बीएड इंग्लिश कोर्स (B.Ed English Course) कैसे करें पूरी जानकारी

नमस्कार! दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि बीएड इंग्लिश कोर्स (B.Ed English Course) कैसे करें पूरी जानकारी। टीचिंग एक ऐसा प्रोफेशन है जिसमें बहुत सारे युवा जाना चाहते हैं क्योंकि इसमें आकर्षक वेतन के साथ साथ कैंडिडेट को मान सम्मान भी बहुत ज्यादा मिलता है। इसलिए अगर आप शिक्षक बनना चाहते हैं तो इसके लिए आपको बता दें कि इसके लिए अलग-अलग प्रकार के कोर्स होते हैं जिनमें से एक बीएड इंग्लिश कोर्स है। अगर आप भी इस कोर्स करके इंग्लिश टीचर बनना चाहते हैं तो हमारे आज के इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें। 

बीएड इंग्लिश कोर्स

बीएड इंग्लिश कोर्स क्या है (What is B.Ed English Course in Hindi)

यहां आपको बता दें कि बीएड इंग्लिश कोर्स का पूरा नाम बैचलर ऑफ एजुकेशन इन इंग्लिश (bachelor of education in English) है और यह 2 साल का कोर्स है जिसको करने के बाद कैंडिडेट एक टीचर बन जाता है। लेकिन इस कोर्स में हर कैंडिडेट एडमिशन नहीं ले सकता क्योंकि इसके लिए उन्हें एंट्रेंस एग्जाम पास करना होता है। यहां बता दें कि जब कोई कैंडिडेट b.ed इंग्लिश कोर्स को सफलतापूर्वक पूरा कर लेता है तब उसे उसके कैरियर में आगे बढ़ने के बहुत सारे ऑप्शन मिलते हैं। 

Related post: बीएड कोर्स (B.Ed Course) कैसे करे पूरी जानकारी

Related post: बीपीएड कोर्स (B.P.Ed Course) कैसे करें पूरी जानकारी

बीएड इंग्लिश कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा (Entrance test for B.Ed English course)

बीएड इंग्लिश कोर्स के लिए हमारे देश में राज्य स्तर पर परीक्षाएं करवाई जाती हैं जिनमें जो कैंडिडेट सफल हो जाते हैं उन्हें इस पाठ्यक्रम में एडमिशन मिल जाता है। निम्नलिखित हम आपको बता रहे हैं कि भारत में कौन-कौन सी परीक्षाएं b.ed इंग्लिश कोर्स के लिए कंडक्ट करवाई जाती हैं – 

  • इलाहाबाद यूनिवर्सिटी बीएड ऐडमिशन टेस्ट 2021  (Allahabad University B.Ed  Admission Test 2021)
  • एपीईडीसीईटी- प्रदेश एजुकेशन कॉमन एंटरेंस टेस्ट (APEdCET – Andhra Pradesh Education Common Entrance Test)
  • डीयू सीआईई बीएड- सेंट्रल इंस्टिट्यूट ऑफ़ एजुकेशन एंट्रेंस  टेस्ट (DU CIE B.Ed- Central Institute of Education Entrance Test)
  • एचपीयूबीएड टेस्ट- माचल प्रदेश यूनिवर्सिटी बीएड एंट्रेंस टेस्ट (HPU B.Ed. Test- Himachal Pradesh University B.Ed Entrance Test)
  • सीएसएसईटी- कंबाइंड शिक्षा शास्त्री एंट्रेंस टेस्ट फॉर बीएड  (CSSET- Combined Shiksha Shastri Entrance Test for B.Ed)

बीएड इंग्लिश कोर्स के लिए प्रवेश प्रक्रिया क्या है (What is the admission process for B.Ed English course)

यदि आप अपना b.ed इंग्लिश कोर्स किसी अच्छे कॉलेज से करना चाहते हैं तब आपको एंट्रेंस एग्जाम को क्लियर करना होगा। उसके बाद आपको इंटरव्यू और काउंसलिंग के लिए बुलाया जाता है जहां पर आपसे कुछ सवाल जवाब पूछे जाते हैं। इस प्रकार कैंडिडेट को b.ed इंग्लिश कोर्स में एडमिशन मिल जाता है। लेकिन अगर कोई कैंडिडेट एंट्रेंस एग्जाम को क्लियर नहीं कर पाता है तो तब वह अपना कोर्स प्राइवेट या फिर डिजिटल एजुकेशन के माध्यम से भी कर सकता है। साथ ही साथ आपको यह भी बता दें कि कुछ ऐसे कॉलेज भी है जहां पर मेरिट बेस पर b.ed इंग्लिश प्रोग्राम में दाखिला मिल जाता है। 

बीएड इंग्लिश कोर्स के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए (What should be the qualification for B.Ed English course)

  • छात्र ने किसी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से किसी भी विषय में ग्रेजुएशन किया हो। 
  • कैंडिडेट ग्रेजुएशन में 50% अंक हासिल किए हो।
  • एससी और एसटी उम्मीदवारों के स्नातक में 45% अंक होने चाहिए। इन श्रेणियों को 5% अंको की छूट दी गई है। 

फीस (fees)

अब यहां आपको बीएड इंग्लिश कोर्स की फीस के बारे में जानकारी देते हैं तो बता दें कि इसके लिए आपको पूरे कोर्स यानी 2 वर्षीय पाठ्यक्रम के लिए तकरीबन 17 हजार रुपए से लेकर 25 हजार रुपए तक की फीस का भुगतान करना होता है। लेकिन जब आप कॉलेज में एडमिशन के लिए जाएंगे तो आपको सही फीस का अनुमान उस समय ही होगा। 

भारत में बीएड इंग्लिश कोर्स करने के लिए कॉलेज (College to do B.Ed course in India)

  • दिल्ली यूनिवर्सिटी (Delhi University)
  • गुरु गोविंद सिंह इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी (Guru Govind Singh Indraprastha University)
  • लेडी श्री राम कॉलेज फॉर वूमेन (Lady Shri Ram College for women)
  • कस्तूरी राम कॉलेज ऑफ हायर एजुकेशन (Kasturi Ram College of Higher Education) 
  • जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी (Jamia Millia Islamia university 
  • महात्मा गांधी यूनिवर्सिटी (Mahatma Gandhi University)
  • लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी (Lovely Professional University) 
  • यूनिवर्सिटी आफ कालीकट (University of Calicut)  

बीएड इंग्लिश कोर्स का पाठ्यक्रम/ सब्जेक्ट्स क्या-क्या है (What are the syllabus / subjects of B. English course)

  • एजुकेशन इन कंटेंपरेरी इंडिया (Education in contemporary India)
  • ह्यूमन डेवलपमेंट, डायवर्सिटी (Human development, diversity) 
  • कंसप्च्यूल फाउंडेशन ऑफ एजुकेशन (Conceptual foundation of education) 
  • जेंडर, स्कूल एंड सोसाइटी (Gender, school and Society) 
  • नॉलेज, डिसीप्लिन एंड स्कूल सब्जेक्ट्स (Knowledge, disciplines and School subjects)
  • द इंक्लूसिव स्कूल (The inclusive school)
  • पेडागोजी (Pedagogy)
  • प्रिपरेशन फॉर टीचिंग (Preparation for teaching)
  • एजुकेशन एंड मेंटल हेल्थ (Education and Mental health)
  • कंप्यूटर एंड वेब टेक्नोलॉजीज (Computer and web technologies)
  • ह्यूमन राइट्स इन एजुकेशन (Human rights in education)
  • टीचिंग राइटिंग स्किल्स (Teaching writing skills) 
  • टीचिंग रीडिंग स्किल्स (Teaching reading skills) 
  • हॉलिस्टिक एजुकेशन (Holistic education)

बीएड इंग्लिश कोर्स के बाद कैरियर संभावनाएँ क्या है (What are the career prospects after B.Ed course)

इस कोर्स को करने के बाद कैंडिडेट के सामने बहुत सारे कैरियर ऑप्शन होते हैं और उसे नौकरी करने के बहुत सारे अवसर मिलते हैं। इसलिए वह शिक्षक के रूप में एजुकेशन डिपार्टमेंट, स्कूल इत्यादि में काम कर सकते हैं। इसके साथ-साथ एजुकेशनल काउंसलर, सिलेबस डिजाइनर, एजुकेशन रिसर्चर के तौर पर भी काम कर सकते हैं। 

वेतन (salary)

जब उम्मीदवार बीएड इंग्लिश कोर्स को पूरा करके टीचर बन जाता है तो तब उसे हर महीने 20,000 रुपए से लेकर 30,000 रुपए तक का वेतन मिल जाता है। इसके साथ साथ जब कैंडिडेट को टीचिंग एक्सपीरियंस हो जाता है तो तब उसके सैलरी पैकेज में वृद्धि हो जाती है। 

प्राइवेट सेक्टर में जॉब्स (Jobs in private sector after)

बीएड इंग्लिश कोर्स करने के बाद एक कैंडिडेट को प्राइवेट सेक्टर में जॉब्स के बहुत सारे विकल्प मिल जाते हैं जैसे कि वह प्राइवेट स्कूल टीचर, एजुकेशन  रिसर्चर, कंटेंट राइटर, ट्यूटर इत्यादि के रूप में काम कर सकता है। 

गवर्नमेंट सेक्टर में जॉब्स (Jobs in government sector)

बीएड इंग्लिश कोर्स के बाद कैंडिडेट को प्राइवेट सेक्टर के साथ-साथ गवर्नमेंट सेक्टर में भी जॉब्स के लिए आवेदन दे सकते हैं जहां पर वह इंग्लिश टीचर, काउंसलर, वाइस प्रिंसिपल इत्यादि के रूप में काम कर सकते हैं।

निष्कर्ष 

दोस्तों, यह था हमारा आज का आर्टिकल जिसमें हमने आपको बताया कि बीएड इंग्लिश कोर्स (B.Ed English Course) कैसे करें पूरी जानकारी। इस पोस्ट में हमने आपको जानकारी दी थी b.ed english कोर्स करने के लिए आपमें कितनी योग्यता होनी चाहिए और कोर्स करने के लिए आपको कितने रुपए की फीस देनी पड़ सकती है। इसके साथ-साथ हमने आपको यह भी जानकारी दी कि भारत में कौन कौन से ऐसे कॉलेज हैं जहां से आप अपना कोर्स कर सकते हैं और जब आप अपना कोर्स पूरा कर लेंगे तो उसके बाद आपको हर महीने कितने रुपए तक का वेतन मिल सकता है। इसके साथ साथ हमने दूसरी अन्य महत्वपूर्ण बातों के बारे में भी जानकारी दी है। इसलिए अगर आपको हमारा यह लेख उपयोगी लगा हो तो इसे अपने उन दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें जो B.Ed English करना चाहते हैं। 

Deepak Kumar

दीपक कुमार After12th.net के लेखक और संस्थापक हैं। वह छात्रों को उनकी धारा तय करने और उद्योग में पाठ्यक्रमों के बारे में जानकारी प्रदान करने में मदद करता है। वह उन्हें नई ऊंचाइयों तक पहुंचाने में मदद करता है। उनका उद्देश्य देश में अधिकतम छात्रों के लिए वैध और उपयोगी जानकारी साझा करना है।

Leave a Reply