रिटेल मैनेजमेंट कोर्स (Diploma in Retail Management) कैसे करें पूरी जानकारी।

नमस्कार! दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि रिटेल मैनेजमेंट में डिप्लोमा कोर्स (Diploma in Retail Management) कैसे करें पूरी जानकारी। मौजूदा समय में आज बहुत से ऐसे छात्र हैं जो रिटेल मैनेजमेंट में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं। यहां बता दें कि किसी भी उत्पाद को कस्टमर तक पहुंचाना इस पाठ्यक्रम के अंतर्गत ही आता है। देखा जाए तो आज सुपरमार्केट्स, शॉपिंग सेंटर्स, मल्टीस्टोरी मॉल्स इत्यादि की मात्रा काफी तेजी से बढ़ रही है जिसकी वजह से इस क्षेत्र में 12वीं के बाद छात्र अपना काफी अच्छा कैरियर बना सकते हैं। अगर आप इस फील्ड में जाने का मन बना रहे हैं तो आज के हमारे इस पोस्ट को पूरा पढ़ें और जानें कि आप किस प्रकार से रिटेल मैनेजमेंट का कोर्स करके इसमें अपना भविष्य बना सकते हैं।  

Contents

रिटेल मैनेजमेंट कोर्स क्या होता है (What is diploma in retail management in hindi)

रिटेल मैनेजमेंट एक ऐसा कोर्स है जिसके अंतर्गत रिटेल को मैनेज करने की ट्रेनिंग दी जाती है। यहां जानकारी के लिए बता दें कि हिंदी में इसको खुदरा प्रबंधन के नाम से जाना जाता है। इस प्रकार से इस कोर्स के अंतर्गत छात्रों को सिखाया जाता है कि किस प्रकार से कुशल योजनाएं बनाकर ग्राहकों को संतुष्ट किया जा सकता है। इसके अलावा रिटेलिंग से जुड़े हुए सभी कार्य इस पाठ्यक्रम के तहत स्टूडेंट्स को पढ़ाए जाते हैं। इस प्रकार से किसी भी बिजनेस को सक्सेसफुली कैसे चलाया जाता है ये सभी चीजें रिटेल मैनेजमेंट के कोर्स में छात्रों को सिखाईं जाती हैं जिससे कि वह भविष्य में अच्छी कंपनियों में नौकरी कर सकते हैं या फिर अपना खुद का बिजनेस प्रोजेक्ट सफलतापूर्वक चला सकते हैं।

Also readप्रोडक्शन इंजीनियरिंग कोर्स (Diploma in Production Engineering) कैसे करें पूरी जानकारी

अवधि (duration) 

अब यहां आपको हम बता दें कि रिटेल मैनेजमेंट में डिप्लोमा कोर्स की जो अवधि होती है वह 1 साल तक की होती है। साथ ही बता दें कि इसमें जो एग्जामिनेशन टाइप होता है वह सेमेस्टर सिस्टम पर आधारित होता है। 

रिटेल मैनेजमेंट कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा (Entrance test for diploma in retail management course)

रिटेल मैनेजमेंट कोर्स में जो कैंडिडेट दाखिला लेना चाहते हैं उन्हें हम यहां जानकारी के लिए बता दें कि इसके लिए बहुत से कॉलेजों और शिक्षण संस्थानों में एंट्रेंस एग्जाम की प्रक्रिया है जो कि हर संस्थान की अलग अलग हो सकती है। इस प्रकार से जब कैंडिडेट एंट्रेंस टेस्ट में पास हो जाता है तो उसके बाद उस की काउंसलिंग की जाती है जिसके बाद उसे रिटेल मैनेजमेंट के डिप्लोमा कोर्स में दाखिला मिल जाता है। इसके अलावा हमारे देश में ऐसे बहुत सारे पॉलिटेक्निक इंस्टिट्यूट्स और कॉलेज भी हैं जहां पर कैंडिडेट को बिना किसी एंट्रेंस एग्जाम के दाखिला मिल जाता है। 

रिटेल मैनेजमेंट कोर्स के लिए प्रवेश प्रक्रिया क्या है (What is the admission process for diploma in retail management course)

रिटेल मैनेजमेंट के डिप्लोमा कोर्स में दाखिला लेने के लिए सबसे पहले जरूरी है कि छात्र अपनी 12वीं कक्षा की पढ़ाई पूरी करें। उसके बाद जिस कॉलेज या इंस्टिट्यूट में उसको एडमिशन लेना है वहां पर जाकर अपना रजिस्ट्रेशन करवा दे। अगर कैंडिडेट ने अपना कोर्स करने के लिए किसी सरकारी कॉलेज का चयन किया है तो वहां पर उसे एंट्रेंस एग्जाम देना पड़ सकता है जिसमें पास होने के बाद उसे दाखिला दे दिया जाता है। लेकिन कुछ निजी संस्थानों में छात्रों को 12वीं कक्षा के अंकों के आधार पर ही एडमिशन देने की प्रक्रिया होती है। 

Also readरबड़ टेक्नोलॉजी कोर्स (Diploma in Rubber Technology) कैसे करें पूरी जानकारी

रिटेल मैनेजमेंट कोर्स के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए (What should be the qualification for diploma in retail management course)

रिटेल मैनेजमेंट का डिप्लोमा कोर्स करने के लिए छात्रों में जो योग्यता होनी चाहिए उसके बारे में जानकारी इस प्रकार से है – 

  • छात्र ने किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से मिनिमम 12वीं कक्षा पास की हो। 
  • स्टूडेंट के 12वीं में कम से कम 50% से लेकर 60% तक अंग होने चाहिए।
  • कैंडिडेट के कम्युनिकेशन स्किल्स अच्छे होने चाहिएं। 
  • छात्र का व्यक्तित्व आकर्षक होना चाहिए।
  • कंप्यूटर और अंग्रेजी भाषा की जानकारी भी होनी आवश्यक है। 

फीस (fees)

इस डिप्लोमा पाठ्यक्रम के लिए कैंडिडेट को जो फीस देनी होती है वह पूरी तरह से छात्रों के द्वारा चयनित संस्थान या कॉलेज के ऊपर निर्भर करती है। ऐसा इसलिए है क्योंकि हमारे देश में हर स्टेट में सभी कॉलेज और एजुकेशनल संस्थानों की फीस अलग-अलग निर्धारित की गई है। वैसे अगर देखा जाए तो इसके लिए छात्रों को 17,000 से लेकर 3 लाख रुपए तक की फीस का भुगतान करना पड़ सकता है जो कि पूरी तरह से कॉलेज के ऊपर डिपेंड होता है। 

Also readटैक्सेशन कोर्स (Diploma in Taxation) कैसे करें पूरी जानकारी

भारत में रिटेल मैनेजमेंट कोर्स करने के लिए कॉलेज (College to do retail management course in India)

भारत में रिटेल मैनेजमेंट कोर्स में डिप्लोमा करने के लिए बहुत सारे कॉलेज और संस्थान हैं जिनके नाम इस प्रकार से हैं –

  • नेशनल स्किल डेवलपमेंट कॉरपोरेशन न्यू दिल्ली (National skill development corporation New Delhi) 
  • नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ रिटेल मैनेजमेंट (National Institute of Retail Management Ahmedabad)
  • नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ रिटेल मैनेजमेंट मुंबई (National Institute of Retail Management Mumbai) 
  • नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ रिटेल बेंगलोर (National Institute of retail Bangalore) 
  • शांति निकेतन कॉलेज ऑफ एजुकेशन श्रीनगर (Shanti niketan College of Education Srinagar)
  • एकेडमी ऑफ रिटेल एक्सीलेंस न्यू दिल्ली (Academy of retail excellence New Delhi) 
  • नरसी मोनजी इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड हायर स्टडीज मुंबई (Narsee Monjee Institute of Management and higher studies Mumbai) 
  • मुद्रा इंस्टिट्यूट ऑफ कम्युनिकेशन अहमदाबाद (Mudra Institute of communications Ahmedabad) 
  • बिरला इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट एंड हायर स्टडीज नोएडा (Birla Institute of Management and higher studies Noida) 
  • पर्ल अकैडमी ऑफ़ फैशन न्यू दिल्ली (Pearl academy of Fashion New Delhi)

रिटेल मैनेजमेंट कोर्स का पाठ्यक्रम/ सब्जेक्ट्स क्या-क्या है (What are the syllabus / subjects of retail management course)

रिटेल मैनेजमेंट कोर्स के तहत स्टूडेंट्स को जो सिलेबस पढ़ाया जाता है उसकी जानकारी हम निम्नलिखित बता रहे हैं जो कि इस प्रकार से है – 

  • प्रिंसिपल्स एंड प्रैक्टिसेज ऑफ़ मैनेजमेंट (principles and practices of Management)
  • रिटेल मैनेजमेंट (Retail Management)
  • कंज्यूमर बिहेवियर (Consumer behaviour)
  • सेल्स मैनेजमेंट (Sales management)
  • मार्केटिंग मैनेजमेंट (Marketing management)
  • मैनेजमेंट इनफॉरमेशन सिस्टम (Management information system)
  • कॉन्सेप्ट्स इन सप्लाई चैन मैनेजमेंट (Concepts in supply chain management) 

Also readफॉरेंसिक मेडिसिन कोर्स (Diploma in Forensic Medicine) कैसे करें पूरी जानकारी

रिटेल मैनेजमेंट कोर्स के बाद कैरियर संभावनाएँ क्या है (What are the career prospects after retail management course)

रिटेल इंडस्ट्री मौजूदा समय में एक काफी तेजी के साथ बढ़ती हुई फील्ड है। भारत में ही नहीं बल्कि दुनिया भर की इकोनामिक ग्रोथ में इसका काफी महत्वपूर्ण योगदान रहा है। ऐसे में इस इंडस्ट्री में काम करने के लिए स्किल्ड प्रोफेशनल लोगों की मांग में तेजी के साथ वृद्धि हो रही है। इसलिए रिटेल मैनेजमेंट का डिप्लोमा कोर्स करने के बाद कैंडिडेट हो कैरियर के बहुत सारे अवसर मिलते हैं जहां पर में काम कर सकते हैं जैसे कि – 

  • रिटेल इंडस्ट्रीज (Retail industries)
  • आईटीसी रिटेल (ITC retail)
  • टाटा ग्रुप्स (Tata groups)
  • बाटा (Bata)
  • आरपीजी रिटेल (RPG retail)
  • लाइफस्टाइल (Lifestyle) 
  • रिलायंस (Reliance) 

वेतन (salary)

रिटेल मैनेजमेंट में जब छात्र डिप्लोमा हासिल कर लेते हैं तो उसके बाद उन्हें उनके कैरियर की शुरुआत में काफी अच्छा वेतनमान मिल जाता है। लेकिन यहां बता दें कि किसी भी कैंडिडेट की सैलरी उसकी योग्यता, कंपनी और लोकेशन के ऊपर डिपेंड करती है। पर अगर हम एक एवरेज सैलेरी की बात करें तो उम्मीदवार को स्टार्टिंग में ही 20,000 से लेकर 60,000 रुपए तक का वेतन मिल जाता है। कुछ एक्सपीरियंस हासिल होने के बाद उसे रिटेलिंग इंडस्ट्री में और भी ज्यादा सैलरी मिल जाती है। 

Also readवेल्डिंग टेक्नोलॉजी कोर्स (Diploma in Welding Technology) कैसे करें पूरी जानकारी

प्राइवेट सेक्टर में जॉब्स (Jobs in private sector after)

रिटेल मैनेजमेंट कोर्स में डिप्लोमा करने के बाद छात्रों को नौकरी के बहुत सारे मौके मिल जाते हैं जहां पर वह अपनी योग्यता के अनुसार काम हासिल कर सकता है जैसे कि – 

  • स्टोर मैनेजर (Store manager) 
  • मैनेजर ऑपरेशंस (Manager operations)
  • सेल्स पर्सन (Sales person)
  • जूनियर सेल्स मैनेजर (Junior sales manager)
  • सीनियर सेल्स मैनेजर (Senior sales manager)
  • रिटेल मैनेजर (Retail manager) 
  • रिटेल बायर्स एंड मर्चेंडाइजर (Retail buyers and merchandiser) 
  • विजुअल मर्चेंडाइजर (Visual merchandiser)

गवर्नमेंट सेक्टर में जॉब्स (Jobs in government sector)

रिटेल मैनेजमेंट का डिप्लोमा कोर्स सफलतापूर्वक करने के बाद कैंडिडेट को जहां प्राइवेट सेक्टर में काफी अच्छी नौकरियां मिल जाती है तो वहीं उसके लिए गवर्नमेंट सेक्टर में भी अनेकों नौकरियां के अवसर उपलब्ध होते हैं। यहां बता दें कि संबंधित क्षेत्र में हर साल रिटेल मैनेजमेंट से जुड़ी हुई नौकरियों के लिए रिक्तियां निकलती है जहां पर कैंडिडेट अपना आवेदन दे सकते हैं। 

Also readपब्लिक हेल्थ कोर्स (Diploma in Public Health Course) कैसे करें पूरी जानकारी

निष्कर्ष

दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिकल रिटेल मैनेजमेंट में डिप्लोमा कोर्स (Diploma in Retail Management) कैसे करें पूरी जानकारी। इसमें हमने आपको बताया कि रिटेल मैनेजमेंट कोर्स क्या होता है और इसकी अवधि कितनी होती है। इसके अलावा हमने आपको यह जानकारी दी कि इस कोर्स को करने के लिए प्रवेश परीक्षा और प्रवेश प्रक्रिया क्या रखी गई है। साथ ही हमने आपको यह जानकारी दी कि जो छात्र रिटेल मैनेजमेंट में डिप्लोमा कोर्स करना चाहते हैं उनके अंदर कितनी योग्यता होनी चाहिए और इस पाठ्यक्रम के लिए कितने रुपए तक की फीस तक का भुगतान छात्रों को करना पड़ सकता है।

इस पोस्ट में हमने आपको यह भी बताया कि हमारे देश भारत में रिटेल मैनेजमेंट में डिप्लोमा करने के लिए कौन कौन से कॉलेज है और वहां पर छात्रों को क्या सिलेबस पढ़ाया जाता है। साथ ही साथ हमने आपको यह भी बताया कि जो कैंडिडेट इस कोर्स को पूरा कर लेते हैं तो फिर उनके सामने प्राइवेट और गवर्नमेंट सेक्टर में कैरियर की क्या-क्या संभावनाएं होती हैं। 

अंत में हमारी आपसे बस यही रिक्वेस्ट है कि अगर आपको हमारे द्वारा दी गई यह सारी जानकारी उपयोगी लगी हो तो इसे अपने उन दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें जो 12वीं के बाद रिटेल मैनेजमेंट में डिप्लोमा कोर्स करना चाहते हैं। 

Leave a Reply