जर्नलिस्ट क्या है Journalist Course कैसे करे पूरी जानकारी

जर्नलिस्ट कोर्स: मीडिया की चकाचौंध से आज हर इंसान काफी प्रभावित होता है और इसीलिए बहुत से लोग ऐसे हैं जो जर्नलिस्ट बनना चाहते हैं। इस क्षेत्र में कैरियर की बहुत सारी संभावनाएं मिलने के साथ-साथ इज्जत, रुतबा और समाज में एक पहचान भी मिलती है। लेकिन यदि आप इस फील्ड में आना चाह रहे हैं तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ऐसे बहुत सारे लोग हैं जो पत्रकार बनना चाहते हैं लेकिन सही मार्गदर्शन के कारण वह असफल हो जाते हैं। इसीलिए आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि आप एक सफल जर्नलिस्ट कैसे बन सकते हैं। अपने इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको जर्नलिस्ट कैसे बने। जर्नलिस्ट बनने के लिए योग्यता एवं कैरियर की क्या क्या संभावनाएं मिल सकती हैं, इन सभी बातों के बारे में संपूर्ण जानकारी देंगे। इसलिए इस आर्टिकल को आखिर तक पढ़िएगा ताकि आपसे किसी प्रकार की कोई जानकारी छूटे नहीं। 

जर्नलिस्ट कोर्स

Contents

जर्नलिस्ट कोर्स क्या है (What is journalist course in Hindi)

जर्नलिस्ट कोर्स के अंदर छात्रों को यह सिखाया जाता है कि वह किसी भी घटना या कार्य की पूरी जानकारी कैसे एकत्रित करें एवं किस प्रकार से मीडिया द्वारा लोगों के घर-घर तक पहुंचाएं। इस क्षेत्र में कैरियर बनाने के बहुत सारे विकल्प मौजूद है जैसे-फोटोग्राफर, कैमरामैन, न्यूज़ रिपोर्टर इत्यादि। यदि आपके मन में भी जर्नलिस्ट बनने की इच्छा है तो इसके लिए आपको काफ़ी मेहनत, ईमानदारी, लगन और सकारात्मक सोच के साथ अपना काम करना होगा क्योंकि एक अच्छे पत्रकार में यह सभी गुण होने बहुत अनिवार्य होते हैं। 

प्रचलित जर्नलिस्ट कोर्स

पत्रकारिता यानि जर्नलिस्ट कोर्स करने के लिए बहुत सारे कोर्स उपलब्ध हैं जिनको करके आप एक सफल जर्नलिस्ट बन सकते हैं। इसके अंतर्गत डिग्री कोर्स करवाया जाता है लेकिन अगर आप डिप्लोमा कोर्स भी करना चाहते हैं तो वह भी कर सकते हैं। कुछ प्रचलित जर्नलिस्ट कोर्सेज की जानकारी निम्नलिखित है-

  • बैचलर ऑफ आर्ट्स-जर्नलिस्ट) (Bachelor of Arts- Journalist)
  • बैचलर ऑफ साइंस बीएससी -मल्टीमीडिया एंड एनीमेशन (Bachelor of science B.SC. multimedia and animations)
  • बैचलर ऑफ जर्नलिज्म एंड मैस कम्युनिकेशन (Bachelor of journalism and mass communication) 
  • डिप्लोमा इन मास कम्युनिकेशन (diploma in mass communication)
  • डिप्लोमा इन जर्नलिज्म (diploma in journalism) 

जर्नलिस्ट कोर्स का वर्तमान परिदृश्य क्या है 

पत्रकारिता एक ऐसी फील्ड है जहां पर आज छात्र अत्यधिक आकर्षित हो रहे हैं क्योंकि इस क्षेत्र में नाम और रुतबे के अलावा काफी पैसा भी है। मौजूदा समय में टीवी चैनल, न्यूज़ पेपर के अलावा ऑनलाइन मीडिया भी खूब प्रसिद्ध हो रही है जिसके कारण इस फील्ड में बहुत ही आसानी के साथ नौकरी मिल जाती है। यह जानकारी के लिए बता दें कि ऑनलाइन मीडिया जिसे डिजिटल मीडिया भी कहते हैं के अंतर्गत आप बहुत अच्छी नौकरी पा सकते हैं लेकिन इसके लिए आपके अंदर टैलेंट होना चाहिए। यह एक काफी दबदबे वाला क्षेत्र है और यही वजह है कि मौजूदा समय में छात्रों का जर्नलिस्ट बनने की ओर काफी रुझान है हैं। 

जर्नलिस्ट कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा

जर्नलिस्ट कोर्स करने के लिए सभी अभ्यर्थियों को जो प्रवेश परीक्षा पास करनी होती है उनकी जानकारी नीचे दी गई है- 

आइपीयूसीईटी (IPU CET) 

जर्नलिस्ट कोर्स के लिए यह सबसे अधिक प्रसिद्ध प्रवेश परीक्षा है जो गुरु गोविंद सिंह इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी के अंतर्गत करवाई जाती है। इस एंट्रेंस टेस्ट में बैठने के लिए कैंडिडेट की आयु मिनिमम 18 साल की चाहिए और अधिकतम आयु 21 साल होनी चाहिए। 

डीयू जर्नलिज्म एंट्रेंस एग्जाम (DU journalism entrance exam) 

डीयू जर्नलिज्म एंटरेंस एग्जाम नेशनल टेस्टिंग एजेंसी द्वारा करवाया जाता है जिसका माध्यम हिंदी और अंग्रेजी है। यह एक ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया है जिसमें जो कैंडिडेट पास हो जाते है उन्हें जर्नलिस्ट कोर्स में एडमिशन दे दिया जाता है। 

मास मीडिया एंड मास कम्युनिकेशन एंट्रेंस एग्जाम -बीएमएमएम (Mass Media and Mass Communication Entrance Exam-BMMMC)

दिल्ली यूनिवर्सिटी प्रवेश परीक्षा आईपी कॉलेज के अंतर्गत करवाई जाती है। यह एक लिखित परीक्षा होती है जो कि हर साल करवाई जाती है। 

डीयूईटी (DUET) – 

यह प्रवेश परीक्षा उन सभी छात्रों को देनी होती है जो जर्नलिज्म की फील्ड में अपना भविष्य बनाना चाहते हैं। इस परीक्षा में 100 अंकों के प्रश्न पूछे जाते हैं और इसकी समय अवधि 2 घंटे की होती है। 

जर्नलिस्ट कोर्स के लिए प्रवेश प्रक्रिया क्या है 

वे सभी कैंडिडेट जो किसी सरकारी कॉलेज या संस्थान में प्रवेश लेना चाहते हैं उनको  इसके लिए प्रवेश परीक्षा की प्रक्रिया से गुजरना होता है। इसके अलावा कुछ सरकारी संस्थान ऐसे भी हैं जो मेरिट के आधार पर दाखिला दे देते हैं। लेकिन प्राइवेट संस्थानों में डायरेक्ट एडमिशन मिल जाता है। 

जर्नलिस्ट कोर्स के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए

  • किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं कक्षा पास 
  • कैंडिडेट के अंदर कुछ स्किल्स होने चाहिए जैसे अच्छी भाषा कंप्यूटर नॉलेज, न्यूज़ की समझ, निडर, इमानदार एवं साहसी। 

जर्नलिस्ट कोर्स की फीस कितनी है 

वह छात्र जो जर्नलिस्ट कोर्स किसी सरकारी संस्था में कॉलेज से करते हैं तो उसके लिए फिर उन्हें बहुत कम फीस का भुगतान करना होता है जो कि 8 हजार से लेकर 20 हजार रुपए के बीच सालाना होती है। साथ ही आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जो छात्र प्राइवेट कॉलेज से जर्नलिस्ट कोर्स करना चाहते हैं उनको 50 हजार रुपए से लेकर 2 लाख रुपए तक सालाना फीस का भुगतान करना होता है। 

जर्नलिस्ट कोर्स का पाठ्यक्रम/ सब्जेक्ट्स क्या-क्या है 

  • इंट्रोडक्शन टू कम्युनिकेशन एंड मीडिया 
  • इंट्रोडक्शन टू जर्नलिज्म
  • इंडियन सोशल सिस्टम
  • कम्युनिकेटिव हिंदी 
  • थ्योरी ऑफ कम्युनिकेशन
  • एप्लीकेशन ऑफ कंप्यूटर इन मीडिया 
  • स्टेट पॉलिटिक्स एंड कॉन्स्टिट्यूशन
  • राइटिंग फॉर मीडिया
  • मीडिया लॉज एंड एथिक्स 
  • मीडिया मैनेजमेंट
  • फॉल्क मीडिया
  • साइबर मीडिया 
  • डेवलपमेंट एंड कम्युनिकेशन 
  • इंट्रोडक्शन टू एडवरटाइजिंग 
  • ट्राईबल कम्युनिकेशन 
  • कम्युनिकेशन रिसर्च
  • रेडियो जर्नलिज्म 
  • टेलीविजन जर्नलिज्म 
  • वैल्यू एजुकेशन 
  • ट्राइबल स्टडी 

भारत में जर्नलिस्ट कोर्स करने के लिए कॉलेजों

  • जामिया मिलिया इस्लामिया, दिल्ली (Jamia Millia Islamia, Delhi)
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ मास कम्युनिकेशन, दिल्ली (Indian Institute of mass communication Delhi)
  • भारतीय विद्या भवन, दिल्ली (Bhartiya Vidya Bhawan, Delhi) 
  • अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी, अलीगढ़  (Aligarh Muslim University, Aligarh)
  • चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी, चंडीगढ़  (Chandigarh University, Chandigarh)
  • दिल्ली यूनिवर्सिटी, दिल्ली (Delhi University, Delhi)
  • सिंबोसिस इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्युनिकेशन, पुणे) (Symbiosis Institute of mass communication, Pune)
  • मनोरमा स्कूल ऑफ कम्युनिकेशन, केरल (Manorama School of communication, Kerala)

जर्नलिस्ट कोर्स की संदर्भ पुस्तकें और अध्ययन सामग्री

  • हिस्ट्री ऑफ जर्नलिज्म बाय जे नटराजन (history of journalism by J. Natarajan)
  • बोलना ही है बाय रवीश कुमार (Bolna hi Hai by Ravish Kumar) 
  • मास कम्युनिकेशन इन इंडिया बाय केवल जे कुमार (Mass Communication in India by keval J Kumar) 
  • जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन एंट्रेंस एग्जाम गाइड बाय आरपीएच एडिटोरियल बोर्ड (journalism and Mass Communication entrance exam guide by RPH editorial board)
  • साउंड रिपोर्टिंग बाय जॉनेथन केर्न (Sound Reporting by Jonathan Kern)
  • हाउ द अदर हाफ लाइव्स बाय जैकब रीज़़ (How the other half lives by Jacob Riis) 
  • न्यूजफ्लैश बाय बोनी एंडरसन (News flash by Bonnie Anderson)
  • हेलो एवरीबॉडी बाय एंथोनी रुडेल (hello everybody by Anthony Rudel)

जर्नलिस्ट कोर्स के बाद कैरियर संभावनाएँ क्या है 

आमतौर पर कैंडिडेट जर्नलिस्ट कोर्स करने के बाद यह समझ नहीं पाते कि उन्हें नौकरी के लिए कहां पर आवेदन करना चाहिए। सबसे पहले आप यह डिसाइड करें कि आपको कौन सी मीडिया में जाना है। अगर आप इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में जाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको किसी न्यूज़ चैनल में इंटर्नशिप करनी होगी। वहीं अगर आप प्रिंट मीडिया में जाना चाहते हैं तो फिर आपको किसी अच्छे न्यूज़पेपर में इंटर्नशिप करनी होगी। इसके अलावा यदि आप डिजिटल मीडिया में जाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको किसी न्यूज़ पोर्टल में इंटर्नशिप करनी होगी। जब आप किसी अच्छी जगह से इंटर्नशिप करेंगे तो आपको इंटर्नशिप के दौरान ही जिस जगह पर आप इंटर्नशिप कर रहे हैं वहां नौकरी मिल जाती है। इस प्रकार से आप इलेक्ट्रॉनिक जर्नलिज्म, प्रिंट जर्नलिज्म,  वेब पत्रकारिता, पब्लिक रिलेशन क्षेत्रों में अपना करियर बना सकते हैं। 

जर्नलिस्ट कोर्स के बाद वेतन कितनी मिलती है

एक जर्नलिस्ट का मासिक वेतन अलग अलग होता है जो कि इस बात के ऊपर निर्भर करता है कि पत्रकार किस जगह पर काम कर रहा है। वैसे सामान्यतः अगर हम पत्रकार का मासिक वेतन देखे तो उसे शुरू में 20-25 हजार रुपए का वेतनमान मिल जाता है। लेकिन जैसे-जैसे जो लिस्ट अनुभवी होता जाता है वैसे वैसे उसकी सैलरी भी बढ़ने लगती है। 

जर्नलिस्ट कोर्स के बाद प्राइवेट सेक्टर में जॉब्स

जर्नलिस्ट कोर्स करने के बाद कोई भी कैंडिडेट किसी टीवी, रेडियो, मैगजीन, वेबसाइट, अखबार आदि में नौकरी के लिए आवेदन कर सकता है। इस समय डिजिटल मीडिया में जर्नलिस्ट के लिए बहुत अच्छे मौके हैं जिसमें उन्हें अलग-अलग क्षेत्रों में काम करने के अवसर मिलते हैं। इस क्षेत्र में नौकरी की कोई कमी नहीं है। 

जर्नलिस्ट कोर्स के बाद गवर्नमेंट सेक्टर में जॉब्स

गवर्नमेंट सेक्टर में जर्नलिस्ट कोर्स के बाद छात्र बहुत प्रकार की जॉब कर सकते हैं। आप इनफार्मेशन एंड ब्रॉडकास्ट मिनिस्ट्री, इंडियन इनफार्मेशन सर्विसेज (UPSC पास करना होगा), प्रेस इनफार्मेशन ब्यूरो ऑफ इंडिया जैसी ढेरों नौकरियों के लिए अप्लाई कर सकते हैं। 

निष्कर्ष

दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिकल जर्नलिस्ट कोर्स क्या है और जर्नलिस्ट कोर्स कैसे करें पूरी जानकारी। इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको वह सभी अनिवार्य जानकारी दे दी है जो एक कामयाब जर्नलिस्ट बनने के लिए आवश्यक होती हैं। हमने आपको बताया कि जर्नलिस्ट कोर्स आप कौन कौन से कॉलेज या संस्थान से कर सकते हैं। साथ ही आपने यह भी जाना कि जर्नलिस्ट कोर्स की फीस कितनी होती है एवं भारत में कौन-कौन सी नौकरी करने के अवसर मौजूद हैं। इसके अलावा अन्य सभी जानकारी हमने आपको दी है ताकि यदि आप इस फील्ड में अपना कैरियर बनाना चाहे तो आपको किसी प्रकार की कोई समस्या या दुविधा का सामना ना करना पड़े। हमें पूरी उम्मीद है कि यह आर्टिकल आपके लिए अवश्य लाभदायक होगा। आपसे निवेदन है कि इस आर्टिकल को अन्य लोगों के साथ भी शेयर अवश्य करें। 

Deepak Kumar

दीपक कुमार After12th.net के लेखक और संस्थापक हैं। वह छात्रों को उनकी धारा तय करने और उद्योग में पाठ्यक्रमों के बारे में जानकारी प्रदान करने में मदद करता है। वह उन्हें नई ऊंचाइयों तक पहुंचाने में मदद करता है। उनका उद्देश्य देश में अधिकतम छात्रों के लिए वैध और उपयोगी जानकारी साझा करना है।

Leave a Reply