जेईई एडवांस परीक्षा क्या है | JEE Advanced Exam की तैयारी कैसे करे

दोस्तों अगर आप भारत के किसी प्रतिष्ठित एवं जाने-माने आईआईटी संस्थान से इंजीनियरिंग करना चाहते हैं तो उसके लिए आपको जेईई एडवांस परीक्षा को पास करना होगा। बता दें कि भारत में 23 आईआईटी संस्थान हैं जिनमें एडमिशन लेने के लिए हर साल एनटीए राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा आयोजित करवाता है। 

अगर आपका सपना भी किसी श्रेष्ठ आईटीआई संस्थान से इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने का है तो इसके लिए आपको अत्यधिक मेहनत करने की आवश्यकता होगी क्योंकि जेईई एडवांस प्रवेश परीक्षा एक अत्यधिक कठिन परीक्षा है जिसको पास करना बहुत ज्यादा मुश्किल है। लेकिन दोस्तों यह नामुमकिन नहीं है क्योंकि यदि आप इस परीक्षा की तैयारी ठीक प्रकार से करेंगे तो आप इस परीक्षा को पास कर सकते हैं। इसीलिए आपकी सहायता करने के लिए आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे जेईई एडवांस्ड परीक्षा से जुड़ी हुई संपूर्ण जानकारी ताकि आप इस परीक्षा को बहुत आसानी के साथ क्लियर कर सकें। इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ें जिससे कि आपको सभी अनिवार्य बातें पता चल  ज्वाइंट एंटरेंस एग्जामिनेशनजाएं।  

जेईई एडवांस

जेईई एडवांस परीक्षा क्या है (What is JEE Advanced Exam in Hindi) 

जेईई एडवांस परीक्षा का पूरा नाम जॉइंट एंट्रेंस एग्जामिनेशन एडवांस (Joint Entrance examination Advanced – JEE Advanced) है और इसे हिंदी में संयुक्त प्रवेश परीक्षा कहा जाता है। यह एक कंप्यूटर आधारित परीक्षा है जो उन छात्रों द्वारा दी जाती है जो देश के सबसे प्रतिष्ठित संस्थानों में इंजीनियरिंग की पढ़ाई करना चाहते हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भारत के अंदर लगभग 23 आईआईटी संस्थान है जिनमें पढ़ाई करने के बाद कोई भी छात्र एक उत्कृष्ट इंजीनियर बनकर निकलता है। 

यह भी बता दें कि जेईई एडवांस परीक्षा अत्यधिक कठिन परीक्षा होती है जिसको पास करना बहुत मुश्किल होता है। यहां आपको यह भी बता दें कि हर साल जेईई एडवांस में लाखों छात्र परीक्षा देते हैं लेकिन हमारे देश में केवल 10000 सीटें ही इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए उपलब्ध है तो इससे आप यह अंदाजा लगा सकते हैं कि यह परीक्षा कितनी अधिक कठिन होगी। इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए जेईई मेन प्रथम चरण है और जेईई एडवांस द्वितीय चरण है। जेईई मेन को जो उम्मीदवार पास कर लेते हैं वही जेईई एडवांस परीक्षा को देने की योग्यता रखते हैं। 

जेईई एडवांस परीक्षा के लिए योगयता क्या होनी चाहिए (JEE Advanced Exam Eligibility)

  • कैंडिडेट ने जेईई मेन परीक्षा पास की हुई हो। 
  • कैंडिडेट ने किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं क्लास में 75% अंक हासिल किए हो और उसने मैथ्स, फिजिक्स, केमिस्ट्री जैसे विषयों के साथ 12वीं कक्षा पास की हो। 

जेईई एडवांस कॉलेजों सूची (JEE Advanced colleges list)

वह कैंडिडेट जो जेईई एडवांस परीक्षा को पास कर लेते हैं उन्हें भारत के उत्कृष्ट 23  आईआईटी संस्थानों में से एक संस्थान में प्रवेश मिलता है। बता दें कि यह आईआईटी संस्थान हर राज्य में बने हुए हैं। निम्नलिखित आपको कुछ जेईई एडवांस कॉलेजों की सूची दे रहे हैं जिनके नाम हैं- 

  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, दिल्ली (Indian institute of technology, Delhi)
  • बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी (Indian institute of technology Banaras Hindu University)
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, बॉम्बे (Indian institute of technology, Bombay)
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, भुवनेश्वर (Indian institute of technology, Bhubaneswar)
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी हैदराबाद (Indian institute of technology, Hyderabad)
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, इंदौर (Indian institute of technology, Indore)
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, पटना (Indian institute of  technology, Patna)
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी कर्नाटक (Indian institute of technology Karnataka)
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, जम्मू (Indian institute of technology, Jammu)
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, छत्तीसगढ़  (Institute of technology Chhattisgarh) 

जेईई एडवांस परीक्षा पाट्यक्रम (JEE Advanced Exam Syllabus)

जेईई एडवांस परीक्षा के अंतर्गत उम्मीदवारों से फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथ्स पर आधारित प्रश्न पूछे जाते हैं। यह प्रश्न बहुविकल्पीय तरह के होते हैं और कक्षा 11वीं और 12वीं के पाठ्यक्रम में से अधिकतर प्रश्न आते हैं लेकिन यह परीक्षा अत्यधिक कठिन होती है इसलिए आपको अपना पूरा सिलेबस समझना होगा और उसी के अनुसार अपनी परीक्षा की तैयारी करनी होगी। निम्नलिखित हम जेईई परीक्षा एडवांस का पूरा सिलेबस आपको बता रहे हैं जो कि इस प्रकार से हैं 

फ़िज़िक्स 

  • यूनिट एंड डाइमेंशंस (Unit and dimensions) 
  • एक्सपेरिमेंटल एनालिसिस (Experimental analysis) 
  • लॉ ऑफ मोशन (Law of motion) 
  • काइनमेटिक्स (Kinematics)
  • सिस्टम ऑफ पार्टिकल्स (System of particles)
  • ग्रेविटेशन (Gravitation)
  • हार्मोनिक मोशन (Harmonic motion) 
  • वेव्स (Waves)
  • द प्रेशर इन ए फ्लूइड (The pressure in a fluid)
  • थर्मल फिजिक्स (Thermal physics)
  • मोमेंटम (Momentum)
  • मैग्नेटिक फील्ड्स (Magnetic fields)
  • इलेक्ट्रिक फील्ड्स (Electric fields) 
  • इलेक्ट्रिक करंट (Electric current)
  • इलेक्ट्रोमैग्नेटिक इंडक्शन (Electromagnetic induction) 
  • एटम्स एंड न्यूक्लीय ( Atoms and nuclei) 

केमिस्ट्री 

  • न्यूक्लियर केमिस्ट्री (Nuclear chemistry) 
  • स्टेट ऑफ मैटर (State of matter)
  • सॉलिड स्टेट (Solid state)
  • एनर्जीटिक (Energetic)
  • सरफेस केमिस्ट्री (Surface chemistry) 
  • इलेक्ट्रो केमिस्ट्री (Electrochemistry)
  • एटॉमिक स्ट्रक्चर (Atomic structure)
  • इन ऑर्गेनिक केमिस्ट्री (Inorganic chemistry)
  • ऑर्गेनिक केमिस्ट्री (Organic chemistry) 

मैथ्स 

  • अलजेब्रा (Algebra)
  • ट्रिग्नोमेट्री (Trigonometry)
  • वेक्टर्स (Vectors)
  • डिफरेंशियल कैलकुलस (Differential calculus) 
  • इंटीग्रल कैलकुलस (Integral calculus)
  • एनालिटिकल ज्योमेट्री (Analytical geometry) 

जेईई एडवांस परीक्षा पैटर्न (JEE Advanced Exam Pattern)

  • जेईई एडवांस परीक्षा के लिए दो पेपर देने होते हैं जिसमें 12वीं क्लास के आधार पर वैकल्पिक प्रश्न उम्मीदवारों से पूछे जाते हैं। 
  • जेईई एडवांस परीक्षा कंप्यूटर पर ली जाती है जिसको सीबीटी (CBT) कहते हैं। इसमें उम्मीदवार को कंप्यूटर पर ऑनलाइन प्रश्नों के उत्तर देने होते हैं। 
  • जानकारी के लिए बता दें कि जेईई एडवांस के दोनों पेपरों में फिजिक्स, केमिस्ट्री, मैथ जैसे विषयों पर प्रश्न पूछे जाते हैं। मैथ के प्रश्न अत्यधिक कठिन होते हैं।
  • अगर आप किसी प्रश्न का गलत जवाब देते हैं तो उसके लिए आपके अंक काट लिए जाते हैं इसलिए परीक्षा देते समय आपको बहुत अधिक सतर्क रहना होगा। अगर आपने लगातार 4 क्वेश्चन का उत्तर गलत दिया है तो उसके लिए आपका एक अंक काट लिया जाएगा। 
  • प्रश्न पत्र हल करने के लिए आप हिंदी या अंग्रेजी कोई भी भाषा का चुनाव कर सकते हैं लेकिन एक बार जिस भाषा में आप  लिखना शुरु कर देते हैं फिर आपको अपना पूरा पेपर उसी भाषा में करना होता है। 

दिल्ली में जेईई एडवांस के लिए शीर्ष कोचिंग संस्थान

Einstein Classes (आइंस्टीन क्लासेस)
Career Mentor (करियर मेंटर)
Pace Coaching Classes (पेस कोचिंग क्लासेस)
RVS Study Point(आरवीएस अध्ययन बिंदु)
FIIT JEE Ltd (फीट जी लिमिटेड)
BANSAL CLASSES (बंसल क्लास)
RAO IIT ACADEMY (राओ आईआईटी अकादमी)
IITians PACE (आईआईटीयन पेस)
NARAYANA IIT ACADEMY (नारायण आईआईटी अकादमी)
VIDYAMANDIR CLASSES KALU SARAI (विद्यामंदिर क्लासेस कालु साराई)
TARGET CLASSES (लक्ष्य वर्ग)
SCHOLARS ACADEMY (SCHOLARS अकादमी)
Aakash Institute Delhi (आकाश इंस्टीट्यूट दिल्ली)
PIE Education Delhi (पाई शिक्षा दिल्ली)
Brilliant Tutorials Delhi (शानदार ट्यूटोरियल दिल्ली)
Sri Chitanya Coaching Institute Delhi (श्री चितन्या कोचिंग इंस्टिट्यूट दिल्ली)
Margshree Classes Delhi (मार्गश्री क्लासेस दिल्ली)
Takshila Institute Delhi (तक्षशिला संस्थान दिल्ली)

जेईई एडवांस परीक्षा के लिए किताबें और अध्ययन सामग्री 

  • आईआईटी मैथमेटिक्स बाय आर एल खन्ना (IIT Mathematics by RL Khanna)
  • न्यूमेरिकल केमेस्ट्री बाय पी बहादुर (Numerical Chemistry by P Bahadur)
  • फिजिकल केमेस्ट्री बाय विलें (Physical Chemistry by Wiley)
  • इनोर्गेनिक केमेस्ट्री बाय ओपी टंडन (Inorganic Chemistry by op Tandon)
  • ट्रिगोनोमेट्री बाय एसएल लोनी (Trigonometry by S L Loney)
  • जेईई फिजिक्स बाय डीसी पांडे  (JEE physics by DC Pandey) 
  • आरडी शर्मा क्लास 11 12 (RD Sharma class 11 and 12 class)
  • पिछले साल के सैंपल पेपर और मॉक टेस्ट पेपर्स
  • इंटरनेट पर ऐसी बहुत सारी वेबसाइट्स हैं जहां से आप जेईई एडवांस के लिए विभिन्न प्रकार के प्रश्न पत्र खोज सकते हैं उन्हें सॉल्व करने की कोशिश करें।

Tips for जेईई एडवांस परीक्षा की तैयारी के लिए (JEE Advanced Exam Preparation)

  • जेईई एडवांस परीक्षा के लिए आपको फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथ्स विषय के न्यूमेरिकल सवालों पर अपनी पकड़ बहुत ही अधिक अच्छी बनानी होगी। इसके लिए आप हर रोज 70-80 न्यूमेरिकल क्वेश्चन हल करें। इस प्रकार जब आप रोज इनकी प्रैक्टिस करेंगे तो आप परीक्षा में आसानी से इस टाइप के प्रश्नों को हल कर सकेंगे। 
  • जितने भी फार्मूले और थ्योरी के प्रश्न हैं उन पर भी आपको अधिक ध्यान देना होगा क्योंकि न्यूमेरिकल के बाद इसी तरह के प्रश्न अधिक आएंगे। जितने भी फार्मूले हैं उन सब को आपने अच्छी तरह से याद करना होगा और थ्योरी को भी ठीक प्रकार से समझ कर पढ़ना होगा। 
  • साथ ही जो विषय आपको मुश्किल लगते हैं उन पर अपनी पकड़ बनाने के लिए अधिक पढ़ें लेकिन इसके साथ-साथ जो विषय सरल हैं उनको भी अच्छी तरह से पढ़े।
  • जेईई एडवांस परीक्षा में मैथ्स, फिजिक्स और केमिस्ट्री पर आधारित प्रश्न आते हैं इसलिए आप यह देखें कि कौन से विषय के सबसे अधिक प्रश्न आते हैं उस विषय को आपने बहुत अच्छी तरह से पढ़ना है। इसके बाद जो अन्य टॉपिक है उन पर भी आप पढ़ाई करना बंद नहीं करें। 
  • अपनी परीक्षा की तैयारी के लिए आप बाजार से रेफरेंस बुक्स खरीद कर अवश्य पढ़ाई करें क्योंकि इन किताबों में आपको बहुत सारे सैंपल पेपर पिछले साल के प्रश्न पत्र इत्यादि मिल जाते हैं। साथ ही आपको एग्जाम पैटर्न भी पता चल जाता है। 
  • परीक्षा के होने से पहले अपने सारे सिलेबस को अच्छी तरह से एक बार रिवाइज जरूर कर ले क्योंकि यदि आप अपना पाठ्यक्रम दोहराएंगे नहीं तो आप सब कुछ भूल सकते हैं। 
  • आपको टाइम मैनेजमेंट पर भी अत्यधिक ध्यान देना होगा हर रोज आप एक टाइम सेट करें और उस दौरान प्रश्न पत्रों को हल करने की कोशिश करें। इस तरह से आपकी प्रश्न को हल करने की क्षमता और स्पीड बढ़ेगी जो की परीक्षा में आपके काफी काम आएगी। 

निष्कर्ष

दोस्तों यह तो हमारा आज का आर्टिकल जेईई एडवांस परीक्षा क्या है जेई एडवांस एग्जाम की तैयारी कैसे करें। इस आर्टिकल के तहत हमने आपको बताया कि आप किस प्रकार से जेईई एडवांस परीक्षा को पास कर सकते हैं। यह एक अत्यंत मुश्किल परीक्षा है इसलिए हमने इस परीक्षा के लिए आपको कुछ स्टडी टिप्स भी दिए हैं जिनकी सहायता से आप अपनी परीक्षा की तैयारी कर सकते हैं।

इसके अलावा हमने आपको बताया कि भारत में कौन से आईआईटी संस्थान सबसे अच्छे हैं। साथ ही हमने यह भी बताया कि आप मार्केट से कौन से किताबों को खरीद कर अपनी पढ़ाई कर सकते हैं। इसके अलावा सभी आवश्यक बातें आपको बता दी है जो कि आपके लिए काफी सहायक रहेंगी। अगर आपको इस आर्टिकल से संबंधित कुछ पूछना है तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं। साथी हमारी आपसे रिक्वेस्ट है कि इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ शेयर करें। 

Deepak Kumar

दीपक कुमार After12th.net के लेखक और संस्थापक हैं। वह छात्रों को उनकी धारा तय करने और उद्योग में पाठ्यक्रमों के बारे में जानकारी प्रदान करने में मदद करता है। वह उन्हें नई ऊंचाइयों तक पहुंचाने में मदद करता है। उनका उद्देश्य देश में अधिकतम छात्रों के लिए वैध और उपयोगी जानकारी साझा करना है।

Leave a Reply