12th के बाद कैरियर ऑप्शन लिस्ट ( Career option list after 12th )

नमस्कार! दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे 12th के बाद कैरियर ऑप्शन लिस्ट के बारे में। 12वीं के बाद बहुत से छात्रों के सामने यह समस्या रहती है कि वह आगे किस विषय की पढ़ाई करें जिससे कि उनका कैरियर बेहतरीन बन सके। यहां बता दें कई बार स्टूडेंट्स बिना ज्यादा सोचे समझे किसी ऐसे क्षेत्र में चले जाते हैं जहां पर उन्हें कामयाबी नहीं मिल पाती। 

इसलिए आपको चाहिए कि 12वीं के बाद किसी ऐसी फील्ड में अपना कैरियर बनाएं जिसमें आपको सबसे ज्यादा रूचि हो। पर फिर भी अगर आप यह डिसीजन नहीं ले पा रहे हैं कि आपको कौन सी फील्ड में जाना चाहिए तो हमारे आज के इस पोस्ट को पूरा पढ़ें। इसमें हम जानकारी देंगे 12th के बाद कैरियर ऑप्शन के बारे में जो आपको जिंदगी में सक्सेसफुल बनाएंगे। 

Contents

12th के बाद कैरियर ऑप्शन 

12वीं के बाद किसी भी छात्र के सामने बहुत सारे कैरियर ऑप्शन होते हैं। लेकिन सबसे पहले कैंडिडेट को चाहिए कि जिस इंडस्ट्री में उसे जाना है उससे संबंधित कोर्स करे। इस प्रकार से आपको यह फायदा होगा कि आपको एक अच्छे प्रोफेशन में जाने का अवसर मिलेगा। 

इसलिए कैरियर का चुनाव करते समय उन विषयों का ध्यान जरूर रखें जिनमें आपने 12वीं तक पढ़ाई की है। मिसाल के तौर पर अगर आपने आर्ट्स में पढ़ाई की है तो आपको चाहिए कि आप उससे संबंधित क्षेत्र में ही कैरियर बनाएं। इसी तरह से कॉमर्स और साइंस वालों को भी चाहिए कि कोर्स का चुनाव करते टाइम अपनी स्ट्रीम का ध्यान जरूर रखें। यहां हम आपको 12वीं के बाद कैरियर ऑप्शन लिस्ट के बारे में जानकारी दे रहे हैं जो आपके लिए फायदेमंद रहेगी। 

टीचर (Teacher)

अगर आप को पढ़ाने में इंटरेस्ट है तो आप टीचिंग लाइन में जा सकते हैं। यहां आपको बता दें कि 12th के बाद कैरियर ऑप्शन देखा जाए तो टीचर बनना बेस्ट है। ऐसा इसलिए है क्योंकि एक टीचर को पूरी सोसाइटी में बहुत ही ज्यादा सम्मान की नजरों से देखा जाता है। तो अगर आप 12वीं के बाद टीचर बनना चाहते हैं तो इसके लिए बहुत सारे कोर्स अवेलेबल हैं जिन्हें आप कर सकते हैं जैसे कि एनटीटी, डीएलएड, बीएलएड इत्यादि। 

टीचर बनने के लिए योग्यता 

यहां आपको बता दें कि टीचर बनने के लिए जो योग्यता निर्धारित की गई है वह इस प्रकार से है – 

  • कैंडिडेट ने कम से कम 12वीं कक्षा पास की होनी चाहिए। 
  • 12वीं में छात्र ने कम से कम 50 परसेंट अंक हासिल किए हों। 
  • छात्र ने टीचिंग में डिग्री या डिप्लोमा कोर्स किया हो।  

टीचर बनने के बाद सैलरी 

टीचर बनने के बाद कैंडिडेट को प्राइवेट स्कूल्स के अलावा सरकारी स्कूलों में पढ़ाने का मौका मिलता है। इस प्रकार से कैंडिडेट को टीचिंग की शुरुआत में हर महीने 20,000 से लेकर 35,000 तक का वेतन मिल जाता है। बाद में एक्सपीरियंस हासिल होने के बाद उसे और भी अधिक वेतन मिल जाता है। 

जर्नलिस्ट (Journalist)

12th के बाद कैरियर ऑप्शन जर्नलिस्ट युवाओं की पहली पसंद में से एक है। यहां आपको बता दें कि अगर आप 12वीं के बाद जर्नलिस्ट बनना चाहते हैं तो इसके लिए आपको इससे संबंधित कोर्स करना होगा। साथ ही बताते चलें कि जर्नलिस्ट को हिंदी में पत्रकार के नाम से जाना जाता है और इसके बहुत सारे प्रकार हैं जैसे कि प्रिंट जर्नलिज्म, इन्वेस्टिगेटिव जर्नलिज्म, ब्रॉडकास्ट जर्नलिज्म, रिव्यूज जर्नलिज्म, फीचर राइटिंग जर्नलिज्म इत्यादि। 

इसलिए आपको पत्रकारिता के जिस टाइप में भी रूचि हो आप उसमें पत्रकार बन सकते हैं। इसके लिए आपको इससे संबंधित कोर्स करना होगा। बता दें कि इसके लिए सबसे पॉपुलर कोर्स बैचलर ऑफ जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन्स है। लेकिन अगर आप चाहे तो इसमें 1 साल का डिप्लोमा कोर्स भी कर सकते हैं। 

जर्नलिस्ट बनने के लिए योग्यता 

जर्नलिस्ट बनने के लिए किसी भी कैंडिडेट में निम्नलिखित योग्यताएं होनी चाहिए –

  • कैंडिडेट ने 12वीं कक्षा किसी भी विषय में पास की होनी चाहिए। 
  • छात्र ने जर्नलिज्म में डिग्री या फिर डिप्लोमा कोर्स किया हो।
  • कैंडिडेट के कम्युनिकेशन स्किल्स अच्छे होने चाहिए। 
  • निडर होना चाहिए।
  • निष्पक्ष रुप से पत्रकारिता करने की क्षमता होनी चाहिए। 

जर्नलिस्ट बनने के बाद सैलरी 

जब कोई कैंडिडेट जर्नलिस्ट बन जाता है तो उसे उसके कैरियर की शुरुआत में हर महीने 18,000 रुपए से लेकर 35,000 रुपए तक का वेतन मिल जाता है जो कि बाद में और भी ज्यादा बढ़ जाता है। इस तरह से देखा जाए तो एक पत्रकार को महीने काफी अच्छी सैलरी मिल जाती है। 

ग्राफिक डिजाइनर (Graphic Designer)

ग्राफिक डिजाइनर बहुत बेहतरीन विकल्प है और यह उन छात्रों के लिए बहुत ही बेस्ट कैरियर है जो रचनात्मक हैं और क्रिएटिविटी की दुनिया में काम करना चाहते हैं। इसलिए 12th के बाद कैरियर ऑप्शन लिस्ट में यह भी शामिल किया जा सकता है। यहां बता दें कि ग्राफिक डिजाइनर बनने के लिए आप डिप्लोमा या डिग्री कोर्स कर सकते हैं।  

ग्राफिक डिजाइनर बनने के लिए योग्यता 

ग्राफिक डिजाइनर बनने के लिए किसी भी छात्र में निम्नलिखित योग्यताएं होनी चाहिए – 

  • कैंडिडेट ने मिनिमम 12वीं क्लास किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से पास की हो। 
  • छात्र ने ग्राफिक डिजाइनिंग का डिग्री या डिप्लोमा कोर्स किया होना चाहिए। 
  • कैंडिडेट में क्रिएटिविटी होनी चाहिए।
  • अंग्रेजी भाषा की जानकारी होने के साथ-साथ कंप्यूटर का ज्ञान भी होना आवश्यक है। 

ग्राफिक डिजाइनर बनने के बाद सैलरी 

जो कैंडिडेट ग्राफिक डिजाइनर बन जाते हैं उन्हें जो सैलरी मिलती है वह पूरी तरह से उनकी क्रिएटिविटी के ऊपर निर्भर करती है। ऐसा इसलिए है क्योंकि जितना ज्यादा कैंडिडेट अपने काम में रचनात्मकता क्रिएट करता है उतना ही ज्यादा उसे अच्छा वेतन मिलता है। पर अगर एक एवरेज सैलेरी पैकेज की बात की जाए तो इसमें कैरियर बनाने वाले लोगों को हर महीने 15,000 रुपए से लेकर 40,000 रुपए तक का वेतनमान मिल जाता है। 

डॉक्टर (Doctor)  

12th के बाद कैरियर ऑप्शन में मेडिकल लाइन को अवॉइड नहीं किया जा सकता। यहां बता दें कि हमारी सोसाइटी में एक डॉक्टर को बहुत ही ज्यादा रिस्पेक्ट दी जाती है। इसलिए अगर आपने 12वीं कक्षा में साइंस का विषय पढ़ा है तो आप मेडिकल की लाइन चुन सकते हैं। यह बता दे कि आज मेडिकल लाइन में डॉक्टर बनने के लिए बहुत सारे कोर्स अवेलेबल है जैसे कि एमबीबीएस, बीएएमएस, बीयूएमएस, बीएचएमएस इत्यादि। लेकिन डॉक्टर बनना आसान नहीं होता है इसके लिए छात्रों को बहुत ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है।

डॉक्टर बनने के लिए योग्यता 

  • कैंडिडेट ने 12वीं के बाद मेडिकल कोर्स किया होना चाहिए।
  • इसके अलावा उसके मन में रोगियों के लिए दया भाव होना चाहिए। 
  • कम्युनिकेशन स्किल्स काफी इंप्रेसिंग होने चाहिए। 

डॉक्टर बनने के बाद सैलरी 

डॉक्टर बनने के बाद जो सैलरी किसी भी कैंडिडेट को मिलती है वह इस बात के ऊपर डिपेंड करती है कि उन्हें काम कौन सी जगह पर मिला है। यहां बता दें कि डॉक्टर की डिमांड आज हर जगह पर बहुत ज्यादा बढ़ गई है। इसलिए शुरुआत में ही काफी अच्छा वेतन मिल जाता है जो कि 30,000 से लेकर 50,000 तक हो सकता है। लेकिन कुछ जगह पर उसे इससे भी ज्यादा का सैलरी पैकेज उसे मिल जाता है। 

वकील (Lawyer) 

12वीं के बाद छात्र वकालत में भी एक अच्छा कैरियर बना सकते हैं। यहां जानकारी के लिए बता दें कि आज के समय में एक अच्छे लॉयर की जरूरत किसी ना किसी व्यक्ति को पड़ ही जाती है। इसलिए यह 12th के बाद कैरियर ऑप्शन काफी अच्छा है। परंतु आपको जानकारी के लिए बता दें कि वकील बनने के लिए आपको सबसे पहले कोर्स करने के लिए एंट्रेंस एग्जाम देना पड़ता है और उसके बाद 5 साल की पढ़ाई करना अनिवार्य है। 

वकील बनने के लिए योग्यता 

  • कैंडिडेट ने 12वीं कक्षा किसी मान्यता प्राप्त स्कूल से पास की होनी चाहिए।
  • एलएलबी की पढ़ाई की हो।
  • कैंडिडेट स्मार्ट और इंटेलिजेंट होना चाहिए। 
  • अंग्रेजी भाषा और कंप्यूटर की जानकारी होनी चाहिए। 

वकील बनने के बाद सैलरी 

वकालत में कैरियर बनाने के बाद कैंडिडेट को जो सैलरी मिलती है वह इस बात के ऊपर डिपेंड करती है कि उसके काम करने का तरीका कैसा है। यहां बता दें कि एक वकील को हर महीने 30 हजार से लेकर 50 हजार रुपए तक आराम से मिल जाते हैं। बल्कि वे हर महीने इससे भी ज्यादा की कमाई कर सकते हैं। 

फैशन डिजाइनर (Fashion Designer) 

12वीं पास करने के बाद अगर कोई कैंडिडेट किसी ग्लैमरस इंडस्ट्री में एंट्री करना चाहता है तो फैशन डिजाइनर बन सकता है। 12th के बाद कैरियर ऑप्शन के तौर पर देखा जाए तो यह एक बेहतरीन विकल्प है। यहां बता दें कि अगर आपके अंदर अनेकों प्रकार के ड्रेस डिजाइन करने की काबिलियत है तो आप इस क्षेत्र में काफी आगे तक जा सकते हैं। इसके लिए आप किसी अच्छे संस्थान से 1 साल का डिप्लोमा या फिर 3 साल का डिग्री कोर्स कर सकते हैं। 

फैशन डिजाइनर बनने के लिए योग्यता 

जो छात्र फैशन डिज़ाइनर बनना चाहते हैं उन्हें हम जानकारी के लिए बता दें कि इसके लिए उनमें कुछ योग्यता होनी चाहिए जैसे कि – 

  • कैंडिडेट ने किसी रिकॉग्नाइज्ड बोर्ड से कम से कम बारहवीं कक्षा पास की होनी चाहिए। 
  • इसके अलावा कैंडिडेट ने किसी अच्छे इंस्टीट्यूट से फैशन डिजाइनिंग से संबंधित कोर्स किया हो।
  • कम्युनिकेशन स्किल्स अच्छे होने चाहिए।
  • फैशन सेंस काफी स्ट्रांग होनी जरूरी है।
  • क्रिएटिव होना चाहिए।

फैशन डिजाइनर बनने के बाद सैलरी 

फैशन डिजाइनर बनने के बाद किसी भी कैंडिडेट को शुरुआती सैलरी ही काफी अच्छी मिल जाती है जो कि हर महीने 20 हजार रुपए से लेकर 50 हजार रुपए के बीच में हो सकती है। 

इंजीनियर (Engineer)  

12th के बाद कैरियर ऑप्शन यदि आप ढूंढ रहे हैं तो आपको हम बता दें कि आप इंजीनियरिंग की लाइन में जा सकते हैं। बताते चलें कि अगर आपने 12वीं में फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथ्स जैसे सब्जेक्ट्स पढ़े हैं तो आप इंजीनियर बन सकते हैं। आज इस क्षेत्र में बहुत से कैंडिडेट अपना कैरियर बना रहे हैं क्योंकि इंजीनियर की मांग बढ़ती ही जा रही है। लेकिन यहां आपको हम बता दें कि इंजीनियर बनने के लिए आपको सबसे पहले एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करना होगा और उसके बाद कॉलेज में दाखिला लेकर अपनी पढ़ाई पूरी करनी होगी। इस तरह से आप इंजीनियरिंग की इंडस्ट्री में अपना कैरियर बना सकते हैं। 

इंजीनियर बनने के लिए योग्यता 

इंजीनियर बनने के लिए किसी भी कैंडिडेट में निम्नलिखित योग्यता का होना जरूरी है जो कि इस प्रकार से है –

  • कैंडिडेट ने बारहवीं कक्षा साइंस विषय के साथ की हो। 
  • 12वीं के बाद कैंडिडेट ने इंजीनियरिंग की पढ़ाई की हो। 
  • कंप्यूटर की जानकारी होनी चाहिए। 

इंजीनियर बनने के बाद सैलरी 

जो लोग इंजीनियरिंग में अपना कैरियर बनाते हैं उन्हें काफी अच्छा वेतन मिल जाता है। यहां बता दें कि इंजीनियर को स्टार्टिंग सैलेरी 25,000 से लेकर 50,000 तक के बीच में मिल जाती है। लेकिन जब इस क्षेत्र में कुछ अनुभव हासिल हो जाता है तब उसे और भी ज्यादा सैलरी पैकेज मिल जाता है।

नर्स (Nurse) 

जिन लोगों को बीमारों की सेवा करना अच्छा लगता है वह 12वीं के बाद नर्स बन सकते हैं। आपको जानकारी के लिए बता दें कि मेडिकल सेक्टर में एक ट्रेंड प्रोफेशनल्स की डिमांड काफी ज्यादा रहती है। इसलिए आप चाहें तो इसमें अपना कैरियर बना सकते हैं। इसके अलावा बताते चलें कि नर्स बनने के लिए आपको जीएनएम या एएनएम कोर्स करना होगा। यहां आपको बताते चलें कि इसके लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम देना होगा और उसके बाद ही आप कोर्स में दाखिला लेकर अपने नर्स बनने के सपने को पूरा करके इसमें अपना कैरियर बना सकते हैं।  

नर्स बनने के लिए योग्यता

नर्स बनने के लिए किसी कैंडिडेट में निम्नलिखित योग्यता होनी चाहिए- 

  • कैंडिडेट ने 12वीं कक्षा विज्ञान विषय के साथ पास की हो। 
  • जीएनएम या एएनएम कोर्स किया हो।
  • रोगियों की सेवा करना और उनके साथ समय बिताना अच्छा लगता हो।
  • कम्युनिकेशन स्किल्स अच्छे होने चाहिए। 

नर्स बनने के बाद सैलरी 

नर्स बनने के बाद कैंडिडेट को काफी आकर्षक वेतन मिल जाता है जो कि तकरीबन 20 हजार रुपए से लेकर 40 हजार रुपए तक हो सकता है। लेकिन कुछ अनुभव हासिल होने के बाद इस वेतन में और भी बढ़ोतरी हो जाती है। 

फिजियोथैरेपिस्ट (Physiotherapist) 

12th के बाद कैरियर ऑप्शन अगर आप चाहें तो फिजियोथैरेपिस्ट बनने का भी सोच सकते हैं। यहां आपको बता दें कि आज फिजियोथैरेपिस्ट की डिमांड भी काफी तेजी के साथ बढ़ रही है। इस प्रकार से कैंडिडेट निजी और प्राइवेट सेक्टर में काम करने के बेहतरीन मौके हासिल करते हैं। तो अगर आप 12वीं के बाद अपना कैरियर बनाना चाहते हैं तो यह आपके लिए काफी अच्छा साबित हो सकता है। इसके लिए आपको बीपीटी यानी कि बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी कोर्स करना होगा। यहां बता दें कि इसके लिए हमारे देश में बहुत सारे संस्थान हैं जहां से आप इसकी पढ़ाई कर सकते हैं। 

फिजियोथैरेपिस्ट बनने के लिए योग्यता 

फिजियोथैरेपिस्ट बनने के लिए किसी भी कैंडिडेट में कुछ योग्यताएं होनी अत्यंत जरूरी है जैसे कि – 

  • कैंडिडेट ने कम से कम 12वीं कक्षा किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से पास की हो।
  • 12वीं क्लास के बाद कैंडिडेट ने फिजियोथैरेपी का कोर्स किया हो। 
  • कैंडिडेट के कम्युनिकेशन स्किल्स अच्छे होने चाहिए और उसे कंप्यूटर की जानकारी होनी चाहिए। 

फिजियोथैरेपिस्ट बनने के बाद सैलरी 

फिजियोथैरेपी में कैरियर बनाने वाले कैंडिडेट को हम बता दें कि जब आप फिजियोथैरेपिस्ट बन जाते हैं तो उसके बाद आपको जो शुरुआती वेतन मिलता है वह 20 हजार से लेकर 30 हजार तक के बीच में हो सकता है। इसके अलावा अगर कैंडिडेट मेहनती है और अपना काम मन लगा कर करता है तो तब उसे और भी ज्यादा का वेतनमान हर महीने मिल सकता है।

डांस टीचर (Dance Teacher) 

12वीं पास करने के बाद आप डांसिंग में भी अपना कैरियर बना सकते हैं। आपको बता दें कि यह एक बहुत ही बेहतरीन कैरियर ऑप्शन है जो आपको काफी अच्छा भविष्य दे सकता है। यहां बता दें कि हमारे देश भारत में प्राचीन काल से ही डांस का एक प्रमुख स्थान रहा है जोकि आज तक अपनी जगह पर कायम है। तो अगर आपको डांस करना अच्छा लगता है और सिखाना अच्छा लगता है तो आप इस क्षेत्र में बिना किसी समस्या के अपना एक शानदार कैरियर बना सकते हैं। 

डांस टीचर बनने के लिए योग्यता 

डांस टीचर बनने के लिए किसी भी कैंडिडेट में कुछ योग्यताएं होनी चाहिए जो कि इस तरह से हैं – 

  • कैंडिडेट ने कम से कम 12वीं कक्षा पास की होनी चाहिए। 
  • डांसिंग से जुड़े हुए कोर्स करें जैसे कि परफॉर्मिंग आर्ट्स, वेस्टर्न डांस इत्यादि।
  • कैंडिडेट को नृत्य की अच्छी जानकारी होनी चाहिए। 

डांस टीचर बनने के बाद सैलरी 

डांस टीचर बनने के बाद कैंडिडेट को हर महीने अच्छी खासी सैलरी मिल जाती है जो कि तकरीबन 20 से लेकर 40 हजार रुपए तक हो सकती है। लेकिन कुछ कैंडिडेट हर महीने 70,000 रुपए तक भी कमा सकते हैं। इसके अलावा अगर कैंडिडेट अपना खुद का डांसिंग इंस्टिट्यूट शुरू कर लेता है तो तब उसे हर महीने काफी अच्छी अर्निंग हो जाती है। 

निष्कर्ष 

दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिकल 12th के बाद कैरियर ऑप्शन लिस्ट के बारे में जानकारी। इस लेख के द्वारा हमने आपको बताया कि 12वीं पास करने के बाद कौन-कौन से कैरियर ऑप्शन सबसे अच्छे होते हैं। बता दें कि हमने उन सभी कैरियर के बारे में जानकारी दी जो इस समय सबसे ज्यादा डिमांड में हैं। साथ ही साथ हमने आपको यह जानकारी भी दी कि 12वीं के बाद आप किस तरह से अपनी फेवरेट इंडस्ट्री में अपना कैरियर बना सकते हैं और वहां हर महीने आपको कितने रुपए तक का सैलरी पैकेज मिल सकता है। 

हमें पूरी उम्मीद है कि आपके लिए हमारा आज का यह पोस्ट अत्यंत उपयोगी रहा होगा। इसलिए अंत में हमारी आपसे छोटी सी रिक्वेस्ट है कि हमारे इस आर्टिकल को अपने उन सभी दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें जो 12th के बाद कैरियर ऑप्शन के बारे में जानना चाहते हैं ताकि वह भी सही फैसला लेकर एक शानदार कैरियर बना सकें। 

Leave a Reply