बिजनेस एनालिस्ट (Business Analyst) कैसे बनें?

नमस्कार! दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे बिजनेस एनालिस्ट (Business Analyst) कैसे बनें? कुछ छात्रों को बिजनेस के बारे में रिसर्च करना और उसके आधार पर प्रोडक्ट बनवाने का काम करना बहुत ज्यादा पसंद होता है और इसीलिए वह चाहते हैं कि इसी इंडस्ट्री में अपना कैरियर बनाएं। वर्तमान में जब भी कोई व्यक्ति अपना बिजनेस शुरू करता है तो उसको कामयाब रूप से चलाने के लिए उसे लोगों की जरूरत पड़ती है विशेष तौर पर ऐसे व्यक्ति की जो आईटी या फिर टेक्नोलॉजी के क्षेत्र से जुड़ा हुआ होता है व उसको बिजनेस रिसर्च में भी इंटरेस्ट होती है। इन्हीं में से एक है बिजनेस एनालिस्ट जिसकी बिजनेस इंडस्ट्री में बहुत ज्यादा डिमांड बढ़ गई है। यदि आप भी बिजनेस एनालिस्ट बनना चाहते हैं तो हमारे आज के इस आर्टिकल को सारा जरूर पढ़ें और जानें इसके बनने के लिए पूरी प्रक्रिया  क्या है। 

बिजनेस एनालिस्ट क्या होता है (what is Business Analyst in Hindi) 

यहां सबसे पहले जानकारी के लिए बता दें कि बिजनेस एनालिस्ट एक ऐसा प्रोफेशनल होता है जिसको बिजनेस करने के बारे में सारी जानकारी होती है क्योंकि वह बिजनेस रिसर्च करने के मामले में एक्सपर्ट होता है और किसी भी प्रोडक्ट को बनाने से पहले उसके बारे में रिसर्च करके कंपनी को बताता है जिसके बाद वह कंपनी उसी आधार पर प्रोडक्ट का निर्माण करवाती है। साथ ही यहां बता दें कि बिजनेस एनालिस्ट व्यापार की रणनीति बनाने से पहले सर्वे करवाता है और फिर उसके बाद एक प्रॉपर सॉफ्टवेयर तैयार करवाता है जिससे के बिजनेस के सक्सेसफुल होने के चांसेस बहुत ज्यादा बढ़ जाते हैं। 

Also read:

मोशन ग्रैफिक्स कोर्स (Motion Graphics Course) कैसे करें?
ग्राफिक डिजाइन कोर्स (Graphic Design Course) कैसे करे
एनीमेशन डिजाइन कोर्स कैसे करें?

बिजनेस एनालिस्ट बनने के लिए प्रक्रिया क्या है

जो छात्र बिजनेस एनालिस्ट बनने की प्रक्रिया के बारे में जानना चाहते हैं उन्हें जानकारी के लिए बता दें कि इसके लिए छात्रों को सबसे पहले अपनी 12वीं क्लास फिजिक्स केमिस्ट्री और मैथ के साथ पास करनी पड़ेगी और उसके बाद उन्हें किसी भी अच्छे कॉलेज से बीटेक या बीई कंप्यूटर कोर्स करना होता है। फिर स्टूडेंट को चाहिए कि वह बिजनेस एनालिस्ट से संबंधित कोई कोर्स करें जिससे कि वह इस फील्ड में काम करने के बारे में सारी जानकारी हासिल कर सकें। इसके अलावा बहुत से स्टूडेंट ऐसे हैं जो एमबीए की डिग्री हासिल करने के बाद बिजनेस एनालिस्ट बनने के लिए काबिलियत रखते हैं। 

बिजनेस एनालिस्ट बनने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए 

किसी भी कैंडिडेट में बिजनेस एनालिस्ट बनने के लिए कुछ योग्यताओं का होना बहुत ज्यादा अनिवार्य होता है जिनकी जानकारी इस प्रकार से है-

  • कैंडिडेट ने एमबीए किया होना चाहिए।
  • या फिर कैंडिडेट ने बीटेक किया हो।
  • या उम्मीदवार बीई होना चाहिए।
  • या फिर उम्मीदवार ने बिजनेस एनालिस्ट का कोर्स ग्रेजुएशन के बाद किया हो। 
  • मार्केट रिसर्च एक्सपोर्ट होना चाहिए।
  • क्लाइंट के अनुसार काम करने की क्षमता होनी चाहिए। 

आयु सीमा 

बिजनेस इंडस्ट्री में काम करने के लिए कैंडिडेट की आयु कम से कम 20 साल और अधिकतम आयु सीमा कोई निर्धारित नहीं की गई है। वैसे आमतौर पर हर कंपनी अपने बिजनेस के लिए बिजनेस एनालिस्ट थोड़ी अधिक आयु वाले व्यक्ति को ही रखना पसंद करती हैं क्योंकि वह एक्सपीरियंस होल्डर होता है। 

वेतन 

एक बिजनेस एनालिस्ट को कैरियर के शुरुआत में ही हर महीने 30,000 से लेकर 50,000 तक का वेतन मिल जाता है और जब उसे 3-4 साल का एक्सपीरियंस प्राप्त हो जाता है तो तब उसे और भी ज्यादा सैलरी मिलती है। इस तरह से इस इंडस्ट्री में कैंडिडेट अपनी योग्यता के बल पर लाखों रुपए महीने भी आराम के साथ कमा सकता है। 

बिजनेस एनालिस्ट बनने के कैरियर संभावनाएं क्या है 

बिजनेस एनालिस्ट बनने के बाद किसी भी कैंडिडेट के सामने देश विदेश में काम करने के बहुत सारे विकल्प उपलब्ध हो जाते हैं जहां पर वह अपनी योग्यता और अनुभव के आधार पर काम कर सकते हैं। इस प्रकार से कैंडिडेट भारतीय कंपनियों के अलावा दूसरी विदेशी कंपनियों के साथ भी काम कर सकते हैं जैसे कि एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक,रिलायंस, वोडाफोन इत्यादि।

बिजनेस एनालिस्ट के कार्य 

बिजनेस एनालिस्ट बनने के बाद कैंडिडेट को अपना कार्य बहुत ही रिस्पांसिबिलिटी के साथ करना होता है क्योंकि किसी भी बिजनेस की सफलता उसी की रणनीति के ऊपर निर्भर करती है इसीलिए उसे जो कार्य करने होते हैं वह इस प्रकार से हैं-

  • लोगों से बातचीत करके उनकी समस्याओं को सुलझाना।
  • बिजनेस एनालिस्ट को सीधे तौर पर क्लाइंट साथ मिलकर काम करना होता है वह इसके लिए उसकी जरूरतों के मुताबिक काम करता है। ‌
  • क्लाइंट को अगर किसी प्रकार की कोई समस्या है तो उसे सुनना और उसे दूर करना।
  • अपनी टेक्निकल टीम या मैनेजर तक क्लाइंट की बात को पहुंचाना जिससे कि वह क्लाइंट की जरूरत को समझते हुए व्यवस्थित तरीके से काम कर सकें। 
  • बिजनेस के लिए मार्केट सर्वे करवाना और फिर उसी के अनुसार प्लानिंग करना। 

निष्कर्ष

दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिकल जिसमें हमने आपको बताया कि बिजनेस एनालिस्ट (Business Analyst) कैसे बनें? इस लेख के द्वारा हमने आपको यह जानकारी दी कि बिजनेस एनालिस्ट बनने के लिए कैंडिडेट में कितनी योग्यता होनी चाहिए और इसके साथ साथ हमने यह भी बताया कि बिजनेस एनालिस्ट कौन होता है और इसके बनने की पूरी प्रक्रिया की भी जानकारी दी। साथ ही साथ इस पोस्ट में हमने यह जानकारी भी दी कि बिजनेस एनालिस्ट बनने के बाद कैंडिडेट के सामने कौन-कौन से कैरियर ऑप्शन होते हैं और हर महीने उसे कितने रुपए तक का वेतन मिल सकता है।‌ वैसे अगर देखा जाए तो यह इंडस्ट्री उन लोगों के लिए बहुत ही बेस्ट है जो बिजनेस रिसर्च करने में एक्सपर्ट होते हैं और इस फील्ड में अपना कैरियर बनाने की में रुचि रखते हैं।

अंत में हमारी आपसे यह रिक्वेस्ट है कि अगर आपको हमारे द्वारा दी गई यह सारी जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे अपने उन दोस्तों के साथ भी जरूर शेयर करें जो बिजनेस एनालिस्ट बनने की तमन्ना रखते हैं। 

Deepak Kumar

दीपक कुमार After12th.net के लेखक और संस्थापक हैं। वह छात्रों को उनकी धारा तय करने और उद्योग में पाठ्यक्रमों के बारे में जानकारी प्रदान करने में मदद करता है। वह उन्हें नई ऊंचाइयों तक पहुंचाने में मदद करता है। उनका उद्देश्य देश में अधिकतम छात्रों के लिए वैध और उपयोगी जानकारी साझा करना है।

Leave a Reply