12th के बाद डिप्लोमा कोर्स लिस्ट (Diploma Course List after 12th)

नमस्कार! दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे 12th के बाद डिप्लोमा कोर्स लिस्ट के बारे में सारी जानकारी। अगर आपने 12वीं कक्षा पास कर ली है और आप 12 के बाद डिप्लोमा कोर्स करना चाहते हैं तो जानकारी के लिए बता दें कि आपको बहुत सारे डिप्लोमा कोर्स मिल जाएंगे। लेकिन स्टूडेंट्स के सामने सबसे बड़ा मुश्किल काम यही होता है कि वो किसी बेस्ट कोर्स का चुनाव कैसे करें। यहां हम आपको बता दें कि 12 के बाद डिप्लोमा कोर्स अगर आप करने का सोच रहे हैं तो इसके लिए आपको थोड़ी सी रिसर्च करने की जरूरत होती है। 

इसके अलावा आप उसी फील्ड का चुनाव करें जो आपको पसंद हो। पर फिर भी अगर आप सही कोर्स सिलेक्ट नहीं पढ़ पा रहे हैं तो हमारे आज के इस आर्टिकल को सारा पढ़े। हम आपको इस लेख में 12th के बाद डिप्लोमा कोर्स लिस्ट बारे में सारी जानकारी देंगें ताकि आप अपने लिए एक सही पाठ्यक्रम का चयन कर सकें। 

Contents

12th के बाद डिप्लोमा कोर्स 

मौजूदा समय में हर स्टूडेंट की यही ख्वाहिश होती है कि वह 12वीं के बाद फौरन ही किसी ऐसे प्रोफेशनल कोर्स में दाखिला ले जिसको करने के बाद उसे किसी अच्छी कंपनी में नौकरी मिल जाए। लेकिन ऐसे में जब उनको सही गाइडेंस नहीं मिलती तो तब वो गलत कोर्स का चुनाव कर लेते हैं जो कि उनके कैरियर के लिए काफी नुकसानदायक साबित होता है। इसलिए स्टूडेंट्स के लिए जरूरी है कि वो उसी कोर्स को करें जिसकी डिमांड ज्यादा हो और साथ ही साथ जिसमें उन्हें कैरियर बनाना पसंद हो। 

ऐसा करना इसलिए जरूरी है क्योंकि अगर आप अपनी पसंद की फील्ड में पढ़ाई करके उसमें काम करना चाहते हैं तो तब आपके कामयाब होने के चांस ज्यादा होते हैं। इसीलिए आपकी हेल्प करने के लिए हम निम्नलिखित कुछ ऐसे डिप्लोमा कोर्स के बारे में जानकारी दे रहे हैं जिन्हें आप 12वीं के बाद कर सकते हैं – 

डिप्लोमा इन फैशन डिजाइनिंग कोर्स

यदि आप 12 के बाद डिप्लोमा कोर्स करने का सोच रहे हैं तो आप डिप्लोमा इन फैशन डिजाइनिंग कोर्स कर सकते हैं। यहां आपको बता दें कि यह डिप्लोमा कोर्स 1 साल और 3 साल तक का होता है। फैशन डिजाइनिंग के इस डिप्लोमा कोर्स में छात्रों को कपड़ों के डिजाइन और स्टाइल बनाना सिखाया जाता है। इस प्रकार से जिन स्टूडेंट्स में फैशन सेंस और क्रिएटिविटी होती है वो फैशन इंडस्ट्री में जा सकते हैं। तो अगर आप अपनी रचनात्मकता का इस्तेमाल करके किसी ऐसी फील्ड में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं जिसमें आपको नाम और शोहरत दोनों ही मिलें तो आप इस कोर्स को कर सकते हैं। 

डिप्लोमा इन फैशन डिजाइनिंग कोर्स करने के लिए योग्यता 

डिप्लोमा इन फैशन डिजाइनिंग कोर्स करने के लिए छात्रों में जो योग्यता होनी चाहिए वह इस प्रकार से है – 

  • कैंडिडेट ने किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से कम से कम 12वीं कक्षा पास की हो। 
  • छात्र में क्रिएटिविटी होनी चाहिए।
  • कंप्यूटर के साथ-साथ अंग्रेजी भाषा का ज्ञान भी होना चाहिए। 

डिप्लोमा इन फैशन डिजाइनिंग के बाद सैलरी 

फैशन डिजाइनिंग में डिप्लोमा करने के बाद कैंडिडेट को जो वेतनमान मिलता है वह उसकी योग्यता और वर्कप्लेस के ऊपर निर्भर करता है। इस प्रकार से फैशन डिज़ाइनर को कैरियर की शुरुआत में ही 20 हजार रुपए से लेकर 50 हजार रुपए तक की सैलरी मिल सकती है। इसके अलावा जब उसको कुछ सालों का एक्सपीरियंस हो जाता है तो तब उसे और भी ज्यादा सैलरी मिल जाती है। 

डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन कोर्स

डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन कोर्स 12वीं के बाद छात्र कर सकते हैं। यहां आपको जानकारी के लिए बता दें कि आज टेक्नोलोजी का जमाना है इसीलिए अधिकतर स्टूडेंट्स इस पाठ्यक्रम में दाखिला लेते हैं। बता दें कि कंप्यूटर एप्लीकेशन के इस डिप्लोमा कोर्स की अवधि एक साल तक की होती है। इस प्रकार से जब विद्यार्थी इस कोर्स को पूरा कर लेते हैं तो वह नए नए सॉफ्टवेयर और एप्स क्रिएट करना सीख जाते हैं। तो यदि आपको कंप्यूटर फील्ड पसंद है तो आप भी इसमें अपना कोर्स करके एक बेहतरीन कैरियर बना सकते हैं। 

डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन कोर्स करने के लिए योग्यता 

डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन कोर्स को करने के लिए छात्रों में कुछ योग्यता का होना जरूरी है जोकि निम्नलिखित हम बता रहे हैं – 

  • छात्र ने मिनिमम 12वीं कक्षा किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से पास की होनी चाहिए। 
  • कैंडिडेट को कंप्यूटर में रुचि होनी चाहिए।
  • अंग्रेजी भाषा की जानकारी होनी चाहिए। 

डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन के बाद सैलरी 

अब यहां आपको हम बता दें कि कंप्यूटर एप्लीकेशन में डिप्लोमा हासिल करने के बाद ट्रेंड प्रोफेशनल को शुरुआत में ही काफी आकर्षक सैलरी मिल जाती है जो कि 20 हजार रुपए से लेकर 35 हजार रुपए तक हो सकती है। 

डिप्लोमा इन योग कोर्स

12 के बाद डिप्लोमा कोर्स अगर आप ढूंढ रहे हैं तो आपको चाहिए कि आप डिप्लोमा इन योग में दाखिला ले लें। जानकारी के लिए बता दें कि आज हर इंसान अपनी हेल्थ और फिटनेस को लेकर बहुत ज्यादा जागरूक हो गया है जिसकी वजह से उन्हें एक अच्छे योग ट्रेनर की जरूरत पड़ती है। इस फील्ड में आज काफी तेजी के साथ बेहतरीन रोजगार के अवसरों में वृद्धि होती जा रही है। बता दें कि योग डिप्लोमा कोर्स की अवधि 1 साल की होती है जिसको करने के बाद आप खुद तो स्वस्थ रहेंगे ही बल्कि आप दूसरे लोगों को भी स्वस्थ रहने में मदद कर सकेंगे। 

डिप्लोमा इन योग कोर्स करने के लिए योग्यता 

जो कैंडिडेट डिप्लोमा इन योग कोर्स को करना चाहते हैं उनमें निम्नलिखित योग्यताओं का होना जरूरी है –

  • किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से मिनिमम 12वीं तक पढ़ाई की हो। 
  • कैंडिडेट को प्रकृति से जुड़े रहना पसंद हो। 
  • योग में गहरी रूचि होनी चाहिए।

डिप्लोमा इन योग के बाद सैलरी 

डिप्लोमा इन योग का कोर्स करने के बाद प्रोफेशनल योग ट्रेनर को जो वेतनमान मिलता है वह इस बात के ऊपर निर्भर करता है कि वह कौन सी जगह पर योग सिखा रहा है जैसे कि स्कूल, कॉलेज, इंस्टिट्यूट, योग केंद्र इत्यादि। इसके अलावा उसकी सैलरी उसके खुद के काम करने के तरीके के ऊपर भी डिपेंड करती है। इस प्रकार से अगर देखा जाए तो योग में डिप्लोमा हासिल करने के बाद कैंडिडेट को शुरुआत में 15 हजार रुपए से से लेकर 30 हजार रुपए तक का वेतन आराम से मिल जाता है। 

डिप्लोमा इन बैंकिंग कोर्स

12वीं के बाद डिप्लोमा कोर्स बैंकिंग में भी किया जा सकता है। यहां आपको जानकारी के लिए बता दें कि इस डिप्लोमा को वह छात्र कर सकते हैं जिनको फाइनेंस और उससे जुड़े हुए सब्जेक्ट्स पसंद होते हैं। साथ ही बता दें कि डिप्लोमा इन बैंकिंग कोर्स में छात्रों को बैंकिंग कानून, बैंक संरचना और उसके रूप, विदेश व्यापार और विदेशी मुद्रा, क्रेडिट और बैंक-ग्राहक संबंध जैसे सब्जेक्ट पढ़ाए जाते हैं। इसके अलावा बता दें कि बैंकिंग डिप्लोमा के इस कोर्स की अवधि 1 साल की होती है। 

डिप्लोमा इन बैंकिंग कोर्स करने के लिए योग्यता 

डिप्लोमा इन बैंकिंग कोर्स करने के लिए छात्र में जो योग्यता होनी चाहिए उसकी जानकारी इस प्रकार से है – 

  • कोर्स करने के लिए जरूरी है कि छात्र ने कम से कम 12वीं कक्षा पास की हो।
  • छात्र के कम्युनिकेशन स्किल्स अच्छे होने चाहिए। 

डिप्लोमा इन बैंकिंग के बाद सैलरी 

डिप्लोमा इन बैंकिंग कोर्स करने के बाद छात्रों को जिस कंपनी में काम करने का मौका मिलता है वहां पर उन्हें उनका वित्तीय रिकॉर्ड और टैक्स रिपोर्ट तैयार करनी होती है‌। इस फील्ड में जो कैंडिडेट काम करते हैं उन्हें उनके कैरियर की शुरुआत में ही हर महीने 18,000 से लेकर 30,000 रुपए तक की सैलरी मिल जाती है। 

डिप्लोमा इन मैनेजमेंट कोर्स

12वीं के बाद डिप्लोमा इन मैनेजमेंट भी एक काफी बेहतरीन कोर्स है जिसको बहुत से छात्र करना पसंद करते हैं। जानकारी के लिए बता दें कि इस पाठ्यक्रम को अधिकतर वही छात्र करते हैं जिनको बिजनेस मैनेज करना अच्छा लगता है। तो इसलिए 12 के बाद डिप्लोमा कोर्स करने का अगर आप का मन है तो आप इस कोर्स को कर सकते हैं। आज हर इंसान अपना बिजनेस सफलतापूर्वक आगे लेकर जाना चाहता है इसके लिए उनको किसी ऐसे व्यक्ति की जरूरत रहती है जो उनके बिजनेस को मैनेज कर सके। इसलिए आपको इस 1 वर्षीय डिप्लोमा कोर्स को जरूर करना चाहिए। 

डिप्लोमा इन बिजनेस मैनेजमेंट कोर्स करने के लिए योग्यता 

डिप्लोमा इन बिजनेस मैनेजमेंट कोर्स को करने के लिए स्टूडेंट्स में निम्नलिखित योग्यता का होना अनिवार्य है जैसे कि –

  • छात्र ने कम से कम बारहवीं कक्षा किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से पास की हो। 
  • कैंडिडेट को बिजनेस में रुचि होना चाहिए। 

डिप्लोमा इन बिजनेस मैनेजमेंट के बाद सैलरी 

डिप्लोमा इन बिजनेस मैनेजमेंट का कोर्स करने के बाद कैंडिडेट को अट्रैक्टिव वेतन मिल जाता है। यहां बता दें कि इस क्षेत्र में कुशल उम्मीदवारों की डिमांड काफी ज्यादा रहती है। इस प्रकार से कैंडिडेट हर महीने 25,000 से लेकर 30,000 तक के बीच में सैलरी हासिल कर सकता है। 

डिप्लोमा इन होटल मैनेजमेंट कोर्स

डिप्लोमा इन होटल मैनेजमेंट आज के दौर में छात्रों के बीच बहुत ज्यादा फेमस है। यहां बता दें कि होटल मैनेजमेंट को होटल प्रबंधन के नाम से भी जाना जाता है। 12वीं के बाद डिप्लोमा कोर्स अगर आप होटल मैनेजमेंट में करते हैं तो आप भविष्य में काफी सफल कैरियर बना सकते हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि इस फील्ड में आकर्षक वेतन मिलने के साथ-साथ ग्रोथ करने के चांस भी काफी मिल जाते हैं। इसके अलावा बता दे कोर्स को करने के बाद जरूरी नहीं है कि कैंडिडेट अपने देश में ही नौकरी करें क्योंकि उसको विदेशों में भी जॉब मिल जाती है। 

डिप्लोमा इन होटल मैनेजमेंट कोर्स करने के लिए योग्यता 

डिप्लोमा इन होटल मैनेजमेंट कोर्स करने के लिए छात्र में जो योग्यता होनी चाहिए वह इस प्रकार से है –

  • छात्र ने 12वीं कक्षा किसी रिकॉग्नाइज्ड बोर्ड से पास की होनी चाहिए। 
  • कैंडिडेट की पर्सनालिटी अट्रैक्टिव होनी चाहिए और साथ ही साथ उसके कम्युनिकेशन स्किल्स अच्छे होने चाहिए। 

डिप्लोमा इन होटल मैनेजमेंट के बाद सैलरी 

डिप्लोमा इन होटल मैनेजमेंट करने के बाद कैंडिडेट को वेतन बहुत अच्छा मिल जाता है जो कि 20,000 से लेकर 30,000 तक के बीच में हो सकता है। इसके अलावा उसकी अगर किसी बड़े होटल में नौकरी लग जाती है तो तब उसको इससे भी ज्यादा का सैलरी पैकेज मिलता है। कैंडिडेट को जब एक्सपीरियंस हासिल हो जाता है तो उसे हर महीने तब और भी अधिक सैलरी मिल जाती है। साथ ही बता दें कि आज ऐसे बहुत सारे लोग हैं जो विदेशों में नौकरी करके हर महीने लाखों रुपए कमा रहे हैं। 

डिप्लोमा इन रिटेल मैनेजमेंट कोर्स

12वीं के बाद अगर आप चाहें तो डिप्लोमा इन रिटेल मैनेजमेंट कोर्स भी कर सकते हैं। आपको बता दें कि यह एक तेजी के साथ उभरती हुई फील्ड है जहां पर हर छोटे या बड़े मॉल में, डिपार्टमेंटल स्टोर और फ्रेंचाइजी में योग्य उम्मीदवारों की डिमांड तेजी से बढ़ रही है। यहां आपको बताते चलें कि यह कोर्स 1 साल का है जिसको 12 के बाद डिप्लोमा कोर्स करने के इच्छुक छात्र कर सकते हैं। तो आप इस नए और दिलचस्प कैरियर में जा सकते हैं।

डिप्लोमा इन रिटेल मैनेजमेंट कोर्स करने के लिए योग्यता 

डिप्लोमा इन मैनेजमेंट कोर्स को करने के लिए किसी भी छात्र में कुछ योग्यताओं का होना अनिवार्य है जैसे कि –

  • छात्र ने 12वीं कक्षा किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से पास की हो। 
  • कैंडिडेट के कम्युनिकेशन स्किल्स बेहतरीन होने चाहिए।
  • व्यक्तित्व अट्रैक्टिव होना चाहिए। 

डिप्लोमा इन रिटेल मैनेजमेंट के बाद सैलरी 

आपको बता दें कि 12वीं के बाद जब आप डिप्लोमा इन रिटेल मैनेजमेंट का यह कोर्स कर लेते हैं तो उसके बाद आप को जो सैलरी मिलती है वो पूरी तरह से आपकी योग्यता के ऊपर और जिस कंपनी में आप काम कर रहे हैं उसके ऊपर निर्भर करती है। लेकिन अगर हम शुरुआती सैलरी की बात करें तो इसमें हर महीने 15 हजार से लेकर 30 हजार रुपए तक का वेतन आसानी के साथ मिल जाता है। साथ ही बता दें कि एक्सपीरियंस गेन करने के बाद कैंडिडेट इससे भी ज्यादा का वेतनमान हासिल कर सकता है।

डिप्लोमा इन एयर होस्टेस/फ्लाइट स्टीवर्ड कोर्स

बहुत से छात्रों को आसमान में उड़ना बहुत ही अधिक पसंद होता है और इसीलिए उनके लिए डिप्लोमा इन एयर होस्टेस/फ्लाइट स्टीवर्ड कोर्स काफी उपयुक्त हैं। यहां बता दें कि इसमें कैंडिडेट को एक ओर जहां काफी अट्रैक्टिव सैलरी मिलती है तो वहीं उसे दुनिया को घूमने का अवसर भी मिलता है। तो ऐसे में 12 के बाद डिप्लोमा कोर्स में अगर आप एडमिशन लेने का सोच रहे हैं तो यह भी एक बेस्ट ऑप्शन है। 

डिप्लोमा इन एयर होस्टेस/फ्लाइट स्टीवर्ड कोर्स करने के लिए योग्यता 

डिप्लोमा इन एयर होस्टेस/फ्लाइट स्टीवर्ड कोर्स करने के लिए निम्नलिखित योग्यता किसी भी कैंडिडेट में होनी जरूरी है –

  • छात्र ने 12वीं कक्षा किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से पास की हो। 
  • कैंडिडेट को अंग्रेजी भाषा का अच्छा ज्ञान होना चाहिए।
  • छात्र के कम्युनिकेशन स्किल्स अच्छे होने के साथ-साथ उसकी पर्सनैलिटी भी अच्छी होनी चाहिए। 

डिप्लोमा इन एयर होस्टेस/फ्लाइट स्टीवर्ड के बाद सैलरी 

एयर होस्टेस/फ्लाइट स्टीवर्ड का डिप्लोमा करने के बाद कैरियर के शुरुआत में ही कैंडिडेट को काफी अच्छा सैलरी पैकेज मिल जाता है जो कि 20,000 से लेकर 40,000 तक के बीच में हो सकता है। कुछ वर्षों का अनुभव हासिल होने के बाद कैंडिडेट की सैलरी और भी ज्यादा हो जाती है। 

डिप्लोमा इन फोटोग्राफी कोर्स

12वीं के बाद डिप्लोमा इन फोटोग्राफी कोर्स भी काफी अच्छा विकल्प है जिसमें छात्र दाखिला ले सकते हैं। जानकारी के लिए बता दें कि कुछ लोग अपने जीवन में कुछ नया और दूसरों से अलग काम करना चाहते हैं तो उनके लिए यह इंडस्ट्री बिल्कुल परफेक्ट है। इसलिए अगर कोई कैंडिडेट यह चाहता है कि वह किसी इंटरेस्टिंग फील्ड में काम करे तो वह फोटोग्राफी के कोर्स में दाखिला ले सकता है। 

डिप्लोमा इन फोटोग्राफी कोर्स करने के लिए योग्यता 

डिप्लोमा इन फोटोग्राफी कोर्स करने के लिए किसी भी स्टूडेंट में जो योग्यता होनी चाहिए वह इस प्रकार से है –

  • छात्र ने मिनिमम 12वीं कक्षा पास की होनी चाहिए।
  • 12वीं में उसके 50% अंक होने चाहिए। 
  • कैंडिडेट को फोटोग्राफी में इंटरेस्ट होनी चाहिए। 

डिप्लोमा इन फोटोग्राफी के बाद सैलरी 

फोटोग्राफी के इस डिप्लोमा कोर्स को करने के बाद कैंडिडेट को हर महीने काफी अच्छा सैलरी पैकेज मिल जाता है। यहां बता दें कि स्टार्टिंग में ही उसे लगभग 30,000 से लेकर 50,000 तक का वेतन मिल जाता है। इसके अलावा अनुभव हासिल करने के बाद वह और भी ज्यादा वेतनमान प्राप्त कर सकता है। 

डिप्लोमा इन ट्रैवल एंड टूरिज्म कोर्स

12 के बाद डिप्लोमा कोर्स करने का अगर आप सोच रहे हैं तो डिप्लोमा इन ट्रैवल एंड टूरिज्म भी एक बहुत ही बेस्ट कोर्स है। जानकारी के लिए बता दें कि यह कोर्स उन लोगों के लिए बेहद अच्छा होता है जिनको नई नई चीजों को जानना, टूर पर जाना, घूमना और नए-नए लोगों से इंटरेक्ट करना पसंद होता है। आपको बता दें कि 12वीं के बाद इस डिप्लोमा कोर्स को 1 साल का भी किया जा सकता है और 3 साल का डिप्लोमा कोर्स भी आप कर सकते हैं। 

डिप्लोमा इन ट्रैवल एंड टूरिज्म कोर्स करने के लिए योग्यता 

डिप्लोमा इन ट्रैवल एंड टूरिज्म कोर्स को करने के लिए छात्र में जो योग्यता होनी चाहिए वह इस तरह से है –

  • छात्र ने कम से कम 12वीं कक्षा पास की हो।
  • 12वीं कक्षा में छात्र ने 50% तक अंक हासिल किए हों। 
  • कैंडिडेट के कम्युनिकेशंस के अच्छे होने चाहिए। 

डिप्लोमा इन ट्रैवल एंड टूरिज्म के बाद सैलरी 

ट्रैवल एंड टूरिज्म के डिप्लोमा कोर्स को करने के बाद हर महीने 20,000 से लेकर 30,000 तक आसानी के साथ मिल सकते हैं। यह फील्ड ऐसी है जिसमें थोड़ा सा एक्सपीरियंस हासिल करने के बाद हर महीने एक लाख रुपए से भी ज्यादा कमाए जा सकते हैं। 

निष्कर्ष

दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिकल 12th के बाद डिप्लोमा कोर्स लिस्ट के बारे में जानकारी। इसके द्वारा हमने आपको जानकारी दी कि 12 के बाद कौन से डिप्लोमा कोर्स अच्छे होते हैं। इसीलिए हमने आपको उन सभी कोर्स के बारे में बताया जो आज के समय में काफी प्रचलित हैं। इस पोस्ट में हमने आपको यह भी बताया कि 12वीं के बाद जब आप डिप्लोमा कोर्स करते हैं तो उसके बाद आपको हर महीने कितनी सैलरी मिल सकती है।

हमें पूरी आशा है कि आपको हमारा यह आर्टिकल अच्छा लगा होगा। इसलिए हमारी आप से अंत में बस यही रिक्वेस्ट है कि हमारे इस आर्टिकल को उन लोगों के साथ भी जरूर शेयर करें जो 12वीं के बाद किसी डिप्लोमा कोर्स में एडमिशन लेने के इच्छुक हैं। 

Leave a Reply