साइबर सिक्योरिटी कोर्स क्या है cyber security course कैसे करे पूरी जानकारी

आपने साइबर अटैक या साइबर फ्रॉड के बारे में तो जरूर सुना होगा अगर नहीं सुना तो हम बता देते हैं कि वह अपराध जो डिजिटल दुनिया में किए जाते हैं उन्हें साइबर फ्रॉड कहते हैं। ऑनलाइन अपराधों को रोकने के लिए साइबर सिक्योरिटी कोर्स कराया जाता है। मौजूदा समय में यह कोर्स काफी लोकप्रिय हो रहा है क्योंकि इसमें रोजगार के काफी अच्छे अवसर मिल जाते हैं। यदि आपको इंटरनेट और डिजिटल दुनिया अत्यधिक पसंद है तो आप साइबर सिक्योरिटी कोर्स कर सकते हैं। 

आज के इस आर्टिकल में हम आपको  बताएंगे कि साइबर सिक्योरिटी कोर्स क्या है। साइबर सिक्योरिटी कोर्स में आप कैसे अपना भविष्य बना सकते हैं। साथ ही हम जानकारी देंगे की साइबर सिक्योरिटी कोर्स को करने की योग्यता कितनी होनी चाहिए। इसके अलावा बताएंगे नौकरी के कौन-कौन से अवसर इस कोर्स को करने के बाद आपको मिल सकते हैं।   

साइबर सिक्योरिटी कोर्स

Contents

साइबर सिक्योरिटी कोर्स क्या है (What is cyber security course in Hindi)

साइबर सिक्योरिटी कोर्स इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी का एक विशेष क्षेत्र है जिसमें छात्रों को साइबर क्राइम रोकने और इंटरनेट सुरक्षा के लिए कौशल और ज्ञान दिया जाता है। आज हमारे जीवन में कंप्यूटर इंटरनेट काफी अधिक महत्वपूर्ण है और इसीलिए हम अपने जीवन के अनेकों कार्य इंटरनेट की मदद से करते हैं। लेकिन समस्या उस समय आती है जब कोई दूसरा इंसान हमारी निजी जानकारी प्राप्त करने के बाद हमें नुकसान पहुंचाता है। 

जिस तरह से आज इंटरनेट और कंप्यूटर क्षेत्र अत्यधिक प्रगति कर रहा है उसी तरह साइबर क्राइम यानी ऑनलाइन अपराध भी बढ़ते जा रहे हैं। ‌इन्हीं ऑनलाइन फ्रॉड्स को रोकने के लिए साइबर सिक्योरिटी कोर्स करवाया जाता है। 

यहां आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इंटरनेट के माध्यम से होने वाले अपराध जैसे- क्रेडिट कार्ड चोरी, ब्लैक मेलिंग , स्टॉकिंग , ऑनलाइन ठगी  आदि इस समय बहुत अधिक बढ़ रहे हैं जिन पर कंट्रोल करना साइबर सुरक्षा एक्सपर्ट का काम होता है। 

प्रचलित साइबर सिक्योरिटी कोर्स

साइबर सिक्योरिटी कोर्स में अंडर ग्रेजुएट, डिप्लोमा और सर्टिफिकेट कोर्स करवाए जाते हैं। निम्नलिखित कुछ साइबर सिक्योरिटी कोर्स की जानकारी हम आपको दे रहे हैं जो कि इस तरह से है- 

  • बीएससी इन साइबर सिक्योरिटी (BSc in cyber security)
  • बी ई इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी विद आईबीएम (B E Information Technology with IBM)
  • बीटेक इन कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग  विद साइबर सिक्योरिटी एंड क्विक हील (BTech in Computer science engineering with cyber security and Quick heal) 
  • बीटेक इन कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग  विद साइबर सिक्योरिटी एंड फॉरेंसिक (BTech in Computer science engineering with Cyber security and forensic) 
  • बीसीएस विद माइक्रोसॉफ्ट क्लाउड कंप्यूटिंग एंड साइबर सिक्योरिटी (BCA with Microsoft cloud computing and cyber secure)
  • बीसीए ऑनर्स इन साइबर सिक्योरिटी (BCA Hons in cyber security) 
  • आईटी मैनेजमेंट एंड साइबर सिक्योरिटी (IT Management and Cyber Security)
  • कंप्यूटर साइंस विद साइबर सिक्योरिटी एंड क्विक हील (Computer Science with Cyber Security and Quick Heal)

साइबर सिक्योरिटी कोर्स का वर्तमान परिदृश्य क्या है 

आज के समय में दुनिया के सभी लोग इंटरनेट का प्रयोग करते हैं जिसके कारण साइबर अपराध भी बढ़ने लगे हैं। ऐसे में इन अपराधों को रोकने के लिए साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट की मदद ली जाती है और इसीलिए कोई भी कैंडिडेट साइबर सिक्योरिटी कोर्स करने के बाद अपने कैरियर की एक अच्छी शुरुआत कर सकता है जिसमें उसे नौकरी ढूंढने में भी परेशानी नहीं होगी और तरक्की के अवसर भी बहुत अधिक मिलेंगे। साइबर एक्सपर्ट की मांग आने वाले कुछ वर्षों में और भी अधिक बढ़ेगी जिस वजह से इस क्षेत्र में काम करने के बहुत मौके हैं। 

साइबर सिक्योरिटी कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा

अगर आप साइबर सिक्योरिटी कोर्स किसी मान्यता प्राप्त संस्थान या सरकारी संस्थान से करना चाहते हैं तो उसके लिए आपको प्रवेश परीक्षा देनी होती है जो कि इस प्रकार है-

  • जेईई मेंस (JEE mains)
  • नीट (NEET)
  • जेईटी (JET)

साइबर सिक्योरिटी कोर्स के लिए प्रवेश प्रक्रिया क्या है 

साइबर सिक्योरिटी कोर्स के डिग्री कोर्स में एडमिशन लेने के लिए नेशनल लेवल की परीक्षाओं को पास करना होता है। साथ ही कुछ कॉलेज ऐसे भी हैं जिनका खुद का एंट्रेंस एग्जाम होता है। यदि कोई कैंडीडेट सर्टिफिकेट कोर्स करना चाहता है तो उसके लिए उसे किसी प्रकार का एंट्रेंस टेस्ट नहीं देना होता।‌

साइबर सिक्योरिटी कोर्स के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए

  • किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं कक्षा पास
  • 12वीं कक्षा में साइंस स्ट्रीम से पास हो जिसमें गणित अवश्य हो। 
  • कैंडिडेट को कंप्यूटर बेहतर ज्ञान भी होना चाहिए। 

साइबर सिक्योरिटी कोर्स की फीस कितनी है 

साइबर सिक्योरिटी कोर्स में अंडर ग्रैजुएट कोर्स करने के लिए आपकी फीस आपके संस्थान के अनुसार होगी क्योंकि हर संस्थान का फीस स्ट्रक्चर अलग अलग होता है। यदि आप किसी गवर्नमेंट कॉलेज से साइबर सिक्योरिटी कोर्स कर रहे हैं तो उसके लिए आपको एक लाख से लेकर तीन लाख तक का फीस भुगतान करना पड़ सकता है। लेकिन यदि आप प्राइवेट कॉलेज से साइबर सिक्योरिटी कोर्स कर रहे हैं तो यह काफी महंगा हो सकता है जिसके लिए आपको दो लाख से लेकर दस लाख रुपए तक की फीस देनी होगी।  

साइबर सिक्योरिटी कोर्स का पाठ्यक्रम/ सब्जेक्ट्स क्या-क्या है 

साइबर सिक्योरिटी कोर्स का पाठ्यक्रम निम्नलिखित है

  • इंट्रोडक्शन टु साइबर सिक्योरिटी (introduction to cyber security)
  • साइबर लॉज (Cyber Laws)
  • बेसिक्स ऑफ नेटवर्किंग (Basics of Networking)
  • क्रिप्टोग्राफी (Cryptography) 
  • फुटप्रिंटिंग एंड सिस्टम हैकिंग (Footprinting and system hacking )
  • नेटवर्किंग स्कैनिंग (networking scanning) 
  • मोबाइल एंड वेब एप्लीकेशन सिक्योरिटी (mobile and web application security) 
  • फायरवॉल (firewall)
  • इंजेक्शन (injection)
  • वेब सर्वर्स (Web Servers)
  • क्लाउड एंड एलओटी सिक्योरिटी (Cloud and loT Security) 
  • साइबर थ्रेट्स एंड अटैक्स (cyber threats and attacks) 

भारत में साइबर सिक्योरिटी कोर्स करने के लिए कॉलेजों

भारत में साइबर सिक्योरिटी बहुत सारे कॉलेज है। लेकिन हम आपको उन कॉलेज एवं संस्थानों के बारे में बता रहे हैं जो बहुत अधिक प्रसिद्ध हैं। 

  • डिपार्टमेंट ऑफ लॉ दिल्ली यूनिवर्सिटी  
  • इंडियन लॉ इंस्टीट्यूट भगवान दास रोड, नई दिल्ली 
  • आईएमटी मेरठ रोड, गाजियाबाद 
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी इलाहाबाद 
  • फैकल्टी ऑफ लॉ लखनऊ यूनिवर्सिटी लखनऊ 
  • सीटी यूनिवर्सिटी लुधियाना  
  • मारवाड़ी यूनिवर्सिटी-एमयू, राजकोट  
  • जैन यूनिवर्सिटी बेंगलुरू  
  • डॉक्टर केएन मोदी यूनिवर्सिटी जयपुर 
  • जयपुर नेशनल यूनिवर्सिटी जयपुर

साइबर सिक्योरिटी कोर्स की संदर्भ पुस्तकें और अध्ययन सामग्री

  • सीआईएसएसपी (आईएससी)2 सर्टिफाइड इनफॉरमेशन सिस्टम सिक्योरिटी प्रोफेशनल ऑफिशल स्टडी गाइड बाय जेम्स एम स्टीवर्ट एंड माइक चैपल (CISSP (ISC)2 Certified Information Systems Security Professional Official Study Guide by James and Stewart and Mike Chapple) 
  • द वेब एप्लीकेशन हैकर्स हैंडबुक- फाइंडिंग एंड एक्सप्लोइटिंग सिक्योरिटी फ्लोर्स बाय डैफिड स्टुअर्ट एंड मार्कस पिंटो (The web application hacker’s handbook- finding and exploiting security flaws by Dafydd Stuart and Marcus Pinto) 
  • कंप्यूटर सिक्योरिटी बाय डाइटर गोलमन (Computer Security by Dieter Gollmann 
  • कंप्यूटर सिस्टम सिक्योरिटी-बेसिक कॉन्सेप्ट्स एंड सॉल्व्ड एक्सरसाइजेज (कंप्यूटर एंड कम्युनिकेशन साइंस)   (Computer system security- basic concepts and solved exercises (computer and communication science) by Gilda’s Avoine and Philippe Oechslin 
  • सेफ्टी क्रिटिकल कंप्यूटर सिस्टम्स बाय डॉक्टर नील स्टोरे (safety critical computer systems by Dr Neal Storey)
  • मास्टरिंग मॉडर्न वेब पेनिट्रेशन टेस्टिंग बाय प्रखर प्रसाद (mastering modern web Penetration testing by prakhar Prasad) 

साइबर सिक्योरिटी कोर्स के बाद कैरियर संभावनाएँ क्या है 

इस समय साइबर सिक्योरिटी कोर्स करने के बाद कोई भी कैंडिडेट आसानी से जॉब पा सकता है। अगर आप इस कोर्स को सफलतापूर्वक पूरा कर लेते हैं तो आपको नौकरी के लिए भटकने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी क्योंकि अब हर क्षेत्र में साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट्स की मांग है और सबसे अधिक मांग इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी डिपार्टमेंट व आईटी कंपनियों में है। इसके साथ ही टेलीकॉम, बैंकिंग, ऑनलाइन पेमेंट एप जैसे पेटीएम, भीम इत्यादि में भी साइबर एक्सपर्ट की आवश्यकता होती है। 

साइबर सिक्योरिटी कोर्स के बाद वेतन कितनी मिलती है

साइबर सिक्योरिटी कोर्स करने के बाद आप शुरुआत में ही 25,000-40,000 रुपए हर महीने का वेतन पा सकते हैं। लेकिन जब आपको अनुभव हो जाएगा तो उसके बाद आप लाखों रुपए महीना भी कमा सकेंगे। इस क्षेत्र में आपको आगे बढ़ने के  बहुत अवसर मिलेंगे जहां पर आपका कैरियर और भविष्य बहुत ही बेहतरीन होगा।

साइबर सिक्योरिटी कोर्स के बाद प्राइवेट सेक्टर में जॉब्स

साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट बनने के बाद आपके सामने एक सुनहरा भविष्य होगा जहां आपको नौकरी ढूंढने के लिए कोई कठिनाई नहीं होगी। आप बहुत आराम से किसी भी प्राइवेट सेक्टर में नौकरी के लिए अप्लाई कर सकते हैं। आप किसी भी कंपनी में चीफ इनफॉरमेशन सिक्योरिटी ऑफीसर, सिक्योरिटी ऑडिटर, सिक्योरिटी एनालिस्ट, सिक्योरिटी कोड ऑडिटर, सिक्योरिटी स्पेशलिस्ट, एप्लीकेशन सिक्योरिटी ऑफिसर इत्यादि के पद पर काम कर सकते हैं। 

साइबर सिक्योरिटी कोर्स के बाद गवर्नमेंट सेक्टर में जॉब्स

साइबर सिक्योरिटी कोर्स करने के बाद विभिन्न सरकारी संस्थानों में भी नौकरी के लिए अप्लाई कर सकते हैं। आप विभिन्न सरकारी विभागों में कंप्यूटर स्पेशलिस्ट, इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी ऑफिसर, इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी स्पेशलिस्ट, असिस्टेंट चीफ सिक्योरिटी ऑफिसर इत्यादि की जॉब के लिए आवेदन कर सकते हैं। 

निष्कर्ष 

दोस्तों यह था आज का हमारा आर्टिकल साइबर सिक्योरिटी कोर्स, cyber security course कैसे करें पूरी जानकारी। इस आर्टिकल में हमने आपको बताया कि आप कैसे साइबर सिक्योरिटी कोर्स कर सकते हैं और इसके लिए कितनी योग्यता की आवश्यकता होती है। इसके अलावा हमने बताय उन प्रमुख संस्थान के बारे में जो इस कोर्स को करवाते हैं। साथ ही हमने बताया प्राइवेट और गवर्नमेंट सेक्टर में जॉब के क्या अवसर हैं। साइबर सिक्योरिटी से जुड़ी हुई तमाम जानकारी हमने आपको दे दी है और हमें पूरी उम्मीद है कि यह आर्टिकल आपके लिए बहुत ज्यादा लाभदायक रहेगा। यदि आपको इस से रिलेटेड कोई सवाल पूछना है तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं। साथी हमारा आपसे निवेदन है कि इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ शेयर करें। 

Deepak Kumar

दीपक कुमार After12th.net के लेखक और संस्थापक हैं। वह छात्रों को उनकी धारा तय करने और उद्योग में पाठ्यक्रमों के बारे में जानकारी प्रदान करने में मदद करता है। वह उन्हें नई ऊंचाइयों तक पहुंचाने में मदद करता है। उनका उद्देश्य देश में अधिकतम छात्रों के लिए वैध और उपयोगी जानकारी साझा करना है।

Leave a Reply