कॉस्मोलॉजिस्ट (Cosmologist) कैसे बनें?

नमस्कार! दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि कॉस्मोलॉजिस्ट कैसे बनें? आज के दौर में हर छात्र अपनी स्कूल की पढ़ाई के दौरान ही यह निर्णय ले लेता है कि वह किस क्षेत्र में अपना कैरियर बनाएगा। जहां कुछ छात्र डॉक्टर, इंजीनियर, कंप्यूटर एक्सपर्ट आदि बनना पसंद करते हैं तो वहीं कुछ ऐसे विद्यार्थी भी होते हैं जो किसी अलग फील्ड में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं। ऐसा ही एक क्षेत्र है कॉस्मोलॉजिस्ट। तो अगर आप भी इस इंडस्ट्री में जाना चाहते हैं और इससे संबंधित सारी खास जानकारी ढूंढ रहे हैं तो हमारे आज के इस आर्टिकल को सारा पढ़ें और जानें कि आप किस प्रकार से 12वीं के बाद कॉस्मोलॉजिस्ट बन सकते हैं। 

कॉस्मोलॉजिस्ट क्या है ( what is Cosmologist in Hindi) 

यहां सबसे पहले आपको जानकारी दे दें कि कॉस्मोलॉजिस्ट एक प्रकार का साइंटिस्ट होता है जो ब्रह्मांड की उत्पत्ति के साथ-साथ भाग्य के बारे में सवालों के जवाब ढूंढने की कोशिश करते हैं। यहां बता दें कि घटनाओं को प्रकट करने का प्रयास करने के अलावा सूर्य, ग्रह, तारों, धूमकेतु, आकाशगंगाओं, उल्का इत्यादि जैसे स्वर्गीय निकायों की गति और प्रकृति का अध्ययन करने का काम कॉस्मोलॉजिस्ट का ही होता है। यहां बता दें कि इसे हिंदी में ब्रह्मांड विज्ञानी के नाम से भी जाना जाता है।  

Also read: कार्टोग्राफर (Cartographer) कैसे बनें?

कॉस्मोलॉजिस्ट बनने के लिए प्रक्रिया क्या है

जो विद्यार्थी कॉस्मोलॉजिस्ट बनना चाहते हैं उन्हें सबसे पहले अपनी 12वीं कक्षा विज्ञान विषय के साथ पास करनी होगी।‌ उसके बाद उसे चाहिए कि वह अपनी बैचलर डिग्री फिजिक्स या फिर मैथमेटिक्स जैसे विषय में पास करे। जब कैंडिडेट की ग्रेजुएशन कंप्लीट हो जाए तो उसके बाद उसे चाहिए कि वह फिजिक्स या मैथमेटिक्स में पोस्ट ग्रेजुएशन भी कर ले। अब अगर छात्र चाहे तो पीएचडी की डिग्री हासिल करने के लिए पढ़ाई कर सकता है या फिर अगर वह किसी भी प्राइवेट या पब्लिक सेक्टर में नौकरी कर सकता है। 

कॉस्मोलॉजिस्ट बनने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए 

कॉस्मोलॉजिस्ट बनने के लिए किसी भी कैंडिडेट में निम्नलिखित योग्यता का होना अत्यंत जरूरी है जैसे कि-

  • कैंडिडेट ने फिजिक्स या फिर मैथमेटिक्स जैसे विषयों में ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की हो।
  • या छात्र ने फिजिक्स या मैथमेटिक्स में पोस्ट ग्रेजुएशन किया हो।
  • छात्र को कंप्यूटर की जानकारी होना आवश्यक है।
  • कैंडिडेट के कम्युनिकेशन स्किल्स भी अच्छे होने चाहिए और उसे अंग्रेजी का ज्ञान भी होना जरूरी है। 
  • कैंडिडेट हार्ड वर्किंग होने के साथ-साथ लंबे समय तक काम करने की क्षमता रखता हो।‌

आयु सीमा 

  • छात्र की आयु कम से कम 17 से 18 साल के बीच में होनी आवश्यक है। 
  • अधिकतम आयु सीमा में छूट सरकार के नियम अनुसार दी गई है। 

कॉस्मोलॉजिस्ट बनने के कैरियर संभावनाएं क्या है 

कॉस्मोलॉजिस्ट बनने के बाद किसी भी छात्र के सामने कैरियर के बहुत सारे अवसर आ जाते हैं जहां पर वह अनेकों प्रकार के पब्लिक और प्राइवेट ऑर्गेनाइजेशन में काम कर सकता है जैसे कि 

  • इसरो (ISRO)  
  • विक्रम साराभाई सेंटर 
  • फिजिक्स लैबोरेट्रीज
  • स्पेस एप्लीकेशंस सेंटर्स
  • टेस्टिंग लैबोरेट्रीज 
  • ऑब्जर्वेटरीज
  • साइंस पार्क इत्यादि 

वेतन 

कॉस्मोलॉजिस्ट को शुरुआत में ही लगभग 30,000 रुपए तक का वेतन आसानी के साथ मिल जाता है। लेकिन यहां पर बता दें कि यह एक ऐसी इंडस्ट्री है जहां पर अगर कैंडिडेट कुछ सालों का अनुभव हासिल कर ले और अपने काम को मेहनत व लगन के साथ करे तो वह हर महीने 50 हजार रुपए से लेकर 1 लाख रुपए तक का वेतनमान हासिल कर सकता है। 

कॉस्मोलॉजिस्ट के कार्य 

अब यहां आपको बता दें कि जो व्यक्ति कॉस्मोलॉजिस्ट के तौर पर काम करता है उसे कौन-कौन से कार्य करने होते हैं उसकी जानकारी हम निम्नलिखित दे रहे हैं-

  • कॉस्मोलॉजिस्ट ब्रह्मांड की उत्पत्ति के बारे में अध्ययन करते हैं।
  • भाग्य के बारे में सवालों का जवाब ढूंढने का प्रयत्न करते हैं।
  • सूर्य, तारों, धूमकेतु, गैलेक्सियों, प्लैनेट्स आदि के विकास के बारे में अध्ययन करते हैं।
  • स्वर्गीय निकायों की गति के बारे में रिसर्च करते हैं।
  • प्रकृति से जुड़े हुए संभावित विकासो का अध्ययन करते हैं। 

निष्कर्ष

दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिकल कॉस्मोलॉजिस्ट कैसे बनें? इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपको बताया कि कॉस्मोलॉजिस्ट क्या होता है और इसके बनने के लिए छात्र में कितनी योग्यता का होना जरूरी है। इसके अलावा इस लेख में हमने आपको यह जानकारी भी दी की ब्रह्मांड विज्ञानी बनने की प्रक्रिया क्या होती है और जब कैंडिडेट इस इंडस्ट्री में काम करता है तो उसे हर महीने कितना सैलरी पैकेज मिल सकता है। साथ ही साथ हमने यह भी बताया कि कॉस्मोलॉजिस्ट को कौन-कौन से कार्य करने पड़ते हैं। वैसे इसमें कोई शक नहीं कि अगर आपने 12वीं कक्षा तक साइंस में पढ़ाई की है और आपको ब्रह्मांड के बारे में रिसर्च और अध्ययन करना अच्छा लगता है तो आप इस क्षेत्र में अपना कैरियर बना सकते हैं। अंत में हमारा आपसे यही निवेदन है कि अगर आपको हमारा यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो इसे अपने उन दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें जो 12वीं के बाद कॉस्मोलॉजिस्ट बनना चाहते हैं। 

Leave a Reply