आईआरएस ऑफिसर (IRS Officer)कैसे बने

आईआरएस ऑफिसर: दोस्तों अगर आप सिविल सेवा के किसी सम्मानित पद पर कार्य करना चाहते हैं तो यकीन मानिए की आईआरएस पद आपके लिए बिल्कुल उपयुक्त है। यहां आपको बता दें कि यह पद सिविल सेवा का चौथा सबसे सम्मानित पद है। यदि आप भी इस सम्मानित पद पर नौकरी करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको यूपीएससी की परीक्षा पास करनी होगी। 

इस नौकरी के बारे में आपके मन में अवश्य बहुत सारे प्रश्न होंगे जिनका जवाब आप पाना चाहते होंगे तो इसीलिए आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि आईआरएस ऑफिसर कैसे बना जा सकता है। इस पोस्ट पर नौकरी करने के लिए कितनी योग्यता की आवश्यकता होती है वह भी हम आपको बताएंगे। इसके अलावा आईआरएस ऑफिसर बनने की सारी महत्वपूर्ण जानकारी आपको आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको बताएंगे। तो हमारा आपसे निवेदन है कि इस आर्टिकल को आखिर तक पढ़िएगा ताकि आपको आपके सारे सवालों के जवाब मिल जाए और यदि आपको किसी प्रकार की कोई जानकारी नहीं है तो वह भी आपको इस आर्टिकल के द्वारा पता चल जाए। 

आईआरएस ऑफिसर

आईआरएस ऑफिसर क्या होता है (What is IRS Officer In Hindi)

आईआरएस का पूरा नाम इंडियन रिवेन्यू सर्विस (Indian Revenue Service-IRS) है जिसे हिंदी में भारतीय राजस्व सेवा कहते हैं। ‌यहां बता दें कि आईआरएस ऑफिसर वह होता है जो इस सरकारी विभाग में कार्य करता है। जिस प्रकार से आईपीएस, आईएएस, आईएफएस सिविल सेवा के सम्मानजनक पद है उसी प्रकार से आईआरएस पद भी सिविल सेवा का एक अत्यंत सम्मानित पद है।

यह भी जान लीजिए कि आईआरएस अधिकारी भारत के कर प्रशासक होते हैं जो प्रशासन और नीति निर्माण प्रत्यक्ष कर जैसे आय, कॉरपोरेट, धन के साथ-साथ अप्रत्यक्ष कर जैसे केंद्रीय उत्पाद शुल्क, सेवा कर और सीमा शुल्क कर इत्यादि की पूरी जानकारी रखते हैं। इनका कार्य बहुत ही महत्वपूर्ण और जिम्मेदारी वाला होता है इसलिए उम्मीदवार को काफी कठिन चयन प्रक्रिया से गुजरना पड़ता है। 

आईआरएस ऑफिसर बनाने के लिए शिक्षा आवश्यकताएं/ योग्यता  (IRS Officer Education Requirements)

वह उम्मीदवार जो आईआरएस ऑफिसर बनना चाहते हैं उन्हें सबसे पहले यह जानना होगा कि इसके लिए उनके पास आवश्यक शैक्षणिक योग्यता है या नहीं। ‌ इस पद पर नौकरी करने के लिए शिक्षा आवश्यकता है इस प्रकार से हैं- 

  • उम्मीदवार किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से ग्रेजुएट या फिर उसके समकक्ष होना चाहिए। 
  • वह उम्मीदवार भी आवेदन कर सकते हैं जो ग्रेजुएशन के आखिरी साल में हो। 

आईआरएस ऑफिसर बनाने के लिए शारीरिक आवश्यकताएं/ योग्यता

आयु

  • उम्मीदवार की न्यूनतम आयु 21 साल और अधिकतम आयु 30 साल होनी चाहिए। 
  • ओबीसी केटेगरी के उम्मीदवारों को आयु सीमा में 3 साल की छूट दी गई है।
  • अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के कैंडिडेट को भी आयु सीमा में 5 वर्ष की छूट दी गई है।

आईआरएस ऑफिसर बनने के लिए परिक्षाएं

आईआरएस ऑफिसर बनने के लिए यूपीएससी की सिविल सर्विस परीक्षा देनी होती है इसके लिए सबसे पहले आपको किसी पोस्ट ऑफिस से जाकर आवेदन फॉर्म खरीद कर लाना होगा। इस फॉर्म को अब ठीक प्रकार से भर दें और निम्नलिखित पते पर भेज दें 

सचिव, 

संघ लोक सेवा आयोग, 

धौलपुर हाउस

नई दिल्ली 110011 

इसके अलावा आपको इस बात को भी बता दें कि आप ऑफलाइन के अलावा ऑनलाइन आवेदन भी कर सकते हैं। 

पहला  चरण (Preliminary Exam 400 marks)

जो अभ्यर्थी सफलतापूर्वक अपना ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन करते हैं उनको फिर सिविल सेवा की प्रारंभिक परीक्षाओं के लिए आमंत्रित किया जाता है जिसमें उम्मीदवार से सामान्य ज्ञान नॉलेज एवं तार्किक तर्क जैसे विषयों पर आधारित प्रश्न पूछे जाते हैं। सामान्य ज्ञान पर आधारित 200 प्रश्न उम्मीदवार को 120 मिनट के अंदर करने होते हैं।  इसी प्रकार समाज और तार्किक तर्क के लिए भी 200 प्रश्न कैंडिडेट्स को हल करने होते हैं जिसके लिए 120 मिनट का समय मिलता है। यह भी जान लीजिए कि इस परीक्षा में उम्मीदवार से बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जाते हैं। यहां आपको जानकारी दे दें कि यह परीक्षा मई या फिर जून के महीनों में आयोजित की जाती है। 

दूसरा चरण  (Mains Exam 2025 Marks) 

जो उम्मीदवार प्रारंभिक परीक्षा के अंदर सफल हो जाते हैं उनको मुख्य परीक्षा के लिए आमंत्रित किया जाता है। लिखित परीक्षा के लिए कुल अंक 1750 रखे गए हैं और पर्सनैलिटी टेस्ट के 275 अंक हैं। इस प्रकार से सभी अंकों को मिलाकर यह परीक्षा 2025 अंकों की होती है। यहां आपको जानकारी दे दें कि यह परीक्षा अक्तूबर के महीने में आयोजित होती है जिसमें उम्मीदवार को निम्नलिखित विषयों पर प्रश्न हल करने होते हैं –

  • पेपर ए – यह भारतीय भाषा का एक क्वालीफाइंग पेपर होता है जिसमें उम्मीदवार को निबंध लिखना होता है इसके लिए 300 अंक रखे गए हैं।
  • पेपर बी – उम्मीदवार की अंग्रेजी भाषा की योग्यता पररखने के लिए 300 अंक का प्रश्न पत्र हल करवाया जाता है।
  • पेपर l-  इस पेपर में उम्मीदवार से एक सामान्य निबंध लिखवाया जाता है जिसके लिए 250 अंक रखे गए हैं।
  • पेपर ll- जनरल स्टडीज विषय के अंतर्गत उम्मीदवार को इंडियन हेरिटेज एंड कल्चर, हिस्ट्री, ज्योग्राफी और सोसाइटी जैसे विषयों पर आधारित प्रश्न के उत्तर देने होते हैं यह टेस्ट 250 अंकों का होता है। 
  • पेपर lll- इस पेपर में भी उम्मीदवार से जनरल स्टडीज पर आधारित प्रश्न किए जाते हैं जैसे कॉन्स्टिट्यूशन, पॉलिटिक्स, सोशल जस्टिस, इंटरनेशनल रिलेशंस इत्यादि। यह पेपर भी 250 अंकों का होता है। 
  • पेपर lV- इस पेपर में भी सामान्य ज्ञान पर आधारित प्रश्न पूछे जाते हैं जैसे टेक्नोलॉजी, इकोनामिक डेवलपमेंट, बायोडायवर्सिटी, एनवायरमेंट, सिक्योरिटी एंड डिजास्टर मैनेजमेंट आदि और इसके लिए भी 250 अंक रखे गए हैं। 
  • पेपर V- इस पेपर के अंतर्गत एथिक्स, इंटीग्रिटी एंड एप्टीट्यूड जैसे विषयों पर प्रश्न पूछे जाते हैं जिसके लिए 250 अंक रखे गए हैं । 
  • पेपर Vl- ऑप्शनल सब्जेक्ट पेपर-l 250 अंक
  • पेपर Vll – ऑप्शनल सब्जेक्ट पेपर-ll 250 अंक। 

तीसरा चरण  (Interview)

आईआरएस ऑफिसर बनने का यह तीसरा और सबसे आखिरी चरण होता है जिसमें कैंडिडेट को साक्षात्कार के लिए बुलाया जाता है। इंटरव्यू में उम्मीदवार के व्यक्तित्व एवं उसकी मानसिक क्षमता के साथ-साथ निर्णय लेने की क्षमता को जांचा जाता है। यहां आपको बता दें कि यह परीक्षा बहुत ही महत्वपूर्ण होती है क्योंकि इसमें सफल होने के बाद ही उम्मीदवारों की सूची निर्गत की जाती है। अगर उम्मीदवार इस आंकलन परीक्षा में भी पास हो जाता है तो उसका आईआरएस ऑफिसर पद के लिए चयन कर लिया जाता है जिसके बाद उसे 3 महीने की ट्रेनिंग दी जाती है ताकि वह पद पर ठीक प्रकार से अपना कार्य करें। 

भारत में टॉप 10 आईआरएस कोचिंग सेंटर्स

  • पायोनियर एकेडमी फॉर कॉन्पिटिटिव एग्जामिनेशन, मुंबई (Pioneer academy for competitive examination, Mumbai)
  • विद्यालयम क्लासेस दिल्ली (Vidyalayam classes, Delhi)
  • बाजीराव इंस्टीट्यूट, दिल्ली (Bajirao institute Delhi)
  • कॉटिल्या अकैडमी हैदराबाद (Kautilya Academy Hyderabad)
  • न्यूक्लियस एजुकेशन, कोलकाता (Nucleus education, Kolkata)
  • सक्सेस फोरम, पुणे (Success forum, Pune)
  • चाणक्य अकैडमी फॉर एजुकेशन एंड ट्रेनिंग, चंडीगढ़ (Chanakya Academy for education and training, Chandigarh)
  • श्री कृष्णा आईएएस इंस्टीट्यूट, फरीदाबाद (Shri Krishna IAS institute, Faridabad)
  • दिल्ली इंस्टीट्यूट फॉर सिविल सर्विसेज अहमदाबाद (Delhi institute for civil services, Ahmedabad)
  • ब्रिलियंट एजुकेशन (Brilliant education bureau, Chennai)

आईआरएस ऑफिसर बनने के लिए पुस्तकें और अध्ययन सामग्री

किसी भी परीक्षा को क्रेक करने के लिए पुस्तके बहुत ही अनिवार्य होती हैं। परंतु मार्केट में अगर आप किताब लेने जाएंगे तो आपको एक ही विषय पर सैकड़ों किताबें मिलेंगी जिसकी वजह से आप दुविधा में पड़ जाएंगे कि कौन सी किताब खरीदें और कौन सी नहीं। लेकिन हम आप को यही सलाह देंगे कि हमेशा उन्हीं पुस्तकों को खरीदें जो अधिकतर विद्यार्थी पढ़ते हैं या फिर जिन्हें पढ़ने के लिए आपके अध्यापक आपको सलाह देते हैं। निम्नलिखित हम कुछ पुस्तकों के नाम बता रहे हैं जो आपकी परीक्षा की तैयारी के लिए आपकी काफी मदद कर सकती हैं- 

  • इंडियन पालिटी फॉर सिविल सर्विसेज एग्जामिनेशन बाय एम लक्ष्मीकांत (Indian Polity for civil services examination by M Laxmikanth)
  • इंडियन आर्ट एंड कल्चर बाय नितिन सिंघानिया (Indian art and culture by Nitin Singhania)
  • इंडियन इकोनामी बाय रमेश सिंह (Indian economy by Ramesh Singh) 
  • ए ब्रीफ हिस्ट्री ऑफ मॉडर्न इंडिया बाय राजीव अहिर (A brief history of modern India by Rajiv Ahir)
  • जनरल स्टडीज पेपर 2 बाय एमएचई (General studies paper 2 by MHE)
  • एनसीईआरटी बुक्स (NCERT books)
  • इसके अलावा पिछले साल के प्रश्न पत्रों को भी हल अवश्य करें।
  • हर रोज अखबार भी पढ़े ताकि आप की जनरल नॉलेज मजबूत हो सके।

आईआरएस ऑफिसर के कार्य

  • सबसे मुख्य कार्य देश का विकास और सुरक्षा के साथ-साथ शासन के लिए राजस्व का संग्रह करना होता है। 
  • प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष टैक्स की निगरानी रखना।
  • आयकर विभाग के कार्यों पर नजर रखना एवं जानकारी रखना।
  • किसी भी टैक्स मामले की जांच पड़ताल करना।
  • काले धन के खिलाफ कार्यवाही करना। 
  • मादक पदार्थों और तस्करी जैसी गैर सामाजिक गतिविधियों पर रोक लगाना।
  • इसके अलावा संबंधित मंत्रालयों, विभागों एवं संगठनों की सेवा करना।

आईआरएस ऑफिसर का वेतन कितनी होती है

अब आपके मन में यह प्रश्न अवश्य आ रहा होगा कि इतनी शानदार नौकरी के लिए वेतनमान कितना मिलता होगा तो इसके लिए आपको बता दें कि आईआरएस ऑफिसर पद पर नियुक्ति होने के बाद उन्हें बेसिक वेतनमान 15,600 रुपए से लेकर 39,100 रुपए तक का मिलता है जिसमें 6,600 रुपए ग्रेड पे भी दी जाती है। इसके अलावा अन्य भत्ते जैसे डियरनेस एलाउंस (DA) , हाउस रेंट अलाउंस (HRA), ट्रैवल एलाउंस (TA)  भी मिलते हैं। इस तरह एक आईआरएस ऑफिसर को हर महीने 50,000 के आसपास वेतनमान मिलता है। 

निष्कर्ष

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हमने आपको बताया आईआरएस ऑफिसर क्या होता है और आप IRS Officer कैसे बन सकते हैं। इस लेख में हमने आपको बताया कि आईआरएस अधिकारी बनने के लिए क्या क्या योग्यताएं होनी चाहिए एवं इसका परीक्षा पैटर्न को भी हमने आपको समझाया। इसके अलावा हमने इस पोस्ट के माध्यम से आपको यह जानकारी भी दी की आप कौन से पुस्तकों की सहायता से अपनी परीक्षा की तैयारी कर सकते हैं। 

हमने आपको सारी आवश्यक जानकारी दे दी है लेकिन फिर भी इस पद से संबंधित यदि आपके मन में किसी प्रकार का कोई प्रश्न आ रहा है तो आप हमसे कमेंट करके पूछ सकते हैं। इसके साथ-साथ हमारी आप से रिक्वेस्ट है कि अगर आपको हमारा यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो इसको अधिक से अधिक शेयर करें।

Deepak Kumar

दीपक कुमार After12th.net के लेखक और संस्थापक हैं। वह छात्रों को उनकी धारा तय करने और उद्योग में पाठ्यक्रमों के बारे में जानकारी प्रदान करने में मदद करता है। वह उन्हें नई ऊंचाइयों तक पहुंचाने में मदद करता है। उनका उद्देश्य देश में अधिकतम छात्रों के लिए वैध और उपयोगी जानकारी साझा करना है।

Leave a Reply