बीबीए कोर्स (BBA Course) कैसे करे पूरी जानकारी

बीबीए कोर्स का फुल फॉर्म है बैचलर ऑफ़ बिज़नेस एडमिनिस्ट्रेशन यह एक ग्रेजुएशन यानी स्नातक कोर्स है, यह तीन साल का कोर्स होता है | जिसे विद्यार्थी बारहवीं कक्षा के पश्चात कर सकते है। इस कोर्स को करने की हर जगह माँग चल रही है।  बारहवीं कक्षा के छात्र  विज्ञान और वाणिज्य विषय में उत्तीर्ण करने  के पश्चात बीबीए का कोर्स कर सकते है। आप अगर बिज़नेस संबंधी क्षेत्रों में सफलता प्राप्त करना चाहते है तो अवश्य बीबीए कोर्स करे।  

आजकल के इस प्रतिस्पर्धा वाले  माहौल में छात्र अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन देते है, ताकि उनका दाखिला अच्छे कोर्स और कॉलेज में हो सके , जिसके लिए वह कड़ी मेहनत के साथ अच्छी तैयारी करते है। जिन छात्रों को बिज़नेस यानी व्यापार से जुड़े  तथ्यों और विषय में रूचि है , उन्हें बीबीए का कोर्स ज़रूर करना चाहिए।  आज हम इस लेख के माध्यम से बीबीए से संबंधित सारी जानकारी  जैसे कि कोर्स फीस, अच्छे कॉलेज और बीबीए करने के बाद के करियर के बारे में बताएँगे।

बीबीए कोर्स (BBA Course) कैसे करे

बीबीए कोर्स विषय / पाठ्यक्रम

हर ग्रेजुएशन कोर्स की तरह, यह कोर्स भी तीन वर्ष का होता है। आजकल ग्रेजुएशन यानी स्नातक की पढ़ाई समेस्टर के अनुसार होती है। बीबीए कोर्स कुल मिलाकर छह सेमेस्टर का होता है। अगर आप बीबीए कोर्स करने का मन बना चुके है तो एक नज़र उन विषयों पर डाले जो आपको इस कोर्स के दौरान पढ़ाया जाएगा :

  • प्रिंसिपल ऑफ़ मैनेजमेंट 
  • बिज़नेस गणित और स्टेटिस्टिक 
  • बिज़नेस इकोनॉमिक्स 
  • फ़ाइनेंशियल एकाउंटिंग 

प्रोडक्शन और मटेरियल , मार्केटिंग मैनेजमेंट , बिज़नेस लॉज़ , बिज़नेस डेटा अध्ययन ,ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट , बिज़नेस एनालिटिक्स , माइक्रो इकोनॉमिक्स , सोशियोलॉजी , साइकॉलॉजी इत्यादि विषय है , जिसे पढ़ना और समझना अनिवार्य है। 

Also read: बीसीए कोर्स क्या है BCA कैसे करे जानिये पूरी जानकारी

बीबीए कोर्स के विभिन्न क्षेत्र (Various fields of BBA course)

आप अपनी रूचि के अनुसार अपना बीबीए कोर्स विभिन्न क्षेत्रों में कर सकते है। आप निम्नलिखित क्षेत्रों में से किसी एक क्षेत्र में बीबीए कोर्स कर सकते है

  • बीबीए इन बिज़नेस 
  • बीबीए इन इंटरनेशनल बिज़नेस 
  • बीबीए इन कंप्यूटर एप्लीकेशन 
  • बीबीए इन फाइनेंस 
  • बीबीए इन हॉस्पिटैलिटी , ह्यूमन रिसोर्सेज , इनफार्मेशन सिस्टम , टूरिज्म , मार्केटिंग , मैनेजमेंट इत्यादि।

फीस

अन्य प्रोफेशनल कोर्स की तुलना में बीबीए कोर्स की फीस अधिक होती है। अगर आप बीबीए की प्रवेश परीक्षा अच्छे से उत्तीर्ण की तब आप गवर्नमेंट यानी सरकारी कॉलेज में दाखिला ले सकते है , वहाँ एडमिशन फीस और कोर्स फीस कम होती है।  अगर आप अधिक एडवांस कोर्स और  भारत के सर्वश्रेष्ठ कॉलेज और इंस्टिट्यूट में दाखिला लेना चाहते है , तब आपको मोटी कीमत चुकानी पड़ती है।  प्राइवेट कॉलेज में बीबीए कोर्स की पढ़ाई करने के लिए तक़रीबन डेढ़ से तीन लाख तक का खर्चा आता है।

बीबीए कोर्स के लिए योग्यता ( Eligibility Criteria )

कोर्स के लिए विद्यार्थी को उच्च माध्यमिक परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त करने होंगे। ज़्यादातर  कॉलेजों में बीबीए कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा आयोजित की जाती है , तब विद्यार्थी को निश्चित तौर पर एडमिशन परीक्षा उत्तीर्ण करनी होंगी, तभी कॉलेज में दाखिला मुमकिन है। अच्छे और चर्चित कॉलेज बिना प्रवेश परीक्षा के दाखिला नहीं देते है।

बीबीए कोर्स करने के लिए विद्यार्थी को बारहवीं में न्यूनतम पच्चास प्रतिशत या उससे ऊपर अंक लाने की ज़रूरत है।  कुछ लोकप्रिय कॉलेज 60 से अधिक परसेंटेज का कट ऑफ रख सकते है।

Also readसॉफ्टवेयर इंजीनियर (Software Engineer) कैसे बनें

बीबीए कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा

बीबीए कोर्स में दाखिला पाने हेतु सबसे पहले आपको प्रवेश परीक्षा यानी एडमिशन टेस्ट पास करना होगा। आज हम विभिन्न प्रकार के प्रवेश परीक्षा के विषय में बताएँगे जिससे आप बीबीए कोर्स के एडमिशन के लिए भली भाँती अपने आपको तैयार कर सके। प्रवेश परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद, आपको रैंक मिलेगा।  आपको अपनी योग्यता और रैंक के अनुसार कॉलेज प्राप्त होगा जहाँ आप बीबीए कोर्स कर सकते है।  आप को तीन वर्ष पूरे परिश्रम के साथ इस कोर्स को पूरा करना होगा और अच्छे प्रतिशत भी लाने होंगे ताकि रोज़गार के अच्छे अवसर मिले।

भारत में अलग-अलग कॉलेजों में बीबीए कोर्स के प्रवेश प्रक्रियाएँ भी अलग अलग होती है। निम्नलिखित प्रवेश परीक्षाएँ है जो इस प्रकार है :

सीधा एडमिशन: कुछ कॉलेजो में सीधा विद्यार्थी को दाखिला दिया जाता है।  वहाँ पर विद्यार्थी को एडमिशन टेस्ट नहीं देना पड़ता है।  उनके बारहवीं परीक्षा के नतीजे यानी उन्हें कितने प्रतिशत प्राप्त हुए है, उस को ध्यान में रखकर कॉलेज प्रशासन निर्णय लेते है। लेकिन आपको इस बारें में जागरूक रहना चाहिए कि जिस कॉलेज में आप दाखिला पाना चाहते है उसका किस बोर्ड के अंतर्गत एफ़ीलेशन है ?

SET: SET का फुल फॉर्म है सिम्बायोसिस एंट्रेंस टेस्ट है।  यह परीक्षा विश्वविद्यालय के स्तर पर होती है , जिसे सिम्बायोसिस इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी द्वारा आयोजित किया जाता है। यह सिम्बायोसिस इंस्टिट्यूट द्वारा निर्धारित प्रवेश प्रक्रिया है , जो बीबीए  , BA जैसे  कोर्स के दाखिले के लिए करवाई जाती है।

AIMA UGAT: एक अंडर ग्रेजुएट एप्टीटुड टेस्ट है जो नेशनल स्तर पर आयोजित किया जाता था।  यह टेस्ट ज़्यादतर सारे बीबीए कॉलेजों द्वारा आयोजित किया जाता है। इस टेस्ट  में सभी प्रकार के स्नातक कोर्स  जैसे BBA, BHM , BCA, Bcom इत्यादि    का भी एडमिशन एप्टीटुड टेस्ट होता है।  इस टेस्ट को पास करने के पश्चात विद्यार्थी को दाखिला मिलता है।

आपको इस बात की पुष्टि करनी होगी कि आपके कॉलेज AICTE अप्रूवल हो। ज़्यादातर कॉलेज इसी का एफिलेशन होता है फिर भी इसकी जांच कर ले।

Also read: साइबर सिक्योरिटी कोर्स(cyber security course) कैसे करे

भारत में बीबीए कोर्स कॉलेज 

भारत के सर्वश्रेष्ठ और नाम चीन कॉलेजों के नाम इस प्रकार है , जहाँ आप  बीबीए के लिए एडमिशन ले सकते है :

  • नरसी मोंजी इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट स्टडीज ( मुंबई )
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट ( रोहतक )
  • चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी 
  • IBSICFAI फाउंडेशन फॉर हायर एजुकेशन
  • कीट स्कूल ऑफ़ मैनेजमेंट ( भुबनेश्वर )
  • एमिटी ग्लोबल बिज़नेस स्कूल ( नॉएडा )
  • अलायन्स  यूनिवर्सिटी ( बैंगलोर )
  • इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट , निरमा यूनिवर्सिटी ( अहमदाबाद )
  • इन्द्रप्रस्ठ इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी एंड मैनेजमेंट ( नई दिल्ली )
  • ज़ेवियर यूनिवर्सिटी भुबनेश्वर
  • वेल्लोर यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी ( वेल्लोर )
  • मद्रास क्रिस्चियन कॉलेज 
  • भारती विद्यापीठ इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट  एंड रिसर्च ( नई दिल्ली )
  • सुखदेव कॉलेज ऑफ़ बिज़नेस स्टडीज ( नई दिल्ली ) इत्यादि। 

हालांकि आप अपने शहर के नामचीन कॉलेज या यूनिवर्सिटी में भी एड मिशन ले सकते है।  लेकिन उपर्युक्त दिए गए सारे कॉलेजों में से अगर आप बीबीए कोर्स  करते है तो इससे आपके सर्टिफिकेट की महत्वता बढ़ जायेगी। अच्छे यूनिवर्सिटी से उत्तीर्ण होने पर भविष्य में आप अच्छे जगह पर कार्यरत हो सकते है।

बीबीए कोर्स के बाद कैरियर संभावनाए

बीबीए कोर्स समाप्त करने के पश्चात, आप अपने योग्यता के अनुसार नौकरी प्राप्त कर सकते है।  आपको बिज़नेस और मैनेजमेंट कंपनी में अच्छी नौकरी मिल सकती है।  आप में अगर वाकई हुनर है और आप बिज़नेस स्किल्स में माहिर है, तब आपको सरकारी और प्राइवेट नौकरी आसानी से मिल सकती है।

आप बहुत सारे कंपनी में hr  मैनेजर बनकर कार्य कर सकते है और निम्नलिखित पदों पर कार्य कर सकते है

  • फाइनेंस मैनेजर 
  • hr रिक्रूइटेर 
  • बिज़नेस एंड मैनेजमेंट कंसलटेंट 
  • फाइनेंस एंड रिसर्च एनालिस्ट 
  • ह्यूमन रिसोर्स मैनेजर 
  • रिसर्च डेवलपमेंट मैनेजर
  • मार्केटिंग मैनेजर इत्यादि। इसके आलावा आप निजी बैंक और आईटी कंपनियों में भी अच्छे पदों पर कार्य कर सकते है।

वेतन

बीबीए करने के बाद आप प्राइवेट कंपनी में नौकरी कर सकते है।  जितना आपका बिज़नेस क्षेत्रों के विषय में ज्ञान होगा आपके इंटरव्यू प्रदर्शन जितना अच्छा होगा |  उतना ही आपको पद और वेतन दिए जाएँगे। आप सोलह हज़ार से बीस हज़ार तक  के वतन से शुरूआती नौकरी कर सकते है। अगर आप बीबीए के बाद कुछ अवांस्ड बिज़नेस क्षेत्र से संबंधित कोर्स करते है तो निश्चित तौर पर पच्चीस से तीस हज़ार तक की नौकरी कर सकते है। आप सालाना दो से चार लाख रूपए प्राप्त कर सकते है। नामचीन कंपनी जैसे कॉग्निजेंट, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज जैसे कंपनी में बीबीए स्नातकों के लिए बेहतर नौकरी करने के अवसर मौजूद है।

Also readपॉलिटेक्निक कोर्स (Polytechnic Course) कैसे करें

प्राइवेट क्षेत्र की नौकरी

अगर आपको अच्छी कंपनी में नौकरी चाहिए तो आपको निश्चित तौर पर मार्केटिंग स्किल्स के ज्ञान के साथ चुनौतियों को समझने कि और न्याय लेने की बेहतरीन क्षमता की भी ज़रूरत है। आजकल प्राइवेट सेक्टर में मैनेजमेंट से जुड़े लोगो को अच्छा वेतन और पैकेज प्रदान करते है। 

अगर बीबीए करने के लिए बाद आप बिज़नेस में postgraduatation का कोर्स करते है तब आपको इन क्षेत्रों में कार्य करने का मौक़ा मिलता है जैसे – विज्ञापन कंपनी , एविएशन कंपनी , कंसल्टेंसी , डिजिटल मार्केटिंग , फाइनेंस , आईटी , इन्शुरन्स , मीडिया , टूरिज्म , बैंकिंग ,एंटरटेनमेंट , एविएशन  जैसे क्षेत्रों में कार्य कर सकते है।

सरकारी क्षेत्र की नौकरी 

गवर्नमेंट कंपनी में निजी कंपनियों की तुलना में ज़्यादा वेतन नहीं होता है।  गवर्नमेंट कंपनी में काम का दबाव निजी कंपनियों की तुलना में कम होता है। गवर्नमेंट बैंकिंग सेक्टर में प्रोफेशनल लोगो की ज़रूरत होती है जहाँ कैंडिडेट अप्लाई कर सकते है। बहुत सारे गवर्नमेंट कंपनी में एकाउंट्स और फाइनेंस क्षेत्रों को संभालने के लिए बीबीए ग्रेजुएट की ज़रूरत होती है। अगर आप व्यापार कौशल और योजना बनाने की क्षमता है तब आप आपका गवर्नमेंट सेक्टर में एक बेहतर भविष्य बना सकते है।

यह कुछ नामचीन गवर्नमेंट सेक्टर है जहाँ बीबीए ग्रेजुएट की तलाश रहती है डिफेन्स रिसर्च एंड डेवलपमेंट आर्गेनाइजेशन , इसरो , भारत हैवी इलेक्ट्रिकल लिमिटेड कंपनी , स्टील अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया लिमिटेड इत्यादि।

बीबीए कोर्स के टॉप रिक्रूटर्स

बहुत सारे प्रसिद्ध कंपनी बीबीए ग्रेजुएट को अपने कंपनियों में रोजगार देते है और अक्सर ऐसे ग्रेजुएट की तलाश में रहते है। आज हम कुछ भारत के लोकप्रिय रिक्रूटर के नाम बताने जा रहे है | 

  • हिंदुस्तान यूनिलीवर 
  • आईसीआईसीआई 
  • माइक्रोसॉफ्ट, सोनी, TCS, कपजेमिनी, एक्सेंचर, इत्यादि है जो बीबीए ग्रेजुएट पेशेवरों को उच्च वेतन प्रदान करते है।

बीबीए कोर्स करने के लाभ

बीबीए कोर्स करने के बाद अपनी योग्यता के अनुसार सरकारी और गैर सरकारी नौकरी कर सकते है।  अगर आप बीबीए करने के बाद MBA कर लेते है जिसे करने के पश्चात बिज़नेस, मैनेजमेंट और फाइनेंस कंपनी में अच्छी नौकरी कर सकते है।  इस कोर्स को करके कॉर्पोरेट जगत के सारे दुनिया और बिज़नेस आइडियाज को समझ पाएँगे। बीबीए कोर्स छात्रों को सॉफ्टवेयर के साथ कॉर्पोरेट जगत के सारे स्किल्स और कम्युनिकेशन स्किल्स बहुत अच्छी हो जाएगी |

निष्कर्ष 

आशा है, बीबीए कोर्स से संबंधित सारे डिटेल्स अपने जान लिए है। एक अच्छे कॉलेज से बीबीए कोर्स करने के बाद लोकप्रिय कंपनियों में कार्य कर पाएँगे और अपने जॉब प्रोफाइल को मज़बूत बना पाएँगे। बीबीए कोर्स करके बिज़नेस दुनिया के सूक्ष्म चीज़ो को समझ पाएँगे और कम्युनिकेशन में गजब के हुनर जाएंगे, जिससे कि आप बिज़नेस संबंधी निर्णय सूझ बुझ से ले पाए और अपने भविष्य को उज्जवल कर सकेंगे

Leave a Reply