डिस्क जॉकी (Disc Jockey) कैसे बनें?

नमस्कार! आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि डिस्क जॉकी (Disc Jockey) कैसे बनें? डिस्क जॉकी को आमतौर पर लोग डीजे के नाम से अधिक पुकारते हैं। इस फील्ड में वही कैंडिडेट अपना कैरियर बनाना पसंद करते हैं जिन्हें म्यूजिक के साथ साथ पार्टी और इवेंट ऑर्गेनाइज करना पसंद होता है। यहां बता दें कि डीजे के तौर पर आज अधिक से अधिक लोग काम करना चाहते हैं क्योंकि इस इंडस्ट्री में कैंडिडेट को काफी पैसे कमाने के मौके मिल जाते हैं। तो अगर आप भी डिस्क जॉकी के रूप में काम करना चाहते हैं तो आपके लिए जरूरी है कि आपको यह पता होना चाहिए कि आप किस तरह से इस फील्ड में काम कर सकते हैं। इसलिए अगर आप 12वीं के बाद डीजे बनना चाहते हैं तो हमारे आज के इस आर्टिकल को सारा पढ़ें और जानें पूरी प्रक्रिया के बारे में।

डिस्क जॉकी क्या है (what is Disc Jockey in Hindi) 

यहां सबसे पहले आपको जानकारी के लिए बता दें कि डिस्क जॉकी यानी डीजे एक ऐसा प्रोफेशनल होता है जिसका काम इवेंट्स और पार्टियों में म्यूजिक चलाने का होता है जिससे कि सभी लोग एंजॉय कर सकें। इसके लिए डीजे जो म्यूजिक प्ले करता है वह या तो किसी रेडियो स्टेशन से ले सकता है या फिर अपनी बनाई हुई म्यूजिकल प्लेलिस्ट से भी ले सकता है। इस प्रकार से वह म्यूजिक ट्रेक्स को इस तरह से मिक्स करके चलाता है कि पार्टी में मौजूद सभी लोग काफी अधिक आनंद उठाते हैं। 

Also read: एपिग्राफिस्ट (Epigraphist) कैसे बनें?

डिस्क जॉकी बनने के लिए प्रक्रिया क्या है

अब आपको यहां बता दें कि जो छात्र डिस्क जॉकी बनना चाहते हैं तो इसके लिए उन्हें किसी भी स्पेसिफिक एकेडमिक क्वालीफिकेशन की जरूरत नहीं होती लेकिन फिर भी उन्हें रिलेटेड क्षेत्र में डिप्लोमा सर्टिफिकेट या फिर कॉलेज डिग्री ले लेना चाहिए क्योंकि इससे वह अपने काम में मास्टर हो जाते हैं। इसलिए कैंडिडेट को चाहिए कि वह अपनी 12वीं क्लास की पढ़ाई पूरी करने के बाद म्यूजिक में डिप्लोमा सर्टिफिकेट या फिर बीए का कोर्स कर ले। जब कैंडिडेट का कोर्स पूरा हो जाए तो फिर उसके बाद वह डीजे के तौर पर काम करने के लिए अपना आवेदन एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में दे सकता है। 

डिस्क जॉकी बनने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए 

  • कैंडिडेट ने 12वीं कक्षा पास की हो।
  • म्यूजिक में डिप्लोमा प्राप्त किया हो।
  • या हिंदुस्तानी क्लासिकल वोकल म्यूजिक में डिप्लोमा या सर्टिफिकेट हासिल किया हो।
  • या कैंडिडेट ने क्लासिकल वोकल म्यूजिक में ग्रेजुएशन किया हो। 
  • या कैंडिडेट ने वोकल म्यूजिक या फिर म्यूजिकोलॉजी में बीए की डिग्री हासिल की हो। 
  • कैंडिडेट को म्यूजिकल ट्रेंड्स की अच्छी जानकारी होनी चाहिए। 
  • कैंडिडेट के कम्युनिकेशन स्किल्स अच्छे होने चाहिए और वह सेल्फ मोटिवेटेड हो।
  • गुड सेंस ऑफ़ ह्यूमर होना चाहिए और कंप्यूटर की जानकारी भी होनी जरूरी है। 

आयु सीमा 

  • इच्छुक उम्मीदवार की आयु कम से कम 17 से लेकर 18 साल तक के बीच में होनी चाहिए।
  • जिन छात्रों को आयु सीमा में छूट दी गई है वह आरक्षित वर्ग के होने चाहिए और उन्हें सरकार के नियमानुसार छूट दिए जाने का प्रावधान है। 

डिस्क जॉकी बनने के कैरियर संभावनाएं क्या है 

जब कोई कैंडिडेट डीजे बन जाता है तो उसके सामने नौकरी के बहुत सारे अवसर आ जाते हैं जहां पर वह नौकरी के लिए आवेदन देकर काम कर सकता है जैसे कि-

  • वह रेडियो स्टेशंस पर कॉन्ट्रैक्ट बेसिस पर काम कर सकता है।
  • एक डीजे को क्लब और बार्स में भी काम करने का अवसर मिल जाता है जहां पर वह या तो कॉन्ट्रैक्ट बेसिस पर काम करते हैं या फिर एजेंट के तौर पर।
  • म्यूजिक चैनल पर काम कर सकते हैं।
  • अपना स्वयं का काम करके वह लोगों की पार्टियों और शादियों में म्यूजिक प्ले करने का काम आसानी के साथ कर सकते हैं। 

वेतन 

जो कैंडिडेट डीजे के तौर पर काम करते हैं उन्हें जो सैलरी पैकेज मिलता है वह हर पार्टी या इवेंट के अनुसार होता है जो कि तकरीबन 8,000 से लेकर 10,000 रुपए तक हो सकता है। इसके साथ-साथ अगर कोई डीजे काफी अधिक फेमस है तो उसे उसकी रेपुटेशन और पॉपुलैरिटी के हिसाब से इससे भी ज्यादा पैसे मिल सकते हैं। 

डिस्क जॉकी के कार्य 

डिस्क जॉकी के रूप में काम करने वाले कैंडिडेट को जो कार्य करने होते हैं उनकी जानकारी यहां निम्नलिखित हम बता रहे हैं जो कि इस तरह से है- 

  • अनेकों प्रकार के म्यूजिक और एंटरटेनमेंट चैनल पर काम करना।
  • रेडियो स्टेशन के म्यूजिकल चैनल पर काम करना।
  • इस बात को सुनिश्चित करना कि जो भी प्रोग्राम वह ऑर्गेनाइज कर रहे हैं वह ठीक प्रकार से लोगों तक पहुंच सके जिससे कि लोग उस का आनंद ले सकें।
  • अगर डीजे रेडियो स्टेशन पर काम करते हैं तो उन्हें अपने प्रोग्राम के अनुसार लोगों की सॉन्ग रिक्वेस्ट पर सॉन्ग चलाना होता है और इसके साथ-साथ रेडियो कॉन्टेस्ट भी ऑर्गेनाइज करनी होती है। 
  • किसी स्पेशल इवेंट पर म्यूजिक चलाना जैसे कि कुछ लोग अपनी शादियों में डीजे को जरूर बुलाते हैं।  

निष्कर्ष

दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिकल डिस्क जॉकी (Disc Jockey) कैसे बनें? इसलिए हमने आपको यह जानकारी दी कि डिस्क जॉकी क्या होता है और किसी कैंडिडेट में इसके बनने के लिए कितनी योग्यता का होना अत्यंत जरूरी है। साथ ही साथ इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको यह जानकारी दी कि डीजे बनने की पूरी प्रक्रिया क्या होती है और जब कोई कैंडिडेट इस पद पर काम करता है तो उसे हर महीने कितने रुपए तक का वेतन मिल सकता है। इसके अलावा हमने इस पोस्ट में आपको यह भी बताया कि एक डीजे को हर महीने कितने रुपए तक का वेतन मिल सकता है। वैसे अगर देखा जाए तो जिन लोगों को म्यूजिक सुनना और चलाना बेहद पसंद होता है तो वह इस क्षेत्र में अपना कैरियर बहुत शानदार बना सकते हैं। अंत में हमारी आप से रिक्वेस्ट है कि अगर आपको हमारा यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो इसे अपने उन दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें जो 12वीं के बाद डिस्क जॉकी बनना चाहते हैं। 

Leave a Reply