ग्राफिक डिजाइन कोर्स (Graphic Design Course) कैसे करे

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे ग्राफिक डिजाइन कोर्स (Graphic Design Course) कैसे करें। अगर आपने 12वीं कक्षा पास कर ली है या अभी आप 12वीं में हैं और आप 12वीं के बाद ग्राफिक डिजाइन कोर्स करना चाहते हैं तो आज का यह आर्टिकल आप पूरा पढ़ें क्योंकि हम आज आपको ग्राफिक डिजाइन के बारे में सारी जानकारी देने वाले हैं। 

यहां आपको बता दें कि अगर आप क्रिएटिव है और आपको कंप्यूटर पर काम करना अच्छा लगता है तो आप ग्राफिक डिजाइनर बन सकते हैं। 12वीं के बाद ग्राफिक डिजाइनर बनना एक बहुत ही अच्छा कैरियर आपके लिए साबित हो सकता है क्योंकि इस क्षेत्र में आपको कैरियर में काफी आगे तक जाने के काफी अधिक अवसर मिल सकते हैं। ‌

आज के इस आर्टिकल में हम आपको ग्राफिक डिजाइनिंग के क्षेत्र से जुड़ी हुई सारी जानकारी देने वाले हैं और हमें पूरी उम्मीद है कि हम आपका ठीक प्रकार से मार्गदर्शन कर सकेंगे। इसलिए हमारी आप से विनती है कि इस आर्टिकल को शुरू से लेकर अंत तक अवश्य पढ़िएगा।‌

ग्राफिक डिजाइन कोर्स

ग्राफिक डिजाइन क्या है (What is Graphic Design in Hindi)

 ग्राफिक डिजाइन एक ऐसा आर्ट कोर्स है जिसमें फोटो, विचार, और टेक्स्ट की सहायता से किसी मैसेज को खूबसूरत और प्रभावी रूप से पब्लिक तक पहुंचाना होता है जैसे लोगो, पोस्टर, पेम्फेट, न्यूज़लेटर, ब्रोशर्स इत्यादि। यहां आपको बता दें कि ग्राफिक डिजाइन को कम्युनिकेशन डिजाइन भी कहा जा सकता है। 

ग्राफिक डिजाइन कोर्स में कैंडिडेट को फोटोशॉप, कोरल ड्रॉ जैसे दूसरे अन्य विषयों पर ट्रेनिंग दी जाती है। इसके अलावा आपको जानकारी दे दें कि 12वीं के बाद कोई भी उम्मीदवार ग्राफिक डिजाइनिंग के क्षेत्र में जा सकता है और अपनी रूचि के अनुसार ग्राफिक डिजाइन में सर्टिफिकेट, डिप्लोमा या डिग्री कोर्स कर सकता है। साथ ही आपको यह भी बता दें कि अगर आप ग्राफिक डिजाइन कोर्स करते हैं तो उसके बाद आपको न्यूज़ पेपर, विज्ञापन एजेंसी, वेब पेज मैगजीन, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया जैसे क्षेत्रों में आसानी से नौकरी मिल सकती है। 

ग्राफिक डिजाइन कोर्स के लिए योगयता क्या होनी चाहिए (Graphic Design Course Eligibility)

ग्राफिक डिजाइन एक बहुत ही क्रिएटिव फील्ड है जिसको करने के लिए उम्मीदवार में शैक्षणिक योग्यता के साथ-साथ कुछ और भी योग्यताओं की आवश्यकता होती है जिनकी जानकारी हम नीचे दे रहे हैं-

  • उम्मीदवार ने किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से 12वीं कक्षा पास की होनी चाहिए।
  • कैंडिडेट में रचनात्मक स्किल होने चाहिए जिसके कारण वह अपनी क्रिएटिविटी दिखा सके।
  • कंप्यूटर की जानकारी।‌

ग्राफिक डिजाइन कोर्स संस्थान सूची (Graphic Design Course Institute List)

हमारे यहां ग्राफिक डिजाइनिंग कोर्स के लिए मौजूदा समय में बहुत सारे संस्थान खुल गए हैं और ऐसे में कोई भी कैंडिडेट दुविधा में पड़ जाता है कि कहां से उसे ग्राफिक डिजाइन कोर्स करना चाहिए। लेकिन किसी भी संस्थान को चुनने से पहले कैंडिडेट के लिए यह जान लेना बहुत जरूरी है कि उस संस्थान की स्थापना कब हुई और ट्रेनिंग देने का उनका रिकॉर्ड क्या है।

इसके अलावा भी और भी दूसरे कई तथ्य हैं जिनके आधार पर आपको अपना संस्थान चुनना होगा। निम्नलिखित हम आपको कुछ संस्थानों के नाम बता रहे हैं जहां से आप ग्राफिक डिजाइन कोर्स कर सकते हैं –

  • रेस एनीमेशन कॉलेज, हैदराबाद (Race Animation College, Hyderabad)
  • एरीना एनीमेशन, मुंबई (Arena Animation, Mumbai)
  • वाडिया डिजाइन इंस्टीट्यूट, अहमदाबाद (Wadiya design Institute, Ahmedabad)
  • जेड इंस्टिट्यूट ऑफ़ डिज़ाइन, हैदराबाद (Zed Institute of Design, Hyderabad)
  • टीजीसी एनीमेशन एंड मल्टीमीडिया न्यू दिल्ली (TGC animation and multimedia, New Delhi)
  • माया अकैडमी आफ एडवांस्ड सिनेमैटिक्स, मुंबई  (Maya Academy of Advanced Cinematics, Mumbai) 
  • एंट्रेंस एनिमेशन ट्रेनिंग स्कूल बैंगलोर, ((Entrance Animation Training School, Bangalore)
  • इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन, पुणे (Institute of Design, Pune)
  • आईआईएफए, बेंगलोर (IIFA, Bangalore)
  • नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ डिज़ाइन गांधीनगर (National Institute of Design, Gandhinagar)

ग्राफिक डिजाइनिंग कोर्स पाट्यक्रम (Graphic Design Course Syllabus)

जो छात्र 12वीं के बाद ग्राफिक डिजाइन कोर्स करना चाहते हैं तो उसके लिए हम बता दें कि कोर्स करने से पहले एक बार आप यह भी जान लीजिए कि उस कोर्स में आपको क्या क्या सिखाया जाएगा। किसी भी कोर्स को करने से पहले उसका सिलेबस जान लेना बहुत जरूरी होता है 

निम्नलिखित हम ग्राफिक डिजाइन कोर्स के सिलेबस के बारे में जानकारी दे रहे हैं जो कि इस प्रकार है-

  • इंट्रोडक्शन टू ग्राफिक डिजाइनिंग (Introduction to graphic designing)
  • टाइपोग्राफी (Typography)
  • इमेज लेआउट एंड इफैक्ट्स (Image layout and effects)
  • कोरल ड्रॉ (Corel draw)
  • इनडिजाइन (InDesign)
  • एडोब ड्रीमविवर (Adobe Dreamweaver)
  • शेपिंग (Shaping)
  • डिजाइन एंड इलस्ट्रेशन (Design and illustration)
  • ग्राफिक डिजाइनिंग सॉफ्टवेयर एंड टूल्स (Graphic designing softwares and tools)
  • फोटोशॉप इलस्ट्रेटर (Photoshop illustrator)
  • एचटीएमएल/जावा स्क्रिप्ट (HTML/JavaScript)
  • एडोब फ्लैश (Adobe Flash)
  • कंप्यूटर फंडामेंटल्स (Computer fundamentals)
  • वेक्टर ग्रैफिक्स फॉर डिजाइनर्स (Vector graphics for designers)

ग्राफिक्स डिजाइन कोर्स फीस (Graphic Design Course Fees)

ग्राफिक डिजाइन कोर्स के लिए किसी भी उम्मीदवार को 10,000 रुपए से लेकर 50,000 रुपए तक फीस का भुगतान करना पड़ सकता है। लेकिन यदि आप किसी निजी संस्थान से ग्राफिक डिजाइन कोर्स करना चाहते हैं तो वहां पर और भी अधिक फीस देनी पड़ सकती है। आपकी जानकारी के लिए यह भी बता दें कि प्रत्येक निजी संस्थान की फीस अलग-अलग होती है किसी की अधिक और किसी की कम। 

ग्राफिक डिजाइन कोर्स करने के बाद  वेतन कितनी मिलती है (Salary After Graphic Design Course)

अगर कोई कैंडिडेट एक सफल ग्राफिक डिजाइनर बन जाता है तो वह शुरुआत में 15,000 रुपए से लेकर 30,000 रुपए तक आसानी से हर महीने कमा सकता है। इसके अलावा ऐसे बहुत सारे उम्मीदवार भी होते हैं जो बहुत अधिक क्रिएटिव होने के कारण इससे भी ज्यादा पैसे कमा सकते हैं। 

इस क्षेत्र में जैसे जैसे आपको अनुभव होने लगेगा वैसे वैसे आपकी सैलरी भी काफी बढ़ जाएगी जो कि लाखों रुपए तक में हो सकती है। इसमें कोई संदेह नहीं कि एक ग्राफिक डिजाइनर अगर  अधिक क्रिएटिव है तो वह हर महीने लाखों रुपए कमा सकता है। 

निष्कर्ष

दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिकल जिसमें हमने आपको ग्राफिक डिजाइन कोर्स के बारे में सारी आवश्यक जानकारी उपलब्ध कराई। इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको बताया कि आप किस प्रकार से ग्राफिक डिजाइन के क्षेत्र में अपना करियर बना सकते हैं और साथ ही हमने आपको यह भी बताया कि इस कोर्स के लिए आपको कितनी फीस देनी पड़ सकती है। इसके अलावा हमने आपको यह भी बताया कि ग्राफिक डिजाइनर बनने के साथ आपको हर महीने कितना वेतन कमा मिल सकता है। 

जानकारी देते समय हमने आपको यह भी बताया कि आप भारत के कौन से प्रतिष्ठित संस्थानों से ग्राफिक डिजाइन कोर्स कर सकते हैं। हमने आज के इस आर्टिकल में आपको सारी ग्राफिक डिजाइन से जुड़ी हुई जानकारी दे दी है और हमें पूरी उम्मीद है कि हमारा आज का यह आर्टिकल आपके लिए बहुत अधिक उपयोगी रहा होगा। अगर आप 12वीं के बाद ग्राफिक डिजाइनर बनना चाहते हैं तो इस आर्टिकल में दी गई सारी जानकारी आपके लिए बेहद काम आएगी।

इसके अलावा यदि आपके मन में Graphic design course को लेकर किसी भी प्रकार की कोई दुविधा या कोई अन्य प्रश्न है तो आप हमसे कमेंट करके पूछ सकते हैं। अंत में हमारा आपसे एक छोटा सा निवेदन है कि इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें।

Deepak Kumar

दीपक कुमार After12th.net के लेखक और संस्थापक हैं। वह छात्रों को उनकी धारा तय करने और उद्योग में पाठ्यक्रमों के बारे में जानकारी प्रदान करने में मदद करता है। वह उन्हें नई ऊंचाइयों तक पहुंचाने में मदद करता है। उनका उद्देश्य देश में अधिकतम छात्रों के लिए वैध और उपयोगी जानकारी साझा करना है।

Leave a Reply