इनकम टैक्स इंस्पेक्टर (income tax inspector) कैसे बनें?

  • Post author:
  • Post category:Career

नमस्कार! दोस्तों आज के इस आर्टिकल income tax inspector कैसे बनें में हम आपको जानकारी देंगे कि अगर आप इनकम टैक्स इंस्पेक्टर बनना चाहते हैं तो इसके लिए आपको क्या-क्या करना होगा? आजकल जब कोई कैंडिडेट अपनी पढ़ाई पूरी कर लेता है तो वह अपनी नौकरी को लेकर बहुत ज्यादा परेशान रहता है क्योंकि एक अच्छी नौकरी के लिए बहुत ज्यादा कंपटीशन करना पड़ता है लेकिन बात जब सरकारी नौकरी की आती है तो तब यह कंपटीशन और अधिक बढ़ जाता है। इसीलिए इनकम टैक्स इंस्पेक्टर बनना काफी अधिक चुनौतीपूर्ण और कठिन होता है जिसके लिए कैंडिडेट को चयन परीक्षा में पास होना होता है। तो अगर आप भी इनकम टैक्स इंस्पेक्टर की सरकारी नौकरी प्राप्त करना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को शुरू से लेकर अंत तक पूरा पढ़ें क्योंकि इससे संबंधित सारी जानकारी इस लेख में आपको हम देने वाले हैं। 

इनकम टैक्स इंस्पेक्टर

इनकम टैक्स इंस्पेक्टर क्या होता है (what is income tax inspector) 

यहां सबसे पहले आपको जानकारी के लिए बता दें कि एक इनकम टैक्स इंस्पेक्टर क्या होता है? तो जान लीजिए कि income tax inspector वह होता है जो इनकम टैक्स से संबंधित काम करता है। इसलिए इसका काम मुख्य रूप से उन के खिलाफ कानूनी कार्यवाही करने का होता है जो लोग समय पर अपने इनकम टैक्स का भुगतान करने में असमर्थ रहते हैं या फिर जानबूझकर इनकम टैक्स का भुगतान नहीं करते हैं। इसके साथ-साथ इनकम टैक्स इंस्पेक्टर उन लोगों पर भी विशेषतौर पर अपनी नजर बनाए रखता है जो कि उल्टे सीधे तरीकों से काला धन इकट्ठा करते हैं। ऐसे लोगों के खिलाफ भी कानूनी कार्यवाही करने का कार्य इनकम टैक्स इंस्पेक्टर ही करता है। यह पद अत्यधिक महत्वपूर्ण होने के साथ-साथ बहुत ज्यादा जिम्मेदारी वाला भी होता है लेकिन इस पोस्ट पर काम करने के लिए कैंडिडेट को काफी अधिक मेहनत की आवश्यकता होती है।

इनकम टैक्स इंस्पेक्टर बनने के लिए शिक्षा आवश्यकताएं / योग्यता (income tax inspector education requirements) 

  • उम्मीदवार ने किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से किसी भी विषय में ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की हो। 
  • जो कैंडिडेट ग्रेजुएशन के आखरी साल में हो वह भी आवेदन दे सकते हैं। 

इनकम टैक्स इंस्पेक्टर बनने के लिए शारीरिक आवश्यकताएं / योग्यता 

आयु

  • कैंडिडेट की उम्र कम से कम 21 साल होनी चाहिए।
  • उम्मीदवार की अधिकतम आयु 27 साल हो। 
  • एससी और एसटी उम्मीदवारों को आयु सीमा में 5 साल तक की छूट दी गई है।
  • ओबीसी वर्ग के उम्मीदवारों को आयु सीमा में 3 साल तक की छूट प्राप्त है। 
  • जो उम्मीदवार पीडब्ल्यूडी वर्ग से संबंधित है उन्हें आयु सीमा में 10 साल तक की छूट दी गई है। 

पुरुष

  • कैंडिडेट की हाइट 157.5 सेंटीमीटर होनी चाहिए।
  • उम्मीदवार का सीना बुलाकर 81 सेंटीमीटर होना अनिवार्य है। 
  • कैंडिडेट के शरीर का वजन उसकी लंबाई के अनुसार होना चाहिए। 

महिला 

  • महिला उम्मीदवारों की लंबाई 152 सेंटीमीटर होनी चाहिए। 
  • शरीर का वजन 48 किलो होना चाहिए। 

इनकम टैक्स इंस्पेक्टर बनने के लिए परीक्षाएं 

यदि आप इनकम टैक्स इंस्पेक्टर बनना चाहते हैं तो इसके लिए आपको एसएससी द्वारा कंडक्ट की जाने वाली परीक्षा को पास करना होगा। यहां बता दें कि एसएससी हर साल income tax inspector बनने के लिए उम्मीदवारों के लिए सीजीएल (CGL) एग्जाम का आयोजन करवाता है। यह जानकारी के लिए बता दें कि यह परीक्षा कैंडिडेट को दो चरणों में देनी होती है जिनमें सफलता मिलने के बाद कैंडिडेट को इनकम टैक्स इंस्पेक्टर का पद प्राप्त हो जाता है। निम्नलिखित हम आपको परीक्षा के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दे रहे हैं जो कि इस तरह से है-

टियर -1 

इनकम टैक्स इंस्पेक्टर बनने के लिए यह परीक्षा सबसे पहला चरण है जिसे पास करना अभ्यर्थी के लिए बहुत ज्यादा अनिवार्य होता है। इसमें जो भी उम्मीदवार शामिल होते हैं उन्हें 200 अंकों की परीक्षा को हल करने के लिए 2 घंटे का समय दिया जाता है और सारे प्रश्न बहुविकल्पीय होते हैं। इस परीक्षा में शामिल होने वाले वो अभ्यर्थी जो पास हो जाते हैं उन्हें फिर दूसरे पेपर के लिए आमंत्रित किया जाता है। 

टियर 2 

यहां जानकारी दे दें कि टियर-2 की परीक्षा में केवल वही उम्मीदवार भाग ले सकते हैं जो टियर-1 में सफलतापूर्वक पास हो जाते हैं। इस परीक्षा में कैंडिडेट को 4 प्रश्न पत्रों को हल करना होता है जिसमें कैंडिडेट से जनरल नॉलेज, अंक गणित, इंग्लिश इत्यादि पर आधारित प्रश्न पूछे जाते हैं। जब उम्मीदवार इस परीक्षा में पास हो जाते हैं तो फिर उसे आगे की प्रोसेस के लिए बुलाया जाता है जिसके अंतर्गत कैंडिडेट का इंटरव्यू एवं पर्सनैलिटी टेस्ट करवाया जाता है। 

इंटरव्यू 

इंटरव्यू के समय कैंडिडेट के सभी आवश्यक और अनिवार्य दस्तावेजों का भी वेरिफिकेशन किया जाता है। यदि कैंडिडेट के दस्तावेजों में किसी भी प्रकार की कोई समस्या नहीं होती है तो फिर कैंडिडेट को इनकम टैक्स इंस्पेक्टर बनने के लिए चुन लिया जाता है। इसलिए आपसे हम यही कहेंगे कि जब आप इनकम टैक्स इंस्पेक्टर बनने की प्रक्रिया के अंतर्गत फार्म इत्यादि भरें तो अपने दस्तावेजों के बारे में सारी जानकारी ठीक से दें क्योंकि अगर आप किसी भी प्रकार की कोई झूठी या गलत जानकारी देंगे तो उससे आपका सिलेक्शन रद्द हो सकता है। इसके अलावा बता दें कि कैंडिडेट से इंटरव्यू के दौरान विभिन्न प्रकार के प्रश्न पूछ कर उसके मानसिक रूप का आकलन किया जाता है। इसलिए इंटरव्यू के दौरान उम्मीदवारों को चाहिए कि वह बेहद सतर्क रहें और कुशलता पूर्वक पूछे गए सभी सवालों के जवाब दें। 

इनकम टैक्स इंस्पेक्टर बनने के लिए पुस्तकें और अध्ययन सामग्री 

यहां आपको बता दें कि इनकम टैक्स इंस्पेक्टर बनने के लिए आपको चयन परीक्षा क्रेक करनी होगी जिसके लिए आपको ऐसी उत्कृष्ट किताबों को खरीदना होगा जिनके माध्यम से आप अपने एग्जाम की तैयारी ठीक तरह से कर सकें। लेकिन बाजार से जब कैंडिडेट किताब खरीदने के लिए जाते हैं तो वहां पर वह कंफ्यूज हो जाते हैं और उनको समझ नहीं आता कि वह कौन सी किताब लें इसलिए निम्नलिखित हम कुछ बेहतरीन किताबों के नाम बता रहे हैं जो कि इस तरह से हैं – 

  • ऑब्जेक्टिव जनरल इंग्लिश बाय एसपी बक्शी (Objective Ggeneral English by SP bakshi)
  • हाउ टू प्रिपेयर फॉर वर्बल एबिलिटी एंड रीडिंग कंप्रीहेंशन बाय अरुण शर्मा (How to prepare for verbal ability and reading comprehension by Arun Sharma)
  • ए मिरर आफ कॉमन एरर्स बाय डॉ अशोक कुमार सिंह (A mirror of common errors by Dr Ashok Kumar Singh) 
  • क्वानटेटिव एप्टीट्यूड बाय डॉ आर एस अग्रवाल (Quantitative aptitude by Dr RS Aggarwal)
  • एनालिटिकल रीजनिंग बाय एमके पांडे (Analytical reasoning by MK Pandey) 
  • जनरल नॉलेज बाय लुसेंट पब्लिकेशन (General knowledge by Lucent publication)
  • मनोरमा ईयर बुक (Manorama year book)
  • एनसीईआरटी बुक्स ऑफ क्लास 10,12 हिस्ट्री, ज्योग्राफी इकोनॉमिक्स (NCERT books of class 10, 12 history, geography, economics)

इनकम टैक्स इंस्पेक्टर के कार्य 

यहां जानकारी दे दें कि income tax inspector इनकम टैक्स डिपार्टमेंट का एक नॉन गजेटेड ग्रुप सी का ऑफिसर होता है जिसके अंतर्गत उसे अपने क्षेत्र के टैक्स भुगतान करने वाले लोगों के टैक्स रिटर्न की जांच करने का कार्य करना होता है। इसके अलावा अपने पद पर रहते हुए एक इनकम टैक्स इंस्पेक्टर को विभिन्न प्रकार के अनेकों कार्य करने होते हैं जो कि इस तरह से हैं- 

  • जो व्यक्ति, संस्था या कंपनी टैक्स रिटर्न के लिए फार्म भरते हैं उनकी वेरिफिकेशन करने का काम इनकम टैक्स इंस्पेक्टर का होता है।
  • टीडीएस और टैक्स रिफंड जैसे मामलों को देखता है।
  • टैक्स चोरी की जितनी भी शिकायतें होती हैं उन्हें निपटाता है।
  • टैक्स चोरी के मामले में छापे यानी रेड का आयोजन करता है।
  • अगर कोई टैक्स चोरी करता है तो उसके विरुद्ध सबूत इकट्ठे करने का कार्य करता है।

वेतन

जो कैंडिडेट इनकम टैक्स इंस्पेक्टर के पद पर काम करने लगते हैं उन्हें हर महीने लगभग 40 हजार रुपए का वेतन दिया जाता है और साथ में 4,600 के ग्रेड पे भी दी जाती है। इसके साथ साथ इनकम टैक्स इंस्पेक्टर को दूसरी अन्य सरकारी सुविधाएं भी दी जाती है। यहां आपको यह भी बता दें कि इनकम टैक्स ऑफिसर की सैलरी इस बात के ऊपर भी निर्भर करती है कि उसका पोस्ट क्या है और उसकी नियुक्ति किस राज्य में की गई है। 

निष्कर्ष 

दोस्तों यह तो हमारा आज का आर्टिकल income tax inspector कैसे बनें? इस पोस्ट में हमने आपको सारी जानकारी दी कि आप किस प्रकार से एक इनकम टैक्स इंस्पेक्टर की सरकारी नौकरी प्राप्त कर सकते हैं। इसमें हमने आपको बताया कि इनकम टैक्स इंस्पेक्टर बनने के लिए आपने कितनी योग्यता होनी चाहिए और आपको कौन सी परीक्षा को पास करना होगा। इसके साथ-साथ इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको यह भी बताया कि इनकम टैक्स ऑफिसर बनने के बाद आपको कौन-कौन से कार्य करने होंगे और साथ ही साथ हमने income tax inspector बनने के लिए सारी अनिवार्य बातें आपके साथ शेयर की हैं। अगर आपको हमारा यह लेख पसंद आया हो तो इसे अपने उन दोस्तों के साथ भी जरूर शेयर करें जो सरकारी नौकरी करना चाहते हैं।

Leave a Reply