फुटवियर डिजाइनर (Footwear designer) कैसे बनें?

  • Post author:
  • Post category:Career

नमस्कार! आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे फुटवियर डिजाइनर (Footwear designer) कैसे बनें? यह फील्ड उन लोगों के लिए बहुत ही उचित है जो 12वीं के बाद अपनी क्रिएटिविटी का इस्तेमाल करते हुए फुटवियर इंडस्ट्री में जाना पसंद करते हैं। हमारे देश भारत में जूता उद्योग बहुत ही ज्यादा तेजी के साथ बढ़ रहा है जिसकी वजह से इसमें बहुत सारे कैंडिडेट अपना कैरियर बनाना पसंद करते हैं। परंतु इस क्षेत्र में केवल वही लोग अपना सफलता पा सकते हैं जिन्हें फुटवियर डिजाइनर बनने की पूरी प्रक्रिया के बारे में जानकारी होती है क्योंकि किसी भी उद्योग में सफल होने के लिए जरूरी है कि उससे जुड़ी हुई सारी बातें कैंडिडेट को पता हो। ऐसे में अगर आप भी यह कोर्स करने में रुचि रखते हैं तो हमारे आज के इस आर्टिकल को सारा जरूर पढ़िए। 

फुटवियर डिजाइनर क्या होता है (what is Footwear designer in Hindi) 

फुटवियर डिजाइनर वह होता है जो जूता बनाने में और उसे डिजाइन करने में महारथ रखता है। इसके लिए वह विभिन्न प्रकार के मैटेरियल का इस्तेमाल करते हुए अलग-अलग तरह के जूते बनाते हैं। लेकिन कैंडिडेट को इससे संबंधित कोर्स करना होता है जिससे कि वह जूता बनाना सीख सकें। इस कोर्स के अंदर पैटर्न, कांसेप्ट डिजाइन, फैशन ट्रेंड्स के साथ साथ डिजाइनिंग सॉफ्टवेयर के बारे में ट्रेनिंग दी जाती है। यह कोर्स पूरा करके कैंडिडेट जूता बनाने के सारे स्किल के साथ जूता बनाने की सारी कला सीख जाता है। 

Also post: फ्लोरल डिजाइनर (Floral Designer) कैसे बनें?

फुटवियर डिजाइनर बनने के लिए प्रक्रिया क्या है

इसके लिए कैंडिडेट को फुटवियर डिजाइनिंग में डिप्लोमा या फिर सर्टिफिकेट कोर्स करना होगा और अगर कैंडिडेट चाहे तो वह डिग्री कोर्स भी कर सकता है। जब कोर्स पूरा हो जाएगा तो उसके बाद किसी भी जूता बनाने वाले कारखाने या कंपनी में नौकरी की जा सकती है। लेकिन यहां यह भी बता दें कि इसके लिए जो कोर्स करवाए जाते हैं उन में दाखिला लेने के लिए कैंडिडेट को एंट्रेंस टेस्ट पास करना पड़ सकता है लेकिन हर इंस्टिट्यूट में प्रवेश परीक्षा नहीं होती है तो कैंडिडेट अपनी रूचि और इच्छा अनुसार अपने कॉलेज का चयन कर सकता है।

फुटवियर डिजाइनर बनने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए 

इसके लिए कैंडिडेट में कुछ योग्यताओं का होना अत्यंत जरूरी है जिनकी जानकारी इस प्रकार से है-

  • छात्र ने 12वीं कक्षा पीसीबी या फिर पीसीएम से पास की हो। 
  • कैंडिडेट क्रिएटिव होना चाहिए।
  • फैशन ट्रेंड्स की जानकारी होनी चाहिए। 
  • कम्युनिकेशन स्किल्स अच्छे होने चाहिए। 

आयु सीमा  

  • इस कोर्स को करने के छात्र की आयु कम से कम 18 वर्ष होनी आवश्यक है। 

फुटवियर डिजाइनर बनने के कैरियर संभावनाएं क्या है 

जब कोई व्यक्ति फुटवियर डिजाइनर बन जाता है तो तब उसके सामने एक अच्छा कैरियर होता है जहां पर उसे शुरुआत में ही अच्छी नौकरी मिल जाती है जिसमें उसे वेतन भी ठीक-ठाक मिलता है। हमारे देश भारत में लुधियाना, जालंधर, चेन्नई, आगरा, मुंबई, अंबुर, सोनीपत और फरीदाबाद जैसे शहरों में जूता कंपनियों एवं कारखानों में नौकरी कर सकते हैं। 

वेतन 

फुटवियर डिजाइनर बनने के बाद कैंडिडेट को जो वेतन मिलता है वह सबसे अधिक इस बात के ऊपर डिपेंड होता है कि उसे अनुभव कितना है और उसमें योग्यता कितनी है। लेकिन अगर हम एवरेज वेतन की बात करें तो कैंडिडेट को हर महीने 20 हजार रुपए से लेकर 30 हजार रुपए तक का वेतन मिल जाता है जो कि बाद में और भी ज्यादा बढ़ जाता है।

फुटवियर डिजाइनर के कार्य 

फुटवियर डिजाइनर एक आर्टिस्ट की तरह होता है जिसके अंतर्गत उसे विभिन्न तरह के स्टाइल और डिजाइन के जूते बनाने होते हैं इसीलिए उसका काम बहुत ही ज्यादा मेहनत के साथ-साथ जिम्मेदारी वाला भी होता है और उसे निम्नलिखित कार्य करने होते हैं-

  • फुटवियर डिजाइनर को लोगों की पसंद ना पसंद के अनुसार जूता डिजाइन करना होता है। 
  • अपने ग्राहकों को उत्तम क्वालिटी के जूते अफोर्डेबल प्राइस में उपलब्ध कराता है। 
  • फैशन ट्रेंड्स के हिसाब से और ग्राहकों की पसंद के अनुसार जूते बनाना। 
  • जूते, चप्पल बनाते समय इस बात का ध्यान रखना कि क्वालिटी के साथ किसी भी तरह का कॉम्प्रोमाइज ना किया जाए जिससे कि एक श्रेष्ठ जूता बन सके। 
  • अपने काम को बेहतरीन तरीके से करने के लिए अपनी क्रिएटिविटी का इस्तेमाल करना। 

निष्कर्ष

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हमने आपको बताया फुटवियर डिजाइनर (Footwear designer) कैसे बनें? इस लेख में हमने आपको जानकारी दी कि फुटवियर डिजाइनर क्या होता है और इसके लिए कैंडिडेट में कितनी योग्यता होनी चाहिए। साथ ही साथ हमने आपको यह भी बताया कि फुटवियर डिजाइनर बनने की पूरी प्रक्रिया क्या है और हर महीने उसे कितना वेतनमान दिया जाता है। इसके अलावा हमने आपको यह भी जानकारी दी कि इस क्षेत्र में कैंडिडेट के लिए कैरियर संभावनाएं क्या है। वैसे यह इंडस्ट्री बहुत ही ज्यादा अच्छी है क्योंकि अगर कैंडिडेट में स्किल है तो वह काफी ज्यादा सफल कैरियर बना सकता है। अगर आपको हमारे द्वारा दी गई है सारी जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे अपने उन दोस्तों के साथ भी अवश्य शेयर करें जो 12वीं कक्षा के बाद फुटवियर डिजाइनर बनने के इच्छुक हैं। 

Leave a Reply