12th साइंस के बाद कोर्स लिस्ट (Course List after 12th Science)

नमस्कार! दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे 12th साइंस के बाद कोर्स लिस्ट के बारे में जानकारी। जो स्टूडेंट्स 12वीं कक्षा में साइंस की पढ़ाई करते हैं और जब 12वीं में पास हो जाते हैं तो उसके बाद उनके दिमाग में यह सवाल जरूर आता है कि 12th साइंस के बाद कोर्स का किस प्रकार से चुनाव करें। ऐसा इसलिए है क्योंकि आज के समय में एक साइंस स्टूडेंट को बहुत सारे कोर्स करने के ऑप्शन मिल जाते हैं जिसकी वजह से वो दुविधा में पड़ जाते हैं कि कौन सा कोर्स करें और कौन सा नहीं करें। 

यदि आप भी साइंस स्टूडेंट हैं और आपको समझ में नहीं आ रहा कि आप कौन सा कोर्स करें जिससे कि आप एक सफल कैरियर बना सकें। तो इसके लिए हमारे आज के इस आर्टिकल को सारा पढ़ें और जानें कि 12वीं साइंस के बाद कौन सा कोर्स करें। 

Contents

12th साइंस के बाद बेस्ट कोर्स

यहां आपको बता दें कि जो भी स्टूडेंट्स स्कूल में पढ़ते हैं तो 12वीं कक्षा उनकी लास्ट स्टेज होती है जिसके बाद सभी को अपने अपने कैरियर को चुनना पड़ता है। इसीलिए हर स्टूडेंट यही चाहता है कि वह किसी ऐसे कोर्स में अपना एडमिशन ले जिससे कि वह अपने भविष्य को बेहतरीन बना सके। तो इसीलिए छात्रों को चाहिए कि बहुत सोच समझ कर अपने कोर्स का सिलेक्शन करें क्योंकि कई बार गलत फैसलों से विद्यार्थियों का कैरियर भी बर्बाद हो जाता है। यहां हम आपको बता रहे हैं 12th साइंस के बाद कोर्स लिस्ट के बारे में संपूर्ण जानकारी ताकि आप अपने लिए सही कोर्स का डिसीजन ले सकें। 

एमबीबीएस कोर्स

12th साइंस के बाद कोर्स लिस्ट में सबसे ऊपर एमबीबीएस का नाम आता है। इस कोर्स को अधिकतर वही कैंडिडेट करते हैं जो मेडिकल लाइन में जाना चाहते हैं। यहां बता दें कि मेडिकल क्षेत्र से जुड़ा हुआ यह एक ऐसा कोर्स है जिसमें दाखिला लेना हर साइंस स्टूडेंट का सपना होता है। इसके लिए कैंडिडेट को काफी अधिक मेहनत करनी होती है क्योंकि इसके लिए जो एंट्रेंस एग्जाम होता है वह काफी मुश्किल होता है। बता दें कि एंट्रेंस एग्जाम को नीट परीक्षा (Neet Exam) कहा जाता है। इसके अलावा AIIMS , JIMPER एमबीबीएस के लिए काफी पॉपुलर परीक्षाएं हैं। 

एमबीबीएस कोर्स करने के लिए योग्यता

एमबीबीएस कोर्स करने के लिए जरूरी है कि छात्र ने 12वीं साइंस यानी कि पीसीबी में पास की होनी चाहिए। कैंडिडेट को चाहिए कि इसके लिए नेशनल लेवल की प्रवेश परीक्षा को क्रेक करे।

एमबीबीएस करने के बाद सैलरी 

एमबीबीएस की डिग्री हासिल करने के बाद कैंडिडेट को कैरियर की शुरुआत में ही काफी अच्छा वेतनमान मिल जाता है। यहां बता दें कि उनकी योग्यता के अनुसार उन्हें हर महीने 30,000 से लेकर 50,000 रुपए तक सैलरी पैकेज आसानी के साथ मिल जाता है। इस प्रकार से जब उसे थोड़ा सा एक्सपीरियंस हासिल हो जाता है तो तब कैंडिडेट की सैलरी और भी ज्यादा हो जाती है। 

बीएससी कोर्स

12th साइंस के बाद कोर्स वही सबसे अच्छा होता है जिसमें छात्रों को रुचि भी हो और जिसमें कैरियर भी अच्छा बनाया जा सके। इसके लिए बीएससी कोर्स किया जा सकता है। यहां जानकारी के लिए बता दें कि यह एक 3 साल का डिग्री कोर्स है जिसका पूरा नाम बैचलर ऑफ साइंस है। साथ ही बता दें कि अगर आप बीएससी करना चाहते हैं तो इसमें आपको बहुत सारे ऑप्शन मिल जाते हैं। इस 3 साल के डिग्री कोर्स को पूरा करने के बाद आप चाहें तो आगे एमएससी की पढ़ाई भी कर सकते हैं या फिर जॉब भी कर सकते हैं। 

बीएससी कोर्स करने के लिए योग्यता

यहां आपको बता दें कि जो कैंडिडेट बीएससी कोर्स करना चाहते हैं तो इसके लिए उन्होंने कम से कम किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं कक्षा साइंस के साथ पास की हो। 

बीएससी करने के बाद सैलरी

जब कोई छात्र बीएससी की पढ़ाई पूरी कर लेता है तो उसे उसकी योग्यता के आधार पर कई सरकारी और निजी विभागों में काम करने के मौके मिल जाते हैं। इस प्रकार से कैंडिडेट नौकरी की शुरुआत में ही 20,000 से लेकर 30,000 तक का सैलरी पैकेज प्राप्त कर सकता है। बताते चलें कि कुछ अनुभव हासिल करने के बाद उसका वेतन और भी ज्यादा हो जाता है। 

इंजीनियरिंग कोर्स

जो छात्र 12वीं में साइंस विषय की पढ़ाई पढ़ते हैं वे इंजीनियरिंग के क्षेत्र में भारी तादाद में अपना कैरियर बनाना पसंद करते हैं। इसके लिए आपको बता दें कि इंजीनियरिंग एक बेहद व्यापक इंडस्ट्री है जिसमें बहुत सारे कोर्सेज के ऑप्शन छात्रों को मिल जाते हैं जैसे कि केमिकल इंजीनियरिंग, सिविल इंजीनियरिंग, मैकेनिकल इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग, बायोटेक्नोलॉजी इंजीनियरिंग इत्यादि। 

इसके अलावा आपको बता दें कि इंजीनियरिंग कोर्स करने के लिए आपको नेशनल लेवल के या फिर स्टेट लेवल के एंट्रेंस एग्जाम में शामिल होना पड़ता है। इसके लिए जो दो तरह के एंट्रेंस एग्जाम है उनके नाम जेईई मेंस (JEE Mains) और जेईई एडवांस (JEE Advance) हैं। 

इंजीनियरिंग कोर्स करने के लिए योग्यता

इंजीनियरिंग कोर्स करने के लिए जरूरी है कि छात्र ने 12वीं विज्ञान विषय के साथ पास की हो। इसके अलावा 12वीं कक्षा में उसके पास मैथमेटिक्स, फिजिक्स जैसे विषय भी होने जरूरी है।

इंजीनियरिंग करने के बाद सैलरी

जो छात्र इंजीनियरिंग का कोर्स पूरा कर लेते हैं उसके बाद उन्हें जो सैलरी पैकेज मिलता है वह काफी अट्रैक्टिव होता है। पर उनका वेतनमान इस बात के ऊपर डिपेंड करता है कि वह कौन सी कंपनी में काम कर रहे हैं। लेकिन एक इंजीनियर को जो सैलरी मिलती है वह लगभग 30 हजार से लेकर 80 हजार रुपए तक के बीच में हो सकती है। 

बीआर्क कोर्स

12th साइंस के बाद कोर्स लिस्ट में बीआर्क (B.Arch) बेहतरीन कोर्स है। यहां बता दें कि इसका पूरा नाम बैचलर ऑफ आर्किटेक्चर है इस कोर्स की अवधि 5 वर्ष की है। साथ ही साथ आपको बता दें कि अगर आप 12वीं के बाद आर्किटेक्ट बनना चाहते हैं तो आपको इसके लिए नाटा एग्जाम (NATA Exam) क्वालीफाई करना होगा। तो अगर आपको बड़ी बड़ी बिल्डिंग, शॉपिंग मॉल्स, एयरपोर्ट, सड़क इत्यादि को डिजाइन और प्लान करना अच्छा लगता है तो यह कोर्स आपके लिए काफी अच्छा है। 

बीआर्क कोर्स करने के लिए योग्यता

बैचलर ऑफ आर्किटेक्चर कोर्स में अगर कोई छात्र दाखिला लेना चाहता है तो इसके लिए जरूरी है कि उसने 12वीं में साइंस के सब्जेक्ट्स में पढ़ाई की होनी चाहिए। इसके अलावा कैंडिडेट के अंदर क्रिएटिविटी होनी चाहिए जिससे कि वह अच्छे अच्छे डिजाइन बना सके। 

बीआर्क करने के बाद सैलरी

इस कोर्स को करने के बाद किसी भी आर्किटेक्चर को जो सैलरी मिलती है वह पूरी तरह से इस बात के ऊपर निर्भर करती है कि उसे कौन सी कंपनी में काम करने का अवसर मिला है। लेकिन अगर एवरेज सैलेरी की बात की जाए तो कैंडिडेट को शुरुआत में ही 20 हजार से लेकर 60 हजार रुपए तक का वेतनमान मिल सकता है। इसके अलावा अगर कैंडिडेट अपना खुद का काम शुरू करता है तो तब वह हर महीने लाखों रुपए कमा सकता है। 

पायलट ट्रेनिंग कोर्स

पायलट ट्रेनिंग भी आज काफी प्रसिद्धि वाला कोर्स बन चुका है जिसको 12th साइंस के बाद कोर्स में बेस्ट माना गया है। लेकिन यहां आपको हम बता दें कि पायलट बनना आसान नहीं होता क्योंकि इसके लिए छात्रों को किसी फ्लाइंग स्कूल में अपना दाखिला लेना होता है। लेकिन उससे पहले उन्हें एंट्रेंस एग्जाम, मेडिकल टेस्ट के साथ-साथ इंटरव्यू भी पास करना होता है। 

इस प्रकार पहली स्टेज में स्टूडेंट पायलट लाइसेंस (SPL) छात्रों को दिया जाता है। फिर उसके बाद जब वह 60 घंटों की उड़ान को सफलतापूर्वक पूरा कर लेते हैं तो उसके बाद उन्हें प्रोफेशनल पायलट लाइसेंस (PPL) दिया जाता है। सबसे आखिर में जब उसकी 260 घंटों की उड़ान पूरी हो जाती है तो तब कमर्शियल पायलट लाइसेंस (CPL) मिल जाता है। 

पायलट ट्रेनिंग कोर्स करने के लिए योग्यता

पायलट ट्रेनिंग कोर्स करने के लिए जरूरी है कि छात्र ने किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से कम से कम 12वीं कक्षा साइंस में पास की हो। 12वीं में कैंडिडेट ने फिजिक्स, मैथमेटिक्स और केमिस्ट्री सब्जेक्ट्स पढ़ें होने चाहिए। इसके अलावा कैंडिडेट को अंग्रेजी भाषा की जानकारी भी होनी चाहिए। 

पायलट ट्रेनिंग करने के बाद सैलरी

पायलट ट्रेनिंग कोर्स करने के बाद प्रोफेशनल व्यक्ति को जो सैलरी मिलती है वह काफी ज्यादा अट्रैक्टिव होती है। यहां बता दें कि एक पायलट को हर महीने 1 लाख या उससे भी ज्यादा का सैलरी पैकेज आराम से मिल जाता है। 

बी फार्मेसी कोर्स

12वीं साइंस में पास करने के बाद बी फार्मेसी कोर्स भी किया जा सकता है। यहां आपको जानकारी के लिए बता दें कि यह कोर्स फार्मास्यूटिकल सेक्टर से संबंधित है और इसमें छात्रों को केमिकल और मेडिसिंस को बनाना सिखाया जाता है। यह कोर्स 4 साल का होता है और इसके बाद अगर छात्र चाहे तो आगे एम फार्मेसी कर सकते हैं या फिर नौकरी कर सकते हैं। 

बी फार्मेसी कोर्स करने के लिए योग्यता

बी फार्मेसी कोर्स करने के लिए जरूरी है कि छात्र ने बारहवीं कक्षा विज्ञान में पास की हो। 

बी फार्मेसी करने के बाद सैलरी

बी फार्मेसी करने के बाद कैंडिडेट को प्राइवेट और गवर्नमेंट नौकरी करने के मौके मिल जाते हैं जहां पर उन्हें जो सैलरी मिलती है वह उनके स्किल्स और जॉब की लोकेशन के ऊपर डिपेंड करती है। इस तरह से देखा जाए तो बी फार्मेसी करने के बाद कैंडिडेट को शुरुआत में 30,000 से लेकर 60,000 रुपए तक का वेतन आराम से मिल जाता है। 

बीटेक कोर्स

बीटेक कोर्स का पूरा नाम बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी है और 12th साइंस के बाद कोर्स लिस्ट में इसका नाम भी शामिल है। यहां बता दें कि आज टेक्नोलॉजी का जमाना है और इसी वजह से युवाओं का इस और काफी ज्यादा रुझान है। यहां आपको बता दें कि अगर आप भी एक ऐसे छात्र हैं जिसे टेक्नॉलॉजी इंडस्ट्री काफी पसंद है तो आप इसमें अपना एक सफल कैरियर बना सकते हैं।

बीटेक कोर्स करने के लिए योग्यता

बीटेक कोर्स करने के लिए जरूरी है कि छात्र ने 12वीं कक्षा में साइंस के विषय में पढ़ाई की हो। छात्र को टेक्नोलॉजी में रुचि होनी चाहिए। 

बीटेक करने के बाद सैलरी

बीटेक कोर्स करने के बाद एक प्रोफेशनल को काफी आकर्षक सैलरी आसानी के साथ मिल जाती है। यहां बता दें कि कैंडिडेट को सरकारी और प्राइवेट सेक्टर में काम करने के बहुत से मौके मिलते हैं जहां पर उन्हें हर महीने 35,000 से लेकर 50,000 रुपए तक का वेतन मिल जाता है। साथ ही साथ बता दें कि जब कैंडिडेट को कुछ वर्षों का अनुभव हो जाता है तो उसके बाद उसके वेतन में और भी ज्यादा वृद्धि हो जाती है। 

नर्सिंग कोर्स

अगर आप 12th साइंस के बाद कोर्स ढूंढ रहे हैं तो इसके लिए नर्सिंग भी एक बेस्ट विकल्प है। यहां आपको जानकारी के लिए बता दें कि इसमें कैंडिडेट को डिप्लोमा और डिग्री दोनों ही कोर्स करने के मौके मिलते हैं। लेकिन साथ ही साथ आपको बता दें कि इसमें एडमिशन लेने के लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम में भाग लेना पड़ता है। इस तरह से नर्सिंग कोर्स करके आप एक अच्छा कैरियर बना सकते हैं। 

नर्सिंग कोर्स करने के लिए योग्यता

अब आपको यहां जानकारी के लिए बता दें कि नर्सिंग कोर्स करने के लिए जरूरी है कि कैंडिडेट ने मिनिमम 12वीं कक्षा विज्ञान विषय में पास की हो। इसके अलावा इस कोर्स में दाखिला लेने के लिए जो भी संबंधित प्रवेश परीक्षा रखी गई है उसे क्वालीफाई किया हो। 

नर्सिंग करने के बाद सैलरी

नर्सिंग कोर्स करने के बाद किसी भी प्रोफेशनल को जो सैलरी मिलती है वह पूरी तरह से इस बात के ऊपर निर्भर है कि उसे काम करने का अवसर कहां पर मिला है। यहां बता दें कि हमारे देश में आज ऐसे बहुत से प्राइवेट और सरकारी हॉस्पिटल है जहां पर नर्स की काफी ज्यादा डिमांड रहती है। इस प्रकार से एक नर्स को उसके जॉब की शुरुआत में ही कम से कम 20,000 से लेकर 40,000 तक की सैलरी मिल जाती है। बताते चलें कि अगर उसे किसी फॉरेन कंट्री में काम करने का मौका मिल जाता है तो तब उसे हर महीने एक लाख से भी ज्यादा का वेतन मिलता है। 

बीएचएमएस कोर्स

12वीं में साइंस जैसा विषय पढ़ने के बाद छात्र बीएचएमएस कोर्स में दाखिला ले सकते हैं। यहां आपको बता दें कि इस का फुल फॉर्म बैचलर ऑफ होम्योपैथिक मेडिसिन एंड सर्जरी है। जो छात्र इस कोर्स को करते हैं उन्हें इसमें होम्योपैथिक दवाइयों के बारे में स्टडी करवाई जाती है। यह 4.5 साल की अवधि का कोर्स है जिसके बाद कैंडिडेट को नौकरी बहुत आसानी के साथ मिल जाती है। 

बीएचएमएस कोर्स करने के लिए योग्यता

छात्र ने 12वीं में साइंस विषय की पढ़ाई की हो। 12वीं कक्षा में उसके पास बायोलॉजी का सब्जेक्ट होना जरूरी है। 

बीएचएमएस करने के बाद सैलरी

बीएचएमएस कोर्स करने के बाद प्रोफेशनल व्यक्ति को प्राइवेट अस्पतालों के साथ-साथ सरकारी अस्पतालों में काम करने के मौके मिलते हैं। यहां बता दें कि नौकरी की शुरुआत में ही उसे काफी अच्छा वेतन मिल जाता है जो कि 30,000 रुपए से लेकर 40,000 रुपए तक हो सकता है। 

बैचलर ऑफ फिजियोथैरेपी कोर्स

बैचलर ऑफ फिजियोथैरेपी 12वीं साइंस के बाद कोर्स काफी स्टूडेंट करना पसंद करते हैं। यहां आपको जानकारी के लिए बता दें कि इस कोर्स की अवधि 4 साल की होती है। कोर्स के दौरान छात्रों को मस्कुलर और फिजिकल इंजरीज के बारे में पढ़ाई करवाई जाती है। इस तरह से जब कैंडिडेट अपना कोर्स पूरा कर लेता है तो उसको गवर्नमेंट हॉस्पिटल्स के साथ-साथ प्राइवेट हॉस्पिटल्स में भी फिजियोथैरेपिस्ट के पद पर काम करने का अवसर मिलता है। 

बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स करने के लिए योग्यता

बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स करने के लिए अनिवार्य है कि छात्र ने 12वीं कक्षा में विज्ञान विषय में पढ़ाई की होनी चाहिए और उसके पास बायोलॉजी विषय जरूर हो। 

बैचलर ऑफ फिजियोथैरेपी करने के बाद सैलरी

जो छात्र बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स करके फिजियोथैरेपिस्ट बन जाते हैं उनके सामने कैरियर बनाने के काफी अच्छे अवसर आते हैं। इस तरह से कैंडिडेट को उसकी नौकरी की शुरुआत में ही 20,000 से लेकर 30,000 रुपए तक का वेतनमान बिना किसी समस्या के मिल जाता है। 

निष्कर्ष 

दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिकल 12th साइंस के बाद कोर्स लिस्ट के बारे में जानकारी। इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपको बताया कि 12th साइंस के बाद कौन कौन से कोर्स आप कर सकते हैं। हमने आपको इस पोस्ट में उन सभी कोर्स के बारे में जानकारी दी जो आज के समय में सबसे ज्यादा ट्रेंडिंग हैं और डिमांड में हैं। साथ ही हमने आपको यह जानकारी भी दी कि 12वीं के बाद आप अपना पसंदीदा कोर्स करके हर महीने कितना सैलरी पैकेज हासिल कर सकते हैं।

हमें पूरी उम्मीद है कि आपको हमारे द्वारा दी गई है सारी जानकारी काफी उपयोगी लगी होगी। इसलिए अंत में हमारी आपसे बस यही रिक्वेस्ट है कि हमारे इस आर्टिकल को उन लोगों के साथ भी जरूर शेयर करें जो 12वीं साइंस में करने के बाद अच्छे कोर्स की तलाश में हैं। 

Leave a Reply