योग कोर्स (Diploma in Yoga) कैसे करें पूरी जानकारी

नमस्कार! दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि योग में डिप्लोमा कोर्स (Diploma in Yoga) कैसे करें पूरी जानकारी। योग करके जहां कोई भी इंसान अपने शरीर को हेल्दी और फिट बनाए रख सकता है वहीं दूसरी और इसके माध्यम से एक अच्छा कैरियर भी बनाया जा सकता है। आज हर कोई अपने स्वास्थ्य को लेकर बहुत ज्यादा जागरूक हो चुका है इसीलिए योग इंडस्ट्री में छात्रों के लिए कैरियर बनाने के बहुत सारे अवसर अवेलेबल हैं। तो इस प्रकार से देखा जाए तो इस क्षेत्र में स्टूडेंट्स 10वीं या 12वीं के बाद एक शानदार कैरियर बना सकते हैं। यदि आप भी योग में डिप्लोमा कोर्स करने के इच्छुक हैं तो हमारे आज के इस पोस्ट को सारा पढ़ें और जानें इस पाठ्यक्रम के बारे में सभी महत्वपूर्ण जानकारी। 

योग कोर्स क्या होता है (What is diploma in yoga in hindi)

योग कोर्स के अंतर्गत छात्रों को मस्तिष्क के प्रति जागरूक करना सिखाया जाता है। शरीर को स्वस्थ रखने के साथ-साथ व्यक्ति के मानसिक स्वास्थ्य को भी हेल्थी रखना बहुत ज्यादा जरूरी है। इसीलिए योग कोर्स के इस डिप्लोमा में स्टूडेंट्स को विशेषतौर पर योगासन के साथ-साथ मेडिटेशन, हेल्थ, माइंडफुलनेस इत्यादि से संबंधित जानकारी दी जाती है। यहां बता दें कि योग में डिप्लोमा हासिल करने के बाद इस फील्ड में कैंडिडेट को कैरियर चुनने के बहुत सारे मौके मिल जाते हैं। 

Also readवेल्डिंग टेक्नोलॉजी कोर्स (Diploma in Welding Technology) कैसे करें पूरी जानकारी

अवधि ( duration) 

अब यहां आपको जानकारी के लिए बता दें कि योग कोर्स के डिप्लोमा की अवधि 1 साल या फिर 2 साल तक की होती है जो कि हर इंस्टिट्यूट में अलग-अलग हो सकती है। 

योग कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा (Entrance test for diploma in yoga course)

अगर आप योग कोर्स में डिप्लोमा करने के इच्छुक हैं और यह जानना चाहते हैं कि इसके लिए आपको कौन सा एंट्रेंस एग्जाम देना होगा तो यहां आपको जानकारी के लिए बता दें कि इसके लिए आमतौर पर बहुत सारे संस्थानों और कॉलेजों में बिना किसी एंट्रेंस टेस्ट के एडमिशन मिल जाता है। लेकिन हमारे देश में ऐसे बहुत सारे संस्थान और कॉलेज भी हैं जहां पर दाखिला लेने के लिए छात्रों को प्रवेश परीक्षा देनी पड़ सकती है। लेकिन यह पूरी तरह से कैंडिडेट के ऊपर निर्भर करता है कि वह कौन से इंस्टिट्यूट से अपना डिप्लोमा करना चाहता है। 

योग कोर्स के लिए प्रवेश प्रक्रिया क्या है (What is the admission process for diploma in yoga course)

योग कोर्स में डिप्लोमा हासिल करने के लिए कैंडिडेट को सबसे पहले 12वीं कक्षा पास करनी जरूरी है। यहां बता दें कि बहुत से इंस्टिट्यूट्स ऐसे भी हैं जहां पर दसवीं के बाद भी छात्रों को कोर्स में दाखिला दे दिया जाता है। इस प्रकार से जब कैंडिडेट अपनी स्कूल की पढ़ाई पूरी कर ले तो उसे चाहिए कि वो यह डिसाइड करे कि उसको कौन से योग कॉलेज से ट्रेनिंग करनी है। इस तरह से जब एडमिशन के लिए रजिस्ट्रेशन प्रोसेस शुरू हो तो कैंडिडेट अपना रजिस्ट्रेशन करवाए और उसके बाद दाखिले के समय अपने सभी मांगे गए डॉक्यूमेंट्स कॉलेज में लेकर जाए। तो इच्छुक छात्र बहुत ही सिंपल तरीके से योग के डिप्लोमा कोर्स में दाखिला ले सकते हैं।

Also readफॉरेंसिक मेडिसिन कोर्स (Diploma in Forensic Medicine) कैसे करें पूरी जानकारी

योग कोर्स के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए (What should be the qualification for diploma in yoga course)

जो कैंडिडेट योग कोर्स के डिप्लोमा कोर्स में दाखिला लेने का सोच रहे हैं उन्हें यहां हम जानकारी के लिए बता दें कि इसके लिए उनके अंदर निम्नलिखित योग्यताओं का होना बहुत जरूरी है जैसे कि- 

  • छात्र ने मिनिमम दसवीं कक्षा पास की होनी चाहिए।
  • या छात्र ने 12वीं कक्षा पास की हो। 
  • कैंडिडेट को योग में रुचि होनी चाहिए। 
  • योग सीखने की इच्छा काफी प्रबल होनी चाहिए। 

फीस (fees)

योग के डिप्लोमा कोर्स के लिए कैंडिडेट को जो फीस देनी पड़ती है वह हर संस्थान में अलग-अलग होती है। मिसाल के तौर पर अगर कोई छात्र किसी सरकारी कॉलेज में दाखिला लेता है तो तब उसे काफी कम फीस का भुगतान करना पड़ता है। लेकिन वही अगर कोई छात्र किसी प्राइवेट कॉलेज से या इंस्टीट्यूट से अपने इस कोर्स को करता है तो तब उसे कुछ ज्यादा फीस देनी पड़ सकती है। इस प्रकार से देखा जाए तो इसके लिए छात्रों को 10,000 से लेकर 50,000 रुपए तक की फीस देनी पढ़ती है। 

Also readटैक्सेशन कोर्स (Diploma in Taxation) कैसे करें पूरी जानकारी

भारत में योग कोर्स करने के लिए कॉलेज (College to do yoga course in India)

हमारे देश भारत में योग कोर्स करने के लिए बहुत सारे कॉलेज और इंस्टिट्यूट हैं जहां से कोई भी छात्र इस कोर्स को कर सकता है जैसे कि – 

  • लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी (Lovely professional University) 
  • वाईबीएन यूनिवर्सिटी रांची (YBN University Ranchi) 
  • महरिशी अरविंद यूनिवर्सिटी जयपुर (Maharishi Arvind University Jaipur) 
  • अपेक्स प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी अरुणाचल प्रदेश (Apex professional University Arunachal Pradesh)
  • महर्षि दयानंद वोकेशनल ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट इंडिया लखनऊ (Maharishi dayanand vocational training institute India Lucknow) 
  • शिव योग इंस्टिट्यूट कानपुर (Shiv Yoga Institute Kanpur) 
  • श्रीराम इंस्टीट्यूट ऑफ प्रोफेशनल स्टडीज न्यू दिल्ली (Sriram Institute of professional studies New Delhi)
  • मोरारजी देसाई नेशनल इंस्टीट्यूट आफ योगा दिल्ली (Morarji Desai National Institute of Yoga Delhi) 
  • इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी (Indira Gandhi National Open University) 
  • देवी अहिल्या विश्वविद्यालय इंदौर मध्य प्रदेश (Devi Ahilya vishwavidyalaya Indore Madhya Pradesh)

योग कोर्स का पाठ्यक्रम/ सब्जेक्ट्स क्या-क्या है (What are the syllabus / subjects of yoga course)

योग कोर्स के डिप्लोमा के अंतर्गत छात्रों को जो सिलेबस पढ़ाया जाता है उसकी जानकारी इस प्रकार से है – 

  • इंट्रोडक्शन टू योग (Introduction to yoga) 
  • फाउंडेशन एंड फिलॉसफी ऑफ योगिक साइंस (Foundation and philosophy of yogic science)
  • फाउंडेशन ऑफ नेचुरोपैथी (Foundation of naturopathy) 
  • एनाटॉमी आफ ह्यूमन बॉडी (Anatomy of human body) 
  • योग एंड कल्चरल सिंथेसिस एंड वैल्यू एजुकेशन (Yoga and cultural synthesis and value education) 
  • योग एंड मेंटल हेल्थ (Yoga and mental health) 
  • प्रैक्टिकल ट्रेनिंग (Practical training) 
  • टीचिंग मेथड्स फॉर योगिक  (Teaching methods for yogic) 
  • योग एंड सोशल बिहेवियर (Yoga and social behaviour) 

Also readपब्लिक हेल्थ कोर्स (Diploma in Public Health Course) कैसे करें पूरी जानकारी

योग कोर्स के बाद कैरियर संभावनाएँ क्या है (What are the career prospects after yoga course)

योग कोर्स करने के बाद योग्य उम्मीदवारों को कैरियर की अपार संभावनाएं देश में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी मिल जाती हैं जहां पर वह काम कर सकते हैं जैसे कि – 

  • योग थेरेपी सेंटर्स (Yoga Therapy centres)
  • योग इंस्टिट्यूट्स (Yoga institutes)
  • योग सेंटर्स (Yoga centres) 
  • रिजॉर्ट्स (Resorts)
  • गवर्नमेंट स्कूल्स (Government schools)
  • प्राइवेट स्कूल (Private school) 
  • होटल्स (Hotels) 
  • हेल्थ क्लब्स (health clubs) 

वेतन (salary)

योग इंडस्ट्री में कैरियर बनाने वालों का सैलरी पैकेज उनकी योग्यता के ऊपर सबसे अधिक निर्भर करता है। इस प्रकार से कैंडिडेट अपने कैरियर की शुरुआत में तकरीबन 15,000 से लेकर 40,000 तक का वेतन प्राप्त कर सकता है। इसके अलावा कुछ एक्सपीरियंस हासिल होने के बाद उसको और भी अधिक सैलरी मिल जाती है। साथ ही बता दें कि आज ऐसे बहुत सारे योग टीचर और इंस्ट्रक्टर हैं जो हर महीने लाखों रुपए आसानी के साथ कमा रहे हैं। 

Also readरिटेल मैनेजमेंट कोर्स (Diploma in Retail Management) कैसे करें पूरी जानकारी।

इवेट सेक्टर में जॉब्स (Jobs in private sector after)

योग इंडस्ट्री काफी तेजी के साथ उभरता हुआ क्षेत्र है जिसकी वजह से अगर कोई व्यक्ति योग में डिप्लोमा कोर्स करने के बाद नौकरी करना चाहता है तो उसे काम करने के बहुत सारे मौके मिल जाते हैं जहां पर वह निम्नलिखित पदों पर नियुक्ति हासिल कर सकता है –

  • योग इंस्ट्रक्टर (Yoga Instructor)
  • योग टीचर (Yoga teacher)
  • योग थैरेपिस्ट (Yoga Therapist)
  • योग कंसलटेंट (Yoga Consultant)
  • योग स्पेशलिस्ट (Yoga Specialist)
  • योग एरोबिक इंस्ट्रक्टर (Yoga Aerobic Instructor)
  • रिसर्च ऑफिसर; योग एंड नेचरोपैथी (Research Officer; Yoga and Naturopathy)

गवर्नमेंट सेक्टर में जॉब्स (Jobs in government sector)

हमारे देश में आज ऐसे बहुत सारे सरकारी योग सेंटर्स हैं जहां पर कोई भी कैंडिडेट नौकरी के लिए आवेदन दे सकता है। यहां बता दें कि साल भर विभिन्न सरकारी विभागों में योग से संबंधित अनेकों नौकरियों के लिए रिक्तियां निकलती है जहां पर एक योग डिप्लोमा धारक अपना आवेदन दे सकता है। 

Also readकेमिकल इंजीनियरिंग कोर्स (Diploma in Chemical Engineering) कैसे करें पूरी जानकारी

निष्कर्ष

दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिकल योग में डिप्लोमा कोर्स (Diploma in Yoga) कैसे करें पूरी जानकारी। इसमें हमने आपको बताया कि योग कोर्स क्या होता है और इसकी अवधि कितनी होती है। साथ ही इस लेख के माध्यम से हमने आपको यह जानकारी भी दी कि योग कोर्स के डिप्लोमा में दाखिला लेने के लिए प्रवेश परीक्षा और प्रवेश प्रक्रिया क्या होती है। इसके अलावा हमने आपको यह जानकारी भी दी कि इस पाठ्यक्रम में दाखिला लेने के लिए छात्रों में कितनी योग्यता का होना जरूरी है और उन्हें इस के लिए कितने रुपए तक की फीस देनी पड़ सकती है। 

इस पोस्ट में हमने आपको यह भी बताया कि हमारे देश भारत में योग कोर्स करने के लिए कौन कौन से कॉलेज और संस्थान अच्छे हैं और वहां पर छात्रों को क्या सिलेबस पढ़ाया जाता है। साथ ही साथ हमने आपको बताया कि योग में डिप्लोमा करने के बाद कैंडिडेट के सामने प्राइवेट और गवर्नमेंट सेक्टर में कैरियर की क्या-क्या संभावनाएं होती हैं। देखा जाए तो योग में ऐसे लोग बहुत सफलता पूर्वक अपना भविष्य बना सकते हैं जो आध्यात्मिक प्रवृत्ति के होते हैं। 

अंत में हमारी आपसे बस यही रिक्वेस्ट है कि अगर आपको हमारा यह पोस्ट अच्छा लगा हो तो इसे अपने उन दोस्तों के साथ भी जरूर शेयर करें जो 12वीं के बाद योग में डिप्लोमा कोर्स करना चाहते हैं। 

Leave a Reply