बीएड कोर्स (B.Ed Course) कैसे करे पूरी जानकारी

बीएड कोर्स: शिक्षक हमारे समाज के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होते हैं क्योंकि उनके द्वारा दी गई शिक्षा के माध्यम से बच्चों का मानसिक विकास होता है और इसके साथ-साथ उनके ज्ञान में भी काफी वृद्धि होती है जिसका प्रयोग करके वह अपने जीवन में डॉक्टर, इंजीनियर, पुलिस ऑफिसर, वकील इत्यादि बनते हैं। तो वहीं कुछ ऐसे छात्र भी होते हैं जो अपने किसी टीचर से इंस्पायर्ड होकर स्वयं भी टीचर बनना चाहते हैं। या फिर उनका एक सपना होता है कि वह भी अपने समाज में एक शिक्षक बनें और समाज निर्माण में देश की सहायता करें। 

अगर आप भी शिक्षक बनना चाहते हैं तो बता दे कि उसके लिए आपको बीएड कोर्स (b.ed) करना होगा। लेकिन अगर आपको इसके बारे में जानकारी नहीं है तो आप हमारे इस लेख को अवश्य पढ़ें क्योंकि हम आज आपको यह जानकारी देंगे कि एक टीचर बनने के सपने को आप कैसे पूरा कर सकते हैं। इसलिए हमारे आर्टिकल को अंत तक पढ़ें।

बीएड कोर्स

Contents

बीएड कोर्स क्या है (What is B.Ed Course in Hindi)

बीएड का पूरा पूरा नाम बैचलर ऑफ एजुकेशन (Bachelor of Education) है और यह शिक्षक बनने के लिए एक प्रोफेशनल डिग्री है। इसके अलावा यह भी बता दें कि यह 2 साल का कोर्स होता है जिसमें आपको इस बात की ट्रेनिंग दी जाती है कि आप एक अच्छे टीचर कैसे बन सकते हैं और किस प्रकार बच्चों को पढ़ा सकते हैं। अगर आप टीचिंग के फील्ड में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं तो आपको इसके लिए बीएड (b.ed) का कोर्स करना अनिवार्य है क्योंकि यह कोर्स करने के बाद ही आप स्कूल में बच्चों को शिक्षा दे सकेंगे। लेकिन इस कोर्स में दाखिला लेना आसान नहीं है क्योंकि इसमें उम्मीदवारों का एंट्रेंस एग्जाम होता है जिसको क्लियर करना आसान नहीं होता है लेकिन असंभव भी नहीं है।

बीएड कोर्स का वर्तमान परिदृश्य क्या है (What is the current scenario of B.Ed course)

वर्तमान में बीएड कोर्स का काफी अधिक महत्व है क्योंकि इस कोर्स को करने के बाद कैंडिडेट को एक अच्छी नौकरी मिल जाती है। यहां आपको बता दें कि बीएड यानी बैचलर ऑफ एजुकेशन कोई भी कैंडिडेट ग्रेजुएशन करने के बाद कर सकता है। मौजूदा समय में यह एक बहुत ही पॉपुलर कोर्स बन चुका है और इसीलिए बहुत सारे छात्र अपना ग्रेजुएशन पूरा करने के बाद बीएड के लिए दाखिला लेने की कोशिश करते हैं। एक टीचर बनने के बाद कोई भी कैंडिडेट नौकरी के लिए बिल्कुल भी परेशान नहीं होता है क्योंकि उसके सामने कैरियर के एक नहीं अनेकों ऑप्शन आ जाते हैं।  

बीएड कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा (Entrance test for B.Ed course)

यदि आपने शिक्षक बनने का सोच लिया है तो आपको बता दें कि इसके लिए आपको बीएड में एडमिशन लेना होगा जिसके लिए आपको इसके लिए रखी गई प्रवेश परीक्षा को पास करना होगा जैसे- RIE CEE , CUCET, TSEd CET, APEd CET, BEET Exam, IGNOU BEd entrance test  इत्यादि नेशनल लेवल की परीक्षाओं में से किसी एक को पास करना होगा। 

यहां आपको जानकारी के लिए बता दें कि अगर आप इन परीक्षाओं में पास हो जाएंगे तभी आपको भारत के किसी कॉलेज या यूनिवर्सिटी में बीएड की पढ़ाई करने के लिए दाखिला मिलेगा। इसके अलावा आपको यह जानकारी भी दे दें कि अगर कोई कैंडिडेंट बीएड की एंट्रेंस परीक्षा में सफल नहीं हो पाता है तो फिर वह किसी प्राइवेट संस्थान से अपना कोर्स कर सकता है। लेकिन प्राइवेट कॉलेज से अगर आप अपना कोर्स करेंगे तो उसके लिए आपको काफी फीस देनी पड़ सकती है। इसलिए आप कोशिश करें कि आप किसी सरकारी यूनिवर्सिटी और कॉलेज से ही बीएड कोर्स करें।

बीएड कोर्स के लिए प्रवेश प्रक्रिया क्या है (What is the admission process for B.Ed course)

बीएड कोर्स करने के लिए आपको सबसे पहले 12वीं कक्षा पास करनी होगी। और 12वीं के बाद आप फिर किसी कॉलेज या यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन करें। साथ ही इस  बात का ध्यान रखें कि ग्रेजुएशन में आपको कम से कम 50% अंक लाने होगे। उसके बाद आप फिर उन कॉलेज या यूनिवर्सिटी में जाएं जहां से बीएड कोर्स कराया जाता है और इसके बारे में सारी जानकारी हासिल करें। साथ ही यह भी जानें कि इसके लिए आपको कौन सी प्रवेश परीक्षा में भाग लेना होगा। 

यहां आपको जानकारी के लिए बता दें कि इसके लिए आपको नेशनल लेवल की प्रवेश परीक्षा को पास करना होगा। इसके अलावा ऐसे बहुत से कॉलेज हैं जो अपना स्वयं का एंट्रेंस एग्जाम रखते हैं। इसलिए आप अच्छी तरह से जानकारी हासिल कर लें और बीएड के लिए आयोजित प्रवेश परीक्षा में भाग लें। अगर आप इस प्रवेश परीक्षा में पास हो जाते हैं तो आपको फिर b.ed के लिए 2 वर्षीय पाठ्यक्रम में दाखिला दे दिया जाता है। 

बीएड कोर्स के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए (What should be the qualification for B.Ed course)

  • कैंडिडेट ने किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से स्नातक किया हो।
  • छात्र ने ग्रेजुएशन में मिनिमम 50% अंक लिए हो। 

बीएड कोर्स की फीस कितनी है (How much is the B.Ed. course fee)

बीएड जैसे फेमस कोर्स को करने के लिए आपको एक फीस देनी होती है लेकिन यहां आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस कोर्स की फीस केवल इस बात के ऊपर निर्भर करती है कि आप किस संस्थान या कॉलेज कॉलेज में दाखिला लेकर इस कोर्स को करना चाहते हैं। 

यहां आपको बता दें कि आपकी फीस पूरी तरह से इस बात के ऊपर डिपेंड करती है कि आपका कॉलेज प्राइवेट है या फिर सरकारी। इसके अलावा बहुत से छात्र ऐसे होते हैं जो डिस्टेंस एजुकेशन के द्वारा बीएड करते हैं जिसके लिए उन्हें रेगुलर के मुकाबले काफी कम फीस देनी पड़ती है। वैसे आपकी जानकारी के लिए हम बता दें कि आपको बीएड करने के लिए 20 हजार रुपए से लेकर 70 हजार रुपए तक की फीस का भुगतान करना पड़ सकता है। लेकिन आपको सही अनुमान तभी होगा जब आप अपने यूनिवर्सिटी या कॉलेज का चुनाव कर लेंगे।

भारत में बीएड कोर्स करने के लिए कॉलेज (College to do B.Ed course in India)

  • लेडी श्री राम कॉलेज फॉर वूमेन (Lady Shri Ram College for women)
  • बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी (Banaras Hindu University)
  • जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी (Jamia Millia Islamia University)
  • विजय टीचर्स कालेज (Vijaya teachers college)
  • कस्तूरी राम कॉलेज ऑफ हायर एजुकेशन (Kasturi Ram college of Higher Education)
  • बॉम्बे टीचर्स ट्रेनिंग कॉलेज (Bombay Teachers Training college)
  • अल अमीन कॉलेज ऑफ एजुकेशन (Al Ameen college of Education)
  • लेडी इरविन कॉलेज (Lady Irwin College)
  • एमिटी इंस्टिट्यूट ऑफ एजुकेशन (Amity Institute of Education)
  • दिल्ली यूनिवर्सिटी (Delhi University)
  • डॉक्टर एमजीआर एजुकेशनल एंड रिसर्च सेंटर (Doctor MGR Educational and Research Centre)

बीएड कोर्स का पाठ्यक्रम/ सब्जेक्ट्स क्या-क्या है (What are the syllabus / subjects of B.Ed course)

बीएड कोर्स में आपको वह सारे सब्जेक्ट पढ़ाया जाते हैं जो आपके व्यक्तित्व को और अधिक निखार दें और इसके साथ-साथ आपके ज्ञान को भी बढ़ा दें ताकि आप बच्चों को बहुत ही बेहतरीन तरीके से पढ़ाई करवा सकें और उन्हें एक जिम्मेदार नागरिक बनाने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाएं। यहां हम आपको बीएड का पाठ्यक्रम बता रहे हैं जो कि निम्नलिखित है –

  • चाइल्डहुड एंड ग्रोइंग अप (Childhood and Growing Up)
  • लर्निंग एंड टीचिंग (Learning and Teaching)
  • अंडरस्टैंडिंग डिसीप्लाइंस एंड सब्जेक्ट्स (Understanding Disciplines and Subjects)
  • पेडागोजी ऑफ ए स्कूल सब्जेक्ट (Pedagogy of a School Subject)
  • ड्रामा एंड आर्ट इन एजुकेशन (Drama and Art in Education)
  • नॉलेज एंड करिकुलम (Knowledge and Curriculum)
  • क्रिएटिंग एंड इंक्लूसिव स्कूल (Creating an Inclusive School)
  • कंटेंपरेरी इंडिया एंड एजुकेशन (Contemporary India and Education)
  • लैंग्वेज एक्रॉस थे करिकुलम (Language Across the Curriculum)
  • जेंडर स्कूल एंड सोसाइटी (Gender School and Society)
  • रीडिंग एंड रिफ्लेक्टिंग ऑन टेक्स्ट (Reading and Reflecting on Texts)
  • क्रिटिकल अंडरस्टैंडिंग ऑफ आईसीटी (Critical understanding of ICT) 
  • एसेसमेंट फॉर लर्निंग (Assessment for Learning)
  • हेल्थ, योगा एंड फिजिकल एजुकेशन (Health, Yoga and Physical Education)

बीएड कोर्स के बाद कैरियर संभावनाएँ क्या है (What are the career prospects after B.Ed course)

बीएड कोर्स करने के बाद आपके पास नौकरी करने के बहुत सारे अवसर होंगे। बता दें कि आप इस 2 वर्षीय कोर्स को करने के बाद आप निम्नलिखित क्षेत्रों में नौकरी कर सकते हैं-

  • किसी भी स्कूल में टीजीटी टीचर बन सकते हैं। 
  • आप किसी कोचिंग में टीचिंग कर सकते हैं। 
  • किसी संस्थान में शिक्षा सलाहकार।
  • आप रिसर्च एंड डेवलपमेंट एजेंसियों के साथ काम कर सकते हैं।
  • आप अपना स्वयं का नर्सरी स्कूल भी खोल सकते हैं।
  • अपना स्वयं का निजी कोचिंग भी शुरू कर सकते हैं।
  • आप एक शोधकर्ता एवं सामग्री लेखक के तौर पर भी काम कर सकते हैं। 
  • किसी पब्लिशिंग हाउस में भी सारे कर सकते हैं।
  • स्कूल या कॉलेज में भी आपको नौकरी मिल सकती है और इसके अलावा और भी बहुत सारे क्षेत्र है जहां पर आप b.ed  के बाद नौकरी कर सकते हैं। 

बीएड कोर्स के बाद वेतन कितनी मिलती है (How much does salary get after BEd course)

अब आपके मन में यह बात अवश्य आ रही होगी कि एक शिक्षक बनने के बाद आप हर महीना इतना कमा सकते हैं। तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस कोर्स को करने के बाद आप अगर किसी स्कूल में टीचर बन जाते हैं तो आपको सालाना 2.5 लाख रुपए से लेकर 3.5 लाख रुपए का वेतन प्राप्त कर सकते हैं। वही आपको बता दें कि बाद में जैसे-जैसे आप इस क्षेत्र में अनुभवी हो जाएंगे तो आपका वेतनमान और भी अधिक हो जाएगा। 

बीएड कोर्स के बाद प्राइवेट सेक्टर में जॉब्स (Jobs in private sector after B.Ed course)

बीएड कोर्स करने के बाद आप अगर आप किसी प्राइवेट सेक्टर में जॉब करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको बता दें कि आप किसी प्राइवेट स्कूल में टीचर बन सकते हैं, या फिर अगर आप चाहें तो आप किसी कोचिंग को ज्वाइन कर सकते हैं। इसके अलावा पब्लिशिंग हाउस, लेखक, शिक्षा सलाहकार इत्यादि के पद पर नौकरी कर सकते हैं। अगर आपके अंदर अच्छे टीचर के गुण है तो आप b.ed करने के बाद नौकरी के लिए बिल्कुल भी परेशान नहीं होंगे। 

बीएड कोर्स के बाद गवर्नमेंट सेक्टर में जॉब्स (Jobs in government sector after B.Ed course)

अगर आप बीएड करने के बाद किसी गवर्नमेंट सेक्टर में जॉब करना चाहते हैं तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आप किसी भी सरकारी स्कूल में शिक्षक की नौकरी के लिए आवेदन दे सकते हैं जहां पर आप पहली कक्षा से लेकर 12वीं तक के बच्चों को पढ़ा सकते हैं। इसके साथ-साथ आप सरकारी संस्थान में सलाहकार का काम भी कर सकते हैं। आप डीन बन सकते हैं और इसके अलावा भी विभिन्न सरकारी संस्थानों में भी नौकरी के लिए आवेदन दे सकते हैं। 

निष्कर्ष 

दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिकल जिसमें हमने आपको बीएड कोर्स क्या है B.Ed Course कैसे करें पूरी जानकारी के बारे में बताया। इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपको यह जानकारी दी कि आप किस प्रकार अपने शिक्षक बनने के सपने को बहुत सरलता के साथ पूरा कर सकते हैं। हमने आपको उन कॉलेजों के नाम भी बताएं जहां से आप b.ed कोर्स की पढ़ाई कर सकते हैं और साथ ही हमने यह जानकारी भी दी कि आपको यह कोर्स करने के लिए कितनी फीस देनी पड़ सकती है। 

इसके अलावा हमने आपको यह जानकारी भी दी की अगर आप बीएड कोर्स सफलतापूर्वक कर लेते हैं तो आपको हर महीने कितना वेतन मिल सकता है। इसके अलावा इससे संबंधित अन्य जानकारी भी हमने आपको दे दी है जो कि आपके लिए काफी उपयोगी रहेगी। अंत में आपसे हमारा बस इतना निवेदन है कि अगर आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे दूसरे लोगों के साथ भी शेयर करें।

Leave a Reply