आईटीआई क्या है ITI Course कैसे करे पूरी जानकारी

आईटीआई कोर्स: आज हर युवा छात्र 8वीं,10वीं या 12वीं के बाद कोई ऐसा कोर्स तलाश करता हैं जिसको करने के बाद उसको जल्दी नौकरी मिल जाए।तो यहां आपको जानकारी दे दें किआईटीआई एक ऐसा ही संस्थान है जो विभिन्न प्रकार के कोर्स करवाता है जिसमें सबसे अधिक ध्यान प्रैक्टिकल ट्रेनिंग और छात्र के कौशल को निखारने पर दिया जाता है।

इस तरह से आईटीआई में बहुत प्रकार के ट्रेड यानि कोर्स होते हैं जिसको उम्मीदवार अपनी इच्छा के अनुसार कर सकता है।अगर आप भी आईटीआई कोर्स करने के बाद जल्द से जल्द आत्मनिर्भर बनना चाहते हैं तो हमारे आज के इस पोस्ट को ध्यान से पढ़िए क्योंकि हम आईटीआई कोर्स से संबंधित सारी जानकारी बताने जा रहे हैं इस तरह आपको इस कोर्स से जुड़ी हुई पूरी जानकारी मिल जाएगी।

आईटीआई कोर्स

आईटीआई कोर्स क्या है (What is ITI Course in Hindi)

आईटीआई कोर्स एक ऐसा कोर्स है जिसमेछात्र अपनी पसंद के अनुरूप किसी भी कोर्स में डिप्लोमा ले सकतेहैं।आईटीआई यानि औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (Industrial Training Institute) भारत सरकारके श्रम एवं नियोजन मंत्रालयके अंतर्गत चलाया जाता है जिसमें छात्रों को अलग-अलग तरह के कोर्स में ट्रेनिंग दी जाती हैताकि वह उद्योग इंडस्ट्री में काम कर सकें।आईटीआई ऐसा कोर्स है जिसमें सर्वाधिक कौशल की मांग कीजाती है।अगर आपके अंदर कौशल की कमी नहीं है तो यकीन मानिए आप को नौकरियों की भी कभी कमी नहीं रहेगी क्योंकि इस इंडस्ट्री में नौकरियों की भरमार है।

प्रचलित आईटीआई कोर्स

औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान विभिन्न प्रकार के कोर्स करवाता है जो कि 130 से भी अधिक है जिनकी अवधि 6 महीने से लेकर 2 साल तक की हो सकती है।यहां हम कुछ ऐसे आईटीआई कोर्स के बारे में बता रहे हैं जो अत्यधिक प्रचलित हैं और युवा पीढ़ी के बीच भी फेमस हैं।

बिजली मिस्त्री (Electrician)– दसवीं कक्षा करने के बाद आप इलेक्ट्रिशियन कोर्स आईटीआई से कर सकते हैं।यह बहुत प्रसिद्ध आईटीआई कोर्स हैजिसको करने के बाद आप आसानी से किसी भी सरकारी या प्राइवेट क्षेत्र में काम कर सकते हैं।

फिटर (Fitter)– फिटर वह होता है जो लोहे की चीजों को बनाता हैऔर लोहे से जुड़ा सारा काम जानता है।फिटर कोर्समें 2 साल तक लोहा काटने और उससे चीजें बनाने का प्रशिक्षण दिया जाताहै।यहां आपको बता दें कि फिटर एक बहुत ही प्रसिद्ध आईटीआई डिप्लोमा कोर्स हैजिसको करने के बाद देश विदेश में नौकरी के बहुत सारे मौके मिलते हैं।

बढ़ई (Carpenter) -बढ़ई कोर्स के अंदर उम्मीदवारों को यह सिखाया जाता है कि लकड़ी का काम कैसे किया जा सकता है।यह कोर्स 2 साल तक होता है जिसको करने के बाद आप एक कुशल बढ़ाई बन सकते हैं लेकिन इस कोर्स को करने के लिए आपका दसवीं कक्षा पास किया वह होना चाहिए ।

फाउंड्रीमैन (Foundry Man) -फाउंड्रीमैन कोर्स करने के लिए आपको अत्यधिक शैक्षणिक योग्यता की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। अगर आपने आठवीं कक्षा पास की है तो आप इस कोर्स को कर सकते हैं।इस कोर्स की अवधि 1 साल की होती है।

बुक बाइंडर (Book Binder) -बुक बाइंडर बनने के लिए 1 साल का समय लगता है यह आईटीआई पाठ्यक्रम वह सभी लोग भी कर सकते हैं जो कम शिक्षित हैं।

नलसाज (Plumber) – आईटीआईसे 2या 3 साल का नलसाजकोर्स करने के बादआप आसानी के साथ नौकरी प्राप्त कर सकते हैं।डिप्लोमा कोर्स को करने के बाद आप एक कुशल प्लंबर बन जाते हैं और मौजूदा समय में इस क्षेत्र में नौकरियों बहुत अधिक है।

उन्नत वेल्डिंग (Advanced Welding) – उन्नत वेल्डिंग पाठ्यक्रम की अवधि 1 साल और 2 साल निर्धारित की गई है।यहां आपको जानकारी दे दें कि इस कोर्स को करने के लिए केवल आठवीं कक्षा का पास करना अनिवार्य है।

वायरमैन (Wireman) – वायरमैन कोर्स कोई भी छात्र आठवीं क्लास पास करने के बाद करसकता है।यह कोर्स 2 साल का होता है औरइसमें 4 सेमेस्टरहोते हैं।

वेल्डर गैस और इलेक्ट्रिक (Welder Gas and Electric) – वे लोग जो कम शिक्षित है और आठवीं क्लास तक पढ़ाई की है वह वेल्डर गैस और इलेक्ट्रिक का प्रशिक्षण ले सकतेहैं।इस कोर्स के अंदर व्यावसायिक प्रशिक्षण लेने के बाद आप अच्छी नौकरी पा सकतेहैं।

मैकेनिक कंप्यूटर हार्डवेयर (Mechanic Computer Hardware) – यह कोर्स थोड़ा टेक्निकल है इसलिए इस कोर्स को करने के लिए 2 साल का डिप्लोमा लेना होता है।इस कोर्स को करने वाले छात्रों को मशीनरी और उपकरण के बारे में प्रशिक्षण दिया जाता है।लेकिनइस कोर्स में एडमिशनलेने के लिए दसवीं कक्षासाइंस और गणित के साथ पास होना चाहिए।

आशुलिपिक (Stenographer) – आशुलिपिक का कोर्स 1 साल का है जिसमें छात्र को बोलने की लिपि का प्रशिक्षण दिया जाता है।यह कोर्स दसवीं पास होने के बाद किया जा सकता है।

डीजल मैकेनिक (Diesel Mechanic) – डीजल मैकेनिक कोर्स के अंदर इंजन के बारे में प्रशिक्षण दिया जाता है जैसे:-टूव्हीलर,फोरव्हीलर, एरोप्लेन आदि के इंजन के बारे में पढ़ाई करवाई जाती है।यह कोर्स 1 साल का डिप्लोमा कोर्स है।जिसकोकरने के बाद किसी भी बड़ी ऑटोमोबाइल कंपनी में जॉब लग जाती है।

आईटीआई कोर्स का वर्तमान परिदृश्य क्या है

वर्तमान समय में आईटीआई कोर्स एक ऐसा कोर्सबनगया है जो कि उन छात्रों के लिए आकर्षण का केंद्र है जो दसवीं कक्षा पास करने के बाद किसी ऐसे कोर्सको करना चाहते हैं जिसमें रोजगार के अच्छे अवसर हो।यह कोर्स करने के लिए ना तो अत्यधिक अंग्रेजी की जरूरत होती है और ना ही बहुत ज्यादा शैक्षणिक योग्यता की।साथ ही यह भी बता दें कि ऐसे बहुत सारे आईटीआई कोर्स है जो कोई भी छात्र आठवीं क्लास के बाद ही कर सकता है।यही वजह है किआईटीआई कोर्स आज काफी तेजी के साथ ऐसे छात्रों की पहली पसंद बनते जा रहे हैं जोमेडिकल, इंजीनियरिंग,लॉयर, चार्टर्ड अकाउंटेंट आदि महंगे कोर्स नहीं कर सकते। इस कोर्स को करने के बाद नौकरी के लिए भटकना नहीं पड़ता क्योंकि औद्योगिक इंडस्ट्री में उन लोगों की मांग हर दिन बढ़ती ही जा रही है जिन्होंने आईटीआई कोर्स किया हुआ हो।

आईटीआई कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा

जिस प्रकार हम दूसरे प्रसिद्ध कोर्स में एडमिशन लेने के लिए प्रवेश परीक्षा पास करते हैं उसी तरह से आईटीआई कोर्स करने के लिए प्रवेश परीक्षा रखी गई है।इस प्रवेश परीक्षा का आयोजन हर साल राज्य सरकार काटेक्निकल डिपार्टमेंट करता है।यहां आपको यह भी जानकारी दे दें कि साल में दो बार इस प्रवेश परीक्षा का आयोजन किया जाता है।

आईटीआई कोर्स के लिए प्रवेश प्रक्रिया क्या है

किसी भी प्राइवेट या सरकारी संस्थान सेआईटीआई कोर्स किया जा सकता है हालांकि यदि आप किसी अच्छे संस्थान से आईटीआई कोर्स करना चाहते हैं तो इसके लिए हम आपको बता दें कि लिखित प्रवेश परीक्षा आप को देनी होगी।वहीं दूसरी ओर ऐसे बहुत सारे आईटीआई इंस्टिट्यूट भी है जहां पर बिना एग्जाम के भी प्रवेश मिल जाता है।

आईटीआई कोर्स के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए

  • 8वीं से लेकर 12वीं कक्षा तक पढ़ाई की हो जबकि हर कोर्स की योग्यता निर्भर करती है उस कोर्स पर जो आपको करना है।
  • आवेदक की आयु सीमा कम से कम 14 साल होनी चाहिए और वही अधिकतम आयु 40 साल तक तय की गई है।

आईटीआई कोर्स की फीस कितनी है

यदि आपने आईटीआई कोर्स को किसी सरकारी कॉलेज से करना है तो इसके लिए आपको वार्षिक रूप से 1000 रुपएसे लेकर 5000 रुपएके बीच फीस देनी पड़ती है।जबकि अगर आईटीआई कोर्स को प्राइवेट कॉलेज से किया जाए तो यहां पर फीस उस कॉलेज पर निर्भर करती है जो कि लगभग सालाना 10 हजार रुपए से लेकर30 हजार रुपए तक देनी पड़ सकती है।इसलिए यदि आपको पैसे की समस्या है तो आप कोशिश करें कि आप आईटीआई की प्रवेश परीक्षा में अच्छे मार्क्स लाएं ताकि आपको सरकारी कॉलेज मिल सके।

भारत में आईटीआई कोर्स करने के लिए कॉलेज

अगर आप भारत में आईटीआई कोर्स करने के लिए कॉलेज ढूंढ रहे हैं तो यहां आपकी जानकारी के लिए हम बता दें कि प्रत्येक राज्य में आईटीआई कोर्स की ट्रेनिंग दी जाती है।इस प्रकार आप जिस भी राज्य में रहते हैं वहां से बहुत आसानी के साथ कोर्स कर सकते हैं।

  • चौधरी ब्रह्म प्रकाश इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट, दिल्ली (ChBrahmPrakash Industrial Training Institute, Delhi)
  • ज्ञान गंगा पॉलिटेक्निक कॉलेज कुरुक्षेत्र (Gyan Ganga Polytechnic College, Kurukshetra)
  • डायरेक्टरेट जनरल ऑफ एंप्लॉयमेंट एंड ट्रेंनिंग दिल्ली (Directorate General of Employment and Training, Delhi)
  • शारदाइंडस्ट्रियल ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट दिल्ली (Sharda Industrial Training Institute Delhi)
  • गवर्नमेंट स्किलडेवलपमेंट एंड इंडस्ट्रियल ट्रेंनिंग इंस्टीट्यूट जिंद हरियाणा (Govt Skill Development and Industrial Training Institute, Jind Haryana
  • मूलचंद गवर्नमेंट इंडस्ट्रियल ट्रेंनिंग इंस्टीट्यूटअंबाला (Moolchand Government Industrial Training Institute, Ambala
  • एडवांस ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट एटीआई कानपुर (Advance Training Institute ATI Kanpur)
  • गवर्नमेंट इंडस्ट्रियल ट्रेंनिंग इंस्टीट्यूट फरीदाबाद(Government Industrial Training Institute Faridabad)

आईटीआई कोर्स का पाठ्यक्रम/ सब्जेक्ट्स क्या-क्या है

  • टूल एंड डाईमेकर इंजीनियरिंग
  • मैकेनिकलइंजीनियरिंग
  • डीजल मैकेनिक इंजीनियरिंग
  • सिविल इंजीनियरिंग
  • पंपऑपरेटर
  • फिटर इंजीनियरिंग
  • मोटर ड्राइविंग कम मैकेनिक इंजीनियरिंग
  • टर्नर इंजीनियरिंग
  • ड्रेसमेकिंग
  • मैन्युफैक्चरर्सफुटवियर
  • इनफार्मेशनटेक्नोलॉजी एंड ईएसएम इंजीनियरिंग
  • सेक्रेटेरियलप्रैक्टिस
  • हेयर एंड स्किनकेयर
  • रेफ्रिजरेशनइंजीनियरिंग
  • लेदरगुड्समेकर
  • हैंडकंपोजिटर
  • मैकेनिक रेडियो एंड टीवीइंजीनियरिंग
  • वीविंग ऑफ फैंसीफैब्रिक
  • पैटर्नमेकर इंजीनियरिंग
  • सिलाई कढ़ाई
  • बुक बाइंडर
  • कारपेंटरइंजीनियरिंग
  • प्लंबर इंजीनियरिंग

आईटीआई कोर्स के बाद कैरियर संभावनाएँ क्या है

जब आप अपना आईटीआई कोर्स पूरा कर लेते हैं तो आपकोआईटीआई के माध्यम से इंटर्नशिप के लिए भेजा जाता है।इस तरह जिस विषय में आपने कोर्स किया है उसमें आपको प्रैक्टिकल एक्सपीरियंस भी मिल जाता है।यहां आपको यह भी बता दें कि यदि आप अपना काम मन लगाकर करते हैं तो आपको फिर उसी कंपनी में जहां से आपनेइंटर्नशिप की है वहां नौकरी भी मिल जाती है औरआपकी फिर सैलरी भी बढ़ जाती है।इस तरह सफलता पूर्वक आईटीआई कोर्स करने के बाद आप किसी भी टेक्निकल या फिर नॉनटेक्निकल सेक्टर में नौकरी कर सकते हैं।

आईटीआई कोर्स के बाद वेतन कितनी मिलती है

अगर आपके मन में यह सवाल आ रहा है कि आईटीआई कोर्स करने के बाद आपको कितनी सैलरी मिलेगी तो आपको यहां हम जानकारी दे दें कि यह पूरी तरह से इस बात के ऊपर निर्भर करता है कि आपका काम करने का तरीका कैसा है और आपको कितना अनुभव है। हालांकि कोई भी आईटीआई कोर्स करने के बाद बिना किसी परेशानी के 10,000 से 20,000 रुपए तक हर महीने का वेतन पा सकता है।

आईटीआई कोर्स के बाद प्राइवेट सेक्टर में जॉब्स

जिस तरह से दूसरे प्रोफेशनल और व्यवसायिक संस्थानोंका अपना एक अलग प्लेसमेंट सेल होता है उसी तरह सेआरटीआई का भी एक प्लेसमेंट सेल है जिसके माध्यम से सफलतापूर्वक कोर्स करने के बाद विभिन्न प्राइवेट कंपनियों में रोजगार दिलवाया जाताहै।ऐसी बहुत सारी प्राइवेट कंपनियां है जो मैकेनिक्स और विनिर्माण में काम करने वाले आईटीआई पास कैंडिडेट की खोज में रहते हैं।इस कोर्स में कृषि, कपड़ा, ऊर्जा जैसे प्रमुख क्षेत्रों में नौकरी के काफी चांस होते हैं ।

आईटीआई कोर्स के बाद गवर्नमेंट सेक्टर में जॉब्स

सफलतापूर्वक आईटीआई कोर्स करने के बाद आपको विभिन्न सरकारी सेक्टर में जॉबमिल जाती है।सरकारी क्षेत्रोंजैसे- रेलवे,टेलीकॉम,बीएसएनल,आईओसीएलओएनसीजीमेंविभिन्न रोजगार के अवसर मौजूद हैं।जबकि इसके अलावा भारतीय नौसेना, वायु सेना,बीएसएफ,सीआरपीएफ, भारतीय सेना और अर्धसैनिक बलों में भी रोजगार के अवसर उपलब्ध हैं।

निष्कर्ष

तो दोस्तों यह था आज का हमारा आर्टिकल जिसमें हमने आपको आईटीआई कोर्स से जुड़ी हुई सारी जानकारी दी। हमने आपको बताया कि आईआईटी कोर्स क्या है? आईआईटी कोर्स को आप कैसे कर सकते हैं और इस कोर्स को करनेकी आवश्यक योग्यताएं क्या है।साथ ही हमने आपको प्रमुख आईआईटी कॉलेजों के नाम भी बताए हैं और उन कोर्सेज के बारे में भी बताया है जो सबसे अधिक छात्रों द्वारा किए जाते हैं। हमें आशा है कि यह आर्टिकल आपके लिए जरूर हेल्पफुल रहेगा।इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूलना।

Deepak Kumar

दीपक कुमार After12th.net के लेखक और संस्थापक हैं। वह छात्रों को उनकी धारा तय करने और उद्योग में पाठ्यक्रमों के बारे में जानकारी प्रदान करने में मदद करता है। वह उन्हें नई ऊंचाइयों तक पहुंचाने में मदद करता है। उनका उद्देश्य देश में अधिकतम छात्रों के लिए वैध और उपयोगी जानकारी साझा करना है।

Leave a Reply