लेजर प्रिंटर टेक्निशियन (Laser Printer Technician) कैसे बनें?

नमस्कार! आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि लेजर प्रिंटर टेक्निशियन (Laser Printer Technician) कैसे बनें? हर गुजरते दिन टेक्नोलॉजी बहुत ज्यादा आगे बढ़ती जा रही है और इसी से संबंधित कंप्यूटर से जुड़ा हुआ काम है लेजर प्रिंटर टेक्निशियन का जिसको आज अधिकतर विद्यार्थी 12वीं के बाद करने के इच्छुक होते हैं। लेकिन दूसरे क्षेत्रों की तरह इस क्षेत्र में काम करने के लिए कैंडिडेट को चाहिए कि पहले इसके बारे में सारी जानकारी हासिल करें जैसे कि लेजर प्रिंटर टेक्निशियन बनने के लिए अनिवार्य योग्यता एवं कौन-कौन से कोर्स कैंडिडेट को करने होते हैं एवं दूसरी और भी इससे जुड़ी हुई जानकारियां होती हैं जो उन छात्रों के लिए जानना बेहद जरूरी है जो इस फील्ड में काम करना चाहते हैं। अगर आप सारी जानकारी हासिल करना चाहते हैं तो हमारे आज के इस आर्टिकल को सारा पढ़ें और जानें लेजर प्रिंटर टेक्नीशियन बनने की पूरी प्रक्रिया के बारे में। 

लेजर प्रिंटर टेक्निशियन क्या होता है (what is Laser Printer Technician in Hindi) 

सबसे पहले यहां जानकारी के लिए बता दें कि लेजर प्रिंटर टेक्नीशियन ऐसा प्रोफेशनल होता है जो कि कंप्यूटर के माध्यम से लेजर किरणों को नियंत्रित करने का काम करता है। यहां बता दें कि लेजर प्रिंटर कंप्यूटर से जुड़ा एक तरह का प्रिंटर होता है जिसकी विशेषता यह होती है कि कागज के अलावा इसमें फिल्म ट्रांसपेरेंट पेपर, बटर पेपर और पीवीसी प्लेस इत्यादि पर प्रिंट निकालने का काम किया जाता है और केवल एक लेजर प्रिंटर टेक्नीशियन ही इसे इस्तेमाल कर सकता है जोकि लेज़र किरणों और प्रकाश के स्त्रोतों का प्रयोग करते हुए विभिन्न प्रकार की इमेजेस को उत्पन्न करता है। 

Also read: 

लेजर प्रिंटर टेक्निशियन बनने के लिए प्रक्रिया क्या है

जो भी कैंडिडेट लेजर प्रिंटर टेक्निशियन बन कर अपना  कैरियर बनाना चाहते हैं उन्हें जानकारी के लिए बता दें कि इसके लिए उनको सबसे पहले अपनी 12वीं कक्षा पास करनी होगी और उसके बाद कंप्यूटर या फिर इनफार्मेशन सिस्टम जैसे विषय में ग्रेजुएशन करनी होगी जिससे कि वह इस क्षेत्र में बेहतर तरीके से काम कर सकें। उसके बाद कैंडिडेट किसी भी छोटी या बड़ी कंपनी में नौकरी के लिए अपना आवेदन दे सकता है या फिर अगर चाहे तो वह अपनी स्वयं की दुकान भी खोल कर इस काम को कर सकता है। 

लेजर प्रिंटर टेक्निशियन बनने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए 

यहां आपको बता दें कि अगर कोई व्यक्ति लेजर प्रिंटर टेक्नीशियन बनना चाहता है तो उसके लिए उसमें कुछ योग्यता का होना अनिवार्य है जैसे कि- 

  • कैंडिडेट ने इंफॉर्मेशन सिस्टम मैनेजमेंट में ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की हो। 
  • या फिर छात्र ने कंप्यूटर जैसे विषय में डिग्री ले रखी हो। 
  • कैंडिडेट को अंग्रेजी भाषा का ज्ञान होना चाहिए
  • कंप्यूटर के हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर में होने वाली समस्याओं को दूर करने में सक्षम हो। 
  • लेजर प्रिंटर को इंस्टॉल करने के अलावा उसे रिपेयर और ऑपरेट करने में निपुण होना चाहिए। 

आयु सीमा 

  • इच्छुक उम्मीदवार की कम से कम आयु 18 साल होनी चाहिए।
  • अधिकतम आयु 25 साल तक होनी चाहिए। 

लेजर प्रिंटर टेक्निशियन बनने के कैरियर संभावनाएं क्या है 

एक लेजर प्रिंटर टेक्नीशियन के तौर पर काम करने वाले कैंडिडेट को अपना कोर्स पूरा करने के बाद प्राइवेट सेक्टर्स में काम करने के अवसर मिलने के अलावा सरकारी सेक्टर में भी नौकरी के मौके मिल जाते हैं। इस प्रकार से अगर वह चाहे तो अपनी खुद की शॉप भी खोल सकता है या फिर किसी के साथ पार्टनरशिप में भी अपना काम आरंभ कर सकता है। 

वेतन 

जब भी कोई छात्र लेजर प्रिंटर टेक्नीशियन के रूप में नौकरी करता है तो तब उसे शुरुआत में ही काफी अच्छा वेतन मिल जाता है जो कि 20 हजार से लेकर 25 हजार रुपए तक हो सकता है। इस प्रकार से कुछ वर्षों का अनुभव हासिल करने के बाद उसे इससे भी ज्यादा सैलरी मिल सकती है क्योंकि आज इस क्षेत्र में एक अच्छे लेजर प्रिंटर टेक्नीशियन की डिमांड काफी अधिक है जहां पर अगर कैंडिडेट की नौकरी किसी प्रतिष्ठित और बड़ी कंपनी में लग जाती है तो तब उसे काफी अट्रैक्टिव सैलरी पैकेज प्रदान किया जाता है। 

लेजर प्रिंटर टेक्निशियन के कार्य 

  •  नए लेजर प्रिंटर को इंस्टॉल करना और उसका पूरा रखरखाव करने का काम करना।
  • लेजर प्रिंटर की रिप्लेसमेंट और रिपेयरिंग से संबंधित कार्य करना। 
  • प्रिंटर का प्रयोग करते हुए इमेजेस क्रिएट करना।
  • समय-समय पर प्रिंटिंग इक्विपमेंट को चेक करना और उनका पूरा मेंटेनेंस करना।
  • सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर जैसी समस्याओं को सुलझाना।
  • नए सॉफ्टवेयर को इंस्टॉल करने की जिम्मेदारी।
  • लेजर प्रिंटर में आने वाली त्रुटियों को पहचानना और उन्हें दूर करना।
  • ग्राहकों के ऑफिस में जाकर लेजर प्रिंटर को चेक करना एवं उसकी खराबी को ठीक करना। 

निष्कर्ष

दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिकल जिसमें हमने आपको बताया कि लेजर प्रिंटर टेक्निशियन (Laser Printer Technician) कैसे बनें? पोस्ट में हमने आपको बताया कि लेजर प्रिंटर टेक्निशियन क्या होता है और उसके बनने के लिए कैंडिडेट में कितनी योग्यता का होना आवश्यक है। साथ ही साथ इस पोस्ट के द्वारा हमने यह जानकारी भी दी कि लेजर टेक्नीशियन बनने के लिए पूरी प्रक्रिया क्या होती है और कैंडिडेट के सामने लेजर प्रिंटर टेक्निशियन बनने के बाद नौकरी करने के कौन-कौन से अवसर उपलब्ध हो जाते हैं एवं उसे हर महीने कितने रुपए तक का वेतन मिल सकता है। वैसे अगर देखा जाए तो यह फील्ड उन छात्रों के लिए बहुत ही ज्यादा उपयुक्त है जो क्रिएटिव होने के साथ-साथ कंप्यूटर के भी अच्छे जानकार होते हैं जिस कारण वो एक सुनहरा भविष्य बना सकते हैं। 

अंत में हमारी आपसे बस यह छोटी सी रिक्वेस्ट है कि अगर यह लेख आपको थोड़ा सा भी उपयोगी लगा हो तो इसे अपने उन दोस्तों के साथ भी जरूर शेयर करें जो 12वीं के बाद लेजर प्रिंटर टेक्नीशियन बनना चाहते हैं। 

Related post: 

Deepak Kumar

दीपक कुमार After12th.net के लेखक और संस्थापक हैं। वह छात्रों को उनकी धारा तय करने और उद्योग में पाठ्यक्रमों के बारे में जानकारी प्रदान करने में मदद करता है। वह उन्हें नई ऊंचाइयों तक पहुंचाने में मदद करता है। उनका उद्देश्य देश में अधिकतम छात्रों के लिए वैध और उपयोगी जानकारी साझा करना है।

Leave a Reply