क्रिएटिव हिंदी राइटिंग में डिप्लोमा कोर्स (Diploma in Creative Writing in Hindi) कैसे करें पूरी जानकारी

नमस्कार! दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे क्रिएटिव हिंदी राइटिंग में डिप्लोमा कोर्स (diploma in creative writing in hindi) कैसे करें पूरी जानकारी। आज के समय में इंग्लिश राइटर के अलावा हिंदी राइटर की भी काफी ज्यादा डिमांड बढ़ गई है। हमारे देश में ऐसे बहुत सारे लोग हैं जो हिंदी भाषा को अच्छी तरह से समझते हैं इसीलिए आज अधिकतर वेबसाइट हिंदी में ही क्रिएट की जाती हैं। ऐसे में अगर किसी कैंडिडेट को लिखने का शौक है विशेषतौर पर क्रिएटिव राइटिंग में उसकी रुचि है तो वह इस क्षेत्र में अपना कैरियर बना सकता है। साथ ही बताते चलें कि अगर कोई कैंडिडेट इससे संबंधित कोई कोर्स कर ले तो वह उसके स्किल्स को और भी ज्यादा इंप्रूव कर देता है। जिसकी वजह से उनको बेहतरीन रोजगार के अवसर प्राप्त होते हैं। 

अगर आप हिंदी में क्रिएटिव राइटिंग डिप्लोमा कोर्स करना चाहते हैं और उससे संबंधित जानकारी ढूंढ रहे हैं तो हमारे आज के इस पोस्ट को सारा पढ़ें और जानें इससे जुड़ी हुई महत्वपूर्ण बातें। 

Contents

क्रिएटिव हिंदी राइटिंग कोर्स क्या है (What is diploma in creative writing  in Hindi)

यहां सबसे पहले आपको हम जानकारी के लिए बता दें कि इस कोर्स को डीसीएच (DCH) के नाम से भी जाना जाता है। क्रिएटिव हिंदी राइटिंग डिप्लोमा कोर्स एक ऐसा कोर्स है जिसमें आपको क्रिएटिव राइटिंग के स्किल्स को मजबूत बनाया जाता है। आपको यह ट्रेनिंग दी जाती है कि आप किस तरह से राइटिंग में स्ट्रांग फाउंडेशन और बेस क्रिएट कर सकते हैं। इस कोर्स को करने के बाद कोई भी कैंडिडेट इस काबिल हो जाता है कि वह प्रोफेशनली इस इंडस्ट्री में काम कर सकता है। इस प्रकार से कैंडिडेट क्रिएटिव स्टोरीज, पोएट्री, स्क्रीनप्ले अलग-अलग तरीकों से लिख सकता है। यह डिप्लोमा कोर्स स्टूडेंट्स के राइटिंग स्किल को काफी ज्यादा उत्कृष्ट बना देता है। 

Also readकॉपी राइटर (Copy Writer) कैसे बनें?

क्रिएटिव हिंदी राइटिंग कोर्स की अवधि (creative writing in hindi course duration) 

अब यहां आपको जानकारी दे दें कि क्रिएटिव हिंदी राइटिंग कोर्स की अवधि 1 साल की होती है। साल पूरा होने के बाद कैंडिडेट को एग्जाम में भाग लेना होता है और सक्सेसफुल होने के बाद उसे क्रिएटिव हिंदी राइटिंग में डिप्लोमा मिल जाता है। 

क्रिएटिव हिंदी राइटिंग कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा (Entrance test for diploma in creative writing in hindi course)

हिंदी में क्रिएटिव राइटिंग कोर्स करने के लिए कुछ संस्थानों में एंट्रेंस टेस्ट रखा गया है और वही कुछ संस्थानों में मेरिट बेस्ड एडमिशन प्रक्रिया रखी गई है। इसके अलावा हमारे देश में ऐसे बहुत सारे इंस्टिट्यूट है जहां पर बिना किसी एंट्रेंस टेस्ट के कैंडिडेट इस कोर्स में दाखिला ले सकते हैं। इसलिए छात्र अपनी रूचि के अनुसार कॉलेज का या संस्थान का चयन कर सकते हैं। 

क्रिएटिव हिंदी राइटिंग कोर्स के लिए प्रवेश प्रक्रिया क्या है (What is the admission process for diploma in creative writing in hindi course)

इस कोर्स के लिए सबसे पहले कैंडिडेट को अपनी 12वीं कक्षा 50% अंकों से हासिल करनी होगी और उसके बाद वह देश के किसी भी अच्छे से संस्थान में जाकर अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकता है। बता दें कि रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया हर साल एडमिशन से पहले शुरू हो जाती है जहां पर कोर्स में दाखिला लेने के लिए आपको रजिस्ट्रेशन करवाना जरूरी है। इसके अलावा जो प्राइवेट संस्थान हैं वहां से भी कैंडिडेट क्रिएटिव राइटिंग इन हिंदी में डिप्लोमा कोर्स कर सकता है।

Also readटेक्निकल राइटर (Technical Writer) कैसे बनें?

क्रिएटिव हिंदी राइटिंग कोर्स के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए (What should be the qualification for diploma in creative writing in hindi course)

जो कैंडिडेट डीसीएच (DCH) कोर्स करना चाहते हैं उसके अंदर कुछ योग्यता होनी चाहिए जैसे कि – 

  • कैंडिडेट ने किसी की मान्यता प्राप्त बोर्ड से कम से कम 12वीं कक्षा पास की हो।
  • छात्र ने 12वीं में कम से कम 50% अंक हासिल किए होने चाहिए। 
  • कैंडिडेट ने 12वीं कक्षा में हिंदी विषय जरूर पढ़ा हो। 
  • कैंडिडेट को क्रिएटिव राइटिंग में रुचि होनी चाहिए और साथ ही साथ उसे हिंदी पढ़ने की आदत भी हो।
  • छात्र के इमैजिनेशन स्किल्स अच्छे होने चाहिए क्योंकि क्रिएटिव राइटिंग में यह बहुत इंपॉर्टेंट होता है। 

फीस (fees)

अब यहां आपको जानकारी के लिए बता दें कि डीसीएच (DCH) करने के लिए आपको जो फीस देनी होगी वह पूरी तरह से आपके द्वारा चुने गए कॉलेज के ऊपर डिपेंड करेगी। ऐसा इसलिए है क्योंकि सरकारी कॉलेजों में प्राइवेट कॉलेजों की अपेक्षा फीस काफी कम ली जाती है। वैसे अगर एक अनुमान के तौर पर देखा जाए तो इस पाठ्यक्रम के लिए 10,000 से लेकर 50,000 रुपए तक की फीस का भुगतान करना पड़ सकता है। 

भारत में क्रिएटिव हिंदी राइटिंग कोर्स करने के लिए कॉलेज (College to do creative hindi writing course in India)

हिंदी में क्रिएटिव राइटिंग कोर्स करने के लिए हमारे देश में ऐसे बहुत सारे संस्थान हैं जहां पर आप दाखिला ले सकते हैं जैसे कि –

  • डॉ बाबासाहेब आंबेडकर ओपन यूनिवर्सिटी गुजरात (Dr. Babasaheb Ambedkar Open University Gujarat)
  • इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी (Indira Gandhi National Open University) 
  • इंदिरा कला संगीत विश्वविद्यालय खैरागढ़ (Indira Kala Sangit Vishwavidyalaya khairagarh)
  • एमवी मीडिया इंस्टीट्यूट लखनऊ (MV media Institute Lucknow) 
  • मास्को मीडिया झंडेवालान दिल्ली (Massco media jhandewalan Delhi)

क्रिएटिव हिंदी राइटिंग कोर्स का पाठ्यक्रम/ सब्जेक्ट्स क्या-क्या है (What are the syllabus / subjects of creative hindi writing course)

आपको बता दें कि इस डिप्लोमा कोर्स के अंतर्गत आपको कौन-कौन से पाठ्यक्रम पढ़ाए जाएंगे उनकी जानकारी इस तरह से है – 

  • जनरल प्रिंसिपल्स ऑफ़ क्रिएटिव राइटिंग (general principles of creative writing)
  • फीचर राइटिंग (Feature writing)
  • राइटिंग ऑफ प्रोज (Writing of prose)
  • राइटिंग फॉर रेडियो (Writing for radio)
  • सोशल क्लासेस एंड राइटिंग (Different social classes and writing)
  • पोएट्री राइटिंग (Poetry writing) 

Also read: डिजिटल मार्केटिंग कोर्स (Digital Marketing Course) कैसे करे

क्रिएटिव हिंदी राइटिंग कोर्स के बाद कैरियर संभावनाएँ क्या है (What are the career prospects after creative hindi writing course)

डीसीएच (DCH) कोर्स करने के बाद कैंडिडेट को नौकरी करने के अनेकों अवसर मिलते हैं जहां पर वह काम कर सकता है जैसे कि – 

  • जर्नलिज्म (journalism)
  • प्रिंट एंड मीडिया (print and media) 
  • एजुकेशनल इंस्टीट्यूशंस (educational institutions) 
  • कॉपीराइटिंग (copywriting) 
  • पब्लिशिंग हाउस (publishing house) 
  • मैगजीन्स (magazines) 
  • न्यूज़पेपर इत्यादि (newspaper) 

वेतन (salary)

जो कैंडिडेट इस पाठ्यक्रम को सफलतापूर्वक पूरा कर लेते हैं उन्हें जो वेतन मिलता है वह पूरी तरह से उनके राइटिंग स्किल के ऊपर डिपेंड करता है क्योंकि अगर किसी कैंडिडेट के राइटिंग स्किल्स बहुत ज्यादा क्रिएटिव और अच्छे हैं तो तब उसे काफी अच्छा वेतनमान मिल जाता है। आपको बता दें कि इस क्षेत्र में किसी भी कैंडिडेट को एक एवरेज सैलेरी 20,000 से लेकर 30,000 तक कैरियर की शुरूआत में मिल सकती है। इसके अलावा कुछ वर्षों का अनुभव हासिल होने के बाद उसके वेतन में वृद्धि भी हो जाती है। साथ ही साथ बता दें कि अगर कैंडिडेट को किसी अच्छी जगह पर काम करने का मौका मिल जाए तो तब वह लाखों रुपए भी कमा सकता है। 

Also readकमर्शियल आर्ट में डिप्लोमा कोर्स (Diploma in Commercial Art) कैसे करें पूरी जानकारी

प्राइवेट सेक्टर में जॉब्स (Jobs in private sector after)

डिप्लोमा इन क्रिएटिव हिंदी राइटिंग करने के बाद कैंडिडेट को प्राइवेट सेक्टर में बहुत सारी नौकरी करने के चांस मिल जाते हैं जैसे कि – 

  • राइटर (Writer)
  • कॉपीराइटर (Copywriter)
  • जर्नलिस्ट (Journalist)
  • वेब कंटेंट एडिटर (Web content editor)
  • प्रूफ्रीडर (Proofreader)
  • सब एडिटर (Sub editor)
  • कंटेंट मार्केटिंग स्पेशलिस्ट (Content marketing specialist)
  • सोशल मीडिया स्पेशलिस्ट (Social media specialist) 

गवर्नमेंट सेक्टर में जॉब्स (Jobs in government sector)

क्रिएटिव हिंदी राइटिंग में डिप्लोमा कोर्स हासिल करने के बाद कैंडिडेट को जिस प्रकार से प्राइवेट सेक्टर में काम मिल जाता है ठीक उसी तरह से अगर उसमें क्रिएटिविटी बहुत ज्यादा है तो वह गवर्नमेंट सेक्टर में भी नौकरी के अवसर हासिल कर सकता है। बता दें कि कैंडिडेट पॉलीटिशियन्स, एनजीओज़ इत्यादि के साथ काम कर सकता है। 

निष्कर्ष

दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिकल क्रिएटिव हिंदी राइटिंग में डिप्लोमा कोर्स (diploma in creative writing in hindi) कैसे करें पूरी जानकारी। इस लेख में हमने आपको बताया कि क्रिएटिव हिंदी राइटिंग में डिप्लोमा कोर्स कैसे करें और इस कोर्स की अवधि कितनी होती है। इसके अलावा हमने आपको यह जानकारी भी दी कि डीसीएच (DCH) कोर्स करने के लिए प्रवेश परीक्षा और प्रवेश प्रक्रिया क्या होती है। एवं साथ ही साथ हमने आपको यह भी बताया कि इस कोर्स के लिए कैंडिडेट में कितनी योग्यता का होना आवश्यक है और पाठ्यक्रम की फीस के बारे में भी हमने पूरी जानकारी दी। 

इस लेख के माध्यम से हमने आपको यह जानकारी भी दी कि भारत में क्रिएटिव हिंदी राइटिंग में डिप्लोमा कोर्स करने के कौन से संस्थान या कॉलेज सबसे अच्छे हैं। साथ ही साथ हमने आपको यह भी जानकारी दी कि कोर्स के दौरान आपको कौन-कौन से सब्जेक्ट्स पढ़ाए जाएंगे। इस पोस्ट के द्वारा हमने आपको यह भी जानकारी दी कि डीसीएच (DCH) के बाद आपको प्राइवेट और गवर्नमेंट सेक्टर में नौकरियों के कौन-कौन से अवसर हासिल हो सकते हैं। 

अंत में हमारी आपसे बस यही रिक्वेस्ट है कि अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे अपने उन दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें जो 12वीं के बाद क्रिएटिव राइटर बनना चाहते हैं।

Leave a Reply