इंश्योरेंस एजेंट (Insurance Agent) कैसे बनें?

नमस्कार! आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि इंश्योरेंस एजेंट (Insurance Agent) कैसे बनें? इसमें कोई शक नहीं कि इंश्योरेंस सेक्टर आज काफी तेजी के साथ ग्रो कर रहा है जिसकी वजह से जो कैंडिडेट इस क्षेत्र में काम करते हैं उन्हें वेतनमान भी काफी अच्छा मिल जाता है। इसीलिए आज ऐसे बहुत से छात्र हैं जो 12वीं के बाद इंश्योरेंस एजेंट बनना चाहते हैं। लेकिन यहां आपको बता दें कि कोई कैंडिडेट इस में केवल उसी समय कामयाब हो सकता है जब उसे इंश्योरेंस एजेंट बनने के बारे में सारी जानकारी होती है। परंतु यदि आपको यह मालूम नहीं है कि आप किस प्रकार से एक इंश्योरेंस एजेंट बन सकते हैं तो आप हमारे आज के इस आर्टिकल को सारा पढ़ें और जानें पूरी प्रक्रिया के बारे में। 

इंश्योरेंस एजेंट क्या होता है ( what is Insurance Agent in Hindi) 

सबसे पहले आपको जानकारी के लिए बता दें कि इंश्योरेंस एजेंट ऐसा प्रोफेशनल होता है जो कि लोगों और कंपनियों को इंश्योरेंस के बारे में सलाह देने का काम करता है जिससे कि उनके जीवन को और पैसे को सुरक्षित किया जा सके। इस प्रकार इंश्योरेंस एडवाइजर किसी भी कंपनी या फिर लोगों को बेहतरीन एवं उचित राय देता है जिससे कि उन्हें उनकी आवश्यकता के अनुसार प्रोटेक्शन दिया जा सके। इसीलिए वह उनको मार्केट में मौजूद विभिन्न प्रकार की पॉलिसी के बारे में जानकारी देने का काम करता है और उन्हें उनके फायदो के बारे में भी बताता है। किसी व्यक्ति के लिए कौन सी पॉलिसी सबसे बेस्ट है यह सलाह देने का काम केवल एक बीमा एजेंट ही कर सकता है। 

Also read:

इंश्योरेंस एजेंट बनने के लिए प्रक्रिया क्या है

जो छात्र इंश्योरेंस एजेंट बनने के इच्छुक हैं उन्हें जानकारी के लिए बता दें कि सबसे पहले कैंडिडेट को चाहिए कि वह अपनी 12वीं कक्षा को किसी भी विषय में पास करें। उसके बाद उसे लगभग 100 घंटों की ट्रेनिंग उस बीमा कंपनी में पूरी करनी होती है जिसमें वह काम करना चाहता है। ट्रेनिंग पूरी करने के बाद कैंडिडेट को इंश्योरेंस रेगुलेटरी डेवलपमेंट अथॉरिटी के द्वारा कंडक्ट कराए जाने वाले एग्जाम को पास करना होता है। बता दें कि जो कैंडिडेट इस परीक्षा को पास कर लेते हैं उन्हें इंश्योरेंस एजेंट के रूप में काम करने का मौका मिल जाता है। 

इंश्योरेंस एजेंट बनने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए 

  • कैंडिडेट ने कम से कम 12वीं कक्षा पास की होनी चाहिए।
  • इच्छुक उम्मीदवार ने आईआरडीए की परीक्षा पास की होनी चाहिए। 
  • कैंडिडेट के कम्युनिकेशन स्किल्स अच्छे होने चाहिए।
  • जिस कंपनी या बैंक में वह काम कर रहा है उसकी सारी पॉलिसीज के बारे में उसे ठीक प्रकार से पता होना चाहिए। 

आयु सीमा 

जो अभ्यर्थी इंश्योरेंस एजेंट के रूप में काम करना चाहते हैं उनकी आयु कम से कम 18 साल तक होनी अनिवार्य है। इसके अलावा इसके लिए किसी भी तरह की कोई अधिकतम आयु सीमा निर्धारित नहीं की गई है इसलिए कैंडिडेट किसी भी उम्र तक इस फील्ड में काम कर सकते हैं। 

इंश्योरेंस एजेंट बनने के कैरियर संभावनाएं क्या है 

यहां आपको जानकारी के लिए बता दें कि जब कोई व्यक्ति इंश्योरेंस एजेंट बन जाता है तो उसके सामने कैरियर के अच्छे अवसर सामने आते हैं और वह अपनी योग्यता के अनुसार इस इंडस्ट्री में काम कर सकता है। इस प्रकार से जानकारी दे दें कि एक इंश्योरेंस एजेंट किसी भी प्राइवेट सेक्टर या फिर गवर्नमेंट सेक्टर में काम करने के लिए योग्यता रखता है। यह सेक्टर आज काफी व्यापक बन चुका है इसलिए किसी भी कैंडिडेट हो अपनी मेहनत और एलिजिबिलिटी के आधार पर नौकरी आसानी के साथ मिल सकती है। 

वेतन 

अब यहां आपको बता दें कि जो कैंडिडेट इंश्योरेंस एजेंट के रूप में काम करते हैं उन्हें हर महीने शुरुआत में ही काफी अच्छा वेतन हासिल हो जाता है जो कि लगभग 25,000 से लेकर 30,000 तक हो सकता है। इस प्रकार उसे जब कई सालों का काम का अनुभव हासिल हो जाता है तब उसे और भी ज्यादा वेतन मिल सकता है। 

इंश्योरेंस एजेंट के कार्य 

  • क्लाइंट को इंश्योरेंस के बारे में जानकारी उपलब्ध कराना और उसे कन्वेंस करना कि वह अपना इंश्योरेंस कराएं।
  • लोगों के बीच में बैठकर इंश्योरेंस के बारे में बातचीत करना। 
  • किसी भी दुर्घटना के होने पर यह तय करते हैं कि संबंधित व्यक्ति को कितना पैसा देना चाहिए। 
  • लोगों को कंपनी से जोड़ने का काम करते हैं।
  • क्लाइंट की स्थिति के अनुसार उसे उचित इंश्योरेंस पॉलिसी उपलब्ध कराते हैं।
  • इंश्योरेंस के लिए जो भी जरूरी डाक्यूमेंट्स होते हैं उन सब को इकट्ठा करते हैं।
  • अपने ग्राहकों को इंश्योरेंस के उत्पादों के बारे में राय देने के साथ-साथ उनका विज्ञापन भी करते हैं। 

निष्कर्ष 

दोस्त था हमारा आज का आर्टिकल इंश्योरेंस एजेंट (Insurance Agent) कैसे बनें? इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपको बताया कि इंश्योरेंस एजेंट क्या होता है और इसके बनने के लिए छात्र में कितनी योग्यता होनी चाहिए। इसके अलावा इस लेख के माध्यम से हमने आपको यह भी जानकारी दी कि इंश्योरेंस एजेंट बनने की प्रक्रिया क्या होती है और जब कोई कैंडिडेट इस पद पर काम करता है तो उसे हर महीने कितने रुपए तक का वेतनमान हासिल हो जाता है। साथ ही साथ इस लेख में हमने आपको यह भी बताया कि इंश्योरेंस एजेंट बनने के बाद किसी भी अभ्यर्थी को कौन-कौन से काम करने होते हैं और हमने अन्य दूसरी बातें भी आपको बता दी है जो कि आपके लिए जरूर लाभदायक रही होंगी। वैसे अगर किसी व्यक्ति ने अपनी 12वीं कक्षा पास कर ली है और उसके कम्युनिकेशन स्किल्स बहुत ज्यादा अच्छे हैं तो तब वह इंश्योरेंस एजेंट बनकर इस क्षेत्र में अपना कैरियर बना सकता है जिसमें उसे काफी तरक्की मिल सकती है। 

अंत में हमारा आपसे यही निवेदन है कि अगर आपको हमारा यह एक अच्छा लगा हो तो इसे अपने उन दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें जो 12वीं के बाद इंश्योरेंस एजेंट बनना चाहते हैं। 

Related post: 

Deepak Kumar

दीपक कुमार After12th.net के लेखक और संस्थापक हैं। वह छात्रों को उनकी धारा तय करने और उद्योग में पाठ्यक्रमों के बारे में जानकारी प्रदान करने में मदद करता है। वह उन्हें नई ऊंचाइयों तक पहुंचाने में मदद करता है। उनका उद्देश्य देश में अधिकतम छात्रों के लिए वैध और उपयोगी जानकारी साझा करना है।

Leave a Reply