सीमेंट टेक्नोलॉजी कोर्स (Diploma in Cement Technology) कैसे करें पूरी जानकारी।

नमस्कार! दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि सीमेंट टेक्नोलॉजी कोर्स (Diploma in Cement Technology) कैसे करें पूरी जानकारी। बहुत से लोगों को इंफ्रास्ट्रक्चर इंडस्ट्री में काम करने का बहुत ज्यादा शौक होता है। यह एक ऐसी इंडस्ट्री है जहां पर कम पढ़े लिखे लोगों को भी रोजगार के अनेकों अवसर आसानी के साथ उपलब्ध हो जाते हैं। अगर आप भी सीमेंट टेक्नोलॉजी में अपना कैरियर बनाने का सोच रहे हैं तो इसके लिए जरूरी है कि आप को इस क्षेत्र से संबंधित सभी महत्वपूर्ण बातों की जानकारी होनी चाहिए। क्योंकि इस प्रकार से आपको यह मालूम हो जाएगा कि कौन सा कोर्स करने के बाद आपको इस फील्ड में काम करने का अवसर मिल सकता है। अगर आप सीमेंट टेक्नोलॉजी में डिप्लोमा करना चाहते हैं और उसके बारे में महत्वपूर्ण बातें जानना चाहते हैं तो हमारे आज के इस आर्टिकल को सारा पढ़ें और जानें इससे संबंधित सभी अनिवार्य चीजें। 

Contents

सीमेंट टेक्नोलॉजी कोर्स क्या है (What is Diploma in Cement Technology in Hindi)

यहां सबसे पहले आपको जानकारी के लिए बता दें कि सीमेंट टेक्नोलॉजी एक ऐसा कोर्स है जिसको करने के बाद कैंडिडेट इंफ्रास्ट्रक्चर से संबंधित विभागों में काम कर सकता है। बिल्डिंग, सड़क, ब्रिज, होटल इत्यादि को बनाने के लिए सीमेंट टेक्नोलॉजी काफी अधिक महत्वपूर्ण होती है। क्योंकि कंस्ट्रक्शन इंडस्ट्री में सीमेंट के बिना कोई भी काम संभव नहीं है। जानकारी दे दें कि हर प्रकार की कंस्ट्रक्शन के लिए सीमेंट के डिफरेंट कंपोजीशन की जरूरत होती है क्योंकि हर कंस्ट्रक्शन का तरीका अलग अलग होता है। सीमेंट टेक्नोलॉजी के अंतर्गत यही कार्य आता है कि सीमेंट को किस प्रकार से विभिन्न प्रकार की कंस्ट्रक्शन में किस तरह से इस्तेमाल किया जा सकता है। कैंडिडेट को जो डिप्लोमा कोर्स करवाया जाता है उसमें इन्हीं सब चीजों की ट्रेनिंग दी जाती है।

Also readफायर सेफ्टी मैनेजमेंट कोर्स (diploma in fire safety management Course) कैसे करें पूरी जानकारी

सीमेंट टेक्नोलॉजी कोर्स की अवधि (Diploma in Cement Technology Duration) 

जो कैंडिडेट सीमेंट टेक्नोलॉजी कोर्स में डिप्लोमा करना चाहते हैं उन्हें यहां जानकारी के लिए बता दें कि इस कोर्स की अवधि 2 साल तक की होती है। बता दें कि इस कोर्स का पाठ्यक्रम सेमेस्टर बेस्ड होता है। 

सीमेंट टेक्नोलॉजी कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा (Entrance test for Diploma in Cement Technology)

अगर आप सीमेंट टेक्नोलॉजी कोर्स करना चाहते हैं तो यहां आपको जानकारी के लिए बता दें कि इसके लिए हमारे देश भारत में कई संस्थानों में एंट्रेंस एग्जाम रखा गया है। कैंडिडेट जब उस प्रवेश परीक्षा को पास कर लेते हैं तो उसके बाद ही उन्हें इस पाठ्यक्रम में दाखिला मिलता है। 

सीमेंट टेक्नोलॉजी कोर्स के लिए प्रवेश प्रक्रिया क्या है (What is the admission process for Diploma in Cement Technology)

सीमेंट टेक्नोलॉजी कोर्स में डिप्लोमा हासिल करने के लिए हर इंस्टिट्यूट का अलग-अलग एडमिशन प्रोसेस है। आपको बता दें कि इसके लिए कुछ कॉलेजों में एंट्रेंस एग्जाम रखा गया है तो वहीं कुछ संस्थानों में छात्रों को उनकी योग्यता देखते हुए दसवीं कक्षा के अंकों के आधार पर दाखिला मिल जाता है। अगर कोई प्राइवेट संस्थान है तो वहां पर कैंडिडेट को आसानी के साथ इस डिप्लोमा कोर्स में एडमिशन मिल जाता है। 

सीमेंट टेक्नोलॉजी कोर्स के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए (What should be the qualification for Diploma in Cement Technology)

सीमेंट टेक्नोलॉजी कोर्स में डिप्लोमा करने के लिए कैंडिडेट के अंदर कुछ योग्यताओं का होना जरूरी है जो कि इस प्रकार से हैं – 

  • छात्र ने किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से कम से कम दसवीं कक्षा पास की होनी चाहिए। 
  • कैंडिडेट के दसवीं कक्षा में कम से कम 50% अंक होने जरूरी हैं। 

फीस (fees)

जो स्टूडेंट्स सीमेंट टेक्नोलॉजी कोर्स करना चाहते हैं और इसकी फीस के बारे में जानना चाहते हैं तो यहां आपको जानकारी के लिए बता दें कि इसके लिए आपको जो फीस देनी होगी वह पूरी तरह से आपके इंस्टिट्यूट या कॉलेज के ऊपर डिपेंड करेगी। यहां आपको जानकारी के लिए बता दें कि अगर एक एवरेज फीस की बात करें तो इसके लिए आपको हर साल 1 लाख रुपए तक की फीस का भुगतान करना पड़ सकता है। वहीं किसी संस्थान में यह फीस कम या ज्यादा उसकी रेपुटेशन के अनुसार हो सकती है। 

Also readलेजर प्रिंटर टेक्निशियन (Laser Printer Technician) कैसे बनें?

भारत में सीमेंट टेक्नोलॉजी कोर्स करने के लिए कॉलेज (College to do Diploma in Cement Technology in India)

अब आपको हम बता दें कि भारत में सीमेंट टेक्नोलॉजी कोर्स में डिप्लोमा हासिल करने के लिए निम्नलिखित संस्थानों में आप अपना दाखिला ले सकते हैं – 

  • आदित्य कॉलेज ऑफ़ टेक्नोलॉजी एंड साइंस एमपी (Aditya College of Technology and Science MP)
  • अक्स यूनिवर्सिटी मध्य प्रदेश (AKS University Madhya Pradesh) 
  • मेवार यूनिवर्सिटी राजस्थान (Mewar University Rajasthan) 
  • स्वामी विवेकानंद यूनिवर्सिटी मध्य प्रदेश (Swami vivekanand University Madhya Pradesh) 
  • इंडियन एजुकेशन बिहार (Indian educare Bihar)
  • पूसा इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी न्यू दिल्ली (Pusa institute of technology New Delhi)
  • अंबेडकर इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी दिल्ली (Ambedkar Institute of pathology Delhi)
  • राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय भोपाल (Rajiv Gandhi praudyogiki vishwavidyalaya Bhopal)

सीमेंट टेक्नोलॉजी कोर्स का पाठ्यक्रम/ सब्जेक्ट्स क्या-क्या है (What are the syllabus / subjects of Diploma in Cement Technology)

अब आपके मन में यह सवाल भी जरूर आ रहा होगा कि आखिर सीमेंट टेक्नोलॉजी उनके अंदर कौन-कौन से सब्जेक्ट आपको पढ़ाए जाएंगे। तो यहां आपको जानकारी देने के लिए हम निम्नलिखित इसके पाठ्यक्रम की जानकारी दे रहे हैं जो कि इस प्रकार से है –

  • सीमेंट इंट्रोडक्शन (Cement introduction)
  • सीमेंट रॉ मैटेरियल्स (Cement raw materials)
  • जियोलॉजी एंड माइनिंग ऑफ लाइमस्टोन (Geology and mining of limestone)
  • रॉ मिक्स डिजाइन एंड केमिस्ट्री ऑफ सीमेंट (Raw mix design and chemistry of cement) 
  • मैटेरियल एंड एनर्जी बैलेंस (Material and energy balance) 
  • फ्लूड मैकेनिक्स (Fluid mechanics) 
  • टेस्टिंग ऑफ़ सीमेंट रॉ मैटेरियल लैब (Testing of cement raw materials lab) 
  • फिजिकल एंड केमिकल टेस्टिंग ऑफ़ सीमेंट लैब (Physical and chemical testing of cement lab)
  • स्पेशल सीमेंट एंड एप्लीकेशन (Special cements and application)
  • यूटिलिटी एंड मेंटेनेंस इन सीमेंट प्लांट (Utility and maintenance in cement plant) 
  • मार्केटिंग स्ट्रेटजी ऑफ़ सीमेंट (Marketing strategy of cement)
  • परफॉर्मेंस ऑफ सीमेंट (Performance of cement)

Also read कंप्यूटर हार्डवेयर कोर्स (Computer Hardware Course) कैसे करें?

सीमेंट टेक्नोलॉजी कोर्स के बाद कैरियर संभावनाएँ क्या है (What are the career prospects after Diploma in Cement Technology)

सीमेंट टेक्नोलॉजी कोर्स करने के बाद कैंडिडेट को प्राइवेट डिपार्टमेंट के अलावा सरकारी डिपार्टमेंट में भी नौकरी करने के मौके मिल जाते हैं। यहां आपको जानकारी के लिए बता दें कि कैंडिडेट को सीमेंट मैन्युफैक्चरिंग प्लांट में भी उनकी योग्यता के आधार पर काम करने का मौका मिल जाता है। बताते चलें कि हमारे देश का इंफ्रास्ट्रक्चर आज इतनी तेजी के साथ ग्रो कर रहा है कि इस क्षेत्र में कैरियर के अवसरों की बिल्कुल भी कमी नहीं होती। 

वेतन (salary)

सीमेंट टेक्नोलॉजी कोर्स करने के बाद कैंडिडेट को जो वेतनमान मिलता है वह उसकी योग्यता के आधार पर कम या ज्यादा हो सकता है। इसलिए अगर आप यह चाहते हैं कि आपको इस पद पर काम करते हुए आकर्षक वेतन मिले तो आपको अपना काम भी पूरी लगन और मेहनत के साथ करना होगा। वैसे अगर एक एवरेज सैलेरी की बात करें तो इस पद पर जो कैंडिडेट काम करते हैं उन्हें हर महीने 20,000 से लेकर 30,000 तक कैरियर की शुरुआत में मिल जाते हैं। बताते चलें कि धीरे धीरे एक्सपीरियंस हासिल करने के बाद उनके वेतन में भी तरक्की हो जाती है। 

Also read नेल टेक्निशियन कैसे बनें

प्राइवेट सेक्टर में जॉब्स (Jobs in private sector after)

सीमेंट टेक्नोलॉजी कोर्स करने के बाद कैंडिडेट को प्राइवेट सेक्टर में काम करने के व्यापक अवसर मिलते हैं जहां पर वह अपनी योग्यता के आधार पर निम्नलिखित पदों पर काम कर सकता है – 

  • मैटेरियल्स इंजीनियर (Materials engineer)
  • रिसर्च इंजीनियर (research engineer)
  • प्रोजेक्ट रिसर्च असिस्टेंट (project research assistant)
  • मैकेनिकल डिजाइन इंजीनियर (mechanical design engineer)
  • रिसर्च फेलो (research fellow)

गवर्नमेंट सेक्टर में जॉब्स (Jobs in government sector)

जिस तरह से कैंडिडेट निजी विभागों में अच्छी नौकरी हासिल कर सकते हैं उसी तरह से अपने बेहतरीन कौशल की वजह से उन्हें गवर्नमेंट सेक्टर में भी नौकरी करने के बहुत सारे चांस मिल जाते हैं। देश में हर साल सरकारी विभागों में सीमेंट टेक्नोलॉजी से संबंधित अनेकों नौकरियां निकलती है जहां पर कैंडिडेट काम करने के लिए अपना आवेदन दे सकते हैं। 

निष्कर्ष

दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिकल सीमेंट टेक्नोलॉजी कोर्स (Diploma in cement Technology) कैसे करें पूरी जानकारी। इस लेख के माध्यम से हमने आपको बताया कि सीमेंट टेक्नोलॉजी डिप्लोमा क्या होता है और इसको करने के लिए किसी भी कैंडिडेट में कितनी योग्यता का होना जरूरी है। इसके अलावा इस पोस्ट के द्वारा हमने आपको यह जानकारी भी दी कि इस कोर्स की अवधि कितनी होती है और इसके अलावा हमने भारत के कुछ अच्छे संस्थानों के नाम भी बताएं जहां से आप इस कोर्स को कर सकते हैं। साथ ही साथ हमने इस आर्टिकल में यह भी बताया कि इस कोर्स को करने के लिए प्रवेश परीक्षा और प्रवेश प्रक्रिया क्या रखी गई है एवं कोर्स की अवधि के बारे में भी हमने पूरी जानकारी दी।

साथ ही साथ हमने इस लेख में आपको यह भी बताया कि सीमेंट टेक्नोलॉजी कोर्स का पूरा पाठ्यक्रम क्या होता है और जब कैंडिडेट इस कोर्स को पूरा कर लेते हैं तो उन्हें सरकारी और प्राइवेट विभागों में नौकरी करने के कौन-कौन से अवसर मिलते हैं एवं हर महीने उन्हें कितना वेतनमान मिल सकता है।  वैसे अगर देखा जाए जिन छात्रों को कंस्ट्रक्शन में इंटरेस्ट है उन्हें इस क्षेत्र में जरूर अपना भविष्य बनाना चाहिए। 

अंत में हमारा आपसे बस यही निवेदन है कि अगर आपको हमारे द्वारा दी गई है सारी जानकारी उपयोगी लगी हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी जरूर शेयर करें। 

Leave a Reply