बीए एलएलबी कोर्स (BA LLB Course) कैसे करें पूरी जानकारी

नमस्कार! After 12th में आपका स्वागत है। दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे बीए एलएलबी कोर्स (BA LLB Course)  कैसे करें पूरी जानकारी। जो छात्र अपनी 12वीं की पढ़ाई पूरी करने के बाद एडवोकेट या फिर लॉयर बनना चाहते हैं तो उनके लिए बीए एलएलबी कोर्स बेस्ट है। 

इस प्रोग्राम की सबसे विशेष बात यह है कि इसमें किसी भी स्ट्रीम के स्टूडेंट्स एडमिशन ले सकते हैं। लेकिन बहुत से विद्यार्थियों को यह मालूम नहीं होता कि वह किस तरह से इस कोर्स को ज्वाइन कर सकते हैं। इसी वजह से छात्रों का एडवोकेट बनने का सपना पूरा नहीं हो पाता। 

अगर आप भी एक ऐसे स्टूडेंट हैं जो 12वीं के बाद बीए एलएलबी कोर्स करना चाहते हैं और उसके बारे में आपको जानकारी नहीं है। तो सारी डिटेल जानने के लिए हमारे आज के इस पोस्ट को सारा पढ़ें और जानें लॉयर बनने की पूरी प्रक्रिया। 

Contents

बीए एलएलबी कोर्स क्या है (what is BA LLB course in Hindi)

यहां सबसे पहले आपको हम बता दें कि बीए एलएलबी (BA LLB) का फुल फॉर्म बैचलर ऑफ आर्ट्स – बैचलर ऑफ लेजिसलेटिव लॉ (Bachelor of Arts – Bachelor of Legislative Law) है। यह एक ऐसा कोर्स है जिसमें छात्रों को कानूनी पढ़ाई करवाई जाती है। 

इस प्रकार से कैंडिडेट जब इस प्रोग्राम को पूरा कर लेते हैं तो वह एक प्रोफेशनल एडवोकेट के तौर पर काम कर सकते हैं। यहां आपको बता दें कि इस पाठ्यक्रम में डिग्री हासिल करने के बाद छात्रों को नौकरी के भी काफी बेस्ट ऑप्शन मिल जाते हैं। इसीलिए आज बहुत से छात्र 12वीं के बाद बीए एलएलबी कोर्स करने को प्राथमिकता देते हैं। 

अवधि (duration)

अब यहां आपकी जानकारी के लिए बता दें कि 12वीं के बाद बीए एलएलबी की अवधि 5 साल की होती है। इस प्रकार से कोर्स को 10 सेमेस्टर में डिवाइड किया गया है। जब स्टूडेंट्स सभी सेमेस्टर्स में पास हो जाते हैं तो तब उनको संबंधित क्षेत्र में डिग्री दे दी जाती है। 

बीए एलएलबी कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा (entrance test for BA LLB course)

जो छात्र एडवोकेट बनना चाहते हैं इसके लिए उन्हें बीए एलएलबी कोर्स में एडमिशन लेने के लिए प्रवेश परीक्षा को क्रेक करना पड़ता है। इस कोर्स में दाखिला लेने के लिए जो सबसे ज्यादा पॉपुलर एंट्रेंस टेस्ट है उनके नाम हम निम्नलिखित बता रहे हैं –

  • एआईएलईटी  (AILET) 
  • क्लैट (CLAT) 
  • एलएसएटी (LSAT) 
  • एमएच सीईटी लॉ (MH CET Law) 
  • एआईएलईटी (AILET) 

बीए एलएलबी कोर्स के लिए प्रवेश प्रक्रिया क्या है (what is the admission process for BA LLB course)

बीए एलएलबी कोर्स करने के लिए जो प्रक्रिया छात्रों को फॉलो करनी होती है उसके बारे में जानकारी इस प्रकार से है – 

  • इसके लिए छात्रों को सबसे पहले चाहिए कि वह यह निर्णय लें कि उनको कौन से कॉलेज में दाखिला लेना है।
  • उसके बाद संबंधित कॉलेज की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर छात्र अपना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवा दें। 
  • ध्यान रहे कि आवेदन जमा करते समय अपनी पूरी जानकारी ठीक प्रकार से भरें। 
  • उसके बाद फिर छात्रों को एंट्रेंस टेस्ट के लिए बुलाया जाता है। 
  • इस प्रकार से जो स्टूडेंट्स एंट्रेंस एग्जाम में सफल हो जाते हैं उन्हें उनके फेवरेट कॉलेज में लॉ की पढ़ाई करने के लिए एडमिशन मिल जाता है।  

बीएएलएलबी कोर्स के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए (what should be the qualification for BA LLB course)

बीए एलएलबी कोर्स करने के लिए किसी भी छात्र में निम्नलिखित योग्यता होना जरूरी है – 

  • विद्यार्थी ने किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं कक्षा पास की हो।
  • छात्र ने 12वीं में 50% तक अंक हासिल किए हों। 
  • कैंडिडेट की आयु 18 साल या फिर उससे ज्यादा होनी चाहिए।
  • रिप्यूटेड कॉलेज में दाखिला लेने के लिए जरूरी है कि छात्र प्रवेश परीक्षा को पास करें। 
  • कंप्यूटर की जानकारी होने के साथ-साथ विद्यार्थी के कम्युनिकेशन स्किल्स भी अच्छे होने चाहिए। 
  • कैंडिडेट के अंदर कॉन्फिडेंस होने के साथ-साथ उसके अंदर रिसर्च स्किल्स और कन्विंसिंग स्किल्स भी होने चाहिए। 
  • छात्र में लंबे टाइम तक काम करने की एबिलिटी होनी चाहिए। 

फीस (Fees) 

जो छात्र बीए एलएलबी कोर्स करना चाहते हैं इसके लिए उन्हें जो फीस देनी होती है वो उनके सिलेक्ट किए गए कॉलेज के ऊपर डिपेंड करती है। आपको बता दें कि हमारे देश में बहुत सारे प्राइवेट और सरकारी लॉ कॉलेज हैं। बता दें कि हर संस्थान की फीस एक-दूसरे से भिन्न हो सकती है। 

बता दें कि अगर स्टूडेंट्स अपनी पढ़ाई के लिए किसी प्राइवेट कॉलेज का चुनाव करते हैं तो तब उन्हें फीस अधिक देनी पड़ती है। लेकिन अगर हम एक एवरेज शुल्क की बात करें तो इसके लिए हर साल एक लाख से लेकर 3 लाख रुपए तक की फीस का भुगतान करना पड़ता है। 

भारत में बीए एलएलबी कोर्स करने के लिए कॉलेज (college to do BA LLB course in India)

भारत में 12वीं के बाद बीए एलएलबी कोर्स करने के लिए जो कॉलेज सबसे बेस्ट हैं उनके नाम इस प्रकार से हैं – 

  • दिल्ली यूनिवर्सिटी (Delhi University)
  • यूनिवर्सिटी ऑफ बेंगलुरु (University of Bengaluru)
  • नेशनल लॉ इंस्टीट्यूट यूनिवर्सिटी (National Law Institute University)
  • बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी (Banaras Hindu University) 
  • अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (Aligarh Muslim University) 
  • जामिया मिलिया इस्लामिया (Jamia Millia Islamia)
  • गुजरात नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी (Gujrat National Law University) 
  • क्राइस्ट यूनिवर्सिटी (Christ University)
  • कोलकाता यूनिवर्सिटी (Kolkata University)
  • सिंबोसिस यूनिवर्सिटी (Symbiosis University) 

बीए एलएलबी कोर्स का पाठ्यक्रम/सब्जेक्ट क्या क्या है (what are the syllabus/subjects of BA LLB course) 

अब यहां आपको हम जानकारी के लिए बता दें कि BA LLB प्रोग्राम में छात्रों को जो सिलेबस पढ़ाया जाता है उसके बारे में डिटेल्स इस प्रकार हैं – 

बीए एलएलबी फर्स्ट ईयर सिलेबस

  • लीगल मेथड्स (Legal methods)
  • सोशियोलॉजी (Sociology)
  • हिस्ट्री (History)
  • पॉलिटिकल साइंस (Political science)
  • इकोनॉमिक्स (Economics) 
  • इंग्लिश (English)
  • इंट्रोडक्शन टू लॉ (Introduction to law) 
  • लॉ ऑफ कॉन्ट्रैक्ट (Law of contract)
  • लॉ ऑफ टॉर्ट (Law of tort)
  • जूरिप्रूडेंस (Jurisprudence) 

बीए एलएलबी सेकंड ईयर सिलेबस

  • लॉ ऑफ कॉन्ट्रैक्ट (Law of contract) 
  • सोशियोलॉजी (Sociology)
  • पॉलिटिकल साइंस (Political science)
  • क्रिमिनल लॉ (Criminal law)
  • कॉन्स्टिट्यूशन लॉ (Constitutional law)
  • लॉ ऑफ कॉन्ट्रैक्ट (Law of contract) 
  • फैमिली लॉ (Family law) 
  • कांस्टीट्यूशनल लॉ (Constitutional law)
  • प्रॉपर्टी लॉ (Property law)
  • लेबर लॉ (Labour Law)
  • एनवायरमेंटल लॉ (Environmental law) 

बीए एलएलबी थर्ड ईयर सिलेबस

  • क्रिमिनल लॉ (Criminal law)
  • कॉरपोरेट लॉ (Corporate Law)
  • एडमिनिस्ट्रेटिव लॉ (Administrative law)
  • जूरिप्रूडेंस (Jurisprudence)
  • पब्लिक इंटरनेशनल लॉ (Public international law)
  • लॉ ऑफ एविडेंस (Law of evidence)
  • कनफ्लिक्ट लॉज (Conflict laws)
  • ह्यूमन राइट्स (Human rights)
  • इंटेलेक्चुअल प्रॉपर्टी लॉ (Intellectual property law)
  • कोड आफ सिविल प्रोसीजर (Code of civil procedure) 

बीए एलएलबी फोर्थ ईयर सिलेबस

  • टैक्सेशन (Taxation)
  • लेबर लॉ (Labour Law)
  • एनवायरमेंटल लॉ (Environmental law)
  • ड्राफ्टिंग, प्लीडिंग एंड कन्वेंसिंग (Drafting, pleading and conveyancing) 
  • इंटेलेक्चुअल प्रॉपर्टी राइट्स (Intellectual property rights) 
  • प्रोफेशनल एथिक्स (Professional ethics)

बीए एलएलबी फिफ्थ ईयर सिलेबस

  • प्राइवेट इंटरनेशनल लॉ (Private international law)
  • मर्जर, एक्विस्टेशन एंड कंपटीशन लॉज (Merger, acquisition and competition laws)
  • लॉ ऑफ इक्विटी, ट्रस्ट, सूट इवेलुएशन एंड रजिस्ट्रेशन (Law of equity, trust, suit evaluation and registration)
  • इंटरनेशनल ट्रेड लॉ (International trade law)
  • मूट कोर्ट्स (Moot Courts) 
  • इंटर्नशिप (Internship)
  • सेमिनार पेपर (Seminar paper) 

बीएएलएलबी कोर्स के बाद कैरियर संभावनाएं क्या है (what are the career prospects after BA LLB course)

बीए एलएलबी करने के बाद किसी भी कैंडिडेट के सामने कैरियर की काफी अच्छी संभावनाएं होती हैं जिसमें वो अपना काफी अच्छा भविष्य बना सकते हैं। यहां जानकारी के लिए बता दें कि बीए एलएलबी डिग्री होल्डर को गवर्नमेंट और प्राइवेट दोनों ही जगहों पर नौकरी करने का मौका मिल जाता है। इस प्रकार से कैंडिडेट निम्नलिखित जगह पर काम कर सकते हैं जैसे कि –

  • बैंक्स (Banks)
  • लॉ फर्म्स (Law firms)
  • कॉरपोरेट सेक्टर (Corporate sector)
  • गेल इंडिया (GAIL India)
  • मीडिया हाउसेस (Media houses)
  • कॉरपोरेट सेक्टर (Corporate sector)
  • एनजीओ (NGO) 
  • इंटरनेशनल मार्केट (International market) 
  • गवर्नमेंट लॉयर (Government lawyer) 

वेतन (salary)

जो स्टूडेंट्स अपना कोर्स सफलतापूर्वक पूरा कर लेते हैं उन्हें उनकी योग्यता के आधार पर सैलरी मिलती है। यहां बताते चलें कि उनको जो शुरुआती सैलरी मिलती है वह 25,000 से लेकर 30,000 तक हो सकती है। इसके अलावा बता दें कि जब कैंडिडेट का एक्सपीरियंस बढ़ जाता है तो उसे हर महीने 60,000 रुपए से भी ज्यादा तक सैलरी आसानी से मिल जाती है।

प्राइवेट सेक्टर में जॉब्स (Jobs in private sector)

जो स्टूडेंट्स बीए एलएलबी डिग्री प्राप्त कर लेते हैं उसके बाद उन्हें प्राइवेट सेक्टर में नौकरियों के बहुत सारे अवसर मिल जाते हैं जैसे कि – 

  • लीगल एडवोकेट (Legal advocate)
  • कॉरपोरेट इवेंट एसोसिएट  (Corporate event associate)
  • लीगल काउंसल (Legal Counsel)
  • लीगल एडवाइजर (Legal advisor)
  • कॉरपोरेट लॉयर (Corporate lawyer)
  • एसोसिएट एडवोकेट (Associate advocate) 
  • प्राइवेट लॉयर (Private lawyer) 

गवर्नमेंट सेक्टर में जॉब्स (Jobs in government sector)

जिस प्रकार से कैंडिडेट को प्राइवेट सेक्टर में जॉब करने के चांस मिलते हैं ठीक उसी तरह से उन्हें गवर्नमेंट सेक्टर में भी नौकरी मिल जाती है। इसके लिए समय-समय पर गवर्नमेंट क्षेत्रों में रिक्तियां निकलती रहती हैं। इसलिए कैंडिडेट इच्छुक जॉब निकलने पर अपना आवेदन दे सकते हैं। 

निष्कर्ष

दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिकल बीए एलएलबी कोर्स (BA LLB Course)  कैसे करें पूरी जानकारी। इस लेख के माध्यम से हमने आपको बताया बीए एलएलबी कोर्स क्या होता है? और इसकी अवधि कितनी होती है। साथ ही हमने आपको यह जानकारी भी दी कि इसके लिए प्रवेश परीक्षा और प्रवेश प्रक्रिया क्या रखी गई है। 

इस आर्टिकल में हमने आपको यह जानकारी भी दी कि बीए एलएलबी कोर्स करने के लिए किसी भी छात्र में कितनी योग्यता होनी जरूरी है। इसके अलावा हमने यह भी डिटेल्स दी कि इस पाठ्यक्रम के लिए विद्यार्थियों को कितने रुपए की फीस देनी पड़ती है। इस लेख के द्वारा हमने भारत के टॉप लॉ कॉलेज के बारे में भी जानकारी दी और यह भी डिटेल्स दी कि वहां पर क्या सिलेबस पढ़ाया जाता है। 

साथ ही साथ हमने यह भी बताया कि जो कैंडिडेट अपना कोर्स पूरा कर लेते हैं तो तब उन्हें प्राइवेट और गवर्नमेंट सेक्टर में क्या-क्या नौकरियों की संभावनाएं मिल जाती हैं। हमें पूरी उम्मीद है कि आपको हमारे द्वारा दी गई यह सारी डिटेल्स काफी उपयोगी लगी होंगी। 

इसलिए अंत में हमारी आपसे बस यही रिक्वेस्ट है कि हमारे इस पोस्ट को अपने उन दोस्तों के साथ भी जरूर शेयर करें जो 12वीं के बाद बीए एलएलबी कोर्स करना चाहते हैं।

Leave a Reply