क्लाउड कंप्यूटिंग कोर्स (Cloud Computing Course) कैसे करे

दोस्तों आज हम आपके लिए लेकर आए हैं क्लाउड कंप्यूटिंग कोर्स (Cloud Computing Course) कैसे करें के बारे में सारी जानकारी। यह तो आपको पता ही है कि मौजूदा समय में इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी के बिना कोई भी काम संभव नहीं है बल्कि अब अधिकतर सारे काम इंटरनेट और कंप्यूटर पर ही आधारित होते हैं।

ऐसे में इस क्षेत्र में युवा अपना कैरियर बनाने के लिए विभिन्न कोर्स करते हैं जिनमें से एक है क्लाउड कंप्यूटिंग कोर्स। अगर आपको इस कोर्स के बारे में नहीं पता है तो हम आपको बता दें कि यह एक इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी पर आधारित कोर्स है और यदि आप 12वीं के बाद सॉफ्टवेयर आर्किटेक्ट, आईटी आर्किटेक्ट क्लाउड सॉफ्टवेयर इंजीनियर आदि बनना चाहते हैं तो यह कोर्स करना आपके लिए बेहद लाभदायक रहेगा। 

आज के इस आर्टिकल में हम आपको इस कोर्स से जुड़ी हुई सारी जानकारी देने वाले हैं इसलिए इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें और 12वीं के बाद इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी की दुनिया से जुड़कर अपना कैरियर बनाएं। 

क्लाउड कंप्यूटिंग कोर्स

क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है (What is Cloud Computing in Hindi)

क्लाउड कंप्यूटिंग इंटरनेट और कंप्यूटर की दुनिया का एक ऐसा कोर्स है जो पिछले कुछ वर्षों में बहुत तेजी के साथ उभर कर सामने आया है।यहां बता दें कि क्लाउड कंप्यूटिंग एक ऐसा तरीका या मेथड है जिसके द्वारा कोई भी यूजर अपना डाटा और सेटिंग सर्वर पर बहुत आसानी के साथ स्टोर कर सकता है। जानकारी के लिए बता दें कि यह एक पूरी तरह से इंटरनेट पर आधारित तरीका है जिसके द्वारा ही सारे सर्च इंजन और विभिन्न साइट्स यूजर तक पहुंचते हैं। 

आपने गूगल एप्स का नाम तो सुना ही होगा यह भी एक क्लाउड कंप्यूटिंग का एक उदाहरण है और इसके अलावा गूगल सर्च, याहू मेल और जितनी भी दूसरी अन्य साइट्स हैं वह सभी क्लाउड कंप्यूटिंग के माध्यम से ही आप तक पहुंच पाती हैं। जानकारी दे दें कि बिना क्लाउड कंप्यूटिंग के इंटरनेट की दुनिया में कुछ भी संभव नहीं है। 

क्लाउड कंप्यूटिंग कोर्स के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए (Cloud Computing Course Eligibility)

क्लाउड कंप्यूटिंग कोर्स एक टेक्निकल कोर्स है जिसको अगर कोई उम्मीदवार करना चाहता है तो उसमें निम्नलिखित योग्यता होनी चाहिए-

  • छात्र किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से 10+2 उत्तीर्ण होना चाहिए।
  • वह कैंडिडेट जिन्होंने इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी का कोर्स किया हो वह भी क्लाउड कंप्यूटिंग कोर्स कर सकते हैं। 
  • कंप्यूटर की जानकारी भी होना अनिवार्य है।

क्लाउड कंप्यूटिंग कोर्स संस्थान सूची (Cloud Computing Course Institute List)

क्लाउड कंप्यूटिंग कोर्स में आज अधिकतर छात्र 12वीं के बाद अपना कैरियर बना रहे हैं और इसीलिए यह कोर्स प्राइवेट और सरकारी दोनों संस्थानों में पढ़ाया जाता है। अगर कोई उम्मीदवार क्लाउड कंप्यूटिंग कोर्स के सर्टिफिकेट, डिप्लोमा या डिग्री कोर्स में प्रवेश लेना चाहता है तो वह पहले यह पता लगाने की कोशिश करें कि जिस इंस्टीट्यूट से वह कोर्स करना चाहता है वह उसके लिए कितना उचित रहेगा। 

निम्नलिखित हम आपको कुछ क्लाउड कंप्यूटिंग कोर्स के लिए संस्थानों के नाम बता रहे हैं जो कि इस प्रकार से हैं-

  • आईटेक कनेक्ट, पुणे (I Tech connect, Pune)
  • एनआईआईटी सेंटर्स ऑल ओवर इंडिया (NIIT, centres all over India)
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ जॉब ट्रेनिंग, सेंटर ऑल ओवर इंडिया (Indian Institute of job training, centres all over India)
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ हार्डवेयर टेक्नोलॉजी- आईआईएचटी, बैंगलोर (Indian Institute of hardware technology-IIHT, Bangalore)
  • एप्टेक कंप्यूटर एजुकेशन – मल्टीपल सेंटर्स ऑल ओवर इंडिया Aptech Computer Education- (multiple centres all over India)
  • आईबीएम प्रोफेशनल सर्टिफिकेशन प्रोग्राम मल्टीपल सेंटर ऑल ओवर इंडिया (IBM professional certification program, multiple centres all over India)
  • एमिटी ग्लोबल बिजनेस स्कूल कोलकाता (Amity Global Business School, Kolkata)
  • जानकी देवी बजाज इंस्टिट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज, मुंबई (Jankidevi Bajaj Institute of Management Studies, Mumbai)
  • श्री राम ग्रुप ऑफ़ इंस्टिट्यूशन, ग्रेटर नोएडा (SriRam group of institution, Greater Noida)
  • गोल्ड फील्ड इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी एंड मैनेजमेंट, फरीदाबाद (Gold Field Institute of technology and Management, Faridabad)

क्लाउड कंप्यूटिंग कोर्स पाट्यक्रम (Cloud Computing Course Syllabus)

क्लाउड कंप्यूटिंग कोर्स के अंतर्गत छात्रों को निम्नलिखित सिलेबस के ऊपर ट्रेनिंग दी जाती है जो इस प्रकार है-

  • इंट्रोडक्शन टू क्लाउड कंप्यूटिंग (Introduction to cloud computing)
  • एडोप्टिंग द क्लाउड (Adopting the cloud)
  • एक्सप्लोइटिंग सॉफ्टवेयर एस ए सर्विस-एसएएएस  (Exploiting software as a service- SaaS) 
  • डिलीवरिंग प्लेटफॉर्म एज़ ए सर्विस-पीएएएस  (Delivering platform as a service -PaaS)
  • द फ्लोइंग इंफ्रास्ट्रक्चर एज़ ए सर्विस- एलएसएसएस  (Deploying infrastructure as a service- LaaS) 
  • बिल्डिंग ए बिजनेस केस (Building a business case)
  • माइग्रेटिंग टू द क्लाउड (Migrating to the cloud)

क्लाउड कंप्यूटिंग कोर्स की किताबें और अध्ययन सामग्री (Books & Study Materials for Cloud Computing Course)

यहां आपको बता दें कि क्लाउड कंप्यूटिंग कोर्स की किताबें आपको बहुत सारी मिल जाएंगी लेकिन आपको केवल उन्हीं किताबों को लेना है जो कोर्स के दौरान आपकी जानकारी और स्किल को और अधिक इंप्रूव करें। 

निम्नलिखित हम आपको कुछ क्लाउड कंप्यूटिंग कोर्स की किताबों के बारे में बता रहे हैं जिनके नाम इस प्रकार से हैं-

  • क्लाउड कंप्यूटिंग: फ्रॉम बिगिनिंग टू एंड बाय ये जे रफेल (Cloud computing: from beginning to end by Ray J Rafael)
  • क्लाउड कंप्यूटिंग: फॉर डमीज बाय जुडिश हर्टविट्ज (Cloud computing: for dummies by Judish Hurwitz)
  • क्लाउड कंप्यूटिंग: कॉन्सेप्ट्स, टेक्नोलॉजी एंड आर्किटेक्चर बाय थॉमस ईआरएल  (Cloud computing: concepts, technology and Architecture by Thomas Erl)
  • क्लाउडनॉमिक्स, + वेबसाइट: द बिजनेस वैल्यू ऑफ क्लाउड कंप्यूटिंग बाय जो वेनमैन  (Cloudonomics, + website: the business value of cloud computing by Joe Weinman)
  • क्लाउड कंप्यूटिंग बाइबल बाय बैरी सैसिंस्की (Cloud Computing Bible by Barrie Sasinsky)

क्लाउड कंप्यूटिंग कोर्स फीस (Cloud Computing Course Fees)

क्लाउड कंप्यूटिंग कोर्स के अंदर क्योंकि सर्टिफिकेट, डिप्लोमा और डिग्री कोर्स करवाए जाते हैं इसलिए सभी के लिए फीस का स्ट्रक्चर अलग अलग होगा। इसके अलावा फीस इस बात के ऊपर भी निर्भर करेगी कि आपने कौन से संस्थान से क्लाउड कंप्यूटिंग कोर्स करने का सोचा है। 

क्लाउड कंप्यूटिंग कोर्स के सर्टिफिकेट और डिप्लोमा कोर्स 10,000 से लेकर 30,000 तक आसानी से हो जाते हैं वहीं अगर आप डिग्री कोर्स करना चाहते हैं तो इसका खर्चा लाखों रुपए तक हो सकता है जो कि निर्भर करेगा आप किस कॉलेज से कर रहे हैं। 

क्लाउड कंप्यूटिंग कोर्स करने के बाद  वेतन कितनी मिलती है (Salary After Cloud Computing Course)

क्लाउड कंप्यूटिंग कोर्स क्योंकि बहुत ही तेजी के साथ उभरता हुआ फील्ड है और इसमें जॉब करने के बहुत सारे अवसर उम्मीदवार को मिल जाते हैं और वह भी एक अच्छे सैलरी पैकेज के साथ। अगर आप क्लाउड कंप्यूटिंग कोर्स करने के बाद किसी कंपनी में नौकरी करेंगे तो आपको आराम से हर महीने 30,000 रुपए से लेकर 50,000 रुपए तक का वेतनमान मिल जाता है लेकिन आपका वेतनमान आपके कौशल के ऊपर भी बहुत अधिक निर्भर करेगा। ऐसे बहुत सारे कैंडिडेट है जो क्लाउड कंप्यूटिंग कोर्स करने के बाद 1-2 साल का एक्सपीरियंस लेकर लाखों रुपए कमा रहे हैं। 

निष्कर्ष

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हमने आपको बताया क्लाउड कंप्यूटिंग कोर्स क्या है और cloud computing course में आप किस प्रकार से अपना करियर बना सकते हैं। इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपको जानकारी दी कि क्लाउड कंप्यूटिंग कोर्स कौन कौन से संस्थान से कर सकते हैं और आपको इसके लिए कितनी फीस देनी पड़ सकती है। 

इसके अलावा हमने आपको यह भी जानकारी दी कि जब आप अपना क्लाउड कंप्यूटिंग कोर्स कर लेंगे तो आपको हर महीने कितनी सैलरी मिलेगी। साथ ही हमने आपको यह भी बताया कि कौन सी किताबों की सहायता आप क्लाउड कंप्यूटिंग कोर्स के दौरान ले सकते हैं जो आपकी जानकारी और कौशल को बढ़ा सकें। इसके अलावा दूसरी अन्य आवश्यक जानकारी भी हमने आपको बता दी है और हमें पूरी उम्मीद है कि आपको हमारा यह आर्टिकल बहुत पसंद आया होगा एवं आपके लिए यह बेहद उपयोगी रहा होगा। 

अगर आपके दूसरे दोस्त या कोई जानने वाले ऐसे हैं जो क्लाउड कंप्यूटिंग कोर्स के क्षेत्र में अपना भविष्य बनाना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को उन लोगों के साथ भी शेयर अवश्य करें।

Deepak Kumar

दीपक कुमार After12th.net के लेखक और संस्थापक हैं। वह छात्रों को उनकी धारा तय करने और उद्योग में पाठ्यक्रमों के बारे में जानकारी प्रदान करने में मदद करता है। वह उन्हें नई ऊंचाइयों तक पहुंचाने में मदद करता है। उनका उद्देश्य देश में अधिकतम छात्रों के लिए वैध और उपयोगी जानकारी साझा करना है।

Leave a Reply