12th आर्ट्स के बाद बेस्ट कोर्स लिस्ट (Best course list after 12th arts)

नमस्कार! After 12th में आपका स्वागत है। दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे 12th आर्ट्स के बाद बेस्ट कोर्स लिस्ट के बारे में जानकारी। जो छात्र 12वीं कक्षा में आर्ट्स विषय में पढ़ाई करते हैं वे 12वीं के बाद उलझन में रहते हैं कि अब उन्हें कौन से पाठ्यक्रम में दाखिला लेना चाहिए। लेकिन पर्याप्त जानकारी ना होने की वजह से स्टूडेंट्स किसी बेहतर कोर्स में दाखिला ले नहीं पाते। इसीलिए जरूरी है कि 12वीं आर्ट्स के बाद छात्र अपना कोर्स चुनने से पहले उससे संबंधित सभी बातों के बारे में मालूमात हासिल कर लें। 

अगर आप भी 12वीं कक्षा पास करने के बाद किसी अच्छे कोर्स को करना चाहते हैं तो हमारे आज के इस पोस्ट को सारा पढ़ें। आज हम आपको बताएंगे कुछ ऐसे बेस्ट कोर्स जिनमें फ्यूचर स्कोप बहुत ही बढ़िया है। 

Contents

12th आर्ट्स के बाद बेस्ट कोर्स 

एक समय था जब 12वीं के बाद साइंस और कॉमर्स स्ट्रीम से पास होने वाले छात्रों को सबसे ज्यादा कैरियर ऑप्शन मिल जाते थे। पर अब ऐसा नहीं है क्योंकि आज के समय में आर्ट्स स्ट्रीम से पढ़ने वाले स्टूडेंट्स के लिए भी एक से बढ़कर एक बेहतरीन कोर्स उपलब्ध है। यहां बता दें कि आज 12वी आर्ट्स के बाद छात्रों के सामने अलग-अलग फील्ड में जाने के लिए अनेकों कोर्स मौजूद हैं। इसीलिए अब आर्ट्स से 12वीं क्लास पास करने के बाद स्टूडेंट्स को कैरियर की चिंता नहीं करनी चाहिए। यहां निम्नलिखित हम बताएंगे कि 12th आर्ट्स के बाद क्या करें और 12th के बाद बेस्ट कोर्स आपके लिए कौन सा हो सकता है। 

बीए कोर्स 

बीए (BA) का पूरा नाम बैचलर ऑफ आर्ट्स (Bachelor of Arts) है। यहां बता दें कि 12th आर्ट्स के बाद बेस्ट कोर्स है जिसमें अधिकतर छात्र दाखिला लेते हैं। बताते चलें कि इसकी अवधि 3 साल तक की होती है जिसको करने के बाद छात्र आगे पढ़ाई कर सकते हैं या फिर नौकरी भी कर सकते हैं। इसके अलावा बता दें कि इस कोर्स में अगर आप दाखिला लेना चाहते हैं तो इसके लिए हमारे देश में रेगुलर और कॉरेस्पोंडेंस दोनों ही तरीके हैं। बता दें कि ग्रेजुएशन करने के बाद कैंडिडेट को रिटेल, बैंकिंग नौकरियों के अलावा गवर्नमेंट और प्राइवेट विभागों में काम करने के बहुत से अवसर मिल जाते हैं। 

बीए कोर्स करने के लिए योग्यता 

बीए कोर्स में प्रवेश लेने के लिए किसी भी छात्र में निम्नलिखित योग्यताएं होनी चाहिए – 

  • छात्र ने किसी मान्यता प्राप्त स्कूल से कम से कम 12वीं कक्षा पास की हो। 
  • रेगुलर कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए कैंडिडेट की परसेंटेज अच्छी होनी चाहिए। 
  • कॉरेस्पोंडेंस से बीए करने के लिए कैंडिडेट के कम से कम पासिंग मार्क्स होने चाहिए।

बीए करने के बाद सैलरी 

बीए करने के बाद कैंडिडेट को जो सैलरी मिलती है वो उनकी जॉब, कंपनी, लोकेशन पर सबसे ज्यादा निर्भर करती है। लेकिन अगर एवरेज सैलेरी देखी जाए तो उसे कैरियर की शुरुआत में हर महीने 15,000 से लेकर 30,000 रुपए तक वेतन मिल जाता है। 

जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन कोर्स 

जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन 12th आर्ट्स के बाद कोर्स छात्र कर सकते हैं। यहां बता दें कि यह काफी ज्यादा डिमांड में है क्योंकि आज हर कोई मीडिया इंडस्ट्री में काम करना चाहता है। यहां बता दें कि इस डिग्री कोर्स की अवधि 3 साल की होती है। वर्तमान में इस कोर्स की पॉपुलैरिटी इस वजह से भी बढ़ी है क्योंकि पहले मीडिया सेक्टर इतना बड़ा नहीं था लेकिन अब यह काफी ज्यादा बढ़ गया है। अगर आप 12वीं आर्ट्स के बाद किसी बेस्ट कोर्स की तलाश में है तो इसे कर सकते हैं। बताते चलें कि अगर आप चाहें तो इसमें डिग्री, डिप्लोमा या फिर सर्टिफिकेट कोर्स कर सकते हैं। 

जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन कोर्स करने के लिए योग्यता 

जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन कोर्स करने के लिए किसी भी छात्र में जो योग्यता होनी चाहिए उसके बारे में जानकारी इस प्रकार से है – 

  • कैंडिडेट ने मिनिमम 12वीं कक्षा पास की हो।
  • छात्र के कम्युनिकेशन स्किल्स और पर्सनैलिटी अच्छी होनी चाहिए।
  • कैंडिडेट हार्ड वर्किंग और निडर होना चाहिए। 
  • बिना किसी पक्षपात के देश विदेश की खबरें लोगों तक पहुंचाने में सक्षम हो।
  • कंप्यूटर की जानकारी होनी चाहिए।  

जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन करने के बाद सैलरी 

जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन करने के बाद कैंडिडेट को जो सैलरी मिलती है वह हर महीने 20,000 से लेकर 30,000 रुपए तक हो सकती है। इसके अलावा कैंडिडेट को अगर किसी बड़े और फेमस मीडिया हाउस में काम करने का अवसर मिलता है तो तब उसे इससे भी ज्यादा वेतन मिल सकता है। 

इवेंट मैनेजमेंट कोर्स 

इवेंट मैनेजमेंट 12वीं के बाद एक अच्छा कोर्स है जिसमें छात्र दाखिला ले सकते हैं। यहां बता दें कि यह 3 साल का डिग्री कोर्स है लेकिन अगर आप चाहे तो इसमें 1 साल का डिप्लोमा कोर्स भी कर सकते हैं। भारत में ऐसे बहुत सारे प्राइवेट और गवर्नमेंट इंस्टिट्यूट से जहां से स्टूडेंट्स इन कोर्स को कर सकते हैं। साथ ही बता दें कि 3 साल के इस लंबे पाठ्यक्रम में कैंडिडेट को इवेंट मैनेज करने की कला को सिखाया जाता है। इस तरह से कोर्स पूरा होने तक कैंडिडेट को म्यूजिक कंसर्ट, कल्चरल शोज, डांस शोज, स्पोर्ट्स इवेंट्स, फैशन शो इत्यादि को ऑर्गेनाइज और मैनेज करना आ जाता है। 

इवेंट मैनेजमेंट कोर्स करने के लिए योग्यता 

इवेंट मैनेजमेंट कोर्स करने के लिए किसी भी छात्र में निम्नलिखित योग्यता होनी आवश्यक है – 

  • छात्र ने कम से कम 12वीं कक्षा पास की हो।
  • कैंडिडेट के अंदर रचनात्मकता होनी चाहिए क्योंकि इस क्षेत्र में यह जरूरी है।
  • छात्र के कम्युनिकेशन स्किल्स अच्छे होने चाहिए। 
  • अंग्रेजी भाषा के अलावा कंप्यूटर जानकारी होनी चाहिए। 

इवेंट मैनेजमेंट करने के बाद सैलरी 

इवेंट मैनेजमेंट कोर्स करने के बाद कैंडिडेट कैरियर की शुरुआत में ही काफी अच्छी सैलरी मिल जाती है। बता दें कि उसे हर महीने 15 से लेकर 30 हजार रुपए तक आसानी से मिल जाते हैं। बाद में जब उसे कुछ वर्षों का अनुभव हो जाता है तो तब उसके वेतन में वृद्धि भी हो जाती है। इसके अलावा अगर वह अपना खुद का काम शुरू करते हैं तो उन्हें हर इवेंट के लिए पैसे मिलते हैं। 

टीचर ट्रेनिंग कोर्स 

12th आर्ट्स के बाद बेस्ट कोर्स लिस्ट में टीचर ट्रेनिंग पाठ्यक्रम को भी शामिल किया जा सकता है। यह आपको बता दें कि बहुत से लोगों को बच्चों को पढ़ाना पसंद होता है इसीलिए वह इस क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते हैं। इसके अलावा एक टीचर की सोसाइटी में बहुत ज्यादा इज्जत होती है। अगर आप भी 12वीं के बाद टीचर ट्रेनिंग कोर्स करना चाहते हैं तो आपको जानकारी के लिए बता दें कि इसके लिए बहुत सारे कोर्स अवेलेबल हैं जैसे कि बैचलर ऑफ फिजिकल एजुकेशन, बैचलर ऑफ एलिमेंट्री एजुकेशन, डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजुकेशन, एनटीटी इत्यादि। 

टीचर ट्रेनिंग कोर्स करने के लिए योग्यता 

टीचर ट्रेनिंग कोर्स करने के लिए किसी भी कैंडिडेट में कुछ योग्यता होनी चाहिए जैसे कि –

  • छात्र ने मिनिमम बारहवीं तक किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से पढ़ाई की हो। 
  • कैंडिडेट को बच्चों के साथ समय बिताना और उन्हें पढ़ाना अच्छा लगता हो। 
  • छात्र के कम्युनिकेशन स्किल्स अच्छे होने चाहिए जिससे कि बच्चों और उनके बीच एक अच्छा रिलेशन डिवेलप हो सके। 

टीचर ट्रेनिंग करने के बाद सैलरी 

टीचर ट्रेनिंग करने के बाद एक टीचर को जो सैलरी मिलती है वह पूरी तरह से उसकी योग्यता और इस बात के ऊपर डिपेंड करती है कि उसे कौन से स्कूल में टीचिंग करने का अवसर मिला है। यहां बता दें कि इस फील्ड में हर महीने कैंडिडेट को 20,000 से लेकर 40,000 तक सैलरी आसानी से मिल जाती है। 

बैचलर इन सोशल वर्क कोर्स 

बैचलर इन सोशल वर्क यानी बीएसडब्ल्यू (BSW) एक 3 साल का डिग्री प्रोग्राम है। यहां बता दें कि यह 12th आर्ट्स के बाद कोर्स उन छात्रों के लिए बेस्ट है जो समाज सेवा करना चाहते हैं। इस तरह से जब कैंडिडेट अपने इस बैचलर डिग्री प्रोग्राम को पूरा कर लेते हैं तो उन्हें नौकरी करने के काफी शानदार मौके मिल जाते हैं। यहां बता दें कि कैंडिडेट को देश की एनजीओ में ही नहीं बल्कि इंटरनेशनल लेवल पर काम करने का मौका मिलता है। तो अगर आपको लोगों की परेशानियों को दूर करना अच्छा लगता है और आप सोसाइटी में अपना कंट्रीब्यूशन करना चाहते हैं तो आप बीएसडब्ल्यू का कोर्स कर सकते हैं। 

बैचलर इन सोशल वर्क करने के लिए योग्यता 

बैचलर इन सोशल वर्क करने के लिए कैंडिडेट में निम्नलिखित योग्यता होनी चाहिए जो कि इस प्रकार से है – 

  • इच्छुक उम्मीदवार ने कम से कम 12वीं कक्षा किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से पास की हो। 
  • 12वीं में कैंडिडेट के मिनिमम 50% तक अंक होने चाहिए। 
  • छात्र टीम वर्क करने में विश्वास रखता हो।
  • अंग्रेजी भाषा की जानकारी होनी चाहिए।
  • कंप्यूटर का ज्ञान होना चाहिए। 

बैचलर इन सोशल वर्क करने के बाद सैलरी 

जो कैंडिडेट सोशल वर्क में डिग्री हासिल कर लेते हैं उन्हें मल्टीनेशनल कंपनियों और एनजीओस में काम करने का अवसर मिलता है जहां पर उन्हें काफी अट्रैक्टिव वेतन मिलता है। यहां बता दें कि हर महीने कैंडिडेट को कैरियर की शुरुआत में ही 20,000 से लेकर 25,000 तक सैलरी मिल जाती है। लेकिन अगर कैंडिडेट को किसी विदेशी एनजीओ में काम करने का अवसर मिलता है तो तब उसे हर महीने काफी अधिक वेतन मिल जाता है। 

एनीमेशन एंड ग्राफिक डिजाइन कोर्स 

12th आर्ट्स के बाद बेस्ट कोर्स अगर आप ढूंढ रहे हैं तो आप एनीमेशन एंड ग्राफिक डिजाइन कोर्स में दाखिला ले सकते हैं। यहां आपको बता दें कि आज अधिकतर हर जगह एनिमेशन का इस्तेमाल बहुत ज्यादा होने लगा है। जबकि पहले ऐसा नहीं था लेकिन अब फिल्म प्रोडक्शन हाउस, एड एजेंसियों, टीवी चैनलों, वेव इंडस्ट्री, गेम इंडस्ट्री इत्यादि में एक्स्पर्ट एनिमेटर की डिमांड बढ़ने लगी है। इसलिए 12वीं के बाद अगर आपको लगता है कि आपके अंदर थोड़ी सी भी क्रिएटिविटी और टैलेंट है तो तब आप इस कोर्स को कर सकते हैं। 

एनीमेशन एंड ग्राफिक डिजाइन कोर्स करने के लिए योग्यता 

एनिमेशन एंड ग्राफिक डिजाइन कोर्स करने के लिए किसी भी छात्र में जो योग्यता होना अनिवार्य है उसके बारे में जानकारी इस प्रकार से है – 

  • छात्र ने मिनिमम 12वीं कक्षा पास की हो।
  • कैंडिडेट को बेसिक कंप्यूटर की जानकारी होनी चाहिए।
  • छात्र में क्रिएटिविटी होनी चाहिए। 

एनिमेशन एंड ग्राफिक डिजाइन कोर्स करने के बाद सैलरी 

एनीमेशन एंड ग्राफिक डिजाइन कोर्स करने के लिए शुरुआत में कैंडिडेट को जो सैलरी मिलती है वह पूरी तरह से उसके स्किल के ऊपर डिपेंड करती है। इस तरह से देखा जाए तो एक योग्य कैंडिडेट को हर महीने 20,000 से लेकर 25,000 रुपए तक का वेतन मिल जाता है जो कि बाद में अनुभव हासिल करने के बाद  50,000 या उससे भी ज्यादा हो सकता है। 

एयरपोर्ट ग्राउंड स्टाफ कोर्स 

एयरपोर्ट ग्राउंड स्टाफ 12th आर्ट्स के बाद कोर्स उन छात्रों के लिए बहुत अच्छा है जो एयरपोर्ट ग्राउंड स्टाफ बनना चाहते हैं। यहां बता दें कि एविएशन इंडस्ट्री में अधिकतर कैंडिडेट आकर्षित होते हैं क्योंकि इसमें काफी अट्रैक्टिव सैलरी मिलती है। इसके अलावा और भी बहुत सारी फैसिलिटी एयरपोर्ट पर काम करने वाले स्टाफ को मिलती हैं। साथ ही साथ कैंडिडेट की ग्रोथ भी होती है। इसलिए अगर आपकी अंग्रेजी अच्छी है तो आप इस कोर्स को कर सकते हैं। 

एयरपोर्ट ग्राउंड स्टाफ कोर्स करने के लिए योग्यता 

एयरपोर्ट ग्राउंड स्टाफ कोर्स करने के लिए किसी भी कैंडिडेट में कुछ योग्यताएं होनी चाहिए जैसे कि – 

  • छात्र ने कम से कम बारहवीं कक्षा पास की हो।
  • 12वीं में छात्र ने 45% से लेकर 50% तक अंक हासिल किए हों।
  • कैंडिडेट को अंग्रेजी और हिंदी भाषा की अच्छी जानकारी होनी चाहिए।
  • छात्र आकर्षक व्यक्तित्व का होना चाहिए।
  • कैंडिडेट को कंप्यूटर की जानकारी होनी चाहिए।
  • छात्र की आयु कम से कम 18 साल से लेकर 27 साल तक के बीच में होनी जरूरी है। 

एयरपोर्ट ग्राउंड स्टाफ कोर्स करने के बाद सैलरी 

एयरपोर्ट ग्राउंड स्टाफ के कार्य काफी ज्यादा महत्वपूर्ण होते हैं और इसी वजह से उन्हें नौकरी की शुरुआत में ही काफी आकर्षक वेतन मिल जाता है। यहां बता दें कि कैंडिडेट को हर महीने 25,000 से लेकर 30,000 रुपए तक आराम से मिल जाते हैं। साथ ही बता दें कि जब उसका एक्सपीरियंस बढ़ जाता है तो उसे सैलरी भी अधिक मिलने लगती है। 

डिजिटल मार्केटिंग कोर्स 

12वीं पास के बाद डिजिटल मार्केटिंग कोर्स भी किया जा सकता है। यहां आपको बता दें कि इस कोर्स की अवधि 1 साल की होती है जिसमें कैंडिडेट को ऑनलाइन मार्केटिंग स्ट्रैटेजिस एंड टेक्निक्स के बारे में सिखाया जाता है जिससे कि बिजनेस को इंप्रूव किया जा सके। मौजूदा समय में डिजिटल मार्केटिंग काफी ज्यादा डिमांड में है क्योंकि आज किसी भी बिजनेस या सर्विस को कामयाब बनाने के लिए एक अच्छे ट्रेंड और प्रोफेशनल डिजिटल मार्केटर की जरूरत पड़ती है। तो इसलिए अगर आपको डिजिटल वर्ल्ड में एंट्री करनी है और उसमें अपना कैरियर बनाना है तो आप इस कोर्स को कर सकते हैं। 

डिजिटल मार्केटिंग कोर्स करने के लिए योग्यता 

डिजिटल मार्केटिंग कोर्स करने के लिए कैंडिडेट में निम्नलिखित योग्यताएं होनी चाहिए – 

  • छात्र ने कम से कम 12वीं कक्षा या उसके समकक्ष किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से पास की हो।
  • कैंडिडेट को बेसिक कंप्यूटर की जानकारी होनी चाहिए।
  • छात्र को अंग्रेजी भाषा का ज्ञान होना चाहिए। 

डिजिटल मार्केटिंग कोर्स करने के बाद सैलरी 

जो छात्र डिजिटल मार्केटिंग कोर्स कर लेते हैं उन्हें जो सैलरी मिलती है वह हर महीने 15,000 से लेकर 25,000 तक हो सकती है। लेकिन जैसे-जैसे वो अनुभव गेन करते जाते हैं वैसे वैसे उनका वेतन भी बढ़ता जाता है। इसके अलावा अगर कोई कैंडिडेट अपनी खुद की डिजिटल मार्केटिंग कंपनी शुरू करता है तो तब वो हर महीने लाखों रुपए कमा सकता है।

बीबीएस कोर्स 

12वीं आर्ट्स के बाद बीबीए कोर्स भी एक बेहतरीन विकल्प है जिसमें छात्र दाखिला ले सकते हैं। यहां जानकारी के लिए बता दें कि बीबीएस (BBS) का पूरा नाम बैचलर ऑफ बिजनेस स्टडीज है और यह एक 3 साल की अवधि का कोर्स है। बता दें कि इस पाठ्यक्रम में छात्रों को बिजनेस के बारे में गहराई से पढ़ाई करवाई जाती है। इस प्रकार जब यह कोर्स पूरा हो जाता है तो कैंडिडेट इस काबिल हो जाते हैं कि वह किसी भी व्यापार को सफलतापूर्वक चला सकें। तो अगर आपको बिजनेस फील्ड में रुचि है तो आप इस कोर्स को करके इसमें अपना कैरियर बना सकते हैं। 

बीबीएस कोर्स करने के लिए योग्यता 

बीबीएस कोर्स करने के लिए कैंडिडेट में निम्नलिखित योग्यता होनी चाहिए – 

  • छात्र ने मिनिमम 12वीं क्लास तक पढ़ाई की होनी चाहिए। 
  • कैंडिडेट को कंप्यूटर की जानकारी होनी चाहिए।
  • छात्र को अंग्रेजी भाषा का ज्ञान होना चाहिए। 

बीबीएस करने के बाद सैलरी 

बीबीएस कोर्स करने के बाद कैंडिडेट को कैरियर की शुरुआत में जो सैलरी पैकेज मिलता है वह तकरीबन 20,000 से लेकर 40000 तक हो सकता है। बाद में जब कैंडिडेट को एक्सपीरियंस प्राप्त हो जाता है तो तब उसके इस वेतन में वृद्धि भी हो जाती है। 

रिटेल एंड फैशन मर्चेंडाइज कोर्स 

12th आर्ट्स के बाद बेस्ट कोर्स यदि आप करने में रुचि रखते हैं तो आप रिटेल एंड फैशन मर्चेंडाइज कोर्स कर सकते हैं। यहां आपको बता दें कि इसके डिग्री कोर्स की अवधि 4 साल की होती है। इस पाठ्यक्रम के दौरान मर्चेंडाइजिंग के साथ-साथ फैशन डिजाइनिंग सेक्टर से संबंधित प्रोडक्ट की सेलिंग और मार्केटिंग के ऊपर मेन फोकस किया जाता है। इस प्रकार से इस कोर्स को करने के बाद कैंडिडेट फैशन इंडस्ट्री में रिटेल और फैशन मर्चेंडाइज के काम करने योग्य हो जाते हैं। 

रिटेल एंड फैशन मर्चेंडाइज कोर्स करने के लिए योग्यता 

रिटेल एंड फैशन मर्चेंडाइज कोर्स करने के लिए किसी भी कैंडिडेट के अंदर निम्नलिखित योग्यताएं होनी चाहिए जैसे कि –

  • कैंडिडेट ने कम से कम किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं कक्षा पास की हो। 
  • कैंडिडेट में क्रिएटिविटी होनी बहुत जरूरी है। 
  • छात्र के कम्युनिकेशन स्किल्स अच्छे होने चाहिए। 

रिटेल एंड फैशन मर्चेंडाइज करने के बाद सैलरी 

रिटेल एंड फैशन मर्चेंडाइज कोर्स करने के बाद कैंडिडेट को जो सैलरी मिलती है वह काफी अट्रैक्टिव होती है। बता दें कि उसे नौकरी की शुरुआत में ही हर महीने 20,000 से लेकर 30,000 तक आसानी से साथ मिल जाते हैं। हालांकि जब उसे कुछ वर्षों का अनुभव हासिल हो जाता है तो उसके बाद उसे और भी ज्यादा सैलरी मिल जाती है। 

निष्कर्ष

दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिकल 12th आर्ट्स के बाद बेस्ट कोर्स लिस्ट के बारे में जानकारी। इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपको बताया कि 12वीं आर्ट्स के बाद पास करने के बाद छात्रों के सामने कौन-कौन से कोर्स करने के अवसर होते हैं। 

साथ ही हमने सभी बेहतरीन कोर्स की योग्यता के बारे में भी जानकारी दी और यह भी बताया कि अपना मन-पसंदीदा कोर्स पूरा करने के बाद स्टूडेंट्स को हर महीने कितनी सैलरी मिल सकती है। हमें पूरी उम्मीद है कि आपको हमारे द्वारा बताई गई यह सारी जानकारी उपयोगी लगी होगी। 

इसलिए अंत में हमारी आपसे बस यही रिक्वेस्ट है कि हमारे इस पोस्ट को उन छात्रों के साथ भी जरूर शेयर करें जो 12th आर्ट्स के बाद बेस्ट कोर्स के ऑप्शन ढूंढ रहे हैं। 

Leave a Reply