाद आपको प्राइवेट सेक्टर में नौकरी करने के बहुत ही सारे अवसर मिलेंगे। आप किसी के भी लीगल एडवाइजर बन सकते हैं। साथ ही आप वकील बन कर भी बहुत पैसे कमा सकेंगे। इसके साथ ही आप खेतान एंड कंपनी, देसाई एंड दीवानजी, लूथरा एंड लूथरा लॉ ऑफिसेज, जे सागर एसोसिएट्स इत्यादि लीगल फर्म्स के साथ भी काम कर सकते हैं। इसके साथ ही आपको यह भी बता दें कि यदि आप बैंक में जॉब करना चाहते हैं तो आप किसी प्राइवेट बैंक के अंदर भी काम कर सकते हैं। 

एलएलबी कोर्स के बाद गवर्नमेंट सेक्टर में जॉब्स

एलएलबी कोर्स करने के बाद जहां आपके पास प्राइवेट सेक्टर में जॉब करने के बहुत सारे मौके होंगे तो इसी तरह से गवर्नमेंट सेक्टर में भी आप बहुत सारी नौकरियां कर सकते हैं। यहां जानकारी के लिए बता दें कि गवर्नमेंट सेक्टर में जॉब करने के लिए आपको यूपीएससी जैसे एग्जाम को पास करना होगा। इसके अलावा स्टाफ सिलेक्शन कमीशन एग्जाम भी दे सकते हैं जिनको देने के बाद आप इनकम टैक्स ऑफिसर, सब इंस्पेक्टर, अपर डिविजन क्लर्क बन सकते हैं। इसके अलावा अगर आप चाहे तो आप बैंकिंग सेक्टर में भी जा सकते हैं। 

Deepak Kumar

दीपक कुमार After12th.net के लेखक और संस्थापक हैं। वह छात्रों को उनकी धारा तय करने और उद्योग में पाठ्यक्रमों के बारे में जानकारी प्रदान करने में मदद करता है। वह उन्हें नई ऊंचाइयों तक पहुंचाने में मदद करता है। उनका उद्देश्य देश में अधिकतम छात्रों के लिए वैध और उपयोगी जानकारी साझा करना है।

Leave a Reply