एनिमेटर (Animator) कैसे बनें?

  • Post author:
  • Post category:Career

नमस्कार! आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि एनिमेटर (Animator) कैसे बनें? हालांकि इस नाम से अधिकतर हर इंसान वाकिफ होता है क्योंकि आज के दौर का यह एक रचनात्मकता से जुड़ा हुआ एक बहुत ही ज्यादा पॉपुलर कैरियर है जिसमें वही विद्यार्थी जाना सबसे ज्यादा पसंद करते हैं जिन्हें कंप्यूटर, टेक्नोलॉजी इत्यादि से बहुत ही ज्यादा लगाव है। यह क्षेत्र कैंडिडेट में सबसे ज्यादा क्रिएटिविटी का होना मांगता है क्योंकि बिना रचनात्मकता के कोई भी इसमें सफल नहीं हो सकता। आपने अपने बचपन में टॉम एंड जेरी, मिक्की माउस जैसे अनेकों कार्टून अवश्य देखें होंगे तो बस एक एनिमेटर का यही काम होता है। यदि आप इस फील्ड में जाना चाहते हैं तो हमारे आज के इस पोस्ट को पढ़ें और जानें किस प्रकार आप एनिमेटर बन सकते हैं एवं कैसे इस इंडस्ट्री में बहुत कामयाबी के साथ आगे बढ़ सकते हैं। 

एनिमेटर क्या है? (what is Animator in Hindi) 

यहां सबसे पहले जानकारी दे दें कि एक एनिमेटर वह होता है जो कंप्यूटर में ग्राफिक्स का प्रयोग करते हुए कार्टून, वीडियो गेम्स, एनिमेटेड फिल्म और वीडियो बनाने जैसे काम करता है। इन सब कार्यों के लिए वह अपनी रचनात्मकता का इस्तेमाल करने के साथ-साथ कई प्रकार के कंप्यूटर सॉफ्टवेयर का भी प्रयोग करता है। वैसे अगर कार्टून की बात की जाए तो हर बच्चे को ही कार्टूंस देखने का बहुत ज्यादा शौक होता है चाहे वह टीवी पर हो या फिर किसी ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर। इसके अलावा आज राजनीतिक और सामाजिक एनीमेशंस को भी हर वर्ग के लोगों द्वारा काफी पसंद किया जाता है। यही वजह है कि क्षेत्र में ग्रोथ करने के बहुत ज्यादा अवसर उपलब्ध होते हैं। 

Related post: कार्टूनिस्ट (Cartoonist) कैसे बनें?

एनिमेटर बनने के लिए प्रक्रिया क्या है

इसके लिए जिन छात्रों ने 12वीं कक्षा पास कर ली है उनको  एनिमेशन में कोर्स करना होगा जैसे की डिग्री या फिर डिप्लोमा कोर्स। इसके लिए हमारे देश भारत में बहुत सारे इंस्टिट्यूट हैं जहां से कैंडिडेट अपनी रूचि के अनुसार कोर्स कर सकता है। यहां यह भी बता दें कि कुछ संस्थान ऐसे हैं जहां पर एप्टिट्यूड टेस्ट लेने के बाद ही विद्यार्थियों को दाखिला दिया जाता है। जब छात्र अपनी ग्रेजुएशन इस क्षेत्र में पूरी कर लेते हैं तो उसके बाद उन्हें किसी भी मल्टीमीडिया कंपनी में नौकरी मिल जाती है। वही कुछ कैंडिडेट ऐसे भी होते हैं जो अपना कोर्स पूरा करने के बाद पोस्ट ग्रेजुएट पाठ्यक्रम में दाखिला लेते हैं जिससे कि वह इस क्षेत्र की सभी बातों को बारीकी से समझ सकें और पूरी तरह से परफेक्ट होने के बाद ही वह नौकरी करना पसंद करते हैं।

एनिमेटर बनने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए 

एनिमेटर बनने के लिए किसी भी कैंडिडेट में जो योग्यता होनी चाहिए उसकी जानकारी निम्नलिखित है-

  • छात्र ने मिनिमम 12वीं कक्षा पास की हो।
  • कैंडिडेट ने एनिमेशन डिजाइनिंग का कोर्स किया होना चाहिए। 
  • या कैंडिडेट ने ग्राफिक डिजाइनिंग किया हो।
  • इंग्लिश भाषा की जानकारी हो और क्रिएटिविटी भी होनी चाहिए। 

आयु सीमा 

  • छात्र की कम से कम उम्र 18 साल होनी चाहिए। 
  • एनिमेटर बनने के लिए कोई अधिकतम आयु सीमा नहीं है।

एनिमेटर बनने के कैरियर संभावनाएं क्या है 

जब कोई कैंडिडेट अपना एनिमेशन का कोर्स पूरा कर लेता है और उसके बाद वह एनिमेटर बन जाता है तो उसे देश विदेश में काम करने के बहुत सारे अवसर मिल जाते हैं जैसे कि –

  • प्रोडक्शन हाउस
  • टेलीविजन चैनल 
  • मल्टीमीडिया एजेंसी 
  • वेब डिजाइनिंग और ग्राफिक डिजाइनिंग फर्म्स
  • मोबाइल एप्लीकेशन मेकिंग फॉर्म्स
  • गेमिंग कंपनियों 
  • एनिमेशन कंपनियों 
  • फ्रीलांसर 

वेतन 

जब कोई कैंडिडेट अपनी कलात्मकता का प्रयोग करते हुए एनिमेशन क्रिएट करता है तो उसके लिए उसे काफी अधिक मेहनत की जरूरत होती है और अपने कार्य को पूर्ण एकाग्रता से भी करना पड़ता है। इसीलिए इस इंडस्ट्री में जो कैंडिडेट काम करते हैं उन्हें जो सैलरी पैकेज दी जाती है वह काफी अट्रैक्टिव होती है और उसको शुरू में ही 30,000 रुपए से लेकर 35,000 रुपए तक का वेतन भी मिल जाता है। इस प्रकार जैसे जैसे उसे अनुभव प्राप्त होता जाता है वैसे वैसे उसे और भी अधिक वेतन मिलने लगता है। 

एनिमेटर के कार्य 

एक एनिमेटर के रूप में कार्य करने वाले व्यक्ति का काम बहुत ही जिम्मेदारी और सावधानी वाला होता है क्योंकि उसे उत्कृष्ट एनिमेशन क्रिएट करने के लिए बहुत मेहनत की आवश्यकता होती है जिसके अंतर्गत वह निम्नलिखित काम करता है-

  • प्रोडक्शन कंपनीज के लिए फिल्म क्रिएट करता है।
  • कंप्यूटर और टेक्नोलॉजी का प्रयोग करते हुए मूविंग इमेजेस बनाता है। 
  • किसी भी मैसेज को एनिमेशन का प्रयोग करते हुए लोगों तक प्रभावशाली तरीके से पहुंचाता है। 
  • स्टोरीबोर्ड क्रिएट करता है।
  • ग्राफिक्स की मदद से विभिन्न प्रकार के डिजाइन तैयार करता है। 
  • एनिमेशन को रिफाइन करता है।
  • किसी भी इंफॉर्मेशन को बनाने के लिए ग्राफिक्स और स्पेशल इफेक्ट्स का प्रयोग करता है। 

निष्कर्ष

दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिकल जिसमें हमने आपको बताया एनिमेटर (Animator) कैसे बनें? इस पोस्ट में हमने आपको जानकारी दी कि एनिमेटर क्या होता है और एनिमेटर बनने के लिए योग्यता कितनी होनी चाहिए। इसके अलावा हमने यह भी बताया कि एनिमेटर बनने के लिए क्या प्रक्रिया है। साथ ही साथ इस पोस्ट में हमने यह भी जानकारी दी कि एनिमेटर बनने के बाद कैरियर संभावनाएं क्या होती है और इस फील्ड में उसे कौन-कौन से कार्य करने होते हैं। वैसे देखा जाए तो अगर किसी कैंडिडेट में क्रिएटिविटी और कलात्मकता है तो वह उसका प्रयोग करते हुए इस क्षेत्र में अपना बेहतरीन कैरियर बना सकते हैं। अंत में हमारी आपसे यही रिक्वेस्ट है कि अगर आपको हमारा यह लेख पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी जरूर शेयर करें जो 12वीं के बाद एनिमेटर बनना चाहते हैं। 

Leave a Reply