बीजेएमसी कोर्स (BJMC Course) कैसे करें पूरी जानकारी

नमस्कार! After 12th में आपका स्वागत है। दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे बीजेएमसी कोर्स (BJMC Course)  कैसे करें पूरी जानकारी। ऐसे बहुत से छात्र हैं जो 12वीं के बाद जर्नलिज्म के क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते हैं। लेकिन जानकारी के अभाव की वजह से बहुत से स्टूडेंट्स किसी अच्छे कॉलेज में दाखिला नहीं ले पाते। 

ऐसा इसलिए है क्योंकि बीजेएमसी कोर्स को करने के लिए काफी सारे संस्थान हैं जिस वजह से छात्र कंफ्यूज हो जाते हैं। यहां आपको बता दें कि अगर विद्यार्थी का किसी अच्छे कॉलेज में एडमिशन नहीं हो पाता है तो तब उसका इफ़ेक्ट उसके कैरियर के ऊपर भी पड़ता है। 

तो इसलिए बेस्ट यही है कि छात्र सारी डिटेल्स जानने के बाद ही बीजेएमसी कोर्स में दाखिला लें। अगर आप इस कोर्स को करना चाहते हैं और उससे संबंधित सभी महत्वपूर्ण डिटेल्स जानना चाहते हैं तो हमारे आज के इस लेख को सारा पढ़ें और जाने पूरी प्रक्रिया के बारे में विस्तार से। 

Contents

बीजेएमसी कोर्स क्या है (what is BJMC course in Hindi)

यहां सबसे पहले आपको हम बता दें कि बीजेएमसी (BJMC) का फुल फॉर्म बैचलर ऑफ जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन (Bachelor of journalism and Mass Communication) है। यहां जानकारी के लिए बताते चलें कि ऐसे छात्र जिनको मीडिया वर्ल्ड में काम करना पसंद है उनके लिए यह पाठ्यक्रम सबसे बेस्ट है। 

साथ ही बताते चलें कि बीजेएमसी कोर्स एक अंडर ग्रेजुएट प्रोग्राम है जिसमें छात्रों को जर्नलिस्टिक स्किल्स सिखाए जाते हैं। यह कोर्स उन स्टूडेंट्स के लिए सबसे बेस्ट माना गया है जो न्यूज़ पेपर्स, टीवी चैनल्स इत्यादि में काम करना चाहते हैं। 

अवधि (duration)

बीजेएमसी कोर्स की अवधि 3 साल की होती है और इसमें टोटल 6 सेमेस्टर होते हैं। बताते चलें कि छात्र जब इस 3 साल के ग्रैजुएट प्रोग्राम को पूरा कर लेते हैं तो उसके बाद उन्हें नौकरी के काफी व्यापक अवसर मिलते हैं। 

बीजेएमसी कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा (entrance test for BJMC course)

अब यहां आपको हम बता दें कि बैचलर ऑफ जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन कोर्स में एडमिशन के लिए बहुत से कॉलेज एंट्रेंस एग्जाम के बाद ही छात्रों को दाखिला देते हैं। यहां बता दें कि हमारे देश में बीजेएमसी के लिए पॉपुलर एंट्रेंस एग्जाम्स बहुत सारे हैं जैसे कि – 

  • आईपीयू सीईटी (IPU CET)
  • आईआईएमसी एग्जाम (IIMC exam)
  • सेट एग्जाम (SET exam)
  • जेएमआई ईईई (JMI EEE) 
  • जेवियर इंस्टीट्यूट आफ कम्युनिकेशन एंट्रेंस एग्जाम (Xavier Institute of communications entrance exam)
  • इंटरनेशनल स्कूल ऑफ बिजनेस एंड मीडिया एंट्रेंस एग्जाम (International School of Business and media entrance exam) 
  • एशियन कॉलेज आफ जर्नलिज्म एंटरेंस एग्जाम (Asian College of journalism entrance exam) 

बीजेएमसी कोर्स के लिए प्रवेश प्रक्रिया क्या है (what is the admission process for BJMC course)

बीजेएमसी कोर्स जो कैंडिडेट करना चाहते हैं उन्हें इसके लिए निम्नलिखित प्रवेश प्रक्रिया को फॉलो करना होता है – 

  • सबसे पहले तो कैंडिडेट को अपने द्वारा चुने गए कॉलेज में अपना रजिस्ट्रेशन करवाना होता है। 
  • इसके लिए कैंडिडेट ऑफलाइन या फिर ऑनलाइन मेथड से अप्लाई कर सकते हैं। 
  • बता दें कि जिन छात्रों का सफलतापूर्वक रजिस्ट्रेशन हो जाता है उनको फिर कॉलेज के द्वारा एंट्रेंस एग्जाम के लिए बुलाया जाता है। 
  • एंट्रेंस एग्जाम में छात्रों की योग्यता का आंकलन करने के लिए कई प्रकार के विषयों पर आधारित प्रश्न पूछे जाते हैं। 
  • इस प्रकार से जो स्टूडेंट्स प्रवेश परीक्षा में पास हो जाते हैं उन्हें फिर उनके फेवरेट कॉलेज में दाखिला मिल जाता है। 

बीजेएमसी कोर्स के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए (what should be the qualification for BJMC course)

जो स्टूडेंट्स बीजेएमसी कोर्स करना चाहते हैं इसके लिए उनमें निम्नलिखित योग्यता होनी जरूरी है –

  • छात्र ने किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं कक्षा पास की हो।
  • 12वीं कक्षा में विद्यार्थी के कम से कम 50 से लेकर 60% तक अंक होने चाहिए। 
  • छात्र की आयु कम से कम 17 साल तक होनी चाहिए। 
  • विद्यार्थी के कम्युनिकेशन स्किल्स अच्छे होने चाहिए। 
  • कंप्यूटर की जानकारी होनी चाहिए। 
  • छात्र का कॉन्फिडेंस लेवल अच्छा होना चाहिए। 

फीस (Fees) 

आप यहां आपको बता दें कि 3 साल के बैचलर ऑफ जर्नलिज्म मास कम्युनिकेशन कोर्स के लिए छात्रों को कितने रुपए तक की फीस देनी पड़ती है। जानकारी के लिए बता दें कि हर कॉलेज में फीस अलग-अलग होती है जो कि विद्यार्थियों को दाखिले के दौरान ही पता चलती है। 

लेकिन फिर भी अगर एक एवरेज शुल्क भी बात की जाए तो स्टूडेंट्स को हर साल 50 हजार से लेकर 80 हजार से ज्यादा तक फीस देनी होती है। इसके अलावा जो प्राइवेट संस्थान काफी नामी है उनमें और भी अधिक शुल्क का भुगतान करना पड़ सकता है। 

भारत में बीजेएमसी कोर्स करने के लिए कॉलेज (college to do BJMC course in India)

बहुत से छात्रों को यह जानकारी नहीं होती कि भारत में बीजेएमसी कोर्स करने के लिए कौन से कॉलेज अच्छे हैं। तो आपकी जानकारी के लिए हम कुछ सर्वश्रेष्ठ कॉलेजों के नाम दे रहे हैं जो कि इस प्रकार से हैं – 

  • विवेकानंद इंस्टीट्यूट आफ प्रोफेशनल स्टडीज (Vivekananda Institute of professional studies) 
  • जामिया मिलिया इस्लामिया (Jamia Millia Islamia)
  •  महाराजा अग्रसेन इंस्टिट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज (Maharaja agrasen Institute of Management studies)
  • आईआईएमटी ग्रुप आफ कॉलेजेस ग्रेटर नोएडा (IIMT group of colleges Greater Noida)
  • दीन दयाल उपाध्याय गोरखपुर यूनिवर्सिटी (Deen dayal upadhyay Gorakhpur University)
  • इंस्टिट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज नोएडा (Institute of Management studies Noida)
  • जिंदल स्कूल ऑफ जर्नलिज्म एंड कम्युनिकेशन (Jindal School of journalism and communication)
  • पर्सनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ मास कम्युनिकेशन एंड जर्नलिज्म अहमदाबाद (National Institute of mass communication and journalism Ahmedabad) 
  • आई एम एस गाजियाबाद यूनिवर्सिटी (IMS Ghaziabad University) 
  • एमिटी यूनिवर्सिटी (Amity University) 

बीजेएमसी कोर्स का पाठ्यक्रम/सब्जेक्ट क्या क्या है (what are the syllabus/subjects of BJMC course) 

बैचलर ऑफ जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन कोर्स में जो छात्र दाखिला लेते हैं उन्हें निम्नलिखित सिलेबस पढ़ाया जाता है – 

बीजेएमसी फर्स्ट ईयर सिलेबस 

  • राइटिंग फॉर मीडिया (Writing for media)
  • इंट्रोडक्शन टू जर्नलिज्म (Introduction to journalism)
  • कम्युनिकेटिव हिंदी (Communicative Hindi)
  • इंडियन कल्चर (Indian culture)
  • कम्युनिकेशन लैब (Communication lab)
  • इंट्रोडक्शन टू कम्युनिकेशन (Introduction to communication)
  • सोशियो इकोनामिक एंड पॉलीटिकल सिनेरियो (Socio economic and political scenario)
  • बेसिक्स आफ डिजाइन एंड ग्रैफिक्स (Basics of design and graphics)
  • कंप्यूटर लैब (Computer lab)
  • डिजाइन एंड ग्राफिक्स लैब (Design and graphics lab) 
  • हिस्ट्री ऑफ प्रिंट एंड ब्रॉडकास्टिंग इन इंडिया (History of print and broadcasting in India) 
  • मीडिया लॉज एंड एथिक्स (Media laws and ethics) 
  • स्टेट पॉलिटिक्स एंड कॉन्स्टिट्यूशन (State politics and constitution)
  • एप्लीकेशन ऑफ कंप्यूटर इन मीडिया (Application of computer in media)
  • प्रिंट जर्नलिज्म लैब (Print journalism lab)
  • स्टील फोटोग्राफी (Still Photography) 
  • थ्योरी ऑफ कम्युनिकेशन (Theory of communication)
  • फोटो लैब (Photo lab) 

बीजेएमसी सेकंड ईयर सिलेबस 

  • डेवलपमेंट एंड कम्युनिकेशन (Development and communication)
  • रेडियो जर्नलिज्म एंड प्रोडक्शन (Radio journalism and production)
  • मीडिया मैनेजमेंट (Media management)
  • साइबर मीडिया (Cyber media)
  • प्रिंट जर्नलिज्म लैब (Print journalism lab)
  • ऑपरेशन एंड हैंडलिंग ऑफ वीडियो इक्विपमेंट लैब (Operation and handling of video equipment lab)
  • प्रिंट जर्नलिज्म (Print journalism)
  • बेसिक्स ऑफ कैमरा, लाइट्स एंड साउंड (Basics of camera, lights and sound)
  • समर ट्रेनिंग रिपोर्ट (Summer training report)
  • जर्नलिज्म एंड प्रोडक्शन लैब (Radio journalism and production lab) 
  • टेलीविजन जर्नलिज्म एंड प्रोडक्शन (Television journalism and production) 
  • पब्लिक रिलेशंस (Public relations)
  • फंडामेंटल्स ऑफ इकोनॉमिक्स एंड इंडियन इकोनामी (Fundamentals of economics and Indian economy) 
  • न्यू मीडिया लैब (New media lab)
  • इंट्रोडक्शन टू एडवरटाइजिंग (Introduction to advertising)
  • न्यू मीडिया (New media)
  • पब्लिक रिलेशंस लैब (Public relations lab) 
  • जनरल एंड इंटरनेशनल अफेयर्स (National and international affairs) 

बीजेएमसी थर्ड ईयर सिलेबस 

  • एडवरटाइजिंग प्रैक्टिसेज (Advertising practices) 
  • मीडिया रिसर्च (Media research)
  • ट्राईबल कम्युनिकेशन (Tribal communication)
  • फंक्शनल एक्स्पोज़र रिपोर्ट (Functional exposure report)
  • एडवरटाइजिंग लैब (Advertising lab)
  • मीडिया रिसर्च लैब (Media research lab)
  • इवेंट मैनेजमेंट: प्रिंसिपल्स एंड मेथड (Event management: principles and methods)
  • एनवायरमेंट कम्युनिकेशन (Environment communication) 
  • कम्युनिकेशन रिसर्च (Communication research)
  • इंटर्नशिप रिपोर्ट (Internship report)
  • इवेंट मैनेजमेंट लाभ (Event management lab) 
  • मीडिया ऑर्गेनाइजेशन एंड मैनेजमेंट (Media organisation and management)
  • ग्लोबल मीडिया सिनेरियो (Global media scenario)
  • फाइनल प्रोजेक्ट (Final project)
  • कंटेंपरेरी इश्यूज (Contemporary issues)
  • वैल्यू एजुकेशन (Value education) 
  • कंप्रिहेंसिव वाइवा (Comprehensive viva) 

बीजेएमसी कोर्स के बाद कैरियर संभावनाएं क्या है (what are the career prospects after BJMC course)

बीजेएमसी कोर्स करने के बाद छात्रों के सामने कैरियर की काफी अच्छी संभावनाएं होती हैं। बता दें कि कैंडिडेट को उसकी योग्यता के आधार पर निम्नलिखित जगहों पर नौकरी करने के अवसर मिलते हैं। – 

  • हिंदुस्तान टाइम्स (Hindustan Times)
  • इंडिया टुडे ग्रुप (India today group)
  • द हिंदू (The Hindu)
  • एचटी मीडिया (HT Media)
  • आउटलुक (Outlook)
  • दूरदर्शन (Doordarshan)
  • स्टार इंडिया (Star India)
  • बालाजी टेलीफिल्म्स लिमिटेड (Balaji telefilms Limited)
  • सहारा वन मीडिया एंड एंटरटेनमेंट लिमिटेड (Sahara One media and entertainment Limited)
  • ऑल इंडिया रेडियो (All India Radio)
  • इंडियन एक्सप्रेस (Indian express)
  • ज़ी नेटवर्क (Zee network)
  • जागरण प्रकाशन ग्रुप (Jagran prakashan group) 

वेतन (salary)

जो कैंडिडेट बीजेएमसी कोर्स पूरा कर लेते हैं तो उसके बाद उनकी जो सैलरी होती है वह उनकी योग्यता के ऊपर और कंपनी के ऊपर डिपेंड करती है। लेकिन अगर हम शुरुआती सैलरी की बात करें तो कैंडिडेट को हर महीने 20,000 से लेकर 30,000 तक वेतन आसानी के साथ मिल जाते हैं। इसके अलावा बता दे उम्मीदवार का जब एक्सपीरियंस बढ़ जाता है तो उसे हर महीने और ज्यादा सैलरी मिलती है। 

प्राइवेट सेक्टर में जॉब्स (Jobs in private sector)

बीजेएमसी प्रोग्राम पूरा करने के बाद छात्रों को प्राइवेट सेक्टर में नौकरियों के काफी सारे मौके मिलते हैं। यहां बता दें कि आज हमारे देश में न्यूज़ चैनल और न्यूज़ पेपर्स में योग्य कैंडिडेट की जरूरत रहती है। इस प्रकार से कोर्स करने के बाद निम्नलिखित पोस्ट पर कैंडिडेट काम कर सकते हैं – 

  • न्यूज़ रिपोर्टर (News reporter)
  • एंकर (Anchor)
  • न्यूज़ पेपर एडिटर (Newspaper editor)
  • न्यूज़ पेपर रिपोर्टर (Newspaper reporter)
  • वीडियो जॉकी एंड रेडियो जॉकी (Video jockey and radio jockey)
  • वीडियोग्राफर (Videographer) 
  • कंटेंट राइटर (Content writer)
  • फीचर राइटर (Feature writer)
  • साउंड इंजीनियर (Sound engineer) 
  • कॉरपोरेट कम्युनिकेटर (Corporate communicator)
  • फोटोग्राफर एंड वीडियोग्राफर (Photographer and videographer) 

गवर्नमेंट सेक्टर में जॉब्स (Jobs in government sector)

अगर कोई छात्र यह चाहता है कि वह अपना कोर्स करने के बाद किसी गवर्नमेंट सेक्टर में नौकरी करें तो ऐसा बिल्कुल संभव है। यहां बता दें कि संबंधित विभाग में हर साल बहुत सी रिक्तियां निकलती हैं। तो अगर कोई कैंडिडेट सरकारी विभाग में काम करना चाहता है तो जॉब निकलने पर वह अप्लाई कर सकता है। 

निष्कर्ष

दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिकल बीजेएमसी कोर्स (BJMC Course)  कैसे करें पूरी जानकारी। इस पोस्ट के द्वारा हमने आपको बताया कि बीजेएमसी कोर्स क्या है और इसकी अवधि कितनी होती है। इसके साथ ही साथ हमने आपको यह भी जानकारी दी कि बैचलर ऑफ जर्नलिज्म एंड कम्युनिकेशन कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा और प्रवेश प्रक्रिया क्या होती है। 

हमने इस लेख के माध्यम से यह भी डिटेल्स दी कि बीजेएमसी कोर्स करने के लिए छात्र में कितनी योग्यता होनी चाहिए और कॉलेज में उसे कितनी फीस देनी होती है। साथ ही साथ हमने आपको यह जानकारी भी दी कि भारत में बीजेएमसी के लिए कौन से कॉलेज अच्छे हैं और वहां पर छात्रों को क्या पाठ्यक्रम पढ़ाया जाता है। इस आर्टिकल में हमने आपको यह डिटेल्स भी दी कि बैचलर ऑफ जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन में ग्रेजुएशन करने के बाद कैंडिडेट के सामने प्राइवेट और गवर्नमेंट सेक्टर में नौकरियों की क्या-क्या संभावनाएं होती हैं। 

इसके साथ-साथ हमने यह भी डिटेल्स दी कि किसी भी व्यक्ति को इस सेक्टर में काम करने पर हर महीने कितनी सैलरी मिल सकती है। हमें पूरी उम्मीद है कि हमारे द्वारा दी गई सारी जानकारी आपके लिए उपयोगी रही होगी। 

इसलिए अंत में हमारी आपसे छोटी सी रिक्वेस्ट है कि हमारे इस पोस्ट को अपने उन सभी दोस्तों के साथ भी शेयर करें जो 12वीं के बाद बीजेएमसी कोर्स (BJMC Course)  कैसे करें पूरी डिटेल्स ढूंढ रहे हैं।

Leave a Reply